आकाश हमें नीला क्यूँ दिखता है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मित्रों नमस्कार जाहिर सी बात है कि हम आकाश में देखते हैं तो यह क्वेश्चन उठता है मन में कि आकाश नीला क्यों दिखाई देता है मंडल आकाश पर भी भाई मंडल है और वायुमंडल जो है वह हवा के विभिन्न प्रकार के पार्टिकल से मिलकर बनी है और ए पार्टिकल जो है प्लीज मां की तरह कार्य करते हैं और इसमें की तरह कार्य करते हैं तो जो है जब से प्रकाश किरण गुजरता है तो वह सात रंग में बढ़ जाता है जिससे हम भी और बोलते हैं और यदि हम जानते हैं कि जो है नीला रंग का बेब्लेड काम है तरंग दैर्ध्य काम है तो उसका सबसे ज्यादा प्रकीर्णन होगा और लाल रंग का विवरण ज्यादा है तुझ को सबसे कम जो है नीला रंग का तरंग देर देव बेब्लेट कम होने के कारण सबसे ज्यादा उसका परिणाम होता है भी खराब होता है तो इस केटरिंग ऑफ लाइट्स के कारण ही जो है आकाश हमें नीला दिखाई देता है ऐसा चुप था और अब राइट आंसर बोलेंगे की नीले रंग का तरंग दर्द कम है इसीलिए प्रकाश का प्रकीर्णन ज्यादा हुआ और प्रकाश का पेट में ज्यादा हो तो प्रकाश में नीला रंग फैल गई इस कारण आकाश का नीला दिखाई देना जाहिर सी बात है धन्यवाद
मित्रों नमस्कार जाहिर सी बात है कि हम आकाश में देखते हैं तो यह क्वेश्चन उठता है मन में कि आकाश नीला क्यों दिखाई देता है मंडल आकाश पर भी भाई मंडल है और वायुमंडल जो है वह हवा के विभिन्न प्रकार के पार्टिकल से मिलकर बनी है और ए पार्टिकल जो है प्लीज मां की तरह कार्य करते हैं और इसमें की तरह कार्य करते हैं तो जो है जब से प्रकाश किरण गुजरता है तो वह सात रंग में बढ़ जाता है जिससे हम भी और बोलते हैं और यदि हम जानते हैं कि जो है नीला रंग का बेब्लेड काम है तरंग दैर्ध्य काम है तो उसका सबसे ज्यादा प्रकीर्णन होगा और लाल रंग का विवरण ज्यादा है तुझ को सबसे कम जो है नीला रंग का तरंग देर देव बेब्लेट कम होने के कारण सबसे ज्यादा उसका परिणाम होता है भी खराब होता है तो इस केटरिंग ऑफ लाइट्स के कारण ही जो है आकाश हमें नीला दिखाई देता है ऐसा चुप था और अब राइट आंसर बोलेंगे की नीले रंग का तरंग दर्द कम है इसीलिए प्रकाश का प्रकीर्णन ज्यादा हुआ और प्रकाश का पेट में ज्यादा हो तो प्रकाश में नीला रंग फैल गई इस कारण आकाश का नीला दिखाई देना जाहिर सी बात है धन्यवाद
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सूरज के किरणों की वजह से सूरज की रोशनी है वह आकाश में फैलता है आकाश में फैलने की वजह से वह धीरे धीरे स्कैटर्ड हो जाता है जो कि हमारे आस मेरी फोटो क्या था और इसी कारण से जो आकाश है वह हमें सफेद और सफेद और हल्की नीला रंग से दिखाई देता हल्के नीले रंग का दिखाई देता है तो उसमें जो लाइट आता है वह लाइट स्टेटस
Romanized Version
सूरज के किरणों की वजह से सूरज की रोशनी है वह आकाश में फैलता है आकाश में फैलने की वजह से वह धीरे धीरे स्कैटर्ड हो जाता है जो कि हमारे आस मेरी फोटो क्या था और इसी कारण से जो आकाश है वह हमें सफेद और सफेद और हल्की नीला रंग से दिखाई देता हल्के नीले रंग का दिखाई देता है तो उसमें जो लाइट आता है वह लाइट स्टेटसSuraj Ke Kirano Ki Wajah Se Suraj Ki Roshni Hai Wah Akash Mein Failata Hai Akash Mein Failane Ki Wajah Se Wah Dhire Dhire Scattered Ho Jata Hai Jo Ki Hamare Aas Meri Photo Kya Tha Aur Isi Kaaran Se Jo Akash Hai Wah Hume Safed Aur Safed Aur Halki Neela Rang Se Dikhai Deta Halke Nile Rang Ka Dikhai Deta Hai To Usamen Jo Light Aata Hai Wah Light Status
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आकाश का कोई अपना रंग नहीं होता है दिन में आपको आकाश नीला दिखाई देता है आज रात में आपको आकाश काला दिखाई देता है अकाली आकाश के बीच में आपको चांद और तारे दिखाई देते हैं टिमटिमाते हुए होती वह सफेद होती है जिसमें सात रंग समाहित होते हैं लाल नारंगी पीला हरा नीला जामुनी बैंगनी और इसे अनुज के समय या फिल्म की सहायता से देख सकते हैं जब सफेद किरण पृथ्वी के वायुमंडल से होकर गुजरती है तो यह हवा में मौजूद विभिन्न का 9 रनों से टकराती है इस टकराव से सफेद प्रकाश विभिन्न रंग में बैठ जाते हैं और क्यों की नीला रंग बहुत ही हल्का रंग होता है और छोटी होती है उसका तरंग धैर्य तो यह हम इस वजह से हमें आकाश नीला दिखाई देता है
देखिए आकाश का कोई अपना रंग नहीं होता है दिन में आपको आकाश नीला दिखाई देता है आज रात में आपको आकाश काला दिखाई देता है अकाली आकाश के बीच में आपको चांद और तारे दिखाई देते हैं टिमटिमाते हुए होती वह सफेद होती है जिसमें सात रंग समाहित होते हैं लाल नारंगी पीला हरा नीला जामुनी बैंगनी और इसे अनुज के समय या फिल्म की सहायता से देख सकते हैं जब सफेद किरण पृथ्वी के वायुमंडल से होकर गुजरती है तो यह हवा में मौजूद विभिन्न का 9 रनों से टकराती है इस टकराव से सफेद प्रकाश विभिन्न रंग में बैठ जाते हैं और क्यों की नीला रंग बहुत ही हल्का रंग होता है और छोटी होती है उसका तरंग धैर्य तो यह हम इस वजह से हमें आकाश नीला दिखाई देता है
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Akash Humein Neela Kyun Dikhta Hai,


vokalandroid