हमें बड़ों का सम्मान क्यों करना चाहिए ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो हमारे परिवारों में बचपन से ही बड़ों का आदर और सम्मान करना सिखाया जाता है लेकिन फिर भी कई बार कुछ बच्चे इस चीज को वक्त के साथ भूल जाते हैं और उन्हें लगता है कि यह कोई जरूरी नहीं है लेकिन मुझे ...जवाब पढ़िये
वैसे तो हमारे परिवारों में बचपन से ही बड़ों का आदर और सम्मान करना सिखाया जाता है लेकिन फिर भी कई बार कुछ बच्चे इस चीज को वक्त के साथ भूल जाते हैं और उन्हें लगता है कि यह कोई जरूरी नहीं है लेकिन मुझे लगता है कि हमें जरूर बड़ों का सम्मान करना चाहिए क्योंकि वह तो हमसे उम्र में बड़े हैं दूसरा अनुभव में भी वह हमसे बड़े हैं हम उनसे बहुत कुछ सीख सकते हैं और बहुत कुछ पा सकते हैं अगर हमारे सामने कभी कोई समस्या आ जाती है तो जो हमारे बड़े बुजुर्ग हैं वह जरूर उसका कोई ना कोई समाधान हमें बता सकते हैं और वह हमसे सिर्फ प्यार स्नेह और आदर ही चाहते हैं जबकि उनसे बदले में हमें बहुत कुछ मिलता है यदि हम उन्हें सम्मान देंगे तो हमसे जो छोटे हैं वह भी हमें सम्मान देंगे और यह इंग्लैंड का जो चलन है वह हमेशा चलता रहता है एक कहावत है कि अमरीका खाया और सयानी का कहा बाद में पता चलता है मतलब आंवले के जो गुण हैं वह उसके खाने के बाद भी आपको पता चलेंगे उसी तरह किसी भी बड़ी व्यक्ति की कोई गुणकारी बात भी आपको वक्त आने पर ही पता चलेगी कि उनकी इस बात में कितनी शिक्षा कि मुझे लगता है हमेशा अगर हम अपने बड़ों का सम्मान करेंगे तो जो हमसे छोटे हैं जो हमारा परिवार है जो हमारे बच्चे हैं वह भी हमसे यही शिक्षा लेंगे और इसी तरह हमारा अनुसरण करेंगे और हमारा जो भविष्य है वह सुरक्षित और सुंदर होगा लेकिन अगर आज हम अपने बड़ों का सम्मान नहीं करेंगे तो हमारे बच्चे भी वही सीखेंगे इसलिए मुझे लगता है कि हमें बड़ों का सम्मान करना चाहिएWaise To Hamare Parivaro Mein Bachpan Se Hi Badon Ka Aadar Aur Samman Karna Sikhaya Jata Hai Lekin Phir Bhi Kai Bar Kuch Bacche Is Cheez Ko Waqt Ke Saath Bhul Jaate Hain Aur Unhen Lagta Hai Ki Yeh Koi Zaroori Nahi Hai Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Hume Jarur Badon Ka Samman Karna Chahiye Kyonki Wah To Humse Umar Mein Bade Hain Doosra Anubhav Mein Bhi Wah Humse Bade Hain Hum Unse Bahut Kuch Seekh Sakte Hain Aur Bahut Kuch Pa Sakte Hain Agar Hamare Samane Kabhi Koi Samasya Aa Jati Hai To Jo Hamare Bade Bujurg Hain Wah Jarur Uska Koi Na Koi Samadhan Hume Bata Sakte Hain Aur Wah Humse Sirf Pyar Sneh Aur Aadar Hi Chahte Hain Jabki Unse Badle Mein Hume Bahut Kuch Milta Hai Yadi Hum Unhen Samman Denge To Humse Jo Chote Hain Wah Bhi Hume Samman Denge Aur Yeh England Ka Jo Chalan Hai Wah Hamesha Chalta Rehta Hai Ek Kahaavat Hai Ki America Khaya Aur Sayani Ka Kaha Baad Mein Pata Chalta Hai Matlab Aanvale Ke Jo Gun Hain Wah Uske Khane Ke Baad Bhi Aapko Pata Chalenge Ussi Tarah Kisi Bhi Badi Vyakti Ki Koi Gunkari Baat Bhi Aapko Waqt Aane Par Hi Pata Chalegi Ki Unki Is Baat Mein Kitni Shiksha Ki Mujhe Lagta Hai Hamesha Agar Hum Apne Badon Ka Samman Karenge To Jo Humse Chote Hain Jo Hamara Parivar Hai Jo Hamare Bacche Hain Wah Bhi Humse Yahi Shiksha Lenge Aur Isi Tarah Hamara Anusaran Karenge Aur Hamara Jo Bhavishya Hai Wah Surakshit Aur Sundar Hoga Lekin Agar Aaj Hum Apne Badon Ka Samman Nahi Karenge To Hamare Bacche Bhi Wahi Sikhenge Isliye Mujhe Lagta Hai Ki Hume Badon Ka Samman Karna Chahiye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे मुझे लगता कि हमें बड़ों का सम्मान इसलिए करना चाहिए क्योंकि पहली बात तो हमसे उम्र में बड़े होते हैं उन्होंने यह जिंदगी का ज्यादा अनुभव लिया होता है ज्यादा समय देखा हुआ होता है और इंसान जितना ज्याद...जवाब पढ़िये
मुझे मुझे लगता कि हमें बड़ों का सम्मान इसलिए करना चाहिए क्योंकि पहली बात तो हमसे उम्र में बड़े होते हैं उन्होंने यह जिंदगी का ज्यादा अनुभव लिया होता है ज्यादा समय देखा हुआ होता है और इंसान जितना ज्यादा ही जीवन में जीता रहता है और जितनी ज्यादा अनुभव लेते रहता है उतनी ही ज्यादा अच्छे से सीखता रहता है तो मुझे लगता है कि बड़े जो होते हैं हमारे उम्र से हम से रिश्ते में वगैरा तो उनके पास चीजों को लेकर इतना अनुभव होता है उतना ज्ञान हो तो इतनी समझ होती तो हमें उनका आदर इसलिए करना चाहिए कि हम हैं उनसे वह सारी चीजें अच्छे से सीख सकें और उन्होंने जो चीजें गलतियां की है अपनी लाइफ में उसकी गलतियों से सीखें हम वो गलतियां ना दौर हैMujhe Mujhe Lagta Ki Hume Badon Ka Samman Isliye Karna Chahiye Kyonki Pehli Baat To Humse Umar Mein Bade Hote Hain Unhone Yeh Zindagi Ka Jyada Anubhav Liya Hota Hai Jyada Samay Dekha Hua Hota Hai Aur Insaan Jitna Jyada Hi Jeevan Mein Jita Rehta Hai Aur Jitni Jyada Anubhav Lete Rehta Hai Utani Hi Jyada Acche Se Sikhata Rehta Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Bade Jo Hote Hain Hamare Umar Se Hum Se Rishte Mein Vagaira To Unke Paas Chijon Ko Lekar Itna Anubhav Hota Hai Utana Gyaan Ho To Itni Samajh Hoti To Hume Unka Aadar Isliye Karna Chahiye Ki Hum Hain Unse Wah Saree Cheezen Acche Se Seekh Saken Aur Unhone Jo Cheezen Galtiya Ki Hai Apni Life Mein Uski Galatiyon Se Sikhe Hum Vo Galtiya Na Daur Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Humein Badon Ka Sammaan Kyon Karna Chahiye ?, हमें बड़ों का आदर क्यों करना चाहिए, बड़ों का आदर क्यों करना चाहिए

vokalandroid