आसाम में राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण (एनआरसी) के बारे में आपका क्या राय है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मेरा मानना है कि राष्ट्रीय हितों पर कभी भी राजनीति नहीं होनी चाहिए और यह ममता बनर्जी और इन सारे जैसे सारे नेताओं को समझना पड़ेगा और इन नेताओं को समझाने वाला और कोई नहीं है हम और आप है रही बात रा...जवाब पढ़िये
देखिए मेरा मानना है कि राष्ट्रीय हितों पर कभी भी राजनीति नहीं होनी चाहिए और यह ममता बनर्जी और इन सारे जैसे सारे नेताओं को समझना पड़ेगा और इन नेताओं को समझाने वाला और कोई नहीं है हम और आप है रही बात राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण की या काफी सटीक फॉरवर्ड लुकिंग स्टेप है इस पर हम सब को पढ़ना चाहिए आपको यह बात समझ नहीं पड़ेगी कि यह 1971 से आगे बढ़ चुके हैं और बांग्लादेश आर्थिक बिल्कुल अस्थाई देश है और काफी प्रोग्रेस इस देश है काफी तेजी से आगे बढ़ने वाला देश है हमें आज उनके लोगों को शरण देने की कोई भी आवश्यकता नहीं है रही बात उन लोगों का क्या होगा जो है 30 साल से पैसे पड़े 40 साल से पैसे पड़े मेरा सिंपल कहना 30 साल से पैसे पड़े रहे या 40 साल से पैसे पड़े हैं अगर आप कानून से नहीं आए हैं आप कानूनी तरीके से नहीं आया तो आप घुसपैठिए हैं और आपका यहां पर स्थान नहीं है और अगर आपको बंगलादेश मना कर देता है तो आप हमारे हार रहे लेकिन कृपया करके उनके अधिकारों उनके अधिकारों से वंचित रखा जाए क्योंकि वह करते क्या हैं युवा एकजुट होकर किसी एक पार्टी को समर्पित समर्पित कर देते हैं सारा बोर्ड जिस से होता क्या कि वह पार्टी जो है उसके पक्ष से बोलने लग जाती है जैसा कि ममता बनर्जी कर रही है ममता बनर्जी का खुद का खुद का वोट बैंक है जो खुद का वोट बैंक के बंगाल में इतना मजबूत नहीं था लेकिन जैसे ही बंगलादेशियों कि वह प्रेमिका बनी वह वहां की रानी बन गई हो इसलिए ममता बनर्जी आदेश के विरोध में जाके देशद्रोह कर रही हैं मैं तो बिल्कुल देशद्रोही देशद्रोही मांगता हूं से जो जो वह कर रही हैं और उन्हें उनकी सजा इसे वहां के मतदाताओं को देखना चाहिए और अगले चुनाव में सबक सिखाना चाहिए ऐसे राजनेताओं को इस तरह की राजनीति हम पर बिल्कुल भी पसंद नहीं करनी चाहिएDekhie Mera Manana Hai Ki Rashtriya Hiton Par Kabhi Bhi Rajneeti Nahi Honi Chahiye Aur Yeh Mamata Banerjee Aur In Sare Jaise Sare Netaon Ko Samajhna Padega Aur In Netaon Ko Samjhaane Wala Aur Koi Nahi Hai Hum Aur Aap Hai Rahi Baat Rashtriya Nagarik Panjikaran Ki Ya Kafi Sateek Forward Looking Step Hai Is Par Hum Sab Ko Padhna Chahiye Aapko Yeh Baat Samajh Nahi Padegi Ki Yeh 1971 Se Aage Badh Chuke Hain Aur Bangladesh Aarthik Bilkul Asthai Desh Hai Aur Kafi Progress Is Desh Hai Kafi Teji Se Aage Badhne Wala Desh Hai Hume Aaj Unke Logon Ko Sharan Dene Ki Koi Bhi Avashyakta Nahi Hai Rahi Baat Un Logon Ka Kya Hoga Jo Hai 30 Saal Se Paise Pade 40 Saal Se Paise Pade Mera Simple Kehna 30 Saal Se Paise Pade Rahe Ya 40 Saal Se Paise Pade Hain Agar Aap Kanoon Se Nahi Aaye Hain Aap Kanooni Tarike Se Nahi Aaya To Aap Ghuspaithiye Hain Aur Aapka Yahan Par Sthan Nahi Hai Aur Agar Aapko Bangladesh Mana Kar Deta Hai To Aap Hamare Haar Rahe Lekin Kripya Karke Unke Adhikaaro Unke Adhikaaro Se Vanchit Rakha Jaye Kyonki Wah Karte Kya Hain Yuva Ekjoot Hokar Kisi Ek Party Ko Samarpit Samarpit Kar Dete Hain Saara Board Jis Se Hota Kya Ki Wah Party Jo Hai Uske Paksh Se Bolne Lag Jati Hai Jaisa Ki Mamata Banerjee Kar Rahi Hai Mamata Banerjee Ka Khud Ka Khud Ka Vote Bank Hai Jo Khud Ka Vote Bank Ke Bengal Mein Itna Mazboot Nahi Tha Lekin Jaise Hi Bangaladeshiyon Ki Wah Premika Bani Wah Wahan Ki Rani Ban Gayi Ho Isliye Mamata Banerjee Aadesh Ke Virodh Mein Jake Deshdroh Kar Rahi Hain Main To Bilkul Deshdrohi Deshdrohi Mangta Hoon Se Jo Jo Wah Kar Rahi Hain Aur Unhen Unki Saja Ise Wahan Ke Matdataon Ko Dekhna Chahiye Aur Agle Chunav Mein Sabak Sikhaana Chahiye Aise Rajnetao Ko Is Tarah Ki Rajneeti Hum Par Bilkul Bhi Pasand Nahi Karni Chahiye
Likes  4  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

असम में एनआरसी सरकार ने कराया था मुझे लगता है कि बहुत अच्छा और एक सराहनीय कदम तो सरकार उनका डायरेक्टली इसको नहीं कराया सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर था उसको सरकार ने एकजुट किया है और सरकार का दायित्व वित्त क...जवाब पढ़िये
असम में एनआरसी सरकार ने कराया था मुझे लगता है कि बहुत अच्छा और एक सराहनीय कदम तो सरकार उनका डायरेक्टली इसको नहीं कराया सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर था उसको सरकार ने एकजुट किया है और सरकार का दायित्व वित्त क्योंकि इस देश के रिसोर्सेज पर सबसे पहला अधिकार इस देश की जनता का है ना के ऐसे लोग जो दूसरे देशों से भागकर इस देश के दुश्मन संस्था बेरहमी से खत्म कर रहे हैं उनको यूज कर रहे हैं आप देखिए इस देश की जनसंख्या 30 करोड़ से ऊपर निकल में रह रहे हैं तो आप सोचिए कि जो लोग असम के पहले से रह रहे हैं उनके रिसोर्ट सिवा कहीं ना कहीं अनंत हो रहा है कहीं ना कहीं सरकार का एक से कदम को 40 लाइनों को देश से बाहर फेंकना चाहिए और कहीं ना कहीं जो भी राजनीति के ऊपर हो रही है वह केवल वोट बैंक के लिए हो रही है क्या ममता मुझे कांग्रेस पार्टी हो क्योंकि इनको देश के विकास से देश के रिसोर्ट से से कोई लेना देना नहीं है इनको बस अपना वोट और उनकी सत्ता की जरूरत हैAsam Mein NRC Sarkar Ne Karaya Tha Mujhe Lagta Hai Ki Bahut Accha Aur Ek Sarahniya Kadam To Sarkar Unka Directly Isko Nahi Karaya Supreme Court Ka Order Tha Usko Sarkar Ne Ekjoot Kiya Hai Aur Sarkar Ka Dayitva Vitt Kyonki Is Desh Ke Resources Par Sabse Pehla Adhikaar Is Desh Ki Janta Ka Hai Na Ke Aise Log Jo Dusre Deshon Se Bhagkar Is Desh Ke Dushman Sanstha Berehami Se Khatam Kar Rahe Hain Unko Use Kar Rahe Hain Aap Dekhie Is Desh Ki Jansankhya 30 Crore Se Upar Nikal Mein Rah Rahe Hain To Aap Sochie Ki Jo Log Asam Ke Pehle Se Rah Rahe Hain Unke Resort Siva Kahin Na Kahin Anant Ho Raha Hai Kahin Na Kahin Sarkar Ka Ek Se Kadam Ko 40 Lineon Ko Desh Se Bahar Phenkana Chahiye Aur Kahin Na Kahin Jo Bhi Rajneeti Ke Upar Ho Rahi Hai Wah Kewal Vote Bank Ke Liye Ho Rahi Hai Kya Mamata Mujhe Congress Party Ho Kyonki Inko Desh Ke Vikash Se Desh Ke Resort Se Se Koi Lena Dena Nahi Hai Inko Bus Apna Vote Aur Unki Satta Ki Zaroorat Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिस तरीके से इन दिनों यह नरसी का मुद्दा चल रहा है बहुत जोर शोर से प्रोपोगंडा हो रहा है इस मुद्दे पर राजनीति बहुत अहम रोल प्ले करें जो हमारे देश का नहीं है उसे बिल्कुल सीधे बाहर निकाल दो लेकिन हकीकत इस...जवाब पढ़िये
जिस तरीके से इन दिनों यह नरसी का मुद्दा चल रहा है बहुत जोर शोर से प्रोपोगंडा हो रहा है इस मुद्दे पर राजनीति बहुत अहम रोल प्ले करें जो हमारे देश का नहीं है उसे बिल्कुल सीधे बाहर निकाल दो लेकिन हकीकत इस देसी की यह है कि बीजेपी से अपने पक्ष में लाने के लिए गलत प्रोपोगंडा चला रही है कि जो देश का नहीं बांग्लादेशी विपक्षी विरोध कर रहे हैं उनको मतलब गलत साबित करने के लिए 3:30 लाख लोगों के पास जो है प्रॉपर आधार कार्ड पासपोर्ट प्रॉपर बैंक अकाउंट राशन कार्ड सारी चीजें हैं अपने इस देश कि उन्हें मिली हुई है 400009 दिन से बाहर निकालने की तैयारी कर रही हूं जिन लोगों के पास ऑलरेडी है देश के नागरिक नहीं है पर अगर देश के नागरिक हैं तो आप उन्हें क्यों हटाने पर तुले हो दूसरी की मालू फर्जी तरीके से बनवा भी लिया उन्होंने तो आप पहले उन अफसरों पर कार्रवाई करो उस सरकार पर कार्रवाई करो जिसकी वजह से जिन्होंने गलत तरीके से आने के सारे आइडेंटिटी प्रूफ दिलाएं इसलिए बहुत अहम रोल चीज हो जाती है लेकिन यह समझाया जा रहा है जनता को भ्रमित किया जा रहा है कि विपक्षी दल बाहर नहीं निकालना चाहते चाहे विपक्षी दल ने बीजेपी को 3:30 के पास ID प्रूफ माय इस देश के नागरिक होने के कितने दिन आएगा कि देश में है या नहींJis Tarike Se In Dinon Yeh Narasi Ka Mudda Chal Raha Hai Bahut Jor Shor Se Propoganda Ho Raha Hai Is Mudde Par Rajneeti Bahut Aham Roll Play Karen Jo Hamare Desh Ka Nahi Hai Use Bilkul Seedhe Bahar Nikal Do Lekin Haqiqat Is Desi Ki Yeh Hai Ki Bjp Se Apne Paksh Mein Lane Ke Liye Galat Propoganda Chala Rahi Hai Ki Jo Desh Ka Nahi Bangladeshi Vipakshi Virodh Kar Rahe Hain Unko Matlab Galat Saabit Karne Ke Liye 3:30 Lakh Logon Ke Paas Jo Hai Proper Aadhar Card Passport Proper Bank Account Raashan Card Saree Cheezen Hain Apne Is Desh Ki Unhen Mili Hui Hai 400009 Din Se Bahar Nikalne Ki Taiyari Kar Rahi Hoon Jin Logon Ke Paas Already Hai Desh Ke Nagarik Nahi Hai Par Agar Desh Ke Nagarik Hain To Aap Unhen Kyon Hatane Par Tule Ho Dusri Ki Malu Farjee Tarike Se Banwa Bhi Liya Unhone To Aap Pehle Un Afsaron Par Karyawahi Karo Us Sarkar Par Karyawahi Karo Jiski Wajah Se Jinhone Galat Tarike Se Aane Ke Sare Identity Proof Dilayen Isliye Bahut Aham Roll Cheez Ho Jati Hai Lekin Yeh Samjhaya Ja Raha Hai Janta Ko Bharmit Kiya Ja Raha Hai Ki Vipakshi Dal Bahar Nahi Nikalna Chahte Chahe Vipakshi Dal Ne Bjp Ko 3:30 Ke Paas ID Proof My Is Desh Ke Nagarik Hone Ke Kitne Din Aaega Ki Desh Mein Hai Ya Nahi
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी 23:00 में आसाम में एनसीईआरटी वाला मुद्दा गरमाया हुआ है और राजनीतिक दल इसमें भी राष्ट्रीय हित का नहीं सोच कर सिर्फ अपने बारे में सोच रहे हैं जो मुझे लगता है कि गलत है हमारे लिए हमारा देश सर्वोपरि ह...जवाब पढ़िये
अभी 23:00 में आसाम में एनसीईआरटी वाला मुद्दा गरमाया हुआ है और राजनीतिक दल इसमें भी राष्ट्रीय हित का नहीं सोच कर सिर्फ अपने बारे में सोच रहे हैं जो मुझे लगता है कि गलत है हमारे लिए हमारा देश सर्वोपरि है और अगर देश के हित में कुछ होता है तो उसका हमें समर्थन करना चाहिए ना कि उसका विरोध करना चाहिए असम में दशकों से अप्रवासी बांग्लादेशियों की वजह से छोटी मोटी घटनाएं होती रही है दंगे फसाद होते रहे हैं और यह जरूरी हो गया है कि बांग्लादेश से जो लोग भाग कर आए हैं शरणार्थी बनकर जो भारत में रह रहे हैं उन्हें अपने देश वापस लौट जाना चाहिए क्योंकि उन्होंने यहां आकर अपने यहां की नागरिकता की दस्तावेज भी बनवानी है हैं लेकिन उनकी वजह से यहां के जो लोग हैं उन्हें काफी परेशानियों को झेलना पड़ता है और उनकी वजह से कई तरह की परेशानियां भी पैदा होती है और कई बार उन लोगों में से कई लोग उस पर की और आतंकवादी भी निकल जाते हैं इसलिए देश की सुरक्षा के लिए और देश के हित में यह जरूरी कानून है एनआरसी जो अभी चल रहा है और इसका जो सेकंड पार्ट था वह भी जारी किया गया है उसी के विरोध में ममता बनर्जी भी बोल रही है और भी दल उनके पक्ष में बोल रहे हैं लेकिन मुझे लगता है कि इस तरह से राष्ट्रीय हित का समर्थन करना गलत है अगर आप भारत देश के वासी हैं और भारत से संबंध रखते हैं तो आपको पहले देश के बारे में सोचना चाहिए और फिर उन लोगों के बारे में सोचिए जो शरणार्थी बनकर हमारे देश में आए हैं और हमारे ही देश को नुकसान पहुंचा रहे हैं हमारे देश की जनता को तकलीफ पहुंचा रही हैAbhi 23:00 Mein Aassam Mein Ncert Wala Mudda Garamaayaa Hua Hai Aur Rajnitik Dal Isme Bhi Rashtriya Hit Ka Nahi Soch Kar Sirf Apne Bare Mein Soch Rahe Hain Jo Mujhe Lagta Hai Ki Galat Hai Hamare Liye Hamara Desh Sarvopari Hai Aur Agar Desh Ke Hit Mein Kuch Hota Hai To Uska Hume Samarthan Karna Chahiye Na Ki Uska Virodh Karna Chahiye Asam Mein Dashakon Se Apravasi Baanglaadeshiyon Ki Wajah Se Choti Moti Ghatnaye Hoti Rahi Hai Denge Fasad Hote Rahe Hain Aur Yeh Zaroori Ho Gaya Hai Ki Bangladesh Se Jo Log Bhag Kar Aaye Hain Sharanarthi Bankar Jo Bharat Mein Rah Rahe Hain Unhen Apne Desh Wapas Lot Jana Chahiye Kyonki Unhone Yahan Aakar Apne Yahan Ki Nagarikta Ki Dastavej Bhi Banwani Hai Hain Lekin Unki Wajah Se Yahan Ke Jo Log Hain Unhen Kafi Pareshaaniyon Ko Jhelna Padata Hai Aur Unki Wajah Se Kai Tarah Ki Pareshaniyan Bhi Paida Hoti Hai Aur Kai Bar Un Logon Mein Se Kai Log Us Par Ki Aur Aatankwadi Bhi Nikal Jaate Hain Isliye Desh Ki Suraksha Ke Liye Aur Desh Ke Hit Mein Yeh Zaroori Kanoon Hai NRC Jo Abhi Chal Raha Hai Aur Iska Jo Second Part Tha Wah Bhi Jaari Kiya Gaya Hai Ussi Ke Virodh Mein Mamata Banerjee Bhi Bol Rahi Hai Aur Bhi Dal Unke Paksh Mein Bol Rahe Hain Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Is Tarah Se Rashtriya Hit Ka Samarthan Karna Galat Hai Agar Aap Bharat Desh Ke Washee Hain Aur Bharat Se Sambandh Rakhate Hain To Aapko Pehle Desh Ke Bare Mein Sochna Chahiye Aur Phir Un Logon Ke Bare Mein Sochie Jo Sharanarthi Bankar Hamare Desh Mein Aaye Hain Aur Hamare Hi Desh Ko Nuksan Pahuncha Rahe Hain Hamare Desh Ki Janta Ko Takleef Pahuncha Rahi Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Assam Mein Rashtriya Nagarik Panjikaran NRC Ke Bare Mein Aapka Kya Rai Hai

vokalandroid