ममता बैनर्जी हिन्दुओं को उनके घर से क्यूँ निकाल रही है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

27 साल का इतिहास हिंदुओं का वक्त हो रहा है 500 से 700 टी सी के बीच में जैन धर्म आया जिसमें भगवान के अस्तित्व को बचा बा के 500 बीसी के आसपास बुद्ध धर्म का प्रचार हुआ जिसमें भगवान के साथ साथ आत्मा के अस्तित्व को स्वीकार किया गया उसके बाद कितनी ने अपने पैर फैलाए और उसके बाद इस्लामी मुस्लिम सेक्स में अपना दबदबा कायम किया 11 वीं शताब्दी से लेकर थे लगातार इस्लाम का उत्पाद बाद में बता रहा 15 सदी अपनी बेटी से यहां पर आए और उन्होंने अपना अस्तित्व बनाया उसके बाद आपने देखा होगा कि हिंदुस्तान का बंटवारा हुआ और सरदार पटेल ने 565 रियासतों का भारत में मिलाया आज भी हमारे यहां आसमा जी हैं कृष्ण के मानने वाले हैं शाम को मारने वाले हैं अलग-अलग मंदिरों में अछूत बनाए जाते हैं
27 साल का इतिहास हिंदुओं का वक्त हो रहा है 500 से 700 टी सी के बीच में जैन धर्म आया जिसमें भगवान के अस्तित्व को बचा बा के 500 बीसी के आसपास बुद्ध धर्म का प्रचार हुआ जिसमें भगवान के साथ साथ आत्मा के अस्तित्व को स्वीकार किया गया उसके बाद कितनी ने अपने पैर फैलाए और उसके बाद इस्लामी मुस्लिम सेक्स में अपना दबदबा कायम किया 11 वीं शताब्दी से लेकर थे लगातार इस्लाम का उत्पाद बाद में बता रहा 15 सदी अपनी बेटी से यहां पर आए और उन्होंने अपना अस्तित्व बनाया उसके बाद आपने देखा होगा कि हिंदुस्तान का बंटवारा हुआ और सरदार पटेल ने 565 रियासतों का भारत में मिलाया आज भी हमारे यहां आसमा जी हैं कृष्ण के मानने वाले हैं शाम को मारने वाले हैं अलग-अलग मंदिरों में अछूत बनाए जाते हैं
Likes  58  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

क्या बंगाल और बिहार में NRC लाने से खून खराबा हो सकता है क्योंकि ममता बनर्जी का तो यही कहना है ? ...

देखिए राशि एक तस्वीर ब्लू चालीसा 100 चल रहा है और वेस्ट बंगाल की सीएम को तो कुछ भी बोलना नहीं चाहिए क्योंकि उनके वेस्ट बंगाल में उनके बंगाल में जिस से देखा और हिंसा हो रही सिविल मौसम के उनके खुद के क्जवाब पढ़िये
ques_icon

ममता बनर्जी का दावा है कि पश्चिम बंगाल 15% की दर से अधिक से बढ़ा है, क्या किसी को पता है कि वहाँ ऐसा क्या हो रहा है? क्या चीजें काफी सुधरी हुई हैं? ...

तो मैं तकरीबन 5 महीने पहले कोलकाता गया था और मैंने फिर वहां पर कोलकाता में देखा कि वहां पर काफी ज्यादा सुधार हुआ है उसके बारे में कोलकाता तकरीबन 15 साल पहले गया था और उसके मुकाबले में मैंने देखा कि वहजवाब पढ़िये
ques_icon

क्या ममता बनर्जी का यह कहना सही है कि "अगर असम में समस्या है तो बंगाल में भी समस्या होगी"? ...

दिखेगा 30 दिसंबर को आसाम के आशियाने की नेशनल रजिस्टर ऑफ स्टेट्स इन ब्लेक लिस्ट निकाली है यह बताने के लिए क्या शाम के निवासी कौन कौन है और उस लिस्ट में बहुत सारे करीब अमृतसरी 1.9 करो लोगों का ही नाम हैजवाब पढ़िये
ques_icon

बंगाल में जो इतने अत्याचार हो रहे हैं सरकार राष्ट्रपति शासन इसे देखते हुए क्यों नहीं लगाती फिर ममता बनर्जी वहां की सरकार इसकी सफाई क्यों नहीं देती ? ...

मैं आपकी बात से मैं बिल्कुल इत्तेफाक रखता हूं कि बंगाल में इस समय बहुत ज्यादा हिंसा हो रही है सबसे ज्यादा दंगे बंगाल में हो रहे हैं और कहीं ना कहीं जिस प्रकार ममता सरकार का रुख है और जो पैसों तुष्टीकरजवाब पढ़िये
ques_icon

क्या आपको लगता है जी ममता बनर्जी धरने पर बैठ कर सही कर रही हैं? क्या वो कुछ छुपा रही हैं? ...

ऊपरी तौर से तो यह सेंटर और स्टेट की लड़ाई की तरह से दर्शाया जा रहा है जहां ममता बैनर्जी कह रही है कि बीजेपी सरकार उन्हें टारगेट कर रहा है और स्टेट गवर्मेंट को भी पता कर आप दिखाना चाह रहा है किंतु 2013जवाब पढ़िये
ques_icon

कौन अपनी राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री नहीं थी ? वसुंधरा राजे ममता बैनर्जी मायावती या फिर महबूबा मुफ्ती ...

मायावती अपने राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री नहीं थी तब जबकि वसुंधरा राजे ममता बनर्जी और महबूबा मुफ्ती यह तीनों महिलाएं अपने राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री थी वसुंधरा राजे राजस्थान महबूबा मुफ्ती जम्मजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दरअसल पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के आने से पहले 25 वर्षों तक वहां पर सीपीएम यानी कम्युनिस्ट का शासन रहा और कम्युनिस्ट के शासन में ज्योति बसु ने बहुत बड़े पैमाने पर बांग्लादेशियों को खुली छूट दे रखी थी पश्चिम बंगाल में बसने के लिए जो वहां के नागरिक बनें और उनको उनका वोट मिलता रहा रो सत्ता में बने रहे जब ममता बनर्जी वहां पर सीपीएम को हटाकर के शासन में आए तो कमोबेश उसी नीति को और बड़े पैमाने पर और पूरे ताकत के साथ इस को आगे बढ़ाया ममता बनर्जी ने फल स्वरूप जो पश्चिम बंगाल में अवैध घुसपैठ किए हैं बांग्लादेश के उनकी जनसंख्या इतनी अधिक बढ़ गई कि वहां के जो मूल निवासी है पश्चिम बंगाल के जो मूल मंत्र बंगाली है या तो वह अपने स्थानों को छोड़ करके भाग गए या फिर जो है वह उन्हीं के रंग में रंग नाउन मजबूरी हो गई आज वहां का जो लोकल मूलनिवासी इंडीजीनस के पुल है वह खतरे में है क्योंकि बांग्लादेश से आए हुए लोगों की संख्या इतनी बढ़ चुकी है उनकी फोटो की ताकत इतनी ज्यादा हो चुकी है जिसके बल पर ममता बनर्जी बेलगाम हो चुकी है उन्हें ऐसा लगता है क्यों कि शासन को कोई चुनौती नहीं दे सकता अब जब मोदी के बहाव में पूरा देश एक साथ आगे बढ़ने की कोशिश कर रहा है त्रिपुरा आसाम जैसे राज्यों में बदलाव हो चुका है तो ममता बनर्जी को भी भय सताने लगा है कि कहीं ऐसा ना हो कि उनका भी किला ध्वस्त हो जाए यही कारण है कि आज पश्चिम बंगाल की तरफ बहुत तेजी से वहां के मूल निवासी लौट रहे हैं और वोट देने के लिए बेताब है और मुझे ऐसा लगता है कि पश्चिम बंगाल एक बड़े बदलाव की तरफ बढ़ रहा है मूलनिवासी वहां का जागृत हो रहा है और इस चुनौती को स्वीकार करने के लिए तैयार है और वह मत देकर की ममता बनर्जी को हर आएगा ऐसा मेरा मानना है
दरअसल पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के आने से पहले 25 वर्षों तक वहां पर सीपीएम यानी कम्युनिस्ट का शासन रहा और कम्युनिस्ट के शासन में ज्योति बसु ने बहुत बड़े पैमाने पर बांग्लादेशियों को खुली छूट दे रखी थी पश्चिम बंगाल में बसने के लिए जो वहां के नागरिक बनें और उनको उनका वोट मिलता रहा रो सत्ता में बने रहे जब ममता बनर्जी वहां पर सीपीएम को हटाकर के शासन में आए तो कमोबेश उसी नीति को और बड़े पैमाने पर और पूरे ताकत के साथ इस को आगे बढ़ाया ममता बनर्जी ने फल स्वरूप जो पश्चिम बंगाल में अवैध घुसपैठ किए हैं बांग्लादेश के उनकी जनसंख्या इतनी अधिक बढ़ गई कि वहां के जो मूल निवासी है पश्चिम बंगाल के जो मूल मंत्र बंगाली है या तो वह अपने स्थानों को छोड़ करके भाग गए या फिर जो है वह उन्हीं के रंग में रंग नाउन मजबूरी हो गई आज वहां का जो लोकल मूलनिवासी इंडीजीनस के पुल है वह खतरे में है क्योंकि बांग्लादेश से आए हुए लोगों की संख्या इतनी बढ़ चुकी है उनकी फोटो की ताकत इतनी ज्यादा हो चुकी है जिसके बल पर ममता बनर्जी बेलगाम हो चुकी है उन्हें ऐसा लगता है क्यों कि शासन को कोई चुनौती नहीं दे सकता अब जब मोदी के बहाव में पूरा देश एक साथ आगे बढ़ने की कोशिश कर रहा है त्रिपुरा आसाम जैसे राज्यों में बदलाव हो चुका है तो ममता बनर्जी को भी भय सताने लगा है कि कहीं ऐसा ना हो कि उनका भी किला ध्वस्त हो जाए यही कारण है कि आज पश्चिम बंगाल की तरफ बहुत तेजी से वहां के मूल निवासी लौट रहे हैं और वोट देने के लिए बेताब है और मुझे ऐसा लगता है कि पश्चिम बंगाल एक बड़े बदलाव की तरफ बढ़ रहा है मूलनिवासी वहां का जागृत हो रहा है और इस चुनौती को स्वीकार करने के लिए तैयार है और वह मत देकर की ममता बनर्जी को हर आएगा ऐसा मेरा मानना है
Likes  58  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते ममता बनर्जी यह मुझे तो कोई पहले ममता बनर्जी तो मुझे इंसान ही नहीं लगती एक यह नारी जहां पर कलंक है ममता बनर्जी रही बात वह जो राज्य में ऐसा करने पश्चिम बंगाल राज्य में से भारत देश को आजादी की प्रेरणा मिली पहली क्रांति पश्चिम बंगाल में से हुई थी और ममता बनर्जी हिंदुओं को हाथ से निकाल रही है अपने वोट बैंक बढ़ाने के लिए पश्चिम बंगाल जो बंगाल बंगाल बंगाल ज्योतिषी बांग्लादेशी विशाल या मुसलमान की लड़ाई हो चुकी है ममता बनर्जी बात ममता बनर्जी भूल रही हो किस देश में नहीं रही है इंदिरा गांधी को नहीं छोड़ा था धर्म पर बात की कि सिखों का अपमान किया था उड़ा दिया अभी तो उड़ने के बाद जिस तरीके से आप क्या चार कर रही है कहीं लोग कहते हैं भगवान महादेव भगवा आतंकवाद है इनको भगवा कविताएं का अधिकतम कोई बुद्धिजीवी लोग जो एक की मौत हो गई थी कोई मुस्लिम की मौत हो गई थी पीछे तो अवार्ड वापसी यह वापसी में पुरस्कार नहीं लूंगा वह बुद्धिजीवी लोग तो कुछ बोल ही नहीं रहे हो किसका मुंह में लेकर बैठे हैं क्या पता तो बोल ही नहीं रहे आप खराब हो गए ममता बनर्जी को हिंदी तरीके से मारेंगे नंगा कर कर मारेंगे और उस सब लोगों को बताएंगे हमारा अपमान संविधान का अपमान जो जो लोग करेंगे जो देश का अपमान करेगा उसको इसी तरह चौराहे में नंगी कर कर मारेंगे जय हिंद जय भारत जय भीम
नमस्ते ममता बनर्जी यह मुझे तो कोई पहले ममता बनर्जी तो मुझे इंसान ही नहीं लगती एक यह नारी जहां पर कलंक है ममता बनर्जी रही बात वह जो राज्य में ऐसा करने पश्चिम बंगाल राज्य में से भारत देश को आजादी की प्रेरणा मिली पहली क्रांति पश्चिम बंगाल में से हुई थी और ममता बनर्जी हिंदुओं को हाथ से निकाल रही है अपने वोट बैंक बढ़ाने के लिए पश्चिम बंगाल जो बंगाल बंगाल बंगाल ज्योतिषी बांग्लादेशी विशाल या मुसलमान की लड़ाई हो चुकी है ममता बनर्जी बात ममता बनर्जी भूल रही हो किस देश में नहीं रही है इंदिरा गांधी को नहीं छोड़ा था धर्म पर बात की कि सिखों का अपमान किया था उड़ा दिया अभी तो उड़ने के बाद जिस तरीके से आप क्या चार कर रही है कहीं लोग कहते हैं भगवान महादेव भगवा आतंकवाद है इनको भगवा कविताएं का अधिकतम कोई बुद्धिजीवी लोग जो एक की मौत हो गई थी कोई मुस्लिम की मौत हो गई थी पीछे तो अवार्ड वापसी यह वापसी में पुरस्कार नहीं लूंगा वह बुद्धिजीवी लोग तो कुछ बोल ही नहीं रहे हो किसका मुंह में लेकर बैठे हैं क्या पता तो बोल ही नहीं रहे आप खराब हो गए ममता बनर्जी को हिंदी तरीके से मारेंगे नंगा कर कर मारेंगे और उस सब लोगों को बताएंगे हमारा अपमान संविधान का अपमान जो जो लोग करेंगे जो देश का अपमान करेगा उसको इसी तरह चौराहे में नंगी कर कर मारेंगे जय हिंद जय भारत जय भीम
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ममता बनर्जी एक अलग ही तरह की नेता है जो पूरी तरह से मुस्लिम वोट बैंकिंग के आधार पर चल रही है जिस दिन उसने मुसलमानों के साथ गंदा काम करना शुरू कर दिया तो उस दिन उसका वोट बैंकिंग का कैरियर खत्म हो जाएगा इसलिए उन लोगों को अपनी ओर खींचने के लिए वह यह सब गैर मुस्लिमों के साथ गलत गलत अन्याय कर रही तो सीधा सिंपल बात हम समझ सकते हैं कि वह ऐसा क्यों कर रही है क्योंकि उसका वोट बैंकिंग वही है जितने भी रोएंगे आए उनको लाके बंगाल में वही बस आ रही है क्योंकि वह उनके सबसे बड़ी वोट बैंक इनके अगर उनके साथ कुछ गलत हुआ तो फिर उसका वोट बैंकिंग पूरा तरह से खत्म हो जाएगा
देखिए ममता बनर्जी एक अलग ही तरह की नेता है जो पूरी तरह से मुस्लिम वोट बैंकिंग के आधार पर चल रही है जिस दिन उसने मुसलमानों के साथ गंदा काम करना शुरू कर दिया तो उस दिन उसका वोट बैंकिंग का कैरियर खत्म हो जाएगा इसलिए उन लोगों को अपनी ओर खींचने के लिए वह यह सब गैर मुस्लिमों के साथ गलत गलत अन्याय कर रही तो सीधा सिंपल बात हम समझ सकते हैं कि वह ऐसा क्यों कर रही है क्योंकि उसका वोट बैंकिंग वही है जितने भी रोएंगे आए उनको लाके बंगाल में वही बस आ रही है क्योंकि वह उनके सबसे बड़ी वोट बैंक इनके अगर उनके साथ कुछ गलत हुआ तो फिर उसका वोट बैंकिंग पूरा तरह से खत्म हो जाएगा
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Mamata Bainarjee Hinduon Ko Unke Ghar Se Kyun Nikaal Rahi Hai,Why Is Mamata Banerjee Withdrawing Hindus From Her House?,


vokalandroid