प्रधानमंत्री मोदी, प्रत्येक वर्ष सैनिकों के साथ दिवाली क्यों मानते है? भारत तो एक धर्मनिरपेक्ष देश है, तो वें अन्य त्यौहार क्यों नहीं मानते? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे सबसे पहले तू आज नाटक का आर्मी वालों को की वालों की बात आती है सैनिकों की बात आती है तो वहां पर धर्म के नाम पर या फिर जातियों के नाम पर उनको विभाजन नहीं किया जाता है सभी अपने आप को एक मानते हैं तो...जवाब पढ़िये
लिखे सबसे पहले तू आज नाटक का आर्मी वालों को की वालों की बात आती है सैनिकों की बात आती है तो वहां पर धर्म के नाम पर या फिर जातियों के नाम पर उनको विभाजन नहीं किया जाता है सभी अपने आप को एक मानते हैं तो वहां पर प्रधानमंत्री मोदी जी अगर रख दिवाली मनाने जा रहे हैं रक्षाबंधन बनाने जा रही है या फिर कोई और जगह भी मनाने जा रहे हैं तो वहां पर यह नहीं देखा जाता कि वह कौन से धर्म का त्यौहार मनाने जा रहे हैं और जी हां हमारा देश एक धर्मनिरपेक्ष देश है और वहां पर हर त्यौहार मनाया जाता है तो सिर्फ दिवाली ही क्यों तो देखिए मैं आपको बताना चाहूंगी कि दिवाली ही नहीं बल्कि को और भी त्यौहार मनाने वहां पर गए हैं सैनिकों के साथ तो आप यह चीज नहीं कह सकते कि सिर्फ हिंदुओं का त्यौहार मनाने गए बल्कि क्वार्टर में कभी त्योहार मनाने गए दूसरी बात यह दिवाली हमारे देश में ज्यादातर सभी धर्मों के लोग इस तरह से मनाते हैं और ज्यादातर लोग उसको पूरी तरह से फॉलो नहीं करते कि जैसे दीवाली मनाई जाती है हिंदू परिवार में पैसे बाकी परिवारों में इतनी अच्छे से नहीं बनाई जाती है लेकिन दिवाली बहुत खुशी माहौल होता है पूरे देश के लिए तो उसमें सैनिकों के साथ जाकर उनका प्रोत्साहन करना उन को बढ़ावा देना और उनको देश के प्रति जो वह सेवा कर रहे हैं उसके लिए उनके शुक्रिया करना एक अच्छा अवसर होता दिवाली पर तो आज हमारे देश में जाति पॉपुलैरिटी यह हिंदुओं की है और हम को अपनी सेना में भी हिंदू ही ज्यादा देखते हैं तो वहां पर जाकर वही प्रोत्साहन देते हैं उनके हम आपके साथ दीवाली में नारी अगर आपका परिवार नहीं है तो मैं वहां पर यह सब चीजें सोचना कि हमारा देश धर्मनिरपेक्ष है या फिर प्रधानमंत्री कौन सा फेस्टिवल उनके साथ मनाने का यह सब चीजें सोचना मुझे सही नहीं लग रहाLikhe Sabse Pehle Tu Aaj Natak Ka Army Walon Ko Ki Walon Ki Baat Aati Hai Sainikon Ki Baat Aati Hai To Wahan Par Dharm Ke Naam Par Ya Phir Jaatiyo Ke Naam Par Unko Vibhajan Nahi Kiya Jata Hai Sabhi Apne Aap Ko Ek Manate Hain To Wahan Par Pradhanmantri Modi Ji Agar Rakh Diwali Manane Ja Rahe Hain Rakshabandhan Banane Ja Rahi Hai Ya Phir Koi Aur Jagah Bhi Manane Ja Rahe Hain To Wahan Par Yeh Nahi Dekha Jata Ki Wah Kaun Se Dharm Ka Tyohar Manane Ja Rahe Hain Aur Ji Haan Hamara Desh Ek Dharmanirapeksh Desh Hai Aur Wahan Par Har Tyohar Manaya Jata Hai To Sirf Diwali Hi Kyon To Dekhie Main Aapko Batana Chahungi Ki Diwali Hi Nahi Balki Ko Aur Bhi Tyohar Manane Wahan Par Gaye Hain Sainikon Ke Saath To Aap Yeh Cheez Nahi Keh Sakte Ki Sirf Hinduon Ka Tyohar Manane Gaye Balki Quarter Mein Kabhi Tyohaar Manane Gaye Dusri Baat Yeh Diwali Hamare Desh Mein Jyadatar Sabhi Dharmon Ke Log Is Tarah Se Manate Hain Aur Jyadatar Log Usko Puri Tarah Se Follow Nahi Karte Ki Jaise Diwali Manai Jati Hai Hindu Parivar Mein Paise Baki Parivaro Mein Itni Acche Se Nahi Banai Jati Hai Lekin Diwali Bahut Khushi Maahaul Hota Hai Poore Desh Ke Liye To Usamen Sainikon Ke Saath Jaakar Unka Protsahan Karna Un Ko Badhawa Dena Aur Unko Desh Ke Prati Jo Wah Seva Kar Rahe Hain Uske Liye Unke Shukriyaa Karna Ek Accha Avsar Hota Diwali Par To Aaj Hamare Desh Mein Jati Popularity Yeh Hinduon Ki Hai Aur Hum Ko Apni Sena Mein Bhi Hindu Hi Jyada Dekhte Hain To Wahan Par Jaakar Wahi Protsahan Dete Hain Unke Hum Aapke Saath Diwali Mein Nari Agar Aapka Parivar Nahi Hai To Main Wahan Par Yeh Sab Cheezen Sochna Ki Hamara Desh Dharmanirapeksh Hai Ya Phir Pradhanmantri Kaun Sa Festival Unke Saath Manane Ka Yeh Sab Cheezen Sochna Mujhe Sahi Nahi Lag Raha
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा नहीं है कि प्रधानमंत्री मोदी केवल सैनिकों के साथ दीपावली मनाते हैं आप देखी वह समय जब सैनिकों के साथ उन्होंने दीपावली मनाई थी कश्मीर जाकर तो उस समय अवधि के कितने ज्यादा डिप्रेशन हुई थी पाकिस्तान की...जवाब पढ़िये
ऐसा नहीं है कि प्रधानमंत्री मोदी केवल सैनिकों के साथ दीपावली मनाते हैं आप देखी वह समय जब सैनिकों के साथ उन्होंने दीपावली मनाई थी कश्मीर जाकर तो उस समय अवधि के कितने ज्यादा डिप्रेशन हुई थी पाकिस्तान की तरफ से और हमारे को सैनिक शहीद भी हो गए थे बहुत बार सीजफायर उल्लंघन हुआ तो कहीं मोदी जी उनके साथ दीपावली मनाते हैं इसका एक ही मैसेज निकलता है कि कहीं ना कहीं हमारे देश के जवानों का उत्साह बढ़ा रहे हैं उनको मोटिवेट करें तो उसमें आदमी कोई गलत बात नहीं है और आप देखिए जब भी इसके अलावा प्रधानमंत्री वह भी और भी और भी जगह जाते हैं जैसे देखी कुछ दिन पहले गुरुद्वारे गए थे पैसा नहीं है क्या कि केवल हिंदू है तो केवल दीपावली गुरुद्वारे भी जाते हैं कुछ दिन पहले वो मंदिर भी गए थे एकदम कहना गलत है कि भारत धर्मनिरपेक्ष देश है और हमारे देश के प्रधानमंत्री सेलिब्रेट करते हैं बिल्कुल गलत है कोई भी प्रधानमंत्री एक दिन को सेलिब्रेट नहीं कर सकता क्योंकि प्रधानमंत्री के लिए पूरा देश उसका घर होता है हरिजन उसके लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि उसका खुद का रिलिजनAisa Nahi Hai Ki Pradhanmantri Modi Kewal Sainikon Ke Saath Deepawali Manate Hain Aap Dekhi Wah Samay Jab Sainikon Ke Saath Unhone Deepawali Manai Thi Kashmir Jaakar To Us Samay Avadhi Ke Kitne Jyada Depression Hui Thi Pakistan Ki Taraf Se Aur Hamare Ko Sainik Shahid Bhi Ho Gaye The Bahut Bar Ceasefire Ullanghan Hua To Kahin Modi Ji Unke Saath Deepawali Manate Hain Iska Ek Hi Massage Nikalta Hai Ki Kahin Na Kahin Hamare Desh Ke Jawano Ka Utsaah Badha Rahe Hain Unko Motivate Karen To Usamen Aadmi Koi Galat Baat Nahi Hai Aur Aap Dekhie Jab Bhi Iske Alava Pradhanmantri Wah Bhi Aur Bhi Aur Bhi Jagah Jaate Hain Jaise Dekhi Kuch Din Pehle Gurudware Gaye The Paisa Nahi Hai Kya Ki Kewal Hindu Hai To Kewal Deepawali Gurudware Bhi Jaate Hain Kuch Din Pehle Vo Mandir Bhi Gaye The Ekdam Kehna Galat Hai Ki Bharat Dharmanirapeksh Desh Hai Aur Hamare Desh Ke Pradhanmantri Celebrate Karte Hain Bilkul Galat Hai Koi Bhi Pradhanmantri Ek Din Ko Celebrate Nahi Kar Sakta Kyonki Pradhanmantri Ke Liye Pura Desh Uska Ghar Hota Hai Harijan Uske Liye Utana Hi Mahatvapurna Hai Jitna Ki Uska Khud Ka Religion
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कहना सही है कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है लेकिन भारत को हिंदू बाहुल्य देश है यहां दिवाली को बहुत धूमधाम से और बहुत बड़ी संख्या में लोग मनाते हैं और सही को मैं उत्साहवर्धन करने के लिए मुझे नहीं ल...जवाब पढ़िये
आपका कहना सही है कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है लेकिन भारत को हिंदू बाहुल्य देश है यहां दिवाली को बहुत धूमधाम से और बहुत बड़ी संख्या में लोग मनाते हैं और सही को मैं उत्साहवर्धन करने के लिए मुझे नहीं लगता कि किसी एक त्योहार की कोई अहमियत है मुझे लगता है जब भी हम सैनिकों के पास जाएं तो वहां उत्साह का माहौल हो जाता है क्यों हार का माहौल आ जाता है देश के प्रधानमंत्री के लिए कोई भी दिन दीवाली से कम नहीं होता अगर वह सैनिकों के साथ क्योंकि वहां सैनिकों का हौसला अफजाई करने जाते हैं सैनिकों के साथ रहकर वह उनकी दिनचर्या देखते हैं उनका उत्साह बढ़ाते हैं और उन्हें इस बात का एहसास दिलाते हैं कि देश का हर बच्चा यहां तक कि देश की प्रधानमंत्री भी आपके एहसानमंद है क्योंकि आप ही हैं जो सीमा पर डटे रहते हैं अपनी जान की परवाह नहीं कर आप हम सबको एक मीठी नींद सोने की आजादी देते हैं एक स्वतंत्रता से रहने का अनुभव देते हैं और आशा देते हैं कि हम सुरक्षित हैं आप आराम से रह सकते हैं क्योंकि आपके जो सैनिक भाई हैं जो आपके सैनिक बच्चे हैं वह सीमा पर आपके लिए सशस्त्र पहरा दे कर खड़े हैं रात दिन वहां मेहनत कर रहे हैं अपनी जान की बाजी लगा रहे हैं और सिर्फ पूरे भारत के लिए पूरे हिंदुस्तान और हिंदुस्तानियों के लिए तो मुझे नहीं लगता है कि इस तरह की बातें हमारे दिमाग में भी आनी चाहिए मुझे बस यह लगता है कि यह एक अच्छी बात है कि प्रधानमंत्री जी सैनिकों के साथ एक त्यौहार मनाते हैं वह इस त्यौहार पर उनके साथ रहते हैं यह एक बहुत बड़ी बात है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह दीवाली पर ही क्यों जाते हैं वह चाहे कभी भी जाएं लेकिन वह सैनिकों के साथ रहते हैं यह मुझे लगता है बहुत महत्वपूर्ण है और सैनिकों के लिएAapka Kehna Sahi Hai Ki Bharat Ek Dharmanirapeksh Desh Hai Lekin Bharat Ko Hindu Bahulya Desh Hai Yahan Diwali Ko Bahut Dhumadham Se Aur Bahut Badi Sankhya Mein Log Manate Hain Aur Sahi Ko Main Utsahavardhan Karne Ke Liye Mujhe Nahi Lagta Ki Kisi Ek Tyohaar Ki Koi Ahamiyat Hai Mujhe Lagta Hai Jab Bhi Hum Sainikon Ke Paas Jayen To Wahan Utsaah Ka Maahaul Ho Jata Hai Kyon Haar Ka Maahaul Aa Jata Hai Desh Ke Pradhanmantri Ke Liye Koi Bhi Din Diwali Se Kam Nahi Hota Agar Wah Sainikon Ke Saath Kyonki Wahan Sainikon Ka Hausala Afajai Karne Jaate Hain Sainikon Ke Saath Rahkar Wah Unki Dinacharya Dekhte Hain Unka Utsaah Badhate Hain Aur Unhen Is Baat Ka Ehsaas Dilate Hain Ki Desh Ka Har Baccha Yahan Tak Ki Desh Ki Pradhanmantri Bhi Aapke Ehasanamand Hai Kyonki Aap Hi Hain Jo Seema Par Date Rehte Hain Apni Jaan Ki Parvaah Nahi Kar Aap Hum Sabko Ek Mithi Neend Sone Ki Azadi Dete Hain Ek Svatantrata Se Rehne Ka Anubhav Dete Hain Aur Asha Dete Hain Ki Hum Surakshit Hain Aap Aaram Se Rah Sakte Hain Kyonki Aapke Jo Sainik Bhai Hain Jo Aapke Sainik Bacche Hain Wah Seema Par Aapke Liye Sashastra Pahara De Kar Khade Hain Raat Din Wahan Mehnat Kar Rahe Hain Apni Jaan Ki Busy Laga Rahe Hain Aur Sirf Poore Bharat Ke Liye Poore Hindustan Aur Hindustaniyon Ke Liye To Mujhe Nahi Lagta Hai Ki Is Tarah Ki Batein Hamare Dimag Mein Bhi Aani Chahiye Mujhe Bus Yeh Lagta Hai Ki Yeh Ek Acchi Baat Hai Ki Pradhanmantri Ji Sainikon Ke Saath Ek Tyohar Manate Hain Wah Is Tyohar Par Unke Saath Rehte Hain Yeh Ek Bahut Badi Baat Hai Isse Koi Fark Nahi Padata Ki Wah Diwali Par Hi Kyon Jaate Hain Wah Chahe Kabhi Bhi Jayen Lekin Wah Sainikon Ke Saath Rehte Hain Yeh Mujhe Lagta Hai Bahut Mahatvapurna Hai Aur Sainikon Ke Liye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या बात सही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना दीपावली सैनिकों के साथ मनाते हैं और अच्छा भी लगता है इस दिन हमारा धर्म अपना अपना बनाने का नजरिया होता है वह अपनी खुशी किसके साथ बांटना चाहते हैं किसके...जवाब पढ़िये
क्या बात सही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना दीपावली सैनिकों के साथ मनाते हैं और अच्छा भी लगता है इस दिन हमारा धर्म अपना अपना बनाने का नजरिया होता है वह अपनी खुशी किसके साथ बांटना चाहते हैं किसके साथ बैठेंगे कि उनसे डिपेंड करता है और इसमें किसी का दखल अंदाजी देना भी अच्छी बात मेरे को नहीं जाना है नहीं जाएगा उसको जाना जाएगा इसके राजनीति करना अच्छी बात नहीं हैKya Baat Sahi Hai Ki Pradhanmantri Narendra Modi Apna Deepawali Sainikon Ke Saath Manate Hain Aur Accha Bhi Lagta Hai Is Din Hamara Dharm Apna Apna Banane Ka Najariya Hota Hai Wah Apni Khushi Kiske Saath Bantana Chahte Hain Kiske Saath Baitheange Ki Unse Depend Karta Hai Aur Isme Kisi Ka Dakhal Andaji Dena Bhi Acchi Baat Mere Ko Nahi Jana Hai Nahi Jayega Usko Jana Jayega Iske Rajneeti Karna Acchi Baat Nahi Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Pradhanmantri Modi Pratyek Varsh Sainikon Ke Saath Diwali Kyon Maante Hai Bharat Toh Ek Dharmanirapeksh Desh Hai Toh Ve Anya Tyohar Kyon Nahi Maante

vokalandroid