हम क्यों रहते हैं और कड़ी मेहनत करते हैं जब हम जानते हैं कि हम एक दिन मर जाएंगे? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मित्रों इस दुनिया में इंसान अपनी इच्छा से नहीं आता हम यदि आध्यात्मिक कारणों से देखें तो कर्मों के अनुसार से जमीन लेना पड़ता है और जीवन में जीना है तो फिर कड़ी मेहनत तो करनी ही होगी क्योंकि देखी आप विद्यार्थी काल से यदि अध्ययन करेगा मेहनत करेगा तपस्या करेगा तो निश्चित रूप से ऊपर पाता है शिक्षा प्राप्त कर पाता है और शिक्षा प्राप्त कर पाता है तो कुछ अन्य स्कॉलरशिप पता है कुसुम को विकसित होते जिनके आधार पर उसे आर्थिक मदद करना होता है और हम सब यह तो सभी जानते हैं कि वह जो जन्म लेता है उसे निश्चित रूप से तमन्ना लेकिन इस बात के लिए हमको यह नहीं कि हमको जीना छोड़ देना चाहिए क्योंकि आवाज सोचिए कि आप जब जन्म लेकर के किसी एक पर के हम बैठे हैं आप तो क्या वह पेड़ आपने लाया था वह पेड़ आपके पूर्वजों ने किसी अन्य ने लगाया हुआ उसकी छाया में आप बैठे हैं उसके फलों को आप खा रहे हैं तो इसी प्रकार से हमें भी तो कुछ करके जाना चाहिए जिससे कि आने वाली पीढ़ियां याद रखेगी हमारे पूर्वजों ने किया तो हमें इस मृत्यु के भय के कारण से जीना तो नहीं छोड़ना जी नामक हमें जीना भी है और दूसरों को जीने के रास्ते भी बनाने हैं जिससे कि आने वाली पीढ़ियां उन रास्तों पर चल सके और उन रास्तों को देख कर के हमें याद आती रहे हैं यह वास्ते हमारे पूर्वजों ने बनाए हैं यह तुम देखते हो की जन्म जयंती है जो मनाते हैं उन पर हम लोग उनको याद करते हैं विचार लो कि मृत्यु होना मृत्यु से डरो कभी मरो परंतु यों मरो की याद तो करें सभी को इस बात से भी प्रमाणित होता है
Romanized Version
मित्रों इस दुनिया में इंसान अपनी इच्छा से नहीं आता हम यदि आध्यात्मिक कारणों से देखें तो कर्मों के अनुसार से जमीन लेना पड़ता है और जीवन में जीना है तो फिर कड़ी मेहनत तो करनी ही होगी क्योंकि देखी आप विद्यार्थी काल से यदि अध्ययन करेगा मेहनत करेगा तपस्या करेगा तो निश्चित रूप से ऊपर पाता है शिक्षा प्राप्त कर पाता है और शिक्षा प्राप्त कर पाता है तो कुछ अन्य स्कॉलरशिप पता है कुसुम को विकसित होते जिनके आधार पर उसे आर्थिक मदद करना होता है और हम सब यह तो सभी जानते हैं कि वह जो जन्म लेता है उसे निश्चित रूप से तमन्ना लेकिन इस बात के लिए हमको यह नहीं कि हमको जीना छोड़ देना चाहिए क्योंकि आवाज सोचिए कि आप जब जन्म लेकर के किसी एक पर के हम बैठे हैं आप तो क्या वह पेड़ आपने लाया था वह पेड़ आपके पूर्वजों ने किसी अन्य ने लगाया हुआ उसकी छाया में आप बैठे हैं उसके फलों को आप खा रहे हैं तो इसी प्रकार से हमें भी तो कुछ करके जाना चाहिए जिससे कि आने वाली पीढ़ियां याद रखेगी हमारे पूर्वजों ने किया तो हमें इस मृत्यु के भय के कारण से जीना तो नहीं छोड़ना जी नामक हमें जीना भी है और दूसरों को जीने के रास्ते भी बनाने हैं जिससे कि आने वाली पीढ़ियां उन रास्तों पर चल सके और उन रास्तों को देख कर के हमें याद आती रहे हैं यह वास्ते हमारे पूर्वजों ने बनाए हैं यह तुम देखते हो की जन्म जयंती है जो मनाते हैं उन पर हम लोग उनको याद करते हैं विचार लो कि मृत्यु होना मृत्यु से डरो कभी मरो परंतु यों मरो की याद तो करें सभी को इस बात से भी प्रमाणित होता हैMitro Is Duniya Mein Insaan Apni Ichha Se Nahin Aata Hum Yadi Adhyatmik Karanon Se Dekhe To Karmo K Anusar Se Jamin Lena Padata Hai Aur Jeevan Mein Jeena Hai To Phir Kadi Mehanat To Karni Hea Hogi Kyonki Dekhi Aap Vidyarthi Kaal Se Yadi Adhyayan Karega Mehanat Karega Tapasya Karega To Nishcheet Roop Se Upar Pauta Hai Shiksha Prapt Car Pauta Hai Aur Shiksha Prapt Car Pauta Hai To Kuch Anya Scholarship Patta Hai Kusum Co Viksit Hote Jinke Aadhaar Per Usse Arthik Madada Krna Hota Hai Aur Hum Sub Yeh To Sabhi Jante Hain Qi Wah Joe Janm Lata Hai Usse Nishcheet Roop Se Tamanna Lekin Is Baat K Lie Humko Yeh Nahin Qi Humko Jeena Chod Dena Chahie Kyonki Awaz Sochiye Qi Aap Jab Janm Lycra K Kisi Ek Per K Hum Baithe Hain Aap To Kya Wah Ped Aapne Layaa Thaa Wah Ped Aapke Purvajo Ne Kisi Anya Ne Lagaya Hua Uski Chhaya Mein Aap Baithe Hain Uske Falon Co Aap Kha Rahe Hain To Isi Prakar Se Human Bhi To Kuch Karake Jaana Chahie Jisase Qi Aane Wali Pidhiyan Youth Rakhegi Hamare Purvajo Ne Kiya To Human Is Mrityu K Bhay K Karan Se Jeena To Nahin Chodna G Naamka Human Jeena Bhi Hai Aur Dusro Co Jeene K Raste Bhi Banaane Hain Jisase Qi Aane Wali Pidhiyan Un Raashton Per Chal Skye Aur Un Raashton Co Dekh Car K Human Youth Auti Rahe Hain Yeh Waste Hamare Purvajo Ne Banae Hain Yeh Tum Dekhte Ho Ki Janm JAYANTI Hai Joe Manate Hain Un Per Hum Log Unko Youth Karte Hain Vichaar Low Qi Mrityu Hona Mrityu Se Daro Kabhi MERO Parantu Yo MERO Ki Youth To Karein Sabhi Co Is Baat Se Bhi Pramanit Hota Hai
Likes  11  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

हम सभी जानते हैं की किस्मत से बड़ी मेहनत होती है फिर भी हम किस्मत पर इतना ज्यादा विश्वास क्यों करते हैं? ...

विकी बिल्कुल जो आपने कहा कि वह बहुत सच है कि किस्मत से बड़ी मेहनत होती है लेकिन किस्मत इतना ज्यादा विश्वास क्यों करते हैं लेकिन अगर एग्जांपल्स में समझाऊं अगर आप आईटी एग्जाम देने गए हैं आपके पास आपने बजवाब पढ़िये
ques_icon

हम वास्तव में कौन हैं जिसे हम मैं कहते हैं वह तो मर जाता है , फिर भी हम रहते हैं तो वास्तव में हम कौन है ,कँहा से आये है और कँहा जायेंगे? ...

हमारे शास्त्रों में लिखा है कि आज हम अगर मर जाते हैं तो हमारे आत्मा जिंदा रहते हैं पर हम मर जाते हैं पर अगर साइंटिफिक के लिए देखें तो हमारा जो इंफॉर्मेशन है वह जीव के माध्यम से हमारे आगे आने वाली पीढ़जवाब पढ़िये
ques_icon

हम किसी ऐसे व्यक्ति से प्यार क्यों करते हैं जिसे हम मुश्किल से जानते हैं? ...

अगर इस सवाल का कोई जवाब होता तो आपको लगता है इतनी सारी कविताएं लिखी जाती हो एक अनजान व्यक्ति के ऊपर इतनी खूबसूरत पेंटिंग्स बनती इतनी मूवीस बनती किताब लिखे जाते हैं इतनी कहानियां पैदा होती है बिल्कुल नजवाब पढ़िये
ques_icon

आगे बढ़ने के लिए हमें क्या करना चाहिए हम सोचते हैं कि हम काम नहीं कर पाएंगे तो हम किससे प्रेरणा ले जिस से हम काम कर पाए? ...

देसी जिंदगी में जो भी आगे बढ़ना चाहता है उसको सम के लिए तैयार रहना चाहिए जिंदगी में कोई भी ऐसा चीज़ नहीं है जिससे उसके बाद में जो दूसरी जरूरत होती है वह यह है कि आपके अंदर एक आस विश्वास होना चाहिए क्यजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा की हम लोग जानते हैं कि हम लोग जो एक ही जीवन में मनुष्य जीवन में जो हमने जन्म लिया है कुछ कर्म करने के लिए कुछ अलग करने के लिए वैसे तो जीने का है जानवर भी जीते हैं वह भी जन्म लेते हैं वह भी खाते पीते हैं वह बच्चे पैदा करते हैं फिर वह मर जाते हैं तो मरना सत्य है वह सत्य की हजूरी जन्म लिया है वह मर गई लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हमने जन्म लिया और जानवर की जिंदगी बिताने में मिलता है कुछ अच्छे कर्म करने के लिए हम एक आपने देखी एक हम आम इंसान है और एक मैं एक एग्जांपल के तौर पर मैं किसी व्यक्ति को लेता हूं मालिनी का सचिन तेंदुलकर का एग्जांपल लिया और एक आम आदमी है एक आम आदमी क्या करता है जानवर की जिंदगी जी रहा है उसने कुछ नया नहीं किया जो इंसान अपनी मेहनत में अपनी मेहनत के दम पर दुनिया को दिखाया कि मुझ में दम है तो जो जितना टैलेंट होगा जो जितना टैलेंट काम करेगा उतना अच्छा बनेगा तो आप का मतलब यह नहीं है कि हम मतलब कि हम आए और चले गए कुछ करना है हमें जितना से जितना अच्छा हो हम अपना से अच्छा अच्छा बने अच्छा कर्म करें हम कुछ नया करें हम रिजर्वेशन बदल रही है सबसे बड़ी बात यह है कि निशान बदल रही है तो हमें कुछ अलग करना ही होगा क्योंकि लोग वही करते आ रहे हैं हमें कुछ अलग करके दिखाना होता बेस्ट ऑफ सुदर्शन थैंक यू
Romanized Version
जैसा की हम लोग जानते हैं कि हम लोग जो एक ही जीवन में मनुष्य जीवन में जो हमने जन्म लिया है कुछ कर्म करने के लिए कुछ अलग करने के लिए वैसे तो जीने का है जानवर भी जीते हैं वह भी जन्म लेते हैं वह भी खाते पीते हैं वह बच्चे पैदा करते हैं फिर वह मर जाते हैं तो मरना सत्य है वह सत्य की हजूरी जन्म लिया है वह मर गई लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हमने जन्म लिया और जानवर की जिंदगी बिताने में मिलता है कुछ अच्छे कर्म करने के लिए हम एक आपने देखी एक हम आम इंसान है और एक मैं एक एग्जांपल के तौर पर मैं किसी व्यक्ति को लेता हूं मालिनी का सचिन तेंदुलकर का एग्जांपल लिया और एक आम आदमी है एक आम आदमी क्या करता है जानवर की जिंदगी जी रहा है उसने कुछ नया नहीं किया जो इंसान अपनी मेहनत में अपनी मेहनत के दम पर दुनिया को दिखाया कि मुझ में दम है तो जो जितना टैलेंट होगा जो जितना टैलेंट काम करेगा उतना अच्छा बनेगा तो आप का मतलब यह नहीं है कि हम मतलब कि हम आए और चले गए कुछ करना है हमें जितना से जितना अच्छा हो हम अपना से अच्छा अच्छा बने अच्छा कर्म करें हम कुछ नया करें हम रिजर्वेशन बदल रही है सबसे बड़ी बात यह है कि निशान बदल रही है तो हमें कुछ अलग करना ही होगा क्योंकि लोग वही करते आ रहे हैं हमें कुछ अलग करके दिखाना होता बेस्ट ऑफ सुदर्शन थैंक यूJaisa Ki Hum Log Jante Hain Qi Hum Log Joe Ek Hea Jeevan Mein Manusya Jeevan Mein Joe Humne Janm Liya Hai Kuch Karma Karne K Lie Kuch Eluga Karne K Lie Vaise To Jeene Ka Hai Zanwar Bhi Jite Hain Wah Bhi Janm Lete Hain Wah Bhi Khaute Peete Hain Wah Bacche Paida Karte Hain Phir Wah Mar Jaate Hain To Marana Satya Hai Wah Satya Ki Hajuri Janm Liya Hai Wah Mar Gi Lekin Iska Matlab Yeh Nahin Hai Qi Humne Janm Liya Aur Zanwar Ki Jindagi Bitaane Mein Milta Hai Kuch Achchhe Karma Karne K Lie Hum Ek Aapne Dekhi Ek Hum Am Insaan Hai Aur Ek Main Ek Egjampal K Taur Per Main Kisi Vyakti Co Lata Hoon Malini Ka Sachin Tendulkar Ka Egjampal Liya Aur Ek Am Aadmi Hai Ek Am Aadmi Kya Karata Hai Zanwar Ki Jindagi G Raha Hai Usne Kuch Naya Nahin Kiya Joe Insaan Apni Mehanat Mein Apni Mehanat K Dum Per Duniya Co Deekhaayaa Qi Mujh Mein Dum Hai To Joe Jitna Talent Hoga Joe Jitna Talent Kama Karega Utana Accha Banega To Aap Ka Matlab Yeh Nahin Hai Qi Hum Matlab Qi Hum Ae Aur Chale Ge Kuch Krna Hai Human Jitna Se Jitna Accha Ho Hum Apna Se Accha Accha Bane Accha Karma Karein Hum Kuch Naya Karein Hum Rijarveshan Badal Rahi Hai Sabse Badi Baat Yeh Hai Qi Nishan Badal Rahi Hai To Human Kuch Eluga Krna Hea Hoga Kyonki Log Whey Karte Aa Rahe Hain Human Kuch Eluga Karake Dikhaanaa Hota Best Of Sudarshan Thank You
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Hum Kyon Rehte Hain Aur Kadi Mehnat Karte Hain Jab Hum Jante Hain Ki Hum Ek Din Mar Jaenge,


vokalandroid