मास्टर माइंड हाफ़ीज सईद जो 26/11 के हमले के लिए एक कारण था,सुनने में आया है की सईद को पाकिस्तान जेल से रिहा किया जा रहा है ! क्या फिर से हमला होने की चान्सेस है ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं सिर्फ इसलिए कि हाफिज सईद को रिहा कर दिया गया है इसका मतलब यह नहीं है कि आतंकवादी हमले होने के चांसेस हैं 2611 के समय हम तैयार नहीं थे लेकिन तब से हमने अपनी गलतियों से सीख लिया है अगर किसी ने हमार...जवाब पढ़िये
नहीं सिर्फ इसलिए कि हाफिज सईद को रिहा कर दिया गया है इसका मतलब यह नहीं है कि आतंकवादी हमले होने के चांसेस हैं 2611 के समय हम तैयार नहीं थे लेकिन तब से हमने अपनी गलतियों से सीख लिया है अगर किसी ने हमारे देश पर हमले का प्रयास किया भी तो हम इसे चलने से पहले ही निपटने के लिए तैयार हैंNahi Sirf Isliye Ki Hafiz Saeed Ko Riha Kar Diya Gaya Hai Iska Matlab Yeh Nahi Hai Ki Aatankwadi Hamle Hone Ke Chances Hain 2611 Ke Samay Hum Taiyaar Nahi The Lekin Tab Se Humne Apni Galatiyon Se Seekh Liya Hai Agar Kisi Ne Hamare Desh Par Hamle Ka Prayas Kiya Bhi To Hum Ise Chalne Se Pehle Hi Nipatane Ke Liye Taiyaar Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कई सालों से भारत और संयुक्त राष्ट्र पाकिस्तान को अपने देश में आतंक को खत्म करने और 26 11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज मोहम्मद सईद के खिलाफ सख्त कारवाई करने के लिए कहे जा रहे थे आखिर अंतरराष्ट्रीय द...जवाब पढ़िये
कई सालों से भारत और संयुक्त राष्ट्र पाकिस्तान को अपने देश में आतंक को खत्म करने और 26 11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज मोहम्मद सईद के खिलाफ सख्त कारवाई करने के लिए कहे जा रहे थे आखिर अंतरराष्ट्रीय दबाव के कारण उन्हें हाफिज को अलग करना ही पड़ा इतने दबाव के बाद भी शायद को जेल में नहीं बल्कि घर में बंद किया गया अर्थात हाउस में रखा गया यह हाउस एड्रेस भी एक तरह का दिखावा ही था यह बात अब किसी से छिपी नहीं है कि हाफिज घर में भी राजा ही था घबराइए मत इस कारणवश तो कोई नया हमला नहीं होगा जो भी काम से करना था वह तो उस घर में बैठ कर भी बहुत आराम से कर रहा था रिहा होने के कारण उसकी ताकत में कोई वृद्धि नहीं आई परंतु सईद जैसे दानव हमारे देश के लिए और दुनिया के लिए भी एक जहरीला कांटा है उसे उखाड़ फेंकना बहुत जरूरी है भारत को अलग और सख्त उपायों का इस्तेमाल करना होगा ताकि हाफिज जैसे लोगों को उनकी किए की सजा जरुर मिलेKai Salon Se Bharat Aur Sanyukt Rashtra Pakistan Ko Apne Desh Mein Aatank Ko Khatam Karne Aur 26 11 Mumbai Hamle Ke Mastermind Hafiz Mohammed Saeed Ke Khilaf Sakht Karwai Karne Ke Liye Kahe Ja Rahe The Aakhir Antararashtriya Dabaav Ke Kaaran Unhen Hafiz Ko Alag Karna Hi Pada Itne Dabaav Ke Baad Bhi Shayad Ko Jail Mein Nahi Balki Ghar Mein Band Kiya Gaya Arthat House Mein Rakha Gaya Yeh House Address Bhi Ek Tarah Ka Dikhawa Hi Tha Yeh Baat Ab Kisi Se Chhipi Nahi Hai Ki Hafiz Ghar Mein Bhi Raja Hi Tha Ghabraaiye Mat Is Karanvash To Koi Naya Hamla Nahi Hoga Jo Bhi Kaam Se Karna Tha Wah To Us Ghar Mein Baith Kar Bhi Bahut Aaram Se Kar Raha Tha Riha Hone Ke Kaaran Uski Takat Mein Koi Vriddhi Nahi Eye Parantu Saeed Jaise Danewa Hamare Desh Ke Liye Aur Duniya Ke Liye Bhi Ek Jahrila Kanta Hai Use Ukhad Phenkana Bahut Zaroori Hai Bharat Ko Alag Aur Sakht Upayon Ka Istemal Karna Hoga Taki Hafiz Jaise Logon Ko Unki Kiye Ki Saja Zaroor Mile
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां उम्मीद तो है क्या द्वारा टाइप करेंगे वह पर इस पर इस चीज की भी उम्मीद है कि इंडियन आर्मी ज़्यादा सतर्क होंगे उधर अच्छे से प्रीपेड होंगे क्योंकि ऐसे अटैक के बारे में उनको पता है कि जैसे ही रुठ भी...जवाब पढ़िये
जी हां उम्मीद तो है क्या द्वारा टाइप करेंगे वह पर इस पर इस चीज की भी उम्मीद है कि इंडियन आर्मी ज़्यादा सतर्क होंगे उधर अच्छे से प्रीपेड होंगे क्योंकि ऐसे अटैक के बारे में उनको पता है कि जैसे ही रुठ भी यूज़ कर सकते टेररिस्ट अटैक करने के लिए WhatsApp ईसाई जैसे लोग सुधर नहीं होते तो वह छूटने के बाद वह दुबारा गुंजाइश है कि वह तुम्हारा हटा करेंगेJi Haan Ummid To Hai Kya Dwara Type Karenge Wah Par Is Par Is Cheez Ki Bhi Ummid Hai Ki Indian Army Jyada Satark Honge Udhar Acche Se Prepaid Honge Kyonki Aise Attack Ke Baare Mein Unko Pata Hai Ki Jaise Hi Ruth Bhi Use Kar Sakte Terrorist Attack Karne Ke Liye WhatsApp Isai Jaise Log Sudhar Nahi Hote To Wah Chutney Ke Baad Wah Dubara Gunjan Hai Ki Wah Tumhara Hata Karenge
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Master Mind Hafeez Saeed Jo 26/11 Ke Hamle Ke Liye Ek Kaaran Tha Sunane Mein Aaya Hai Ki Saeed Ko Pakistan Jail Se Riha Kiya Ja Raha Hai ! Kya Phir Se Hamla Hone Ki Chances Hai ?, Master Mind Hafiz Saeed, Who Had A Reason For The 26/11 Attack, Has Come To Know That Saeed Is Being Released From Pakistan Jail! Are There Chances Of Being Attacked Again?

vokalandroid