Q1st खड़ी बोली गद्य के 4 प्रारंभिक उपन्यासों के नाम Q2nd प्रतिवादी के 2 विशेषता ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं क्या पूछा जाता है कि प्रतिवादी की विशेषता क्या है तो प्रतिवादी की विशेषता ही होती है कि वह हमेशा अपना तक जो है दूसरों के सामने रखता है और हमेशा जो है वह दूसरों की आदत सुनने के बाद ही अपनी बात रखता...जवाब पढ़िये
मैं क्या पूछा जाता है कि प्रतिवादी की विशेषता क्या है तो प्रतिवादी की विशेषता ही होती है कि वह हमेशा अपना तक जो है दूसरों के सामने रखता है और हमेशा जो है वह दूसरों की आदत सुनने के बाद ही अपनी बात रखता है कभी भी बेमतलब अपना फैसला नहीं थकता
Likes  23  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखी खड़ी बोली के जो पन्या से वह थे गोदान चंद्रकांता कर्मभूमि...जवाब पढ़िये
लिखी खड़ी बोली के जो पन्या से वह थे गोदान चंद्रकांता कर्मभूमिLikhi Khadi Boli K Joe Panya Se Wah The Godan Chandrakanta Karmabhumi
Likes  25  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Q1st Khadi Boli Gadya Ke 4 Prarambhik Upanyaason Ke Naam Prativadi Ke 2 Visheshata

vokalandroid