मराठा आरक्षण आपके हिसाब सही हे या नहीं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखी है मां मराठा आरक्षण जो है मेरे हिसाब से कोई भी आरक्षण जोगी जाति के आधार पर दिया जाता है वह सही नहीं है अब मराठा आरक्षण मराठी जी होंगे कुछ बहुत अमीर होंगे कुछ बहुत गरीब होंगे तो जाति के आधार पर छो ...जवाब पढ़िये

लिखी है मां मराठा आरक्षण जो है मेरे हिसाब से कोई भी आरक्षण जोगी जाति के आधार पर दिया जाता है वह सही नहीं है अब मराठा आरक्षण मराठी जी होंगे कुछ बहुत अमीर होंगे कुछ बहुत गरीब होंगे तो जाति के आधार पर छोड़कर जो गरीबों से खून को दिया गया जो तलाश कर सकते हैं जिनके जरूरत हमको दिया जाए तो मेरे हिसाब से तो कोई भी आरक्षण की जाती है क्या-क्या किया जाता है वह गलत हैLikhi Hai Maa Maratha Aarakshan Jo Hai Mere Hisab Se Koi Bhi Aarakshan Jogi Jati Ke Aadhar Par Diya Jata Hai Wah Sahi Nahi Hai Ab Maratha Aarakshan Marathi Ji Honge Kuch Bahut Amir Honge Kuch Bahut Garib Honge To Jati Ke Aadhar Par Chodkar Jo Garibon Se Khoon Ko Diya Gaya Jo Talash Kar Sakte Hain Jinke Zaroorat Hamko Diya Jaye To Mere Hisab Se To Koi Bhi Aarakshan Ki Jati Hai Kya Kya Kiya Jata Hai Wah Galat Hai
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मराठा समुदाय के द्वारा आरक्षण की मांग अजीब भी लगती है और कुछ चौंकाने वाली भी है कि जो मराठा समुदाय है वह संपन्न है समृद्ध फिर उन्हें आरक्षण की क्या जरूरत है लेकिन सूत्रों के अनुसार मराठा समुदाय का असम ...जवाब पढ़िये

मराठा समुदाय के द्वारा आरक्षण की मांग अजीब भी लगती है और कुछ चौंकाने वाली भी है कि जो मराठा समुदाय है वह संपन्न है समृद्ध फिर उन्हें आरक्षण की क्या जरूरत है लेकिन सूत्रों के अनुसार मराठा समुदाय का असमान विकास ही आरक्षण की मांग रख रखा है समुदाय का एक बहुत छोटा तबका ही सत्ता में और समाज में ऊंची पर रखता है बाकी ज्यादातर प्रदर्शनकारी असंतुलित विकास के कारण प्रभावित हैं मर्द मराठा आरक्षण को सही ठहराने वाले रवि पाटिल का कहना है कि कुछ नेताओं और मंत्रियों की मुख्यमंत्री बन जाने से समुदाय समृद्धि नहीं हो जाता है समुदाय के अधिकतर लोग अपने बच्चों की शिक्षा का खर्च भी नहीं उठा पाते हैं पढ़ाई के लिए खेतों को गिरवी रखना और कर लेना हम बातें कृषि व्यवसाय से जुड़े हुए कई मराठा किसान खेती में नुकसान फसलों के दामों में कमी और ब्याज के बढ़ते भूत की चलते मौत को गले लगा चुके हैं कृषि क्षेत्र में संकट में मराठा अस्मिता असंतोष को भी बढ़ावा दिया है और 72000 सरकारी नौकरियों की घोषणा ने आरक्षण की आप को हवा दी है मराठा समुदाय चाहता है कि इस भर्ती अभियान से पहले उनको आरक्षण मिल जाए ताकि उनके समुदाय को इसका लाभ मिल सके वैसे तो मुझे लगता है कि जातिगत आरक्षण सही नहीं है जातियों के हिसाब से आरक्षण मिलने से काफी प्रॉब्लम हो रही है देश में और यह नहीं होना चाहिए लेकिन जिस तरह की जानकारियां मिल रही है उससे लगता है कि मराठों की स्थिति काफी खराब है लेकिन फिर भी वहां की जो बीजेपी सरकार है उसके हाथ बंधे हुए हैं और वह सिर्फ आश्वासन ही दे सकती है अभी आरक्षण नहीं दे सकतीMaratha Samuday Ke Dwara Aarakshan Ki Maang Ajib Bhi Lagti Hai Aur Kuch Chaunkaane Wali Bhi Hai Ki Jo Maratha Samuday Hai Wah Sanpann Hai Samriddh Phir Unhen Aarakshan Ki Kya Zaroorat Hai Lekin Sootron Ke Anusar Maratha Samuday Ka Asamaan Vikash Hi Aarakshan Ki Maang Rakh Rakha Hai Samuday Ka Ek Bahut Chota Tabaka Hi Satta Mein Aur Samaaj Mein Unchi Par Rakhta Hai Baki Jyadatar Pradarshankari Asantulit Vikash Ke Kaaran Prabhavit Hain Mard Maratha Aarakshan Ko Sahi Thaharane Wale Ravi Paatil Ka Kehna Hai Ki Kuch Netaon Aur Mantriyo Ki Mukhyamantri Ban Jaane Se Samuday Samridhi Nahi Ho Jata Hai Samuday Ke Adhiktar Log Apne Bacchon Ki Shiksha Ka Kharch Bhi Nahi Utha Paate Hain Padhai Ke Liye Kheton Ko Giravi Rakhna Aur Kar Lena Hum Batein Krishi Vyavasaya Se Jude Huye Kai Maratha Kisan Kheti Mein Nuksan Fasalon Ke Daamo Mein Kami Aur Byaj Ke Badhte Bhoot Ki Chalte Maut Ko Gale Laga Chuke Hain Krishi Kshetra Mein Sankat Mein Maratha Asmita Asantosh Ko Bhi Badhawa Diya Hai Aur 72000 Sarkari Naukriyon Ki Ghoshana Ne Aarakshan Ki Aap Ko Hawa Di Hai Maratha Samuday Chahta Hai Ki Is Bharti Abhiyan Se Pehle Unko Aarakshan Mil Jaye Taki Unke Samuday Ko Iska Labh Mil Sake Waise To Mujhe Lagta Hai Ki Jaatigat Aarakshan Sahi Nahi Hai Jaatiyo Ke Hisab Se Aarakshan Milne Se Kafi Problem Ho Rahi Hai Desh Mein Aur Yeh Nahi Hona Chahiye Lekin Jis Tarah Ki Jankariyan Mil Rahi Hai Usse Lagta Hai Ki Marathoon Ki Sthiti Kafi Kharab Hai Lekin Phir Bhi Wahan Ki Jo Bjp Sarkar Hai Uske Hath Bandhe Huye Hain Aur Wah Sirf Aashvaasan Hi De Sakti Hai Abhi Aarakshan Nahi De Sakti
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Maratha Aarakshan Aapke Hisab Sahi He Ya Nahi, Maratha Reservation Is Your Answer, Right? , Maratha Aarakshan