प्रस्तावना और इसके उद्देश्य क्या है ? ...

संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को "संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य" में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है।
Romanized Version
संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को "संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य" में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है। Samvidhan Sabha K Sameksh Uddeshya Bharat Co Samprabhu Loktantrik Ganrajya Mein Sthapit Krna Thaa Aur Apne Naagrikon Co Nyaya Swatantrata Samanta Aur Bandhuta Surakshit Krna Thaa Yeh Bhi Nihit Hai Qi Bharat K Logon Aur Samprabhuta Se Utpanna Prastavana Unke Sathe Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को "न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है।
Romanized Version
संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को "न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है।Samvidhan Sabha K Sameksh Uddeshya Bharat Co Samprabhu Loktantrik Ganrajya Mein Sthapit Krna Thaa Aur Apne Naagrikon Co Nyaya Swatantrata Samanta Aur Bandhuta Surakshit Krna Thaa Yeh Bhi Nihit Hai Qi Bharat K Logon Aur Samprabhuta Se Utpanna Prastavana Unke Sathe Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को "संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य" में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है।
Romanized Version
संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को "संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य" में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है।Samvidhan Sabha K Sameksh Uddeshya Bharat Co Samprabhu Loktantrik Ganrajya Mein Sthapit Krna Thaa Aur Apne Naagrikon Co Nyaya Swatantrata Samanta Aur Bandhuta Surakshit Krna Thaa Yeh Bhi Nihit Hai Qi Bharat K Logon Aur Samprabhuta Se Utpanna Prastavana Unke Sathe Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को "न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है।
Romanized Version
संविधान सभा के समक्ष उद्देश्य भारत को संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य में स्थापित करना था और अपने नागरिकों को "न्याय स्वतंत्रता, समानता और बंधुता सुरक्षित करना था। यह भी निहित है कि भारत के लोगों और संप्रभुता से उत्पन्न प्रस्तावना उनके साथ है। Samvidhan Sabha K Sameksh Uddeshya Bharat Co Samprabhu Loktantrik Ganrajya Mein Sthapit Krna Thaa Aur Apne Naagrikon Co Nyaya Swatantrata Samanta Aur Bandhuta Surakshit Krna Thaa Yeh Bhi Nihit Hai Qi Bharat K Logon Aur Samprabhuta Se Utpanna Prastavana Unke Sathe Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Prastavna Aur Iske Uddeshya Kya Hai ?, प्रस्तावना क्या है