चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए होता लाइफ और घर की लाइफ दोनों ही अच्छी होती है हॉस्टल लाइफ में हमें इंडिपेंडेंट हमें आत्मनिर्भर बनने में मदद मिलती है क्योंकि हम सब कुछ कुछ करते हैं हम अपने कपड़े धोने से लेकर अपना सामान सही करन...
जवाब पढ़िये
देखिए होता लाइफ और घर की लाइफ दोनों ही अच्छी होती है हॉस्टल लाइफ में हमें इंडिपेंडेंट हमें आत्मनिर्भर बनने में मदद मिलती है क्योंकि हम सब कुछ कुछ करते हैं हम अपने कपड़े धोने से लेकर अपना सामान सही करने रखने कॉलेज जाने वाले जाने से लेते हम खुद पर होते हैं अपने पैरों अपने ऊपर होते हम सबको से करना होता है इसलिए इंडिपेंडेंट बनते हैं हमारा पर्सनल डेवलपमेंट होता है लेकिन ऐसा जरूरी नहीं है कि हॉस्टल लाइफ बहुत अच्छी हो हौसले पर मेरे स्कोर भी है और अकेले रहने में दिक्कतें भी होती है सब जानते हैं घर की लाइफ में यह है कि हां आपको ज्यादा चोट नहीं मिल पाती आप ज्यादा इंडिपेंडेंट नहीं हो पाते लेकिन लाइफ में है कि आप अपने मां-बाप के साथ अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिता सकते हैंDekhie Hota Life Aur Ghar Ki Life Dono Hi Acchi Hoti Hai Hostel Life Mein Hume Independent Hume Aatmanirbhar Banne Mein Madad Milti Hai Kyonki Hum Sab Kuch Kuch Karte Hain Hum Apne Kapde Dhone Se Lekar Apna Saamaan Sahi Karne Rakhne College Jaane Wali Jaane Se Lete Hum Khud Par Hote Hain Apne Pairon Apne Upar Hote Hum Sabko Se Karna Hota Hai Isliye Independent Bante Hain Hamara Personal Development Hota Hai Lekin Aisa Zaroori Nahi Hai Ki Hostel Life Bahut Acchi Ho Hausale Par Mere Score Bhi Hai Aur Akele Rehne Mein Dikkaten Bhi Hoti Hai Sab Jante Hain Ghar Ki Life Mein Yeh Hai Ki Haan Aapko Zyada Chot Nahi Mil Pati Aap Zyada Independent Nahi Ho Paate Lekin Life Mein Hai Ki Aap Apne Maa Baap Ke Saath Apne Parivar Ke Saath Zyada Samay Bita Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें कोई दो राय नहीं है इसमें कोई सोचने की बात नहीं की घर की लाइफ सबसे ज्यादा अच्छी होती है मनुष्य का स्वभाव भी कुछ इस प्रकार का होता है कि वह भगवान द्वारा दिए गए छोटे छोटे आशीर्वादों का मूल्य भूल ज...
जवाब पढ़िये
इसमें कोई दो राय नहीं है इसमें कोई सोचने की बात नहीं की घर की लाइफ सबसे ज्यादा अच्छी होती है मनुष्य का स्वभाव भी कुछ इस प्रकार का होता है कि वह भगवान द्वारा दिए गए छोटे छोटे आशीर्वादों का मूल्य भूल जाते हैं मैं यह मानती हूं कि घर कि जिंदगी भी भगवान द्वारा दिया गया आशीर्वाद होता है इसका मूल्य हमें तभी समझ में आता है जब हमें हॉस्टल की बेरंग जिंदगी जीनी पड़ती है घर की लाइट की तुलना हॉस्पिटल की लाइट की तुलना किसी की लाइफ से की ही नहीं जा सकती है एक तरफ घर की लाइफ में आपको सुबह से शाम तक अपने माता-पिता या घरवालों का प्रेम मिलता है वहीं दूसरी ओर हॉस्टल की लाइफ में आपको स्क्रीन उल्टी लगाओ उस सीलिंग की अनुपस्थिति को महसूस करते हैं और काफी हद तक अकेला अपने आप को अकेला पाते हैंIsme Koi Do Raya Nahi Hai Isme Koi Sochne Ki Baat Nahi Ki Ghar Ki Life Sabse Zyada Acchi Hoti Hai Manushya Ka Swabhav Bhi Kuch Is Prakar Ka Hota Hai Ki Wah Bhagwan Dwara Diye Gaye Chote Chote Aasheervaadon Ka Mulya Bhul Jaate Hain Main Yeh Maanati Hoon Ki Ghar Ki Zindagi Bhi Bhagwan Dwara Diya Gaya Ashirvaad Hota Hai Iska Mulya Hume Tabhi Samajh Mein Aata Hai Jab Hume Hostel Ki Berang Zindagi Gini Padhti Hai Ghar Ki Light Ki Tulna Hospital Ki Light Ki Tulna Kisi Ki Life Se Ki Hi Nahi Ja Sakti Hai Ek Taraf Ghar Ki Life Mein Aapko Subah Se Shaam Tak Apne Mata Pita Ya Gharwaalon Ka Prem Milta Hai Wahin Dusri Oar Hostel Ki Life Mein Aapko Screen Ulti Lagao Us Ceiling Ki Anupsthiti Ko Mahsus Karte Hain Aur Kafi Had Tak Akela Apne Aap Ko Akela Paate Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमसर की लाइफ के घर के लाइफ अलार्म कंपेयर करके डेफिनेटली घर के लोग ज्यादा बच्चा है आप फैमिली के साथ रहते हैं और खाने पीने की कोई दिक्कत नहीं होती चांदनी का प्यार सरे मिलता रहता है बट मैं यह जरूर कहूंगा...
जवाब पढ़िये
हमसर की लाइफ के घर के लाइफ अलार्म कंपेयर करके डेफिनेटली घर के लोग ज्यादा बच्चा है आप फैमिली के साथ रहते हैं और खाने पीने की कोई दिक्कत नहीं होती चांदनी का प्यार सरे मिलता रहता है बट मैं यह जरूर कहूंगा कि एक बार बंदे को हॉस्टल लाइफ जरूरत पूजा करनी चाहिए क्योंकि घर पर रहती है तो हमें कोई टेंशन नहीं होते माल सारा ध्यान नहीं सूख समाचार पढ़ाई का टाइम सेट पर रहता है लेकिन लाइक जो हमें सिखाती है वह नॉलेज हम कहीं नहीं सकते हॉस्टल में आकर जो ट्रांसफॉर्मेशन होता है जो नॉलेज गेन करते तो प्रेक्टिकल नॉलेज लाइव की नॉलेज वह हमें कहीं नहीं मिल सकती और वह पूरी जिंदगी भर काम आती है चाहे वह मैनेजमेंट हो गया मेरी सोच तकनीक SMS करनी है मैं इतने पैसे घर वालों से मिले हो इतने ही चलाने हैं हर चीज चाहे को फ्रेंडशिप फ्रेंडशिप मस्ती हो लेट नाइट पार्टी या लेटर मूवी नाइट्स गेमिंग नाइट और वहां पर हमें को रोकने रोकने वाला नहीं होता कि हमें कैसे पढ़ाई करनी है क्या करना है वहां पर हमें खुद डिसाइड करना है आपने लिखो 10 पहुंचे बोलो उसे कोई हमारे कुछ नहीं कहता तू वहां जो रिस्पांसिबिलिटी हम सीखते हैं अपने लिए बहुत इंपॉर्टेंट जिंदगी भर काम आती है उसमें भी दो चीज़ें अगर बंद हो जाता है तो उसके बाद लैंग्वेज फॉर शुरू होता है अगर बंदा एक बार डांसर होता भी उसके बाद भी अगर बंदे को समझ आता सीखने को मिलता है उसे भी हम कुछ सीखेंगे डाउन फॉल से तो उस डाउन फॉल से भी जो सीखने को मिलता है वह जिंदगी हर आदमी को याद रहता है और वह बहुत ही करता है आगे सक्सेसफुल होने में आगे अच्छा करने में चाहे अपनी पढ़ाई हो जाए कि सोशल लाइफ में कुछ भी हो तुम ही देखने की तो हम कंपेयर कल जब निकली घर के लिए जाते बैटरी बट एक बार बंदे को फ्लैट पक्का एक्सप्रेस करने के लिए थैंक्सHamsar Ki Life Ke Ghar Ke Life Alarm Compare Karke Definetli Ghar Ke Log Zyada Baccha Hai Aap Family Ke Saath Rehte Hain Aur Khane Peene Ki Koi Dikkat Nahi Hoti Chandni Ka Pyar Sare Milta Rehta Hai But Main Yeh Jarur Kahunga Ki Ek Baar Bande Ko Hostel Life Zaroorat Puja Karni Chahiye Kyonki Ghar Par Rehti Hai To Hume Koi Tension Nahi Hote Maal Saara Dhyan Nahi Sukh Samachar Padhai Ka Time Set Par Rehta Hai Lekin Like Jo Hume Sikhati Hai Wah Knowledge Hum Kahin Nahi Sakte Hostel Mein Aakar Jo Transafarmeshan Hota Hai Jo Knowledge Gain Karte To Prektikal Knowledge Live Ki Knowledge Wah Hume Kahin Nahi Mil Sakti Aur Wah Puri Zindagi Bhar Kaam Aati Hai Chahe Wah Management Ho Gaya Meri Soch Takneek SMS Karni Hai Main Itne Paise Ghar Walon Se Mile Ho Itne Hi Chalane Hain Har Cheez Chahe Ko Friendship Friendship Masti Ho Let Night Party Ya Letter Movie Nights Gaming Night Aur Wahan Par Hume Ko Rokne Rokne Vala Nahi Hota Ki Hume Kaise Padhai Karni Hai Kya Karna Hai Wahan Par Hume Khud Decide Karna Hai Aapne Likho 10 Pahuche Bolo Use Koi Hamare Kuch Nahi Kahata Tu Wahan Jo Responsibility Hum Sikhate Hain Apne Liye Bahut Important Zindagi Bhar Kaam Aati Hai Usamen Bhi Do Chizen Agar Band Ho Jata Hai To Uske Baad Language For Shuru Hota Hai Agar Banda Ek Baar Dancer Hota Bhi Uske Baad Bhi Agar Bande Ko Samajh Aata Seekhne Ko Milta Hai Use Bhi Hum Kuch Sikhenge Down Fall Se To Us Down Fall Se Bhi Jo Seekhne Ko Milta Hai Wah Zindagi Har Aadmi Ko Yaad Rehta Hai Aur Wah Bahut Hi Karta Hai Aage Successful Hone Mein Aage Accha Karne Mein Chahe Apni Padhai Ho Jaye Ki Social Life Mein Kuch Bhi Ho Tum Hi Dekhne Ki To Hum Compare Kal Jab Nikli Ghar Ke Liye Jaate Battery But Ek Baar Bande Ko Flat Pakka Express Karne Ke Liye Thanks
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हॉस्टल लाइफ घर की लाइफ से ज्यादा बेहतर है क्योंकि मैं हॉस्टल में हम लोग बहुत सारी चीजों को सीखते हैं जो कि आगे आने वाली जिंदगी में हमारे व उपयोग में आती है घर में हम अपनी उसी सुविधा क्षेत्र के अंदर रह...
जवाब पढ़िये
हॉस्टल लाइफ घर की लाइफ से ज्यादा बेहतर है क्योंकि मैं हॉस्टल में हम लोग बहुत सारी चीजों को सीखते हैं जो कि आगे आने वाली जिंदगी में हमारे व उपयोग में आती है घर में हम अपनी उसी सुविधा क्षेत्र के अंदर रह जाते हैं उन्हीं चार लोगों के बीच में रह जाते हैं जबकि हॉस्टल में आकर हमें कई लोगों से मिलने का मौका मिलता है कई कई तरह के लोगों से मिलकर हमें पता चलता है कि हमें लोगों से कैसे बर्ताव करना चाहिए कैसे हमें लोगों से काम निकलवाना है ऐसे लोगों को परखने का नजर कैसे जाना है कि हां कौन कहता है यह सारी चीजें हमें हॉस्टल लाइफ ही बताता है मुझे अपने अपने पैसों की कीमत भी हमें हॉस्टल लाइफ बताता है अपने समय की कीमत भी हमें हॉस्टल लाइफ बताता है महीने के अंत तक पैसों को कैसे संभाल के रखना है कैसे खर्च करना है यह सब भी हमें हॉस्टल लाइफ बताता है हॉस्टल में जब खाना बेकार मिले तो संगीता कैसे काम चलाना है यह भी हमें हॉस्टल लाइफ ही सिखाता है हॉस्टल में मिलेंगे दोस्तों दो जो होते हैं वह हम पर अपनी जान छिड़कते हैं मतलब हमें बहुत अच्छी संभालते हैं गालियां भी देते हैं प्यार भी करते हैं बहुत अच्छा होता है उन दोस्तों के साथ खाना पीना घूमना-फिरना बहुत मजे होते हैं और बहुत सारी हम लोग अजूबे हरकतें भी करते हैं उनके साथ अपने जिंदगी को अलग ही तरीके से जीते हैं हम हॉस्टल में साफ सफाई भी करना सीख जाते हैं हॉस्टल में आकर हम लोग खुद के निर्णय लेना सीख जाते हैं कहां जाना है कहां नहीं जाना है क्या गलत है क्या सही है यह सारी चीजें हम हॉस्टल में आकर सीख जाते हैं कि हमें करना क्या है जिंदगी में अपना में लोग बताते हैं कि तुम्हारे अंदर क्या अच्छाइयां है क्या बुराई है यह सारी चीजें हमें हॉस्टल में आकर पता चलती है और जिंदगी को देखने का दूसरा नजरिया भी हमें पता चलता है हॉस्टल में आकर थैंक यूHostel Life Ghar Ki Life Se Zyada Behtar Hai Kyonki Main Hostel Mein Hum Log Bahut Saree Chijon Ko Sikhate Hain Jo Ki Aage Aane Wali Zindagi Mein Hamare V Upyog Mein Aati Hai Ghar Mein Hum Apni Ussi Suvidha Shetra Ke Andar Rah Jaate Hain Unhin Char Logon Ke Bich Mein Rah Jaate Hain Jabki Hostel Mein Aakar Hume Kai Logon Se Milne Ka Mauka Milta Hai Kai Kai Tarah Ke Logon Se Milkar Hume Pata Chalta Hai Ki Hume Logon Se Kaise Bartaav Karna Chahiye Kaise Hume Logon Se Kaam Nikalavana Hai Aise Logon Ko Parakhne Ka Nazar Kaise Jana Hai Ki Haan Kaon Kahata Hai Yeh Saree Cheezen Hume Hostel Life Hi Batata Hai Mujhe Apne Apne Paison Ki Kimat Bhi Hume Hostel Life Batata Hai Apne Samay Ki Kimat Bhi Hume Hostel Life Batata Hai Mahine Ke Ant Tak Paison Ko Kaise Sambhaal Ke Rakhna Hai Kaise Kharch Karna Hai Yeh Sab Bhi Hume Hostel Life Batata Hai Hostel Mein Jab Khana Bekar Mile To Sangeeta Kaise Kaam Chalana Hai Yeh Bhi Hume Hostel Life Hi Sikhata Hai Hostel Mein Milenge Doston Do Jo Hote Hain Wah Hum Par Apni Jaan Chhidakate Hain Matlab Hume Bahut Acchi Sambhalate Hain Galiya Bhi Dete Hain Pyar Bhi Karte Hain Bahut Accha Hota Hai Un Doston Ke Saath Khana Peena Ghumana Phirna Bahut Maje Hote Hain Aur Bahut Saree Hum Log Ajoobe Harakaten Bhi Karte Hain Unke Saath Apne Zindagi Ko Alag Hi Tarike Se Jeete Hain Hum Hostel Mein Saaf Safaai Bhi Karna Seekh Jaate Hain Hostel Mein Aakar Hum Log Khud Ke Nirnay Lena Seekh Jaate Hain Kahaan Jana Hai Kahaan Nahi Jana Hai Kya Galat Hai Kya Sahi Hai Yeh Saree Cheezen Hum Hostel Mein Aakar Seekh Jaate Hain Ki Hume Karna Kya Hai Zindagi Mein Apna Mein Log Batatey Hain Ki Tumhare Andar Kya Acchaiyan Hai Kya Burayi Hai Yeh Saree Cheezen Hume Hostel Mein Aakar Pata Chalti Hai Aur Zindagi Ko Dekhne Ka Doosra Najariya Bhi Hume Pata Chalta Hai Hostel Mein Aakar Thank You
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लाइफ एक ही होती है लेकिन हां हॉस्टल में नया ज्ञान नए दोस्त और घर में बड़ों का प्यार अपनों का साथ दोनों ही सही है...
जवाब पढ़िये
लाइफ एक ही होती है लेकिन हां हॉस्टल में नया ज्ञान नए दोस्त और घर में बड़ों का प्यार अपनों का साथ दोनों ही सही हैLife Ek Hi Hoti Hai Lekin Haan Hostel Mein Naya Gyaan Naye Dost Aur Ghar Mein Badon Ka Pyar Apnon Ka Saath Dono Hi Sahi Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...आता है घर में सारे लोग होते हैं ऑस्ट्रेलिया जाता है घर का भी अलग......
जवाब पढ़िये
...आता है घर में सारे लोग होते हैं ऑस्ट्रेलिया जाता है घर का भी अलग...
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...अपनी मम्मी पापा से बात करते हैं मम्मी पापा के साथ रहना मुझे बहुत अच्छा......
जवाब पढ़िये
...अपनी मम्मी पापा से बात करते हैं मम्मी पापा के साथ रहना मुझे बहुत अच्छा...
Likes  7  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे बहुत ज्यादा होता है...
जवाब पढ़िये
मुझे बहुत ज्यादा होता है
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...अंदर आपको एक कफ़न ओढ़ मिलता है और आपको अच्छा खाने को मिलता है और......
जवाब पढ़िये
...अंदर आपको एक कफ़न ओढ़ मिलता है और आपको अच्छा खाने को मिलता है और...
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे बिना सोचे समझे तो घर की लाइट है वह अलग होती है और उसे लाइक तो क्यों बहुत अलग होती है मैं को ऐसा लगता है कि जिस लाइफ में बिजी थे आप को दूसरी लगाओ अच्छी लगती हो गया क्या पूछना कि मुझे घर रहने घरे न...
जवाब पढ़िये
देखे बिना सोचे समझे तो घर की लाइट है वह अलग होती है और उसे लाइक तो क्यों बहुत अलग होती है मैं को ऐसा लगता है कि जिस लाइफ में बिजी थे आप को दूसरी लगाओ अच्छी लगती हो गया क्या पूछना कि मुझे घर रहने घरे ना प्रोग्राम कर रहे होंगे तो कॉल करो उसके बाद कितनी होती है आपको मिल रहे हैं वह बता देखने को मिल रहे हो कि हम उसके बारे में बताने से फायदा नहीं मिल रहा था उसके बारे में सोच कर आपको उसमें आपको दिक्कत हो रही है तेजी से बढ़ती हैDekhe Bina Soche Samjhe To Ghar Ki Light Hai Wah Alag Hoti Hai Aur Use Like To Kyon Bahut Alag Hoti Hai Main Ko Aisa Lagta Hai Ki Jis Life Mein Busy The Aap Ko Dusri Lagao Acchi Lagti Ho Gaya Kya Poochna Ki Mujhe Ghar Rehne Ghare Na Program Kar Rahe Honge To Call Karo Uske Baad Kitni Hoti Hai Aapko Mil Rahe Hain Wah Bata Dekhne Ko Mil Rahe Ho Ki Hum Uske Bare Mein Batane Se Fayda Nahi Mil Raha Tha Uske Bare Mein Soch Kar Aapko Usamen Aapko Dikkat Ho Rahi Hai Teji Se Badhti Hai
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोनों जगह के अलग-अलग खूबियां है अलग-अलग खामियां हैं मुझे नहीं लगता कि घर पर रहने की कोई खामी कभी हो सकती है मैं कुछ हॉस्टल में रहती हूं इसलिए मैं आपको दोनों जगह का एक्सपीरियंस काफी अच्छे से बता सकती ह...
जवाब पढ़िये
दोनों जगह के अलग-अलग खूबियां है अलग-अलग खामियां हैं मुझे नहीं लगता कि घर पर रहने की कोई खामी कभी हो सकती है मैं कुछ हॉस्टल में रहती हूं इसलिए मैं आपको दोनों जगह का एक्सपीरियंस काफी अच्छे से बता सकती हूं घर पर होते तो आप बिल्कुल निश्चिंत होता है आपको किसी चीज की चिंता नहीं होती क्योंकि आपको पता है कि अगर कुछ भी होगा तो आपके घर वाले हमेशा आपके साथ हैं आपकी मदद करने के लिए वहां आपको ज्यादा काम नहीं करना पड़ता वहां हर तरह का काम होता है आपके मां-बाप का ध्यान रखते हैं आपकी मां आपके खाने का ध्यान रखती है आपकी पसंद का ध्यान रखती है आपके काम भी करती थी यह काफी हद तक पर जब आप हॉस्टल में रहते हैं तो आप कंप्लीटली इंडिपेंडेंट हो जाते हैं आपको हर चीज खुद से करनी पड़ती है यहां पर आपका ध्यान रखने वाला कोई नहीं होता अगर आपके दोस्त अच्छे नहीं है तो और आपको अपना ख्याल खुद रखना पड़ता है अब से घर पर रहे तो आपको पैसे लिमिटेड मिलते हैं आपको घर पर पैसो कि उसकी चिंता नहीं होती पर एक बार आप चला जाए तो फिर आप को पैसे किस तरह से इस्तेमाल करना है वह भी सीखना पड़ता है कई बार हमें लगता है फिल्मों में देखकर TV इसमें देखकर की हॉस्टल की लाइफ कितनी अच्छी है अकेले जीते हैं दोस्तों के साथ पार्टी करते पर ऐसा नहीं है कुशल लाइफ में भी कुछ खो गया है जैसे कि आपको काफी अच्छे दोस्त मिलते हैं आप बहुत कुछ सीख जाते हैं आप बोल्ड हो जाते हैं आप जिंदगी के फैसले अकेले खुद के दम पर लेना सीख लेता है जो इस तरह का पोस्ट रहे वाले मूवीस में कि उसमें केवल मस्ती होती है पढ़ाई नहीं होती या फिर एक रात पहले पढ़ाई करते हैं बाकी टाइम्स कोई किसी नशे में रहता है कोई कुछ कर रहा होता है यह सब गलत बात नहीं है हर उस समय नहीं होता कुछ और सोच काफी स्मार्ट होते हैं तो अब यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस तरह की जिंदगी जीना चाहते हैंDono Jagah Ke Alag Alag Khubiya Hai Alag Alag Khamiyan Hain Mujhe Nahi Lagta Ki Ghar Par Rehne Ki Koi Khami Kabhi Ho Sakti Hai Main Kuch Hostel Mein Rehti Hoon Isliye Main Aapko Dono Jagah Ka Experience Kafi Acche Se Bata Sakti Hoon Ghar Par Hote To Aap Bilkul Nishchint Hota Hai Aapko Kisi Cheez Ki Chinta Nahi Hoti Kyonki Aapko Pata Hai Ki Agar Kuch Bhi Hoga To Aapke Ghar Wali Hamesha Aapke Saath Hain Aapki Madad Karne Ke Liye Wahan Aapko Zyada Kaam Nahi Karna Padata Wahan Har Tarah Ka Kaam Hota Hai Aapke Maa Baap Ka Dhyan Rakhate Hain Aapki Maa Aapke Khane Ka Dhyan Rakhti Hai Aapki Pasand Ka Dhyan Rakhti Hai Aapke Kaam Bhi Karti Thi Yeh Kafi Had Tak Par Jab Aap Hostel Mein Rehte Hain To Aap Completely Independent Ho Jaate Hain Aapko Har Cheez Khud Se Karni Padhti Hai Yahan Par Aapka Dhyan Rakhne Vala Koi Nahi Hota Agar Aapke Dost Acche Nahi Hai To Aur Aapko Apna Khayal Khud Rakhna Padata Hai Ab Se Ghar Par Rahe To Aapko Paise Limited Milte Hain Aapko Ghar Par Paiso Ki Uski Chinta Nahi Hoti Par Ek Baar Aap Chala Jaye To Phir Aap Ko Paise Kis Tarah Se Istemal Karna Hai Wah Bhi Sikhna Padata Hai Kai Baar Hume Lagta Hai Filmo Mein Dekhkar TV Isme Dekhkar Ki Hostel Ki Life Kitni Acchi Hai Akele Jeete Hain Doston Ke Saath Party Karte Par Aisa Nahi Hai Kushal Life Mein Bhi Kuch Kho Gaya Hai Jaise Ki Aapko Kafi Acche Dost Milte Hain Aap Bahut Kuch Seekh Jaate Hain Aap Bold Ho Jaate Hain Aap Zindagi Ke Faisle Akele Khud Ke Dum Par Lena Seekh Leta Hai Jo Is Tarah Ka Post Rahe Wali Movies Mein Ki Usamen Kewal Masti Hoti Hai Padhai Nahi Hoti Ya Phir Ek Raat Pehle Padhai Karte Hain Baki Times Koi Kisi Nashe Mein Rehta Hai Koi Kuch Kar Raha Hota Hai Yeh Sab Galat Baat Nahi Hai Har Us Samay Nahi Hota Kuch Aur Soch Kafi Smart Hote Hain To Ab Yeh Aapke Upar Nirbhar Karta Hai Ki Aap Kis Tarah Ki Zindagi Jeena Chahte Hain
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी से लेकर हॉस्पिटल से घर की लाइट में कम पे करना चाहोगे तो मुझे नहीं लगता कि उसने कुछ कंप्रेशन हो सकता है सिवाय खाने के क्योंकि सबको जो है घर का खाना अच्छा लगता है लेकिन बाकी लाइफ की बात करो तो हॉस्ट...
जवाब पढ़िये
अभी से लेकर हॉस्पिटल से घर की लाइट में कम पे करना चाहोगे तो मुझे नहीं लगता कि उसने कुछ कंप्रेशन हो सकता है सिवाय खाने के क्योंकि सबको जो है घर का खाना अच्छा लगता है लेकिन बाकी लाइफ की बात करो तो हॉस्टल की लाइफ बहुत ही अलग होती है सबको अपने जीवन में जो है हॉस्टल की लाइफ एक बार तो ध्यान अनुभव लेना चाहिए और उस को जाओ अल्ला हमारे घर की लाइफ से कुछ कम पर सेट नहीं हो सकताAbhi Se Lekar Hospital Se Ghar Ki Light Mein Kam Pe Karna Chahoge To Mujhe Nahi Lagta Ki Usne Kuch Compression Ho Sakta Hai Shivaay Khane Ke Kyonki Sabko Jo Hai Ghar Ka Khana Accha Lagta Hai Lekin Baki Life Ki Baat Karo To Hostel Ki Life Bahut Hi Alag Hoti Hai Sabko Apne Jeevan Mein Jo Hai Hostel Ki Life Ek Baar To Dhyan Anubhav Lena Chahiye Aur Us Ko Jao Alla Hamare Ghar Ki Life Se Kuch Kam Par Set Nahi Ho Sakta
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...हैं लेकिन पार चलो फिल्म की सच्चाई पता चलती है उसे हम लोग घर पर......
जवाब पढ़िये
...हैं लेकिन पार चलो फिल्म की सच्चाई पता चलती है उसे हम लोग घर पर...
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Hostel Life Ya Ghar Ki Life?? Kya Zyada Acha Hai??, What Is The Life Of This Hotel In The House? What Are You Doing

vokalandroid