कुत्ते पागल क्यों हो जाते हैं? ...

कुत्ते लगभग हर जगह होते हैं। उसे मनुष्य का सबसे वफादार मित्र माना जाता है। बहुत से लोग उन्हें पालते भी हैं।लेकिन अगर कहीं कुत्ता पागल हो जाए तो बहुत खतरनाक हो जाता है। पागल कुत्ते द्वारा काटे जाने पर सही व समय पर इलाज जरूरी हो जाता है। ऐसा न होने पर व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। कुत्ता पागल होता कैसे है? वास्तव में जिस कुत्ते को ‘रेबीज’ नामक रोग हो जाए, उसे ही पागल कुत्ता कहते हैं। रेबीज’ का रोग एक प्रकार के वायरस के कारण होता है। यह वायरस हवा में से या किसी जंगली जानवर से कुत्ते तक पहुँचता है। कुत्ते की चमड़ी पर हुए किसी घाव द्वारा यह उसके शरीर में प्रवेश कर स्नायु तंत्र तक पहुँच जाता है। यहाँ इस वायरस की संख्या तेजी से बढ़ती है। इससे मस्तिष्क की कोशिकाएँ बुरी तरह प्रभावित होती हैं। ‘रेबीज’ से प्रभावित कुत्ते को बुखार रहता है तथा वह सुस्त रहता है। भोजन में भी उसकी रुचि नहीं रहती। चार से छ: सप्ताह में यह वायरस कुत्ते के मस्तिष्क को अपनी चपेट में ले लेता है। तब कुत्ता उत्तेजित हो जाता है। उसके मुख से झाग निकलने लगते हैं। वह जोर-जोर से भौंकता भी है। इस समय वह बिना कारण किसी को भी काट सकता है। यही उसकी पागलपन की स्थिति है। इन लक्षणों के दिखाई देने के बाद कुत्ता एक सप्ताह के भीतर मर जाता है। पागल कुत्ते से बचाव बहुत जरूरी है। अगर कहीं पागल कुत्ता काट ले तो तीन दिन के भीतर डाक्टर की सलाह से एंटी रेबीज टीके लगवा लेने चाहिएं।
Romanized Version
कुत्ते लगभग हर जगह होते हैं। उसे मनुष्य का सबसे वफादार मित्र माना जाता है। बहुत से लोग उन्हें पालते भी हैं।लेकिन अगर कहीं कुत्ता पागल हो जाए तो बहुत खतरनाक हो जाता है। पागल कुत्ते द्वारा काटे जाने पर सही व समय पर इलाज जरूरी हो जाता है। ऐसा न होने पर व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। कुत्ता पागल होता कैसे है? वास्तव में जिस कुत्ते को ‘रेबीज’ नामक रोग हो जाए, उसे ही पागल कुत्ता कहते हैं। रेबीज’ का रोग एक प्रकार के वायरस के कारण होता है। यह वायरस हवा में से या किसी जंगली जानवर से कुत्ते तक पहुँचता है। कुत्ते की चमड़ी पर हुए किसी घाव द्वारा यह उसके शरीर में प्रवेश कर स्नायु तंत्र तक पहुँच जाता है। यहाँ इस वायरस की संख्या तेजी से बढ़ती है। इससे मस्तिष्क की कोशिकाएँ बुरी तरह प्रभावित होती हैं। ‘रेबीज’ से प्रभावित कुत्ते को बुखार रहता है तथा वह सुस्त रहता है। भोजन में भी उसकी रुचि नहीं रहती। चार से छ: सप्ताह में यह वायरस कुत्ते के मस्तिष्क को अपनी चपेट में ले लेता है। तब कुत्ता उत्तेजित हो जाता है। उसके मुख से झाग निकलने लगते हैं। वह जोर-जोर से भौंकता भी है। इस समय वह बिना कारण किसी को भी काट सकता है। यही उसकी पागलपन की स्थिति है। इन लक्षणों के दिखाई देने के बाद कुत्ता एक सप्ताह के भीतर मर जाता है। पागल कुत्ते से बचाव बहुत जरूरी है। अगर कहीं पागल कुत्ता काट ले तो तीन दिन के भीतर डाक्टर की सलाह से एंटी रेबीज टीके लगवा लेने चाहिएं।Kutte Lagbhag Har Jagah Hote Hain Use Manushya Ka Sabse Vafaadar Mitra Mana Jata Hai Bahut Se Log Unhen Palate Bhi Hain Lekin Agar Kahin Kutta Pagal Ho Jaye To Bahut Khataranaak Ho Jata Hai Pagal Kutte Dwara Kaate Jaane Par Sahi V Samay Par Ilaj Zaroori Ho Jata Hai Aisa N Hone Par Vyakti Ki Maut Bhi Ho Sakti Hai Kutta Pagal Hota Kaise Hai Vaastav Mein Jis Kutte Ko Rabies Namak Rog Ho Jaye Use Hi Pagal Kutta Kehte Hain Rabies Ka Rog Ek Prakar Ke Virus Ke Kaaran Hota Hai Yeh Virus Hawa Mein Se Ya Kisi Jangalee Janwar Se Kutte Tak Pahuchata Hai Kutte Ki Chamadi Par Huye Kisi Ghaav Dwara Yeh Uske Sharir Mein Pravesh Kar Snayu Tantra Tak Pahunch Jata Hai Yahan Is Virus Ki Sankhya Teji Se Badhti Hai Isse Mastishk Ki Koshikayain Buri Tarah Prabhavit Hoti Hain Rabies Se Prabhavit Kutte Ko Bukhar Rehta Hai Tatha Wah Sust Rehta Hai Bhojan Mein Bhi Uski Ruchi Nahi Rehti Char Se Chh Saptah Mein Yeh Virus Kutte Ke Mastishk Ko Apni Chapet Mein Le Leta Hai Tab Kutta Uttejit Ho Jata Hai Uske Mukh Se Jhaag Nikalne Lagte Hain Wah Jor Jor Se Bhaunkta Bhi Hai Is Samay Wah Bina Kaaran Kisi Ko Bhi Kaat Sakta Hai Yahi Uski Paagalpani Ki Sthiti Hai In Lakshano Ke Dikhai Dene Ke Baad Kutta Ek Saptah Ke Bheetar Mar Jata Hai Pagal Kutte Se Bachav Bahut Zaroori Hai Agar Kahin Pagal Kutta Kaat Le To Teen Din Ke Bheetar Doctor Ki Salah Se Anti Rabies Tike Lagwa Lene Chaahien
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kutte Pagal Kyon Ho Jaate Hain,


vokalandroid