हमें किताबें क्यों पढ़नी चाहिए? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें किताबें इसीलिए पढ़नी चाहिए क्योंकि किताबों को ज्ञान का भंडार कहा जाता है और आप जितनी ज्यादा किताबें पड़ेंगे उतने ज्यादा विषयों के बारे में आपको ज्ञात होगा उतनी ज्यादा चीज है आप सीख सकते हैं और ज्...जवाब पढ़िये
हमें किताबें इसीलिए पढ़नी चाहिए क्योंकि किताबों को ज्ञान का भंडार कहा जाता है और आप जितनी ज्यादा किताबें पड़ेंगे उतने ज्यादा विषयों के बारे में आपको ज्ञात होगा उतनी ज्यादा चीज है आप सीख सकते हैं और ज्ञान एक ऐसी चीज है जो आपसे कभी भी कोई छीन नहीं सकता यानी कि इसे हम पैसों से भी अधिक मूल्यवान समझते हैं तो इसीलिए आपको ज्यादा से ज्यादा कोशिश करनी चाहिए कि आप किताबें पढ़े जब भी आप फ्री हो या फिर कहीं ट्रेवल भी कर रहे हो तो एक पुस्तक आपको अपने साथ जरूरत नहीं चाहिए तो इससे आपका मन भी लगेगा और आपको नई-नई चीजें जानने का मौका भी मिलेगा तो मेरे मुताबिक सभी लोगों को ज्यादा से ज्यादा यही प्रयास करना चाहिए कि वह अलग-अलग फील्ड की अलग-अलग टॉपिक से रिलेटेड किताबें पढ़ते रहें ताकि उन्हें हर एक फील्ड के बारे में कुछ न कुछ जानकारी अवश्य होHume Kitaben Isliye Padhani Chahiye Kyonki Kitabon Ko Gyaan Ka Bhandar Kaha Jata Hai Aur Aap Jitni Jyada Kitaben Padenge Utne Jyada Vishyon Ke Bare Mein Aapko Gyaat Hoga Utani Jyada Cheez Hai Aap Seekh Sakte Hain Aur Gyaan Ek Aisi Cheez Hai Jo Aapse Kabhi Bhi Koi Chin Nahi Sakta Yani Ki Ise Hum Paison Se Bhi Adhik Mulyavan Samajhte Hain To Isliye Aapko Jyada Se Jyada Koshish Karni Chahiye Ki Aap Kitaben Padhe Jab Bhi Aap Free Ho Ya Phir Kahin Travel Bhi Kar Rahe Ho To Ek Pustak Aapko Apne Saath Zaroorat Nahi Chahiye To Isse Aapka Man Bhi Lagega Aur Aapko Nayi Nayi Cheezen Jaanne Ka Mauka Bhi Milega To Mere Mutabik Sabhi Logon Ko Jyada Se Jyada Yahi Prayas Karna Chahiye Ki Wah Alag Alag Field Ki Alag Alag Topic Se Related Kitaben Padhte Rahen Taki Unhen Har Ek Field Ke Bare Mein Kuch N Kuch Jankari Avashya Ho
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी की बुक शारदा पावर हाउस ऑफ नॉलेज अगर एक व्यक्ति को किसी भी चीज के बारे में जानना है तो मुझे लगता है कि बुक्स बहुत उसकी हेल्प करती हैं अगर आपको अपनी लाइफ में कुछ करना है तो आपको बोस का सहारा लेना ...जवाब पढ़िये
हिंदी की बुक शारदा पावर हाउस ऑफ नॉलेज अगर एक व्यक्ति को किसी भी चीज के बारे में जानना है तो मुझे लगता है कि बुक्स बहुत उसकी हेल्प करती हैं अगर आपको अपनी लाइफ में कुछ करना है तो आपको बोस का सहारा लेना पड़ेगा अगर आपको कुछ समाज के लिए करना है तो आपको बुक्स किस के थ्रू जाना होगा तो बुक्स बस मैं इतना ही कहूंगा कि हर चीज के लिए हर मोमेंट पर एक व्यक्ति की व्यक्ति के व्यक्तित्व के विकास में बहुत भूमि बहुत बड़ी भूमिका हमारी किताबें निभाती है और मुझे लगता है कि जो व्यक्ति बुक्स को नहीं पड़ता तो कहीं ना कहीं वह अपने व्यक्तित्व का विकास नहीं कर सकताHindi Ki Book Sarada Power House Of Knowledge Agar Ek Vyakti Ko Kisi Bhi Cheez Ke Bare Mein Janana Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Books Bahut Uski Help Karti Hain Agar Aapko Apni Life Mein Kuch Karna Hai To Aapko Bose Ka Sahara Lena Padega Agar Aapko Kuch Samaaj Ke Liye Karna Hai To Aapko Books Kis Ke Through Jana Hoga To Books Bus Main Itna Hi Kahunga Ki Har Cheez Ke Liye Har Moment Par Ek Vyakti Ki Vyakti Ke Vyaktitva Ke Vikash Mein Bahut Bhoomi Bahut Badi Bhumika Hamari Kitaben Nibhati Hai Aur Mujhe Lagta Hai Ki Jo Vyakti Books Ko Nahi Padata To Kahin Na Kahin Wah Apne Vyaktitva Ka Vikash Nahi Kar Sakta
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए किताब जो होती है वह एक नया संसार को देती हमारे सामने पिता के बारे में जानती नहीं समझते नहीं घटनाओं से गुजरने किताबों को पढ़ते हो क्या लगेगा कभी साथ नहीं छोड़ती इसीलिए मुझे लगता किताबें हमेशा पढ़...जवाब पढ़िये
देखिए किताब जो होती है वह एक नया संसार को देती हमारे सामने पिता के बारे में जानती नहीं समझते नहीं घटनाओं से गुजरने किताबों को पढ़ते हो क्या लगेगा कभी साथ नहीं छोड़ती इसीलिए मुझे लगता किताबें हमेशा पढ़नी चाहिए जिससे आप का ज्ञान हो चुप से बढ़ता है अपने शब्दों के बारे में जानते हैं आप साहित्य के बारे में जानते हैं अगर आप पुराने जमाने की किताब पढ़ रहे थे उस समय लोग कैसे रहते थे आप उसके बारे में जान सकते हैं किताबें पढ़ना बहुत ही अच्छी बात है और मुझे लगता है सब को खिलाओ पढ़नी चाहिएDekhie Kitab Jo Hoti Hai Wah Ek Naya Sansar Ko Deti Hamare Samane Pita Ke Bare Mein Jaanti Nahi Samajhte Nahi Ghatnaon Se Gujarne Kitabon Ko Padhte Ho Kya Lagega Kabhi Saath Nahi Chhodatee Isliye Mujhe Lagta Kitaben Hamesha Padhani Chahiye Jisse Aap Ka Gyaan Ho Chup Se Badhta Hai Apne Shabdon Ke Bare Mein Jante Hain Aap Sahitya Ke Bare Mein Jante Hain Agar Aap Purane Jamaane Ki Kitab Padh Rahe The Us Samay Log Kaise Rehte The Aap Uske Bare Mein Jaan Sakte Hain Kitaben Padhna Bahut Hi Acchi Baat Hai Aur Mujhe Lagta Hai Sab Ko Khilaao Padhani Chahiye
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किताबें सिर्फ बोलने के लिए मेरी बेस्ट फ्रेंड नहीं होती बल्कि किताबें असलियत में हमारी ऐसी बेस्ट फ्रेंड होती है तो कभी हमारा साथ नहीं छोड़ती ब्लू हमारी जिंदगी में आते हैं जाते हैं पर किताब एक ऐसी चीजें...जवाब पढ़िये
किताबें सिर्फ बोलने के लिए मेरी बेस्ट फ्रेंड नहीं होती बल्कि किताबें असलियत में हमारी ऐसी बेस्ट फ्रेंड होती है तो कभी हमारा साथ नहीं छोड़ती ब्लू हमारी जिंदगी में आते हैं जाते हैं पर किताब एक ऐसी चीजें जिन्हें आप अपने मरते दम तक अपने साथ रख सकते हो किताबों के अंदर ऐसा गाना जिसे पढ़कर आप जितना बटोरना चाहो उतना बटोर सकते हो किताबों का कोई अंत नहीं है वह आप की सोचने की शक्ति को बढ़ाते हैं वह आप को ज्ञान देते हैं और एक काफी अच्छे कॉपी भी है तो मुझे ऐसा लगता है कि किताबें पढ़नी हम इसलिए चाहिए क्योंकि हम हर चीज में ग्रुप करेंगे हम लोगों को अगर अपनी इंग्लिश में काम करती बढ़ानी है बोलने का तरीका सुधारना है हमें सीखनी है किताब एक ऐसी चीज है जो जिंदगी भर साथ रहेंगे जो मैं ऐसा क्या हमसे कोई छीन नहीं सकता है तो किताबों को अपने आप जिस दिन एक व्यक्ति को किताबों से प्यार हो जाए तो मुझे लगता है कि उसे और किसी बेस्ट फ्रेंड की जरूरत नहीं पड़ती किताबें उसका प्यार बन जा किताबों से हमें सीखने के लिए बहुत कुछ मिलता है और उसको हम जितना जल्दी बटोर सके उतना ज्यादा बेहतर होगा हम लोगों के लिए तो इसीलिए किताबें पढ़ने से हमें बहुत फायदा हैKitaben Sirf Bolne Ke Liye Meri Best Friend Nahi Hoti Balki Kitaben Asliyat Mein Hamari Aisi Best Friend Hoti Hai To Kabhi Hamara Saath Nahi Chhodatee Blue Hamari Zindagi Mein Aate Hain Jaate Hain Par Kitab Ek Aisi Cheezen Jinhen Aap Apne Marte Dum Tak Apne Saath Rakh Sakte Ho Kitabon Ke Andar Aisa Gaana Jise Padhakar Aap Jitna Batorana Chaho Utana Bator Sakte Ho Kitabon Ka Koi Ant Nahi Hai Wah Aap Ki Sochne Ki Shakti Ko Badhate Hain Wah Aap Ko Gyaan Dete Hain Aur Ek Kafi Acche Copy Bhi Hai To Mujhe Aisa Lagta Hai Ki Kitaben Padhani Hum Isliye Chahiye Kyonki Hum Har Cheez Mein Group Karenge Hum Logon Ko Agar Apni English Mein Kaam Karti Badhani Hai Bolne Ka Tarika Sudharna Hai Hume Sekhani Hai Kitab Ek Aisi Cheez Hai Jo Zindagi Bhar Saath Rahenge Jo Main Aisa Kya Humse Koi Chin Nahi Sakta Hai To Kitabon Ko Apne Aap Jis Din Ek Vyakti Ko Kitabon Se Pyar Ho Jaye To Mujhe Lagta Hai Ki Use Aur Kisi Best Friend Ki Zaroorat Nahi Padhti Kitaben Uska Pyar Ban Ja Kitabon Se Hume Seekhne Ke Liye Bahut Kuch Milta Hai Aur Usko Hum Jitna Jaldi Bator Sake Utana Jyada Behtar Hoga Hum Logon Ke Liye To Isliye Kitaben Padhne Se Hume Bahut Fayda Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी दो सामने एक लाइन सुनी होगी आज ही डर लिप्सा मैंने लाइफ बी फोर यू डाइस यह जो लाइन है वह बिल्कुल सत्य है और मैं फिर से एग्री करता हूं और अगर किताब की किताब पढ़ने के फायदे की बात की जाए तो बहुत सारे ...जवाब पढ़िये
विकी दो सामने एक लाइन सुनी होगी आज ही डर लिप्सा मैंने लाइफ बी फोर यू डाइस यह जो लाइन है वह बिल्कुल सत्य है और मैं फिर से एग्री करता हूं और अगर किताब की किताब पढ़ने के फायदे की बात की जाए तो बहुत सारे फायदे हैं मैसेज एक बार मैं आपको और देना भी नहीं सकता पहला फायदा किताब पढ़ने से जो आपका स्ट्रेस लेवल होता है वह बहुत कम हो जाता है आपको स्ट्रेस बिल्कुल खत्म हो जाता है और आप किताब पढ़ते पढ़ते इतने उस चीज में इतने लीन हो जाओगे कि आपको अपने स्ट्रेस वाली जो बात है वह आपको याद ही नहीं आएंगे और स्ट्रेस खत्म हो जाएगा पहली टेस्ट दूसरा किताब पढ़ने से आपका जो कंसंट्रेशन पावर होती है वह बहुत ज्यादा बढ़ जाती है क्योंकि आप किताब पढ़ते हैं तो आप उसी चीज को पढ़ते हैं और उसी में खो जाते हैं तो इससे क्या कंसंट्रेशन पावर बढ़ती है आ गया हम सब जानते हैं कि किताब पढ़ने से नॉलेज नॉलेज मिलती है और नॉलेज इसी की तो सक्सेस तो अगर आप किताब पढ़ते तो आपके पास हर चीज की नॉलेज होगी और जब नॉलेज होगी तो शायद आपको किसी और चीज की जरूरत नहीं है चाहे आपके साथ कोई हो ना हो आपकी नॉलेज आपके साथ हमेशा रहेगी और आज के समय में नॉलेज बहुत इंपोर्टेंट है तो बिल्कुल आपसे सबसे ऊपर होंगे अगर आपके पास सबसे ज्यादा नॉलेज है तो उसके बाद किताब पढ़ने से जो आपकी मेमोरी होती वह तेज होती है वह कैसे एकदम शादी में किताब पढ़ना चालू करते हैं तो हम लोग बहुत सारे कैरेक्टर्स पढ़ते हैं उसमें बहुत सारी चीजें पढ़ते फिल्म धीरे-धीरे करके उसको कॉल करते हैं कि हमने यह पढ़ा था तो इससे क्या हमारी तो याद रखने की शक्ति होती है वह भी बढ़ती जाती है नॉलेज से बढ़ती है और भी बहुत सारे फायदे हैं किताब पढ़ने के जो मैंने आपको पता है और अगला फायदा क्या है किताब पढ़ने का यह है कि आप उसको मतलब आप जब किताब पढ़ते हैं तो आपको बहुत सारी रोज़ दिखाई देते हैं किताब में कभी किसी चीज का रोला पढ़ोगे कभी कुछ पढ़ोगे तो आप अपने आप को एक प्रैक्टिकल फील कर आओगे और आप उस ट्रैक्टर में को भी जाओगे तो आप हर करैक्टर को इस तरीके से अपील करो कुछ तो यह भी एक फायदा तो बहुत सारे फायदे किताब पढ़ने केVikee Do Samane Ek Line Suni Hogi Aaj Hi Dar Lipsa Maine Life Be Four You Dice Yeh Jo Line Hai Wah Bilkul Satya Hai Aur Main Phir Se Agree Karta Hoon Aur Agar Kitab Ki Kitab Padhne Ke Fayde Ki Baat Ki Jaye To Bahut Sare Fayde Hain Massage Ek Bar Main Aapko Aur Dena Bhi Nahi Sakta Pehla Fayda Kitab Padhne Se Jo Aapka Stress Level Hota Hai Wah Bahut Kam Ho Jata Hai Aapko Stress Bilkul Khatam Ho Jata Hai Aur Aap Kitab Padhte Padhte Itne Us Cheez Mein Itne Lean Ho Jaoge Ki Aapko Apne Stress Wali Jo Baat Hai Wah Aapko Yaad Hi Nahi Aayenge Aur Stress Khatam Ho Jayega Pehli Test Doosra Kitab Padhne Se Aapka Jo Concentration Power Hoti Hai Wah Bahut Jyada Badh Jati Hai Kyonki Aap Kitab Padhte Hain To Aap Ussi Cheez Ko Padhte Hain Aur Ussi Mein Kho Jaate Hain To Isse Kya Concentration Power Badhti Hai Aa Gaya Hum Sab Jante Hain Ki Kitab Padhne Se Knowledge Knowledge Milti Hai Aur Knowledge Isi Ki To Success To Agar Aap Kitab Padhte To Aapke Paas Har Cheez Ki Knowledge Hogi Aur Jab Knowledge Hogi To Shayad Aapko Kisi Aur Cheez Ki Zaroorat Nahi Hai Chahe Aapke Saath Koi Ho Na Ho Aapki Knowledge Aapke Saath Hamesha Rahegi Aur Aaj Ke Samay Mein Knowledge Bahut Important Hai To Bilkul Aapse Sabse Upar Honge Agar Aapke Paas Sabse Jyada Knowledge Hai To Uske Baad Kitab Padhne Se Jo Aapki Memory Hoti Wah Tez Hoti Hai Wah Kaise Ekdam Shadi Mein Kitab Padhna Chalu Karte Hain To Hum Log Bahut Sare Characters Padhte Hain Usamen Bahut Saree Cheezen Padhte Film Dhire Dhire Karke Usko Call Karte Hain Ki Humne Yeh Padha Tha To Isse Kya Hamari To Yaad Rakhne Ki Shakti Hoti Hai Wah Bhi Badhti Jati Hai Knowledge Se Badhti Hai Aur Bhi Bahut Sare Fayde Hain Kitab Padhne Ke Jo Maine Aapko Pata Hai Aur Agla Fayda Kya Hai Kitab Padhne Ka Yeh Hai Ki Aap Usko Matlab Aap Jab Kitab Padhte Hain To Aapko Bahut Saree Roz Dikhai Dete Hain Kitab Mein Kabhi Kisi Cheez Ka Rola Padhoge Kabhi Kuch Padhoge To Aap Apne Aap Ko Ek Practical Feel Kar Aaoge Aur Aap Us Traktor Mein Ko Bhi Jaoge To Aap Har Karaiktar Ko Is Tarike Se Appeal Karo Kuch To Yeh Bhi Ek Fayda To Bahut Sare Fayde Kitab Padhne Ke
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखित किताबें जो हैं वह पढ़ने के लिए ही बनी है यह बात तो सब जानते हैं आप क्यों पढ़नी चाहिए यह सवाल के जवाब देकर जब इंसान पैदा होता है तभी से उसके आगे किताबें लग जाती है 4 साल का हुआ किताबें लग गई उसमे...जवाब पढ़िये
लिखित किताबें जो हैं वह पढ़ने के लिए ही बनी है यह बात तो सब जानते हैं आप क्यों पढ़नी चाहिए यह सवाल के जवाब देकर जब इंसान पैदा होता है तभी से उसके आगे किताबें लग जाती है 4 साल का हुआ किताबें लग गई उसमें अल्फाबेट होंगे और डिजाइन होंगे पिक्चर्स ऑफ वेजिटेबल फ्रूट तमाम तरीके से लेकर आखिरी तक पढ़ता है बहुत इंपोर्टेंट चीज़ यह है कि जो हम बोलते हैं मुंह से अगर किसी को बोले कुछ तो कई बार वह भूल जाएगा ध्यान नहीं रहेगा लेकिन जब किताब में कोई चीज छुपी हुई है और उसको देख कर हम बोले तो वह चीज हमारे दिमाग में बैठ जाती है या नहीं विजुअलाइजेशन जो भी जोर से चीजें पड़ी जाती हैं वह बहुत देर तक हमारे दिमाग में बनी रहती है क्योंकि आप बोल भी रहे हैं उस चीज को अगर आप भूल हुई चीज को भूल जाएंगे तो निकाह करी हुई चीज को तो कम से कम याद रखेंगे इसलिए बिजनौर वाली चीजें बहुत लंबे समय तक याद रखते हैं इसलिए किताबों का महत्व बहुत ज्यादा है दारू से तरक्की हुई ऑनलाइन पढ़ने की कंप्यूटर पर बढ़ने की डिजाइंस के माध्यम वीडियोस के माध्यम से इसीलिए तो हमें पिक्चर फिल्म होती हैं वह ज्यादा ध्यान देती है क्योंकि हम विजुअल को देखना जो विजुअल वाली चीजें बहुत लंबे समय तक याद रखने का तरीका बनाया गया जिसे हर चीज का नियम कायदे गीत के सबसे किताबों में डिफाइन किया गया क्या आप कितनी उम्र के हिसाब से जानना चाहिए दो किताब है जो है ज्ञान का स्रोत है जिससे आप ज्ञान अर्जित कर सकते हो कोई भी व्यक्ति किसी को मगर किसी भी तरीके की किताब पढ़ना कोई भी टॉपिक की किताब पढ़ना उसे कुछ सीखने को ज्ञान की हासिल होगा कई बार हमें अपनी किताब जरूर लग सकती है लेकिन एक जगह पर खड़ी हुई हुई होती हैLikhit Kitaben Jo Hain Wah Padhne Ke Liye Hi Bani Hai Yeh Baat To Sab Jante Hain Aap Kyon Padhani Chahiye Yeh Sawal Ke Jawab Dekar Jab Insaan Paida Hota Hai Tabhi Se Uske Aage Kitaben Lag Jati Hai 4 Saal Ka Hua Kitaben Lag Gayi Usamen Alphabet Honge Aur Design Honge Pictures Of Vegetable Fruit Tamam Tarike Se Lekar Aakhiri Tak Padhata Hai Bahut Important Cheese Yeh Hai Ki Jo Hum Bolte Hain Mooh Se Agar Kisi Ko Bole Kuch To Kai Bar Wah Bhul Jayega Dhyan Nahi Rahega Lekin Jab Kitab Mein Koi Cheez Chhupee Hui Hai Aur Usko Dekh Kar Hum Bole To Wah Cheez Hamare Dimag Mein Baith Jati Hai Ya Nahi Vijualaijeshan Jo Bhi Jor Se Cheezen Padi Jati Hain Wah Bahut Der Tak Hamare Dimag Mein Bani Rehti Hai Kyonki Aap Bol Bhi Rahe Hain Us Cheez Ko Agar Aap Bhul Hui Cheez Ko Bhul Jaenge To Nikah Kari Hui Cheez Ko To Kam Se Kam Yaad Rakhenge Isliye Bijnor Wali Cheezen Bahut Lambe Samay Tak Yaad Rakhate Hain Isliye Kitabon Ka Mahatva Bahut Jyada Hai Daaru Se Tarakki Hui Online Padhne Ki Computer Par Badhne Ki Dijains Ke Maadhyam Videos Ke Maadhyam Se Isliye To Hume Picture Film Hoti Hain Wah Jyada Dhyan Deti Hai Kyonki Hum Visual Ko Dekhna Jo Visual Wali Cheezen Bahut Lambe Samay Tak Yaad Rakhne Ka Tarika Banaya Gaya Jise Har Cheez Ka Niyam Kayade Geet Ke Sabse Kitabon Mein Define Kiya Gaya Kya Aap Kitni Umar Ke Hisab Se Janana Chahiye Do Kitab Hai Jo Hai Gyaan Ka Srot Hai Jisse Aap Gyaan Arjit Kar Sakte Ho Koi Bhi Vyakti Kisi Ko Magar Kisi Bhi Tarike Ki Kitab Padhna Koi Bhi Topic Ki Kitab Padhna Use Kuch Seekhne Ko Gyaan Ki Hasil Hoga Kai Bar Hume Apni Kitab Jarur Lag Sakti Hai Lekin Ek Jagah Par Khadi Hui Hui Hoti Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कई बार देखा पढ़ा और सुना होगा कि कई लोग अपने बिजी शेड्यूल में से भी वक्त निकालकर किताबें पढ़ते हैं वैसे तो हम लोग किसी भी जानकारी के लिए आजकल Google पर सर्च करते हैं और हमें वह जानकारी मिल जाती ...जवाब पढ़िये
आपने कई बार देखा पढ़ा और सुना होगा कि कई लोग अपने बिजी शेड्यूल में से भी वक्त निकालकर किताबें पढ़ते हैं वैसे तो हम लोग किसी भी जानकारी के लिए आजकल Google पर सर्च करते हैं और हमें वह जानकारी मिल जाती है लेकिन वह जानकारी किसी ब्लॉक से लिखी भी मिलती है जो कहीं भी हो सकती है और गलत लिख बुक एक प्रकाशक के द्वारा सभी जानकारियों की सत्यता और प्रमाणिकता की कसौटी पर खरी उतरती है तभी उसे प्रकाशित किया जाता है इसकी उसमें जो भी जानकारी होती है वह सही और विश्वसनीय होती है जब कोई फिल्म देखते हैं तो हमारी कल्पना शक्ति का उसमें उपयोग नहीं होता है क्योंकि फिल्म के सभी पात्रों को हम देख सकते हैं सुन सकते हैं लेकिन बुक्स में हमारे साथ ऐसा नहीं होता है जब हम कोई बुक पढ़ते हैं तो हमारा दिमाग उसको इमेजिंग करता है जिससे हमारी जो इमेज नहीं पावर है वह बढ़ती है और हमारे मन के लिए और मेमोरी के लिए यह जरूरी भी है अलग-अलग तरह की बुक पढ़ने से हमें अलग-अलग तरह के अनुभव भी मिलते हैं वक्त उसे हम कल्पनाशील दुनिया में रहने का अनुभव प्राप्त कर लेते हैं और शब्दों के द्वारा व्यक्त करना मुश्किल है इसीलिए बुक पढ़ते हैं वह इसे अच्छी तरह से समझ सकते हैं एक बार भारत के प्रधानमंत्री श्री मोदी जी ने कहा था कि वह रात को सोने से पहले किताब पढ़ते हैं स्वामी विवेकानंद अब्राहम लिंकन नेल्सन मंडेला जी इन्होंने अपने विचारों की दम पर दुनिया को बदला है और यह सभी अच्छे वक्त लीडर के रूप में भी जाने जाते हैं पुस्तक के शब्द को सिखाने के लिए मोटिवेट करने के लिए एक अच्छा साधन है अनुभव जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण है और आचार्य चाणक्य ने कहा है यदि खुद के अनुभव से सीख लेंगे तो जिंदगी निकल जाएगी लेकिन अगर कुछ विशेष करना है तो दूसरों के अनुभव से सीख लेनी चाहिए इसलिए मुझे लगता है हमें किताबें जरूर पढ़नी चाहिए वह हमारी सच्ची दोस्त बन सकती है और हमAapne Kai Bar Dekha Padha Aur Suna Hoga Ki Kai Log Apne Busy Schedule Mein Se Bhi Waqt Nikalakar Kitaben Padhte Hain Waise To Hum Log Kisi Bhi Jankari Ke Liye Aajkal Google Par Search Karte Hain Aur Hume Wah Jankari Mil Jati Hai Lekin Wah Jankari Kisi Block Se Likhi Bhi Milti Hai Jo Kahin Bhi Ho Sakti Hai Aur Galat Likh Book Ek Prakashak Ke Dwara Sabhi Jankariyon Ki Satyata Aur Pramanikata Ki Kasouti Par Khari Utarati Hai Tabhi Use Prakashit Kiya Jata Hai Iski Usamen Jo Bhi Jankari Hoti Hai Wah Sahi Aur Viswasniya Hoti Hai Jab Koi Film Dekhte Hain To Hamari Kalpana Shakti Ka Usamen Upyog Nahi Hota Hai Kyonki Film Ke Sabhi Patron Ko Hum Dekh Sakte Hain Sun Sakte Hain Lekin Books Mein Hamare Saath Aisa Nahi Hota Hai Jab Hum Koi Book Padhte Hain To Hamara Dimag Usko Imaging Karta Hai Jisse Hamari Jo Image Nahi Power Hai Wah Badhti Hai Aur Hamare Man Ke Liye Aur Memory Ke Liye Yeh Zaroori Bhi Hai Alag Alag Tarah Ki Book Padhne Se Hume Alag Alag Tarah Ke Anubhav Bhi Milte Hain Waqt Use Hum Kalpanasheel Duniya Mein Rehne Ka Anubhav Prapt Kar Lete Hain Aur Shabdon Ke Dwara Vyakt Karna Mushkil Hai Isliye Book Padhte Hain Wah Ise Acchi Tarah Se Samajh Sakte Hain Ek Bar Bharat Ke Pradhanmantri Shri Modi Ji Ne Kaha Tha Ki Wah Raat Ko Sone Se Pehle Kitab Padhte Hain Swami Vivekananda Abraham Lincoln Nelson Mandela Ji Inhone Apne Vicharon Ki Dum Par Duniya Ko Badla Hai Aur Yeh Sabhi Acche Waqt Leader Ke Roop Mein Bhi Jaane Jaate Hain Pustak Ke Shabdh Ko Sikhane Ke Liye Motivate Karne Ke Liye Ek Accha Sadhan Hai Anubhav Jeevan Mein Safalta Prapt Karne Ke Liye Mahatvapurna Hai Aur Acharya Chanakya Ne Kaha Hai Yadi Khud Ke Anubhav Se Seekh Lenge To Zindagi Nikal Jayegi Lekin Agar Kuch Vishesh Karna Hai To Dusron Ke Anubhav Se Seekh Leni Chahiye Isliye Mujhe Lagta Hai Hume Kitaben Jarur Padhani Chahiye Wah Hamari Sachi Dost Ban Sakti Hai Aur Hum
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिल की किताबों में तो जीवन बसता है और मुझसे लोगों को तो बिल्कुल मैं एक भी दिन बिना किताब पढ़ी नहीं निकाल सकती इतना हमारी जिंदगी में बहुत सारे फ्रेंड्स मुश्किलें प्रॉब्लम्स हैं और कोई हल भी नहीं होता उ...जवाब पढ़िये
दिल की किताबों में तो जीवन बसता है और मुझसे लोगों को तो बिल्कुल मैं एक भी दिन बिना किताब पढ़ी नहीं निकाल सकती इतना हमारी जिंदगी में बहुत सारे फ्रेंड्स मुश्किलें प्रॉब्लम्स हैं और कोई हल भी नहीं होता उन्हें सॉल्व करने का समय पर किताबें बहुत साथ देती है किताबों की दुनिया जो एक अलग ही दुनिया होती है जिसमें हर चीज हद में अच्छी हो जाती है उस सब को खूब मिलती है डिस्ट्रक्शन मिलता है आपको आप अपनी जिंदगी की प्रॉब्लम को भूल कर किसी और की जिंदगी में इतना भूल जाते हैं कि आप अपने बारे में भूल भी जाते हैं और फिर किताबी ज्ञान का भंडार तो होती ही है और किताबों सच्चे दोस्त सच में कोई नहीं हो सकता किताबी आप की सुनती है अपनी कहती है अब कभी पिक्चर्स नहीं करेंगे तो किताबें पढ़ने की तो बहुत सारे रीजन हैDil Ki Kitabon Mein To Jeevan Basetaa Hai Aur Mujhse Logon Ko To Bilkul Main Ek Bhi Din Bina Kitab Padhi Nahi Nikal Sakti Itna Hamari Zindagi Mein Bahut Sare Friends Mushkilain Problem Hain Aur Koi Hal Bhi Nahi Hota Unhen Solve Karne Ka Samay Par Kitaben Bahut Saath Deti Hai Kitabon Ki Duniya Jo Ek Alag Hi Duniya Hoti Hai Jisme Har Cheez Had Mein Acchi Ho Jati Hai Us Sab Ko Khoob Milti Hai Destruction Milta Hai Aapko Aap Apni Zindagi Ki Problem Ko Bhul Kar Kisi Aur Ki Zindagi Mein Itna Bhul Jaate Hain Ki Aap Apne Bare Mein Bhul Bhi Jaate Hain Aur Phir Kitabi Gyaan Ka Bhandar To Hoti Hi Hai Aur Kitabon Sacche Dost Sach Mein Koi Nahi Ho Sakta Kitabi Aap Ki Sunti Hai Apni Kahti Hai Ab Kabhi Pictures Nahi Karenge To Kitaben Padhne Ki To Bahut Sare Reason Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें किताबें क्यों पढ़नी चाहिए हमें किताबें पढ़नी चाहिए कि उनसे हमें ज्ञान प्राप्त होता है लेकिन आप कहोगी ज्ञान के बिना किताबों के साथ हो सकता है लेकिन कहना भी उचित नहीं है क्योंकि जो किताबों के माध्य...जवाब पढ़िये
हमें किताबें क्यों पढ़नी चाहिए हमें किताबें पढ़नी चाहिए कि उनसे हमें ज्ञान प्राप्त होता है लेकिन आप कहोगी ज्ञान के बिना किताबों के साथ हो सकता है लेकिन कहना भी उचित नहीं है क्योंकि जो किताबों के माध्यम से ज्ञान प्राप्त होता है उस के माध्यम से हमारा उच्चारण भी बिल्कुल सही होता है और किताबें पढ़ने का म्यूजिक हम छोटे थे तो छोटे में हम क्या करते थे टीचर कहते थे कि आपको अपना उच्चारण सीखना है हिंदी पढ़ना सीखना है तो किताबें पढ़ी है तो इसके माध्यम से हम किताबों को पढ़ना ज्ञान प्राप्त करेंगे और वास्तव में अच्छे से वेडिंग भी कर सकते हैं और उस औरत का उस शब्द का अर्थ क्या होगा वह भी अच्छे से जान सकते हैं इसलिए हमें किताबें पढ़ना चाहिए क्योंकि यदि आप एक बार किताब पढ़ लेते हैं तो आपके दिमाग वह चीज मिट जाती है और यदि द्वारा बच्चे पढ़ेंगे तो आपके दिमाग में इतने अच्छे से फिट हो जाएगी कि आपको तीसरी बार पढ़ने की आवश्यकता नहीं रहे क्योंकि एक बार पड़ी हुई चीज एक बार अपने बाप चीज पढ़ ली तो उस के माध्यम से हमारे दिमाग में वॉइस बस तू बिल्कुल सेट हो जाती क्यों नहीं पड़ी है इसके माध्यम से हम देख द्वारा पढ़ने में आई तो हम निश्चित रूप से उसने एक कमांड हासिल कर लेंगे और इसलिए हमें वास्तव में देखा जाए तो ज्ञान के लिए धन्यवाद धन्यवादHume Kitaben Kyon Padhani Chahiye Hume Kitaben Padhani Chahiye Ki Unse Hume Gyaan Prapt Hota Hai Lekin Aap Kahogi Gyaan Ke Bina Kitabon Ke Saath Ho Sakta Hai Lekin Kehna Bhi Uchit Nahi Hai Kyonki Jo Kitabon Ke Maadhyam Se Gyaan Prapt Hota Hai Us Ke Maadhyam Se Hamara Ucharan Bhi Bilkul Sahi Hota Hai Aur Kitaben Padhne Ka Music Hum Chote The To Chote Mein Hum Kya Karte The Teacher Kehte The Ki Aapko Apna Ucharan Sikhna Hai Hindi Padhna Sikhna Hai To Kitaben Padhi Hai To Iske Maadhyam Se Hum Kitabon Ko Padhna Gyaan Prapt Karenge Aur Vaastav Mein Acche Se Wedding Bhi Kar Sakte Hain Aur Us Aurat Ka Us Shabdh Ka Arth Kya Hoga Wah Bhi Acche Se Jaan Sakte Hain Isliye Hume Kitaben Padhna Chahiye Kyonki Yadi Aap Ek Bar Kitab Padh Lete Hain To Aapke Dimag Wah Cheez Mit Jati Hai Aur Yadi Dwara Bacche Padhenge To Aapke Dimag Mein Itne Acche Se Fit Ho Jayegi Ki Aapko Teesri Bar Padhne Ki Avashyakta Nahi Rahe Kyonki Ek Bar Padi Hui Cheez Ek Bar Apne Baap Cheez Padh Lee To Us Ke Maadhyam Se Hamare Dimag Mein Voice Bus Tu Bilkul Set Ho Jati Kyon Nahi Padi Hai Iske Maadhyam Se Hum Dekh Dwara Padhne Mein Eye To Hum Nishchit Roop Se Usne Ek Command Hasil Kar Lenge Aur Isliye Hume Vaastav Mein Dekha Jaye To Gyaan Ke Liye Dhanyavad Dhanyavad
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए बुक्स होती ही पढ़ने के लिए और क्यों पढ़नी चाहिए उसका एक विषय है क्योंकि अगर हमें ज्यादा से ज्यादा नॉलेज चाहिए तो मैं ज्यादा ज्यादा बुक्स पढ़नी चाहिए किसी ने सही कहा है भले आप पढ़ना छोड़ दो लेकिन...जवाब पढ़िये
देखिए बुक्स होती ही पढ़ने के लिए और क्यों पढ़नी चाहिए उसका एक विषय है क्योंकि अगर हमें ज्यादा से ज्यादा नॉलेज चाहिए तो मैं ज्यादा ज्यादा बुक्स पढ़नी चाहिए किसी ने सही कहा है भले आप पढ़ना छोड़ दो लेकिन किताबें पढ़ना मत छोड़ो क्योंकि आज के युग में हमें हर चीज मिले हमें मोबाइल पर मिल जाती है लेकिन वह चीज हमें ज्यादा समय का याद नहीं रहती है आपने नोटिस किया होगा आपके WhatsApp पर Facebook पर इतने अच्छे अच्छे मैसेज आते हैं आपको लगता है वाह यार क्या गजब है लेकिन आपको पता है कुछ ज्यादा नहीं हमें 5 मिनट के अंदर अंदर आप उनकी उसको भूल जाती जब किताब के द्वारा पढ़ी हुई चीज को आप लंबे समय तक याद रख पाते और किताबें हर तरह की बुक्स पढ़ सकते हो अपना नॉलेज बढ़ाने के लिए बड़े-बड़े लोग बुक पढ़ा करते हैं आप भी पड़ी है सब में खुद पढ़ता हूं मैंने एक आदत बना कर रखी है पहले मेरे मैंने पढ़ाई छोड़ दी सब कुछ कर दिया लेकिन उसके बावजूद भी मैं आज दो घंटा दिल्ली कितना बैटिंग करता हूं तो मैं अपने आपको एक यह मेरी आदत है यार कुछ भी है लेकिन मैं अपने आप को एक अच्छा फील करता हूं कि चलो यार आज बुक पढ़ लिया जिस दिन बुक नहीं पढ़ना होता है उस दिन माइंड अपसेट रहता है और बुक पढ़ने से हमारी नॉलेज इतनी बढ़ जाती है कम कोई भी आंसर हो जो हमें नॉलेज में हमारे अंदर आता है तो उसका मच्छर से आपको हम जवाब दे पाते हैं किसी से अच्छा तर्क वितर्क कर सकते हैंDekhie Books Hoti Hi Padhne Ke Liye Aur Kyon Padhani Chahiye Uska Ek Vishay Hai Kyonki Agar Hume Jyada Se Jyada Knowledge Chahiye To Main Jyada Jyada Books Padhani Chahiye Kisi Ne Sahi Kaha Hai Bhale Aap Padhna Chod Do Lekin Kitaben Padhna Mat Chhodo Kyonki Aaj Ke Yug Mein Hume Har Cheez Mile Hume Mobile Par Mil Jati Hai Lekin Wah Cheez Hume Jyada Samay Ka Yaad Nahi Rehti Hai Aapne Notice Kiya Hoga Aapke WhatsApp Par Facebook Par Itne Acche Acche Massage Aate Hain Aapko Lagta Hai Wah Yaar Kya Gajab Hai Lekin Aapko Pata Hai Kuch Jyada Nahi Hume 5 Minute Ke Andar Andar Aap Unki Usko Bhul Jati Jab Kitab Ke Dwara Padhi Hui Cheez Ko Aap Lambe Samay Tak Yaad Rakh Paate Aur Kitaben Har Tarah Ki Books Padh Sakte Ho Apna Knowledge Badhane Ke Liye Bade Bade Log Book Padha Karte Hain Aap Bhi Padi Hai Sab Mein Khud Padhata Hoon Maine Ek Aadat Bana Kar Rakhi Hai Pehle Mere Maine Padhai Chod Di Sab Kuch Kar Diya Lekin Uske Bawajud Bhi Main Aaj Do Ghanta Dilli Kitna Batting Karta Hoon To Main Apne Aapko Ek Yeh Meri Aadat Hai Yaar Kuch Bhi Hai Lekin Main Apne Aap Ko Ek Accha Feel Karta Hoon Ki Chalo Yaar Aaj Book Padh Liya Jis Din Book Nahi Padhna Hota Hai Us Din Mind Upset Rehta Hai Aur Book Padhne Se Hamari Knowledge Itni Badh Jati Hai Kam Koi Bhi Answer Ho Jo Hume Knowledge Mein Hamare Andar Aata Hai To Uska Machchar Se Aapko Hum Jawab De Paate Hain Kisi Se Accha Tark Vitark Kar Sakte Hain
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Humein Kitaben Kyon Padhani Chahiye

vokalandroid