BTC करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...ग्रेजुएशन के बाद मिनिमम कितने पर्सेंट मार्क्स होना चाहिए उसके बाद टेंथ और ट्वेल्थ की......
जवाब पढ़िये
...ग्रेजुएशन के बाद मिनिमम कितने पर्सेंट मार्क्स होना चाहिए उसके बाद टेंथ और ट्वेल्थ की...
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...है ठीक है परंतु रिजल्ट के बाद बीटीसी उततर लेकिन......
जवाब पढ़िये
...है ठीक है परंतु रिजल्ट के बाद बीटीसी उततर लेकिन...
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...कंप्लीट करना होगा मिनिमम 50% रहना होगा और कोई भी रखना इस यूनिवर्सिटी से और......
जवाब पढ़िये
...कंप्लीट करना होगा मिनिमम 50% रहना होगा और कोई भी रखना इस यूनिवर्सिटी से और...
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon
BTC को (बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट कहते हैं। आपको बता दे की BTC भारत Goverment के द्वारा चलाये जाने वाला एक certification course है जो NCTE संस्था द्वारा चलाया जा रहा है जिसे करने के बाद primary schools teacher की नौकरी मिलती है. । BTC (बीटीसी) करने के लिए योग्यता हाई स्कूल और इण्टर पास होना चाहिए।
Romanized Version
BTC को (बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट कहते हैं। आपको बता दे की BTC भारत Goverment के द्वारा चलाये जाने वाला एक certification course है जो NCTE संस्था द्वारा चलाया जा रहा है जिसे करने के बाद primary schools teacher की नौकरी मिलती है. । BTC (बीटीसी) करने के लिए योग्यता हाई स्कूल और इण्टर पास होना चाहिए। BTC Ko Basic Training Certificate Kehte Hain Aapko Bata De Ki BTC Bharat Goverment Ke Dwara Chalae Jaane Vala Ek Certification Course Hai Jo NCTE Sanstha Dwara Chalaya Ja Raha Hai Jise Karne Ke Baad Primary Schools Teacher Ki Naukri Milti Hai BTC BTC Karne Ke Liye Yogyata Hi School Aur Inter Paas Hona Chahiye
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
आप सभी जानते हैं कि टीचर का काम कितनी जिम्मेदारी का होता है क्योंकि उनको एक बच्चे को पढ़ाना होता है, एक बच्चे को शिक्षा देनी होती है। और एक प्राइमरी स्कूल के बच्चे को पढ़ाना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए सरकार ने प्राइमरी के बच्चों को पढ़ाने के लिए बहुत कोर्स बनाये है जिनको करने के बाद आप एक प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) बन सकते हैं। इन्ही कोर्सों में से एक कोर्स डी. एल. एड है। जब आप डी. एल. एड करेंगे तब उसमें आपको बच्चो को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। आपको सिखाया जाएगा कि बच्चो को कैसे पढ़ाना है ?, बच्चो को पढ़ाने का लेटेस्ट मैथेड (Latest Method) क्या होता है ? आपको बता दें कि DLED, 2 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स होता है। डी. एल. एड करने के बाद आप एक अध्यापक बन सकते हैं। आपको बता दें कि यूपी में पहले डी. एल. एड को बीटीसी कहते थे। अब 2017 से बीटीसी को डी. एल. एड(D.L.ED) कहा जाने लगा है। डीएलएड यूपी में प्रति वर्ष बहुत अधिक संख्या में उम्मीदवार डी एल एड परीक्षा देते हैं। डी. एल. एड का फुल फॉर्म है डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन। आपको ये भी बता दें कि डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन करने के बाद आपको टेट या सीटेट भी पास करना होगा आप तभी सरकारी अध्यापक बन सकते हैं।
Romanized Version
आप सभी जानते हैं कि टीचर का काम कितनी जिम्मेदारी का होता है क्योंकि उनको एक बच्चे को पढ़ाना होता है, एक बच्चे को शिक्षा देनी होती है। और एक प्राइमरी स्कूल के बच्चे को पढ़ाना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए सरकार ने प्राइमरी के बच्चों को पढ़ाने के लिए बहुत कोर्स बनाये है जिनको करने के बाद आप एक प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) बन सकते हैं। इन्ही कोर्सों में से एक कोर्स डी. एल. एड है। जब आप डी. एल. एड करेंगे तब उसमें आपको बच्चो को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। आपको सिखाया जाएगा कि बच्चो को कैसे पढ़ाना है ?, बच्चो को पढ़ाने का लेटेस्ट मैथेड (Latest Method) क्या होता है ? आपको बता दें कि DLED, 2 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स होता है। डी. एल. एड करने के बाद आप एक अध्यापक बन सकते हैं। आपको बता दें कि यूपी में पहले डी. एल. एड को बीटीसी कहते थे। अब 2017 से बीटीसी को डी. एल. एड(D.L.ED) कहा जाने लगा है। डीएलएड यूपी में प्रति वर्ष बहुत अधिक संख्या में उम्मीदवार डी एल एड परीक्षा देते हैं। डी. एल. एड का फुल फॉर्म है डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन। आपको ये भी बता दें कि डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन करने के बाद आपको टेट या सीटेट भी पास करना होगा आप तभी सरकारी अध्यापक बन सकते हैं।Aap Sabhi Jante Hain Ki Teacher Ka Kaam Kitni Jimmedari Ka Hota Hai Kyonki Unko Ek Bacche Ko Padhana Hota Hai Ek Bacche Ko Shiksha Deni Hoti Hai Aur Ek Primary School Ke Bacche Ko Padhana Bahut Mushkil Hota Hai Isliye Sarkar Ne Primary Ke Bacchon Ko Padhane Ke Liye Bahut Course Banaye Hai Jinako Karne Ke Baad Aap Ek Primary Teacher (Primary Teacher) Ban Sakte Hain Inhi Korson Mein Se Ek Course D El Aid Hai Jab Aap D El Aid Karenge Tab Usamen Aapko Baccho Ko Padhane Ke Liye Training Di Jayegi Aapko Sikhaya Jayega Ki Baccho Ko Kaise Padhana Hai ?, Baccho Ko Padhane Ka Latest Maithed (Latest Method) Kya Hota Hai ? Aapko Bata Dein Ki DLED, 2 Varsh Ka Diploma Course Hota Hai D El Aid Karne Ke Baad Aap Ek Adhyapak Ban Sakte Hain Aapko Bata Dein Ki Up Mein Pehle D El Aid Ko BTC Kehte The Ab 2017 Se BTC Ko D El Aid Kaha Jaane Laga Hai Dld Up Mein Prati Varsh Bahut Adhik Sankhya Mein Ummidvar D El Aid Pariksha Dete Hain D El Aid Ka Full Form Hai Diploma In Elimentari Education Aapko Yeh Bhi Bata Dein Ki Diploma In Elimentari Education Karne Ke Baad Aapko Teat Ya Sitet Bhi Paas Karna Hoga Aap Tabhi Sarkari Adhyapak Ban Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
यूपी बीटीसी डी.एल.एड 2019 की योग्यता डी.एल.एड (D.EL.Ed) 1 – 2 साल का फुल टाइम डिप्लोमा कोर्स है जो 4 सेमेस्टर में जाकर पूरा होता है। इस कोर्स के लिए बीए, बीएससी, बीकॉम, बीसीए, बीबीए, बीटेक जैसे किसी भी क्षेत्र में 50 प्रतिशत अंक के साथ बैचलर डिग्री वाले कैंडिडेट डीएलएड के लिए आवेदन कर सकते हैं। एससी/एसटी/ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 5 प्रतिशत अंक की छूट दी गई है। आयु सीमा- कैंडिडेट की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए। एससी/ एसटी/ ओबीसी कैटेगरी के उम्मीदवारों को 5 वर्ष की सामान्य छूट होगी। चयन प्रक्रिया- यूपी डी.एल.एड (UP D.EL.Ed) में उम्मीदवारों का चयन मेरिट लिस्ट और कट ऑफ स्कोर के आधार पर किया जाएगा। आपको कक्षा 10वीं, 12वीं और बैचलर के अंक के आधार पर कोर्स करने के लिए कॉलेज प्रदान किया जाएगा। इससे पहले काउन्सिलिंग प्रक्रिया भी होगी।
Romanized Version
यूपी बीटीसी डी.एल.एड 2019 की योग्यता डी.एल.एड (D.EL.Ed) 1 – 2 साल का फुल टाइम डिप्लोमा कोर्स है जो 4 सेमेस्टर में जाकर पूरा होता है। इस कोर्स के लिए बीए, बीएससी, बीकॉम, बीसीए, बीबीए, बीटेक जैसे किसी भी क्षेत्र में 50 प्रतिशत अंक के साथ बैचलर डिग्री वाले कैंडिडेट डीएलएड के लिए आवेदन कर सकते हैं। एससी/एसटी/ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 5 प्रतिशत अंक की छूट दी गई है। आयु सीमा- कैंडिडेट की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए। एससी/ एसटी/ ओबीसी कैटेगरी के उम्मीदवारों को 5 वर्ष की सामान्य छूट होगी। चयन प्रक्रिया- यूपी डी.एल.एड (UP D.EL.Ed) में उम्मीदवारों का चयन मेरिट लिस्ट और कट ऑफ स्कोर के आधार पर किया जाएगा। आपको कक्षा 10वीं, 12वीं और बैचलर के अंक के आधार पर कोर्स करने के लिए कॉलेज प्रदान किया जाएगा। इससे पहले काउन्सिलिंग प्रक्रिया भी होगी।Up BTC D El Aid 2019 Ki Yogyata D El Aid (D.EL.Ed) 1 – 2 Saal Ka Full Time Diploma Course Hai Jo 4 Semester Mein Jaakar Pura Hota Hai Is Course Ke Liye Ba Bsc B.COM Bca Bba Btech Jaise Kisi Bhi Shetra Mein 50 Pratishat Ank Ke Saath Bachelor Degree Wali Candidate Dld Ke Liye Avedan Kar Sakte Hain Sc ST Obc Varg Ke Ummidwaron Ke Liye 5 Pratishat Ank Ki Chhut Di Gayi Hai Aayu Seema Candidate Ki Nyunatam Aayu 18 Varsh Aur Adhiktam Aayu 35 Varsh Honi Chahiye Sc ST Obc Category Ke Ummidwaron Ko 5 Varsh Ki Samanya Chhut Hogi Chayan Prakriya Up D El Aid (UP D.EL.Ed) Mein Ummidwaron Ka Chayan Merit List Aur Cut Of Score Ke Aadhar Par Kiya Jayega Aapko Kaksha Vi Vi Aur Bachelor Ke Ank Ke Aadhar Par Course Karne Ke Liye College Pradan Kiya Jayega Isse Pehle Counseling Prakriya Bhi Hogi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
बी.टी.सी. करने के लिए स्नातक की योग्यता होनी चाहिए। योग्य उम्मीदवारों को बीटीसी (बी.टी.सी.) परामर्श के लिए बुलाया जाएगा। बोर्ड काउंसिलिंग का संचालन करेगा और चयन करने वाले उम्मीदवारों को परामर्श पत्र आवंटन पत्रों का प्रिंट आउट प्राप्त करने में सक्षम होगा। उम्मीदवारों को कॉलेज में आवंटन पत्र और अन्य निर्धारित दस्तावेजों के उत्पादन के बाद ही अपनी पसंद के कॉलेज में भर्ती कराया जाएगा।
Romanized Version
बी.टी.सी. करने के लिए स्नातक की योग्यता होनी चाहिए। योग्य उम्मीदवारों को बीटीसी (बी.टी.सी.) परामर्श के लिए बुलाया जाएगा। बोर्ड काउंसिलिंग का संचालन करेगा और चयन करने वाले उम्मीदवारों को परामर्श पत्र आवंटन पत्रों का प्रिंट आउट प्राप्त करने में सक्षम होगा। उम्मीदवारों को कॉलेज में आवंटन पत्र और अन्य निर्धारित दस्तावेजों के उत्पादन के बाद ही अपनी पसंद के कॉलेज में भर्ती कराया जाएगा। Be T Si Karne Ke Liye Snatak Ki Yogyata Honi Chahiye Yogya Ummidwaron Ko BTC Be T Si Paramarsh Ke Liye Bulaya Jayega Board Counseling Ka Sanchalan Karega Aur Chayan Karne Wali Ummidwaron Ko Paramarsh Patra Aawantan Patron Ka Print Out Prapt Karne Mein Saksham Hoga Ummidwaron Ko College Mein Aawantan Patra Aur Anya Nirdharit Dastawejon Ke Utpadan Ke Baad Hi Apni Pasand Ke College Mein Bharti Karaya Jayega
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
BTC करने के लिए आपको कक्षा 12 पास होना आवश्यक है।उत्तर प्रदेश में बीटीसी में अब कम मेरिट वाले छात्रों को भी प्रवेश में मौका मिल सकेगा। वजह साफ है कि प्रदेश में बीटीसी की सीटें 15,250 से बढ़कर 32,950 हो गई हैं। इन सीटों पर प्रवेश प्रक्रिया अगले हफ्ते से शुरू करने की तैयारी है। इसके लिए शीघ्र ही शासनादेश जारी कर दिया जाएगा। शासनादेश जारी होने के तीन दिन बाद विज्ञापन प्रकाशित हो जाएगा और इसके सात दिन बाद आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षक बनने की योग्यता बीटीसी है। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) के साथ निजी बीटीसी कॉलेजों में प्रवेश की व्यवस्था है। प्रदेश में मौजूदा समय डायटों में 10,400 और निजी क्षेत्र के 451 बीटीसी कॉलेजों में 22,550 सीटें हैं। प्रत्येक बीटीसी कॉलेजों में 50 सीटें हैं। पिछले साल यानी सत्र 2012-13 में बीटीसी की 15,250 सीटें थीं। इसमें डायटों में 10,400 और निजी क्षेत्र के 97 कॉलेजों में 4850 सीटें थीं। इस साल प्रवेश के लिए सभी जिलों में आवेदन का मौका छात्रों को मिलेगा। पहले मूल जिले में ही आवेदन करने की छूट दी थी, इस बार प्रदेश के सभी जिलों में आवेदन करने की छूट होगी। आवेदन ऑनलाइन लिए जाएंगे।
Romanized Version
BTC करने के लिए आपको कक्षा 12 पास होना आवश्यक है।उत्तर प्रदेश में बीटीसी में अब कम मेरिट वाले छात्रों को भी प्रवेश में मौका मिल सकेगा। वजह साफ है कि प्रदेश में बीटीसी की सीटें 15,250 से बढ़कर 32,950 हो गई हैं। इन सीटों पर प्रवेश प्रक्रिया अगले हफ्ते से शुरू करने की तैयारी है। इसके लिए शीघ्र ही शासनादेश जारी कर दिया जाएगा। शासनादेश जारी होने के तीन दिन बाद विज्ञापन प्रकाशित हो जाएगा और इसके सात दिन बाद आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षक बनने की योग्यता बीटीसी है। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) के साथ निजी बीटीसी कॉलेजों में प्रवेश की व्यवस्था है। प्रदेश में मौजूदा समय डायटों में 10,400 और निजी क्षेत्र के 451 बीटीसी कॉलेजों में 22,550 सीटें हैं। प्रत्येक बीटीसी कॉलेजों में 50 सीटें हैं। पिछले साल यानी सत्र 2012-13 में बीटीसी की 15,250 सीटें थीं। इसमें डायटों में 10,400 और निजी क्षेत्र के 97 कॉलेजों में 4850 सीटें थीं। इस साल प्रवेश के लिए सभी जिलों में आवेदन का मौका छात्रों को मिलेगा। पहले मूल जिले में ही आवेदन करने की छूट दी थी, इस बार प्रदेश के सभी जिलों में आवेदन करने की छूट होगी। आवेदन ऑनलाइन लिए जाएंगे।BTC Karne Ke Liye Aapko Kaksha 12 Paas Hona Aavashyak Hai Uttar Pradesh Mein BTC Mein Ab Kam Merit Wali Chhatro Ko Bhi Pravesh Mein Mauka Mil Sakega Wajah Saaf Hai Ki Pradesh Mein BTC Ki Seaten 15,250 Se Badhkar 32,950 Ho Gayi Hain In Seaton Par Pravesh Prakriya Agle Hafte Se Shuru Karne Ki Taiyari Hai Iske Liye Shighra Hi Shasnadesh Jaari Kar Diya Jayega Shasnadesh Jaari Hone Ke Teen Din Baad Vigyapan Prakashit Ho Jayega Aur Iske Saat Din Baad Avedan Lene Ki Prakriya Shuru Ho Jayegi Uttar Pradesh Ke Basic Shiksha Parishad Ke Schoolon Mein Shikshak Banne Ki Yogyata BTC Hai Jila Shiksha Evam Prashikshan Sansthan Diet Ke Saath Niji BTC Collegeon Mein Pravesh Ki Vyavastha Hai Pradesh Mein Maujuda Samay Dayaton Mein 10,400 Aur Niji Shetra Ke 451 BTC Collegeon Mein 22,550 Seaten Hain Pratyek BTC Collegeon Mein 50 Seaten Hain Pichhle Saal Yani Satra 2012-13 Mein BTC Ki 15,250 Seaten Thi Isme Dayaton Mein 10,400 Aur Niji Shetra Ke 97 Collegeon Mein 4850 Seaten Thi Is Saal Pravesh Ke Liye Sabhi Jilon Mein Avedan Ka Mauka Chhatro Ko Milega Pehle Mul Jile Mein Hi Avedan Karne Ki Chhut Di Thi Is Baar Pradesh Ke Sabhi Jilon Mein Avedan Karne Ki Chhut Hogi Avedan Online Liye Jaenge
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: BTC Karne Ke Liye Kya Yogyata Honi Chahiye ?, What Are The Qualifications To BTC? , Btc Ke Liye Kya Yogyata Honi Chahiye, Btc Karne Ke Liye Yogita, Btc Karne Ke Liye Kya Yogyata Honi Chahiye, B T C Karne Ke Liye Kya Kare, Btc Karne Ke Liye, Btc Karne Ke Liye Kya Kre, बीटीसी करने के लिए योग्यता, D El Ed Ke Liye Yogyta, Btc Ke Liye Qualification In Hindi, बीटीसी के लिए न्यूनतम योग्यता, Btc Kitne Saal Ki Hai, Btc Karne Ke Liye Kya Chahiye, D.el.ed Ke Liye Yogyta, Btc Kya Hoti Hai, Btc Kitne Saal Ka Course Hai, Btc Ki Taiyari Kaise Kare, Btc Ke Liye Qualification, Btc Ke Liye, Btc Karne Ke Liye Kitne Percentage Chahiye, Btc Chahiye

vokalandroid