मृत्यु के बाद आत्मा कहाँ जाती है ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हमारे जो पुराण में गिरा है वह तो यह कहते हैं कि मरने के बाद स्वर्ग और नर्क की दो जगह होती है जहां रह जाती हैं बट की हो रही है किसी को पता नहीं कि यह सच है या नहीं तो ऐसे तो विश्व में किसी को भी ...जवाब पढ़िये
देखिए हमारे जो पुराण में गिरा है वह तो यह कहते हैं कि मरने के बाद स्वर्ग और नर्क की दो जगह होती है जहां रह जाती हैं बट की हो रही है किसी को पता नहीं कि यह सच है या नहीं तो ऐसे तो विश्व में किसी को भी नहीं पता कि मरने के बाद आत्मा के साथ क्या होता है क्योंकि इसमें जो भी लोग हैं सब जिंदा है तो उन्होंने कभी एक्सपीरियंस नहीं किया तो कुछ कह नहीं सकतेDekhie Hamare Jo Puran Mein Gira Hai Wah To Yeh Kehte Hain Ki Marne Ke Baad Swarg Aur Nark Ki Do Jagah Hoti Hai Jahan Rah Jati Hain But Ki Ho Rahi Hai Kisi Ko Pata Nahi Ki Yeh Sach Hai Ya Nahi To Aise To Vishwa Mein Kisi Ko Bhi Nahi Pata Ki Marne Ke Baad Aatma Ke Saath Kya Hota Hai Kyonki Isme Jo Bhi Log Hain Sab Zinda Hai To Unhone Kabhi Experience Nahi Kiya To Kuch Keh Nahi Sakte
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

क्या मृत्यु के बाद आत्मा को बुरे कामो की सजा दी जाती हैं यदि हाँ तो यह कैसे संभव है जबकि आत्मा के विषय मे लिखा हैं कि आत्मा को जला नही सकते,न सूखा सकते,न भिगो सकते और ना काट सकते ? ...

बीके मृत्यु के बाद क्या होता है किसी को कुछ भी नहीं पता है आप... Read More
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मृत्यु के बाद आत्मा कहां जाती है मुझे लगता है कि अब साइंस और टेक्नोलॉजी की दुनिया में आज जी रहे हैं हां कुछ प्रकार की घटना जरूर हो जाती हैं यहां इन चीजों को बहुत ज्यादा हवा मिल जाती जैसे कुछ दिन पहले ...जवाब पढ़िये
मृत्यु के बाद आत्मा कहां जाती है मुझे लगता है कि अब साइंस और टेक्नोलॉजी की दुनिया में आज जी रहे हैं हां कुछ प्रकार की घटना जरूर हो जाती हैं यहां इन चीजों को बहुत ज्यादा हवा मिल जाती जैसे कुछ दिन पहले आपको याद होगा बुराड़ी में 11 लोगों ने आत्महत्या कर ली थी और जिसमें बताया गया जिसमें पता चला कि एक व्यक्ति को अपने मरे हुए फादर से बात करता था टेलीपैथी की धुन के बाप की आत्मा आती थी तो इस प्रकार कुछ सुपरस्टिशन हमारे समाज में जरूर है लेकिन साइंस और टेक्नोलॉजी के जमाने में मुझे नहीं लगता कि आप महात्मा पर आपको विश्वास ज्यादा करना चाहिएMrityu Ke Baad Aatma Kahan Jati Hai Mujhe Lagta Hai Ki Ab Science Aur Technology Ki Duniya Mein Aaj Ji Rahe Hain Haan Kuch Prakar Ki Ghatna Jarur Ho Jati Hain Yahan In Chijon Ko Bahut Jyada Hawa Mil Jati Jaise Kuch Din Pehle Aapko Yaad Hoga Buradi Mein 11 Logon Ne Aatmahatya Kar Lee Thi Aur Jisme Bataya Gaya Jisme Pata Chala Ki Ek Vyakti Ko Apne Mare Huye Father Se Baat Karta Tha Telipaithi Ki Dhun Ke Baap Ki Aatma Aati Thi To Is Prakar Kuch Superstition Hamare Samaaj Mein Jarur Hai Lekin Science Aur Technology Ke Jamaane Mein Mujhe Nahi Lagta Ki Aap Mahatma Par Aapko Vishwas Jyada Karna Chahiye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पिकी बहुत ही फिलोसोफिकल कॉन्सेप्ट है यह और क्योंकि हमारे पास कोई प्रूफ नहीं है कि मरने के बाद चीजें कहां जा रहे थे इसलिए लोग अपने-अपने ने कौन से प्ले कर आते हैं अगर माइथोलॉजी खिलाते हो जाए तो फिर मरने...जवाब पढ़िये
पिकी बहुत ही फिलोसोफिकल कॉन्सेप्ट है यह और क्योंकि हमारे पास कोई प्रूफ नहीं है कि मरने के बाद चीजें कहां जा रहे थे इसलिए लोग अपने-अपने ने कौन से प्ले कर आते हैं अगर माइथोलॉजी खिलाते हो जाए तो फिर मरने के बाद जो आत्मा है वह जिससे कि हमारे हमें बताया जाता है कि अपने हिंदू रिजल्ट के हिसाब से घी बनाने का कांसेप्ट होता है यानी कि स्वर्ग और नर्क और डिपेंड करते कि आपने कैसे काम किया है उसे साफ-साफ कहां जाएंगे और आज भी तुझी से हो कोई प्रूफ तो इनका कुछ है ही नहीं तो अपने हिसाब से कुछ भी या फिर ग्रंथों में जो लिखा होता है वह सब मान लेते हैं कि लोग तो आप लाइफ में बिलीव करते आने के मरने के बाद आत्मा दूसरे शरीर में चली जाती है Soldier कॉन्सेप्ट यह बहुत ही ज्यादा मतलब इसका कोई प्रूफ नहीं है कोई साइड इफेक्ट नहीं है इसके पीछे तो यह कहना कि मैं कहां से आती है बहुत ही टाइप हो जाएगाPiki Bahut Hi Filosofikal Concept Hai Yeh Aur Kyonki Hamare Paas Koi Proof Nahi Hai Ki Marne Ke Baad Cheezen Kahan Ja Rahe The Isliye Log Apne Apne Ne Kaun Se Play Kar Aate Hain Agar Mythology Khilaate Ho Jaye To Phir Marne Ke Baad Jo Aatma Hai Wah Jisse Ki Hamare Hume Bataya Jata Hai Ki Apne Hindu Result Ke Hisab Se Ghee Banane Ka Concept Hota Hai Yani Ki Swarg Aur Nark Aur Depend Karte Ki Aapne Kaise Kaam Kiya Hai Use Saaf Saaf Kahan Jaenge Aur Aaj Bhi Tujhii Se Ho Koi Proof To Inka Kuch Hai Hi Nahi To Apne Hisab Se Kuch Bhi Ya Phir Granthon Mein Jo Likha Hota Hai Wah Sab Maan Lete Hain Ki Log To Aap Life Mein Believe Karte Aane Ke Marne Ke Baad Aatma Dusre Sharir Mein Chali Jati Hai Soldier Concept Yeh Bahut Hi Jyada Matlab Iska Koi Proof Nahi Hai Koi Side Effect Nahi Hai Iske Piche To Yeh Kehna Ki Main Kahan Se Aati Hai Bahut Hi Type Ho Jayega
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Mrityu Ke Baad Aatma Kahaan Jati Hai ?, मरने के बाद आत्मा कहाँ जाती है

vokalandroid