क्या बड़े शहरों में भीख देते समय आपने ध्यान दिया है कि गोद में लिया हुआ बच्चा हमेशा सोता रहता है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजीव जी हालांकि मैंने आज से पहले इस बात पर ध्यान नहीं दिया बट जब आप कह रहे हैं अब तो मैं अगर सोचो इस बारे में तो आप मुझे लगता है आप सही कह रहे हैं कि जो यह लोग होते हैं भीख मांगते तो फिर बच्चा कोई हो...जवाब पढ़िये
राजीव जी हालांकि मैंने आज से पहले इस बात पर ध्यान नहीं दिया बट जब आप कह रहे हैं अब तो मैं अगर सोचो इस बारे में तो आप मुझे लगता है आप सही कह रहे हैं कि जो यह लोग होते हैं भीख मांगते तो फिर बच्चा कोई होता तो वह यूज़ नहीं सोते ही रहता है वह उसे अपने गोद में लेकर घूमते रहते हैं कि छोटे बच्चे एक तो बहुत बड़ा रीजन होते कि लोग इन्हें पैसे दे देते हैं ताकि यह सोच कर कि बच्चा है छोटा है तो उसे खाने पीने के लिए कुछ चाहिए होगा और मैंने कहीं पढ़ा था कि जो किडनैपिंग होती है बच्चों की वह मूसली इन्हीं लोगों के लिए होती है क्योंकि यह बच्चों के नाम कर लेते हैं फिर उनको कई बार ऐसा भी होता कि उनके हाथ पैर भी काट दिए जाते हैं ताकि संपत्ति की वजह से ज्यादा पैसे मिले और छोटे बच्चों को देखकर में ज्यादा पैसे दे देते हैं लोग तो गिरिधर बिल्कुल सही है बालिन है और इसीलिए मैंने कहीं पढ़ा था कि बिखरे से पहले सोच लीजिए क्योंकि अगर आप ऐसे दे रहे हैं तो ऐसा धंधा इतना ज्यादा है कि सारी पिक में जो पैसे मिलते हैं वह सारे उनके पास नहीं रहते जाकर अपने जो ठेकेदार होते उनको देते हैं और वहां से नहीं सैलरी के रूप में कुछ रुपए मिलते हैं तो नेक्स्ट वीक देर हो तो ध्यान रखें कि वह सच में कोई निजी इंसान है या फिर आप धंधे को बढ़ावा दे रहे हैंRajeev Ji Halanki Maine Aaj Se Pehle Is Baat Par Dhyan Nahi Diya But Jab Aap Keh Rahe Hain Ab To Main Agar Socho Is Bare Mein To Aap Mujhe Lagta Hai Aap Sahi Keh Rahe Hain Ki Jo Yeh Log Hote Hain Bhik Mangate To Phir Baccha Koi Hota To Wah Use Nahi Sote Hi Rehta Hai Wah Use Apne God Mein Lekar Ghumte Rehte Hain Ki Chote Bacche Ek To Bahut Bada Reason Hote Ki Log Inhen Paise De Dete Hain Taki Yeh Soch Kar Ki Baccha Hai Chota Hai To Use Khane Peene Ke Liye Kuch Chahiye Hoga Aur Maine Kahin Padha Tha Ki Jo Kidnaiping Hoti Hai Bacchon Ki Wah Muesli Inhin Logon Ke Liye Hoti Hai Kyonki Yeh Bacchon Ke Naam Kar Lete Hain Phir Unko Kai Bar Aisa Bhi Hota Ki Unke Hath Pair Bhi Kaat Diye Jaate Hain Taki Sampatti Ki Wajah Se Jyada Paise Mile Aur Chote Bacchon Ko Dekhkar Mein Jyada Paise De Dete Hain Log To Giridhar Bilkul Sahi Hai Balin Hai Aur Isliye Maine Kahin Padha Tha Ki Bikhare Se Pehle Soch Lijiye Kyonki Agar Aap Aise De Rahe Hain To Aisa Dhanda Itna Jyada Hai Ki Saree Pic Mein Jo Paise Milte Hain Wah Sare Unke Paas Nahi Rehte Jaakar Apne Jo Thekedaar Hote Unko Dete Hain Aur Wahan Se Nahi Salary Ke Roop Mein Kuch Rupaiye Milte Hain To Next Weak Der Ho To Dhyan Rakhen Ki Wah Sach Mein Koi Niji Insaan Hai Ya Phir Aap Dhandhe Ko Badhawa De Rahe Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीना सार्वजनिक स्थानों पर मैंने भी इस बात को नोटिस किया है कि अक्सर जो छोटा बच्चा होता है वह सोया रहता है चाहे वह किसी की गोद में हो चाहे वह साइकल पर हो चाहे वह छोटी गाड़ी में हूं लेकिन वह हमेशा सोया ...जवाब पढ़िये
जीना सार्वजनिक स्थानों पर मैंने भी इस बात को नोटिस किया है कि अक्सर जो छोटा बच्चा होता है वह सोया रहता है चाहे वह किसी की गोद में हो चाहे वह साइकल पर हो चाहे वह छोटी गाड़ी में हूं लेकिन वह हमेशा सोया हुआ ही दिखाई देता है और जब इस बारे में आसपास के लोगों से चर्चा हुई तो दो बिंदुओं पर कराए कि लोगों का कहना था कि कई बार यूं बच्चे को मरने के बाद भी दो-तीन दिन तक ऐसे लेकर घूमते रहते हैं या फिर छोटे बच्चे को हमेशा कोई नशे की चीज दी जाती है ताकि वह सोया रहे हिंदू बंधुओं ने मुझे बहुत परेशान किया कि किस तरह से लोग अपनी जीविका चलाने के लिए छोटे बच्चों के साथ इस तरह का व्यवहार कर रही हैं सिर्फ इसलिए कि सामने वाला छोटे बच्चे को देख कर दया में आ जाए और उन्हें एक अच्छी खासी रकम दे दे इसलिए उन्होंने बच्चों के साथ इस तरह से व्यवहार किया है वैसे तो मैं इस चीज में बिल्कुल भी विश्वास नहीं करती हूं मैं कभी भी किसी भी स्वस्थ इंसान की मदद नहीं करती हूं क्योंकि मुझे लगता है कि अगर थोड़ी सी भी मेहनत करें तो वह खुद अपनी जीविका चला सकता है जरूरत है सिर्फ उसे मेहनत करनी चाहिए क्योंकि काम कि हमारे देश में कोई कमी नहीं है लेकिन क्यों नहीं सुविधा उपलब्ध हो जाती है उन्हें आसानी से कोई भी कुछ भी दे देता है उन्हें मदद मिल जाती है और उनका जीवन बिना किसी काम के चल जाता है इसलिए वह इस धंधे में आसानी से चले जाते हैं दूसरे मुझे लगता है कि हमें मदद उन लोगों की करनी चाहिए जो लाचार हैं अपन व्यापारी हैं तुम मुझे सिर्फ वही लोग आकर्षित करते हैं जो लाचार हैं बाकी में स्वस्थ लोगों की सभी भी मदद नहीं करती हूं लेकिन आपका कहना सही है कि इस तरह की दृश्य देखने को मिलते हैं हमें और स करने पर कदम उठाया हैJeena Sarvajanik Sthanon Par Maine Bhi Is Baat Ko Notice Kiya Hai Ki Aksar Jo Chota Baccha Hota Hai Wah Soya Rehta Hai Chahe Wah Kisi Ki God Mein Ho Chahe Wah Cycle Par Ho Chahe Wah Choti Gaadi Mein Hoon Lekin Wah Hamesha Soya Hua Hi Dikhai Deta Hai Aur Jab Is Bare Mein Aaspass Ke Logon Se Charcha Hui To Do Binduon Par Karae Ki Logon Ka Kehna Tha Ki Kai Bar Yun Bacche Ko Marne Ke Baad Bhi Do Teen Din Tak Aise Lekar Ghumte Rehte Hain Ya Phir Chote Bacche Ko Hamesha Koi Nashe Ki Cheez Di Jati Hai Taki Wah Soya Rahe Hindu Bandhuon Ne Mujhe Bahut Pareshan Kiya Ki Kis Tarah Se Log Apni Jeevika Chalane Ke Liye Chote Bacchon Ke Saath Is Tarah Ka Vyavhar Kar Rahi Hain Sirf Isliye Ki Samane Wala Chote Bacche Ko Dekh Kar Daya Mein Aa Jaye Aur Unhen Ek Acchi Khasee Rakam De De Isliye Unhone Bacchon Ke Saath Is Tarah Se Vyavhar Kiya Hai Waise To Main Is Cheez Mein Bilkul Bhi Vishwas Nahi Karti Hoon Main Kabhi Bhi Kisi Bhi Swasth Insaan Ki Madad Nahi Karti Hoon Kyonki Mujhe Lagta Hai Ki Agar Thodi Si Bhi Mehnat Karen To Wah Khud Apni Jeevika Chala Sakta Hai Zaroorat Hai Sirf Use Mehnat Karni Chahiye Kyonki Kaam Ki Hamare Desh Mein Koi Kami Nahi Hai Lekin Kyon Nahi Suvidha Uplabdha Ho Jati Hai Unhen Aasani Se Koi Bhi Kuch Bhi De Deta Hai Unhen Madad Mil Jati Hai Aur Unka Jeevan Bina Kisi Kaam Ke Chal Jata Hai Isliye Wah Is Dhandhe Mein Aasani Se Chale Jaate Hain Dusre Mujhe Lagta Hai Ki Hume Madad Un Logon Ki Karni Chahiye Jo Lachar Hain Apan Vyapaari Hain Tum Mujhe Sirf Wahi Log Aakarshit Karte Hain Jo Lachar Hain Baki Mein Swasth Logon Ki Sabhi Bhi Madad Nahi Karti Hoon Lekin Aapka Kehna Sahi Hai Ki Is Tarah Ki Drishya Dekhne Ko Milte Hain Hume Aur S Karne Par Kadam Uthaya Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Bade Shaharon Mein Bhik Dete Samay Aapne Dhyan Diya Hai Ki God Mein Liya Hua Baccha Hamesha Sota Rehta Hai

vokalandroid