search_iconmic
leaderboard
notify
हिंदी
leaderboard
notify
हिंदी
जवाब दें

जीवन को आनंदपूर्ण तरीके से कैसे जिया जा सकता है? ...

6 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी देखिए इंसान ट्राई दो चीजों से प्यार करते हैं और वह है वस्तु और व्यक्ति जब उसे वह वस्तु वस्तु में आप सब कुछ जान लीजिए जितने भी मिले हैं वह सब आपस में डाली से गाड़ी बंगला मकान यह सब तो है ही है और अग...
जवाब पढ़िये
जी देखिए इंसान ट्राई दो चीजों से प्यार करते हैं और वह है वस्तु और व्यक्ति जब उसे वह वस्तु वस्तु में आप सब कुछ जान लीजिए जितने भी मिले हैं वह सब आपस में डाली से गाड़ी बंगला मकान यह सब तो है ही है और अगर दूसरा आदमी आदमी से प्यार करता है इंसान से प्यार करता है तो इंसान को पाने का उसका उसकी जो लालसा होती है उसके साथ रहने की जलाल से उसे हो सकती है यह सारी चीजें भी दुख का कारण हो सकते हैं तो वस्तु से अत्यधिक प्रेम और इंसान से अत्यधिक प्रेम हमेशा दुख का कारण बनती है सोच कर देखिए इसके अलावा कुछ और नहीं है अच्छा अब आनंद पूर्वक जीवन जीने के लिए हम क्या करते हैं हम अपने बाहरी हम से बाहर जो चीजें हैं उन पर निर्भर करते हैं और वह बाहर की चीजें क्या है वह सूअर व्यक्ति सोच कर देखें वस्तु में आपके इस कोई प्रदर्शन भी ले लीजिए किसी कंपनी में गाड़ी बंगला मकान घोड़ा हाथी यह सब ले लीजिए सब कुछ ले लीजिए आगे आप वस्तु में और इंसान आ गया कि भी मेरे को ऐसे प्यार है या मैं इसके साथ रहना चाहती हूं या मैं यह मेरा बेटा था यह चला गया यह जो भी कुछ कहा नहीं है तो भाई हम जब तक चीजों को बाहरी चीजों को देखते रहेंगे और उन्हें प्राप्त करने की या उनके चले जाने का दुख हमें सताता रहेगा तथा में आनंद नहीं आएगा पहले तो हमें आनंद तब नहीं आते जब तक हमें वह चीज मिलती नहीं है उसके बाद जब वह मिल जाती है तभी भी हमें संतोष नहीं रहता और हमें हमारी उच्चारण से बढ़ती रहती है उसके बाद अगर मान लीजिए वह चीज चली जाति है बेतिया वास्तु तो हमें उसका दुख होता है बल्कि हमें तो ऐसे स्टेट में रहना है कि भले ही वह मेरे पास हो या ना हो लोग हो ना हो वस्तु हो ना हो मैं समभाव से एक भाव से अपना जीवन बिता सकता हूं या नहीं देखे खुश रहने के लिए आपको बाहरी चीजों की तत्वों को देखने की जरूरत नहीं होती है खुश आप अपने आप को अंदर से रखिए अंदर से खुश होना बहुत है होंडा और वो आते हैं आपकी सोच से आपकी भावनाओं से आपकी मानसिकता क्या है अंदर की व्यवस्था क्या है आप क्या महसूस करते हैं अपने आप से क्या बातें करते हैं दिन भर आपके दिमाग में क्या चलता रहता है उसी से आकर जीवन आगे बढ़ता है इन सबके लिए सबसे पहले यह होता है कि आप को संतोषजनक जीवन के लिए आया संतोष पूर्व के जीवन के लिए प्रयास करना चाहिए वह कैसे होते हैं भाई वह ऐसे होते हैं कि कोई बात नहीं उसके पास है मेरे पास नहीं है इस परफेक्टली फाइन क्योंकि मैं इस तरीके से जीवन को देखता हूं यह एक्सपीरियंस करना चाहता हूं मैंने जो किया हो सकते कुछ चीजें मैंने सही नहीं किए इसलिए आज मैं यहां पर खड़ा हूं कोई बात नहीं यहां से मैं वह सारी चीजों पर कौन से डेट करूंगा फोकस करूंगा जीवन को अच्छे तरीके से ले जाने की कोशिश करूंगा अगर फिर भी मान लीजिए रिजल्ट मुझे पैसा नहीं मिलता तो इस परफेक्टली फाइन हर आदमी इस मानसिकता के साथ आगे बढ़ता है बिना कंपटीशन के आगे बढ़ता है बिना दिखावे के आगे बढ़ता है तो डेफिन इडली आबू आम सुकून की जिंदगी जी सकता है और पहले सुकून आएगा उसके बाद डेफिनटली आपको आनंद आने लगेगा तो इंसान को ऐसा करना चाहिए कि मेरा कमीशन ड्रीम जागे तो यह सब नहीं होने चाहिए डेफिनिटी होनी चाहिए आप बना सकते हैं विकास इंसान का यही प्रवृत्ति होता है पहले वह सरवाइव नीच को फुल फील करते हैं उसके बाद वह हाईएस्ट पेंशन के लिए काम करता है मतलब अगर हमारे पास है कैपेबिलिटी है पोटेंशियल ए टूल व्हिच आर टू द पिक तो हमें डेफिनिटी ट्राई करना चाहिए क्यों नहीं करना चाहिए लेकिन एक बात याद रहे कि जाएंगे पूरा मन लगाकर कीजिए दिल से कीजिए और अगर कई बार मान लीजिए रिजल्ट नहीं आता है तो उसमें मायूस होकर आपको एक दमान देश समाज आने की जरूरत नहीं है आप उसको चेक डिपॉजिट एंड मूव ऑन और ऐसे करके जीवन जिएंगे तो बता बढ़िया रहेगाJi Dekhie Insaan Try Do Chijon Se Pyar Karte Hain Aur Wah Hai Vastu Aur Vyakti Jab Use Wah Vastu Vastu Mein Aap Sab Kuch Jaan Lijiye Jitne Bhi Mile Hain Wah Sab Aapas Mein Dali Se Gaadi Bangala Makan Yeh Sab Toh Hai Hi Hai Aur Agar Doosra Aadmi Aadmi Se Pyar Karta Hai Insaan Se Pyar Karta Hai Toh Insaan Ko Pane Ka Uska Uski Jo Lalasa Hoti Hai Uske Saath Rehne Ki Jalal Se Use Ho Sakti Hai Yeh Saree Cheezen Bhi Dukh Ka Kaaran Ho Sakte Hain Toh Vastu Se Atyadhik Prem Aur Insaan Se Atyadhik Prem Hamesha Dukh Ka Kaaran Banti Hai Soch Kar Dekhie Iske Alava Kuch Aur Nahi Hai Accha Ab Anand Purvak Jeevan Jeene Ke Liye Hum Kya Karte Hain Hum Apne Baahri Hum Se Bahar Jo Cheezen Hain Un Par Nirbhar Karte Hain Aur Wah Bahar Ki Cheezen Kya Hai Wah Suar Vyakti Soch Kar Dekhen Vastu Mein Aapke Is Koi Pradarshan Bhi Le Lijiye Kisi Company Mein Gaadi Bangala Makan Ghoda Haathi Yeh Sab Le Lijiye Sab Kuch Le Lijiye Aage Aap Vastu Mein Aur Insaan Aa Gaya Ki Bhi Mere Ko Aise Pyar Hai Ya Main Iske Saath Rehna Chahti Hoon Ya Main Yeh Mera Beta Tha Yeh Chala Gaya Yeh Jo Bhi Kuch Kaha Nahi Hai Toh Bhai Hum Jab Tak Chijon Ko Baahri Chijon Ko Dekhte Rahenge Aur Unhein Prapt Karne Ki Ya Unke Chale Jaane Ka Dukh Humein Sataata Rahega Tatha Mein Anand Nahi Aaega Pehle Toh Humein Anand Tab Nahi Aate Jab Tak Humein Wah Cheez Milti Nahi Hai Uske Baad Jab Wah Mil Jati Hai Tabhi Bhi Humein Santosh Nahi Rehta Aur Humein Hamari Ucharan Se Badhti Rehti Hai Uske Baad Agar Maan Lijiye Wah Cheez Chali Jati Hai Betiya Vastu Toh Humein Uska Dukh Hota Hai Balki Humein Toh Aise State Mein Rehna Hai Ki Bhale Hi Wah Mere Paas Ho Ya Na Ho Log Ho Na Ho Vastu Ho Na Ho Main Sambhav Se Ek Bhav Se Apna Jeevan Bita Sakta Hoon Ya Nahi Dekhe Khush Rehne Ke Liye Aapko Baahri Chijon Ki Tatvon Ko Dekhne Ki Zaroorat Nahi Hoti Hai Khush Aap Apne Aap Ko Andar Se Rakhiye Andar Se Khush Hona Bahut Hai Honda Aur Vo Aate Hain Aapki Soch Se Aapki Bhavnao Se Aapki Mansikta Kya Hai Andar Ki Vyavastha Kya Hai Aap Kya Mahsus Karte Hain Apne Aap Se Kya Batein Karte Hain Din Bhar Aapke Dimag Mein Kya Chalta Rehta Hai Usi Se Aakar Jeevan Aage Badhta Hai In Sabke Liye Sabse Pehle Yeh Hota Hai Ki Aap Ko Santoshjanak Jeevan Ke Liye Aaya Santosh Purv Ke Jeevan Ke Liye Prayas Karna Chahiye Wah Kaise Hote Hain Bhai Wah Aise Hote Hain Ki Koi Baat Nahi Uske Paas Hai Mere Paas Nahi Hai Is Perfectively Fine Kyonki Main Is Tarike Se Jeevan Ko Dekhta Hoon Yeh Experience Karna Chahta Hoon Maine Jo Kiya Ho Sakte Kuch Cheezen Maine Sahi Nahi Kiye Isliye Aaj Main Yahan Par Khada Hoon Koi Baat Nahi Yahan Se Main Wah Saree Chijon Par Kaun Se Date Karunga Focus Karunga Jeevan Ko Acche Tarike Se Le Jaane Ki Koshish Karunga Agar Phir Bhi Maan Lijiye Result Mujhe Paisa Nahi Milta Toh Is Perfectively Fine Har Aadmi Is Mansikta Ke Saath Aage Badhta Hai Bina Competition Ke Aage Badhta Hai Bina Dikhaave Ke Aage Badhta Hai Toh Defin Idli Aabu Aam Sukoon Ki Zindagi Ji Sakta Hai Aur Pehle Sukoon Aaega Uske Baad Definatali Aapko Anand Aane Lagega Toh Insaan Ko Aisa Karna Chahiye Ki Mera Commision Dream Jage Toh Yeh Sab Nahi Hone Chahiye Definiti Honi Chahiye Aap Bana Sakte Hain Vikas Insaan Ka Yahi Pravritti Hota Hai Pehle Wah Survive Neech Ko Full Feel Karte Hain Uske Baad Wah Highest Pension Ke Liye Kaam Karta Hai Matlab Agar Hamare Paas Hai Capability Hai Potential A Tool Which R To The Pic Toh Humein Definiti Try Karna Chahiye Kyon Nahi Karna Chahiye Lekin Ek Baat Yaad Rahe Ki Jaenge Pura Man Lagakar Kijiye Dil Se Kijiye Aur Agar Kai Baar Maan Lijiye Result Nahi Aata Hai Toh Usmein Maayus Hokar Aapko Ek Daman Desh Samaaj Aane Ki Zaroorat Nahi Hai Aap Usko Check Deposit End Move On Aur Aise Karke Jeevan Jeeenge Toh Bata Badhiya Rahega
Likes  121  Dislikes    views  8285
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिए😊

ऐसे और सवाल

अधिक जवाब


6 जवाब देखें >

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन आनंद पूर्ण तरीके से जीने के लिए वर्तमान में जीना होता है भूतकाल से परे और भविष्य से भी अलग वर्तमान में रहे जो जैसा है उसको महसूस करें सही चीजें सीखें सही चाहिए देखें हमारी इंद्रियां हमेशा हमें गल...
जवाब पढ़िये
जीवन आनंद पूर्ण तरीके से जीने के लिए वर्तमान में जीना होता है भूतकाल से परे और भविष्य से भी अलग वर्तमान में रहे जो जैसा है उसको महसूस करें सही चीजें सीखें सही चाहिए देखें हमारी इंद्रियां हमेशा हमें गलत बताती हैं इन दिनों से परे जीना अनुभव में जीना आनंद से जीना है आने से रहें आनंद में रहे आनंद के साथ रहे धन्यवाद नमस्कार
Likes  120  Dislikes    views  8160
WhatsApp_icon
6 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन में आदर पूर्वक ऐसी लिया जा सकता है कि हमें किसी चीज निश्चिंत रहना चाहिए हमें कोई भी परेशानी का डटकर सामना करना चाहिए बिना कैसे करके हमें यह समझना चाहिए कि हम हमेशा अपने जीवन में वह हर काम कर सकते...
जवाब पढ़िये
जीवन में आदर पूर्वक ऐसी लिया जा सकता है कि हमें किसी चीज निश्चिंत रहना चाहिए हमें कोई भी परेशानी का डटकर सामना करना चाहिए बिना कैसे करके हमें यह समझना चाहिए कि हम हमेशा अपने जीवन में वह हर काम कर सकते हैं जो हम करना चाहते हैंJeevan Mein Aadar Purvak Aisi Liya Ja Sakta Hai Ki Humein Kisi Cheez Nishchint Rehna Chahiye Humein Koi Bhi Pareshani Ka Dantkar Samana Karna Chahiye Bina Kaise Karke Humein Yeh Samajhna Chahiye Ki Hum Hamesha Apne Jeevan Mein Wah Har Kaam Kar Sakte Hain Jo Hum Karna Chahte Hain
Likes  3  Dislikes    views  221
WhatsApp_icon
6 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन को आनंदपुर तरीके से छोटी सी स्माइल किया जा सकता है...
जवाब पढ़िये
जीवन को आनंदपुर तरीके से छोटी सी स्माइल किया जा सकता हैJeevan Ko Anandpur Tarike Se Choti Si Smile Kiya Ja Sakta Hai
Likes  2  Dislikes    views  386
WhatsApp_icon
6 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खुश रहो किसी दूसरे को कष्ट न पहुंचाएं प्रेम पूर्वक रहे सभी से मित्रता पूर्वक बिहार के परिवार के सभी सदस्यों से मेलजोल रखें...
जवाब पढ़िये
खुश रहो किसी दूसरे को कष्ट न पहुंचाएं प्रेम पूर्वक रहे सभी से मित्रता पूर्वक बिहार के परिवार के सभी सदस्यों से मेलजोल रखेंKhush Raho Kisi Dusre Ko Kasht Na Paunchayen Prem Purvak Rahe Sabhi Se Mitrata Purvak Bihar Ke Parivar Ke Sabhi Sadasyon Se Melajol Rakhen
Likes  1  Dislikes    views  221
WhatsApp_icon
6 जवाब देखें >

Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी का आनंद पूर्ण तरीके से अंतर जी सकते जब हम सारे अपने जरूरतों से पूरे हो यानी कि हमारी जितनी भी जरूरत है अगर हम पूरे कर लेते हैं उसके बाद हम जिंदगी का आनंद आसानी से ले सकते हैं वह लोग नहीं ले पात...
जवाब पढ़िये
जिंदगी का आनंद पूर्ण तरीके से अंतर जी सकते जब हम सारे अपने जरूरतों से पूरे हो यानी कि हमारी जितनी भी जरूरत है अगर हम पूरे कर लेते हैं उसके बाद हम जिंदगी का आनंद आसानी से ले सकते हैं वह लोग नहीं ले पाते जिनके पास से हमेशा कोई ना कोई जरूरत के सामान रहती है या फिर जो होते हैं उनकी बहुत ज्यादा रहती है आसानी से ले सकते हैंZindagi Ka Anand Poorn Tarike Se Antar Ji Sakte Jab Hum Saare Apne Jaruraton Se Poore Ho Yani Ki Hamari Jitni Bhi Zaroorat Hai Agar Hum Poore Kar Lete Hain Uske Baad Hum Zindagi Ka Anand Aasani Se Le Sakte Hain Wah Log Nahi Le Paate Jinke Paas Se Hamesha Koi Na Koi Zaroorat Ke Saamaan Rehti Hai Ya Phir Jo Hote Hain Unki Bahut Zyada Rehti Hai Aasani Se Le Sakte Hain
Likes  1  Dislikes    views  331
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Jeevan Ko Aanandapurn Tarike Se Kaise Liya Ja Sakta Hai,How Can Life Be Taken Happily?,


vokalandroid