search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

क्या लोकतंत्र में लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता होती है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चलो तुम्हें दो व्यक्ति की क्या तू कहने का अधिकार आपको दोस्त करने का अधिकार होता है आप कह सकते हैं कि मुझे कुछ काम है इसका जवाब बिल्कुल क्यों नहीं
चलो तुम्हें दो व्यक्ति की क्या तू कहने का अधिकार आपको दोस्त करने का अधिकार होता है आप कह सकते हैं कि मुझे कुछ काम है इसका जवाब बिल्कुल क्यों नहीं
Likes  87  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

ques_icon

अधिक जवाब


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां लोकतंत्र में लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता स्वतंत्रता होती है जो भारत में है आप कोई भी निधि संगठन बना सकते हैं और किसी भी राजनीतिक पार्टी के खिलाफ आप बोल सकते हैं और आप उनके खिलाफ एक्शन भी ले सकते हैं और मैं जैसे हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने इसके लिए छूट दे रखी है और संविधान में भी प्रावधान है स्वतंत्रता के अधिकार के तहत आप जिस पार्टी के खिलाफ अपनी रचनाओं के प्रश्नों से भी लिख सकते हैं जैसे कोई न्यूज़ पेपर न्यूज़ पेपर हो गया मैं आर्टिकल हो गया सपना सकते हैं
यहां लोकतंत्र में लोगों को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता स्वतंत्रता होती है जो भारत में है आप कोई भी निधि संगठन बना सकते हैं और किसी भी राजनीतिक पार्टी के खिलाफ आप बोल सकते हैं और आप उनके खिलाफ एक्शन भी ले सकते हैं और मैं जैसे हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने इसके लिए छूट दे रखी है और संविधान में भी प्रावधान है स्वतंत्रता के अधिकार के तहत आप जिस पार्टी के खिलाफ अपनी रचनाओं के प्रश्नों से भी लिख सकते हैं जैसे कोई न्यूज़ पेपर न्यूज़ पेपर हो गया मैं आर्टिकल हो गया सपना सकते हैं
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोकतंत्र में लोगों को बिल्कुल अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है या नक्शे दिनेश में दिया हुआ है इसमें यह दिया भाई अनुच्छेद 19 है यूनिवर्सल डिक्लेरेशन ऑफ ह्यूमन राइट ह्यूमन राइट्स के बारे में पूरी दुनिया में जो ह्यूमन राइट्स के बारे में दे रखा है कि 1948 में बनाता है इसमें यह लिखा हुआ है सब के पास राइट टो फ्रीडम आफ ऑपिनियन अपना ओपिनियन दे सकते हैं राइट टू फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन एक्सप्रेशन भी बता सकते हैं और जिस भी तरह की इंफॉर्मेशन आपके पास है जिस भी तरह के इंटर सजन साफ करना चाहते हैं किसी ओपिनियन के लिए आपको सब कर सकते हैं
लोकतंत्र में लोगों को बिल्कुल अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है या नक्शे दिनेश में दिया हुआ है इसमें यह दिया भाई अनुच्छेद 19 है यूनिवर्सल डिक्लेरेशन ऑफ ह्यूमन राइट ह्यूमन राइट्स के बारे में पूरी दुनिया में जो ह्यूमन राइट्स के बारे में दे रखा है कि 1948 में बनाता है इसमें यह लिखा हुआ है सब के पास राइट टो फ्रीडम आफ ऑपिनियन अपना ओपिनियन दे सकते हैं राइट टू फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन एक्सप्रेशन भी बता सकते हैं और जिस भी तरह की इंफॉर्मेशन आपके पास है जिस भी तरह के इंटर सजन साफ करना चाहते हैं किसी ओपिनियन के लिए आपको सब कर सकते हैं
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Loktantra Mein Logon Ko Abhivyakti Ki Swatantrata Hoti Hai,Do People Have Freedom Of Expression In A Democracy?,


vokalandroid