क्या आप भी अरविन्द केजरीवाल का समर्थन करना पसंद करेंगे? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरविंद केजरीवाल बहुत अच्छे पीएम हैं जो प्यार में थोड़ी नीचे हैं और उन्होंने जो एजुकेशन कि इसमें जो एक नई जो नीतियां लाई है बॉस डी पी जी परंतु हॉस्टल के टीचर एजुकेशन फ्री इंडिया में अभी तक कभी हुआ मिलता एजुकेशन में जितना पैसा जाता है बच्चों के पढ़ाई के ऊपर मां बाप का तू इतना पढ़ा जिसे कोई नहीं जाता और अगर इसी तरीके से पूरे भारत में टेकरीवाल की सट्टा बनती है तो मेरे हिसाब से बहुत अच्छा होगा क्योंकि वह बहुत ज्यादा शार्प माइंड एंड डिग्री वाली और बहुत दूर दृष्टि रखते हैं अगर वो पीएम बनते हैं तो देश का उद्धार होगा ऐसा
अरविंद केजरीवाल बहुत अच्छे पीएम हैं जो प्यार में थोड़ी नीचे हैं और उन्होंने जो एजुकेशन कि इसमें जो एक नई जो नीतियां लाई है बॉस डी पी जी परंतु हॉस्टल के टीचर एजुकेशन फ्री इंडिया में अभी तक कभी हुआ मिलता एजुकेशन में जितना पैसा जाता है बच्चों के पढ़ाई के ऊपर मां बाप का तू इतना पढ़ा जिसे कोई नहीं जाता और अगर इसी तरीके से पूरे भारत में टेकरीवाल की सट्टा बनती है तो मेरे हिसाब से बहुत अच्छा होगा क्योंकि वह बहुत ज्यादा शार्प माइंड एंड डिग्री वाली और बहुत दूर दृष्टि रखते हैं अगर वो पीएम बनते हैं तो देश का उद्धार होगा ऐसा
Likes  24  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

क्या दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की सरकार फिर से बननी चाहिए और क्यों ? ...

दिल्ली की जहां तक बात सहित दिल्ली गवर्नमेंट काफी योगदान रहा है बहुत सारे इंडेक्स की बात करते हैं तो एक रिपोर्ट आया था उसमें प्राइज ऑफ बिजनेस है जिसमें कि अवश्य इंडिया की रैंकिंग बहुत सुधरी है और यह दोजवाब पढ़िये
ques_icon

कमल हासन द्वारा पार्टी ऐलान पर अरविंद केजरीवाल का जाना उनके लिए फायदा या नुकसान ? ...

देसी कि आपसे पूछा है कि कमल हसन द्वारा जो पार्टी अलार्म की गई है उसमें अरविंद केजरीवाल का खाना फायदेमंद हुआ या नुकसान जी हां अगर उन्होंने पार्टी के लॉन्च की है ऑफिस से कुछ दिमाग में लिखे जो है अपनों नजवाब पढ़िये
ques_icon

अरविंद केजरीवाल केरला हिंसा पर समर्थन करने के बारे में आपका क्या विचार है? ...

ब्लूटूथ हिंसा एक ऐसी चीज है जो कहीं भी बर्दाश्त नहीं की जा सकती चाहे वह कमेंट में बैलेंस सोचा किसी अदर तरह की हिंसा हो अगर केजरीवाल जी इंसा के समर्थन में आए तो इससे शर्मनाक बात कोई हो ही नहीं सकती ऑल जवाब पढ़िये
ques_icon

कुमार विश्वास और अरविंद केजरीवाल के बीच का टकराव का अंजाम क्या हो सकता है? ...

आम आदमी पार्टी वैसे ही अब धीरे-धीरे करके अरविंद केजरीवाल की पार्टी बन गई है और अरविंद केजरीवाल जो एक अपने को डेमोक्रेटिक लीडर की तरह प्रोजेक्ट कर देता था इस तरीके से सुप्रीमो हो गया सुप्रीम कमांडर हो जवाब पढ़िये
ques_icon

दिल्ली के केजरीवाल और उपराज्यपाल बैजल मिलेंगे तो क्या बात करेंगे ? ...

क्या आपने क्योंकि दिल्ली की परिस्थिति का जिक्र किया है तो सवाल का जवाब देने से पहले मैं कुछ चीजें स्पष्ट करना चाहूंगा कि जो अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री हैं वह पूरी राजनीति से अलग हटकर आया नहीं जिस किसजवाब पढ़िये
ques_icon

पिछले साल कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल के ऊपर काफी बड़े आरोप लगाए थे आखिर उन आरोपों का क्या हुआ, क्या वह सही साबित हुए? ...

तेरी पिछले साल नहीं आता मैं तो इसी साल में जो 5 मार्च के टाइम पर अभी सी कली आम आदमी पार्टी जो है वह अपने तीसरी वर्षगांठ मना मना रही थी उस पर जो दिल्ली के पूर्व मंत्री है कपिल मिश्रा प्रेस कॉन्फ्रेंस पजवाब पढ़िये
ques_icon

केजरीवाल ने गडकरी और कपिल सिब्बल से भी माफी मांगी? क्यों कर रहे हैं अचानक ऐसा केजरीवाल ? ...

विकी केजरीवाल जी पर लोगों का जो विश्वास था वह कहीं ना कहीं टूटा है और केजरीवाल जी की भी विश्वसनीयता अब खत्म हो चुकी है जिस प्रकार उन्होंने मजीठिया से माफी मांग ली जो रक्त का है उसके अलावा नितिन गडकरी जवाब पढ़िये
ques_icon

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का मजाक उड़ाते हुए लोग उन्हें खुजलीवाल के नाम से बुलाते है क्या यह सही है ? ...

देखिए दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल सबसे पहले बता दो उन लोगों को जो उनका मजाक उड़ाते हैं कि माना कि वह आपको पसंद नहीं है या उनकी गलत राजनीति तो इसका यह मतलब नहीं कि आप उनका मजाक उड़ाया खजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं मैं अरविंद केजरीवाल का समर्थन करना पसंद नहीं करूंगी पहले मेरा सबसे बड़ा प्रश्न तो नहीं है क्या अरविंद केजरीवाल जो भी कर रहे हैं किसी रूम में बैठकर कर रहे हैं तो इससे पहले तो उन्होंने इस रूम में बैठकर पैसा आंदोलन नहीं करा तो अब क्यों नहीं हो सड़क पर आ रहे हैं और हमेशा दिल्ली फोन नहीं कर रहा है झूठे वादे करें तो मूवी पर सवाल उठाने से अरविंद केजरीवाल को कुछ मिलेगा नहीं और यह सब चीजें तो अरविंद केजरीवाल कर रहे हैं यह तीनों का समर्थन मुझे नहीं लगता कि ज्यादा लोग उनका कर रहे हैं
Romanized Version
नहीं मैं अरविंद केजरीवाल का समर्थन करना पसंद नहीं करूंगी पहले मेरा सबसे बड़ा प्रश्न तो नहीं है क्या अरविंद केजरीवाल जो भी कर रहे हैं किसी रूम में बैठकर कर रहे हैं तो इससे पहले तो उन्होंने इस रूम में बैठकर पैसा आंदोलन नहीं करा तो अब क्यों नहीं हो सड़क पर आ रहे हैं और हमेशा दिल्ली फोन नहीं कर रहा है झूठे वादे करें तो मूवी पर सवाल उठाने से अरविंद केजरीवाल को कुछ मिलेगा नहीं और यह सब चीजें तो अरविंद केजरीवाल कर रहे हैं यह तीनों का समर्थन मुझे नहीं लगता कि ज्यादा लोग उनका कर रहे हैंNahi Main Arvind Kejriwal Ka Samarthan Karna Pasand Nahi Karungi Pehle Mera Sabse Bada Prashna To Nahi Hai Kya Arvind Kejriwal Jo Bhi Kar Rahe Hain Kisi Room Mein Baithkar Kar Rahe Hain To Isse Pehle To Unhone Is Room Mein Baithkar Paisa Aandolan Nahi Kra To Ab Kyun Nahi Ho Sadak Par Aa Rahe Hain Aur Hamesha Delhi Phone Nahi Kar Raha Hai Jhuthe Waade Karen To Movie Par Sawal Uthane Se Arvind Kejriwal Ko Kuch Milega Nahi Aur Yeh Sab Cheezen To Arvind Kejriwal Kar Rahe Hain Yeh Teenon Ka Samarthan Mujhe Nahi Lagta Ki Jyada Log Unka Kar Rahe Hain
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी नहीं मैं अरविंद केजरीवाल का बिल्कुल भी समर्थन नहीं करती और मुझे लगता है कि वह किसी रात बलम वह दिल्ली का पूजा करने के बजाए ने अलग मोटर पर अड़े हुए और उन्हें लगता है कि वो जो सोचते हैं बस वही सही है बाकी सब कोई गलत है तो मैं अरविंद केजरीवाल का बिल्कुल भी समर्थन नहीं करते मुझे लगता है कि वह अपना ही नहीं केंद्रक और दिल्ली के लोगों का सबका समय विश कर रहा है
Romanized Version
जी नहीं मैं अरविंद केजरीवाल का बिल्कुल भी समर्थन नहीं करती और मुझे लगता है कि वह किसी रात बलम वह दिल्ली का पूजा करने के बजाए ने अलग मोटर पर अड़े हुए और उन्हें लगता है कि वो जो सोचते हैं बस वही सही है बाकी सब कोई गलत है तो मैं अरविंद केजरीवाल का बिल्कुल भी समर्थन नहीं करते मुझे लगता है कि वह अपना ही नहीं केंद्रक और दिल्ली के लोगों का सबका समय विश कर रहा हैJi Nahi Main Arvind Kejriwal Ka Bilkul Bhi Samarthan Nahi Karti Aur Mujhe Lagta Hai Ki Wah Kisi Raat Belim Wah Delhi Ka Puja Karne Ke Bajae Ne Alag Motor Par Ade Hue Aur Unhen Lagta Hai Ki Vo Jo Sochte Hain Bus Wahi Sahi Hai Baki Sab Koi Galat Hai To Main Arvind Kejriwal Ka Bilkul Bhi Samarthan Nahi Karte Mujhe Lagta Hai Ki Wah Apna Hi Nahi Kendrak Aur Delhi Ke Logon Ka Sabka Samay Wish Kar Raha Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम आदमी पार्टी 2012 में इलेक्शन से पहले देश के सामने आई थी और ऐसा लगा था कि देश की युवा शक्ति राजनीति में अपनी सक्रिय भूमिका निभाएगी और जनता को ही विश्वास होने लगा था कि युवा सोच युवा विचार और युवाओं की जागरूकता भारत के लोकतंत्र को एक नई दिशा देगी उन्होंने अपना वोट दिया आम आदमी पार्टी को यह सोचकर कि आम आदमी पार्टी उनकी समस्याओं को समझेगी क्योंकि वह एक आम इंसान और जनता की भलाई के बारे में सोचेंगे और दिल्ली के मुख्यमंत्री बने आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल लेकिन वह अपने सहयोगियों को भी साथ लेकर नहीं चल पाए और उनकी कथनी और करनी में फर्क रहा उनकी सहयोगी का कहना है कि उन्होंने अपने आराम के लिए अपने सहयोगियों को साथ छोड़ दिया माफी प्रकरण पर भी उनके सहयोगियों का यही कहना है कि उन्होंने खुद के लिए बाकी सभी को हंसा दिया बाकी सभी लोगों पर कैसे चल रहे हैं लेकिन उन्होंने माफी मांग कर अपने आप को अलग कर दिया तो अरविंद केजरीवाल की जो भी बातें सामने आई है उससे मुझे नहीं लगता है कि वह इस भरोसे लायक नेता है और उनके हाथ में ऐसा कुछ है कि वह देश की जनता के लिए कुछ कर सके देश का विकास कर सके इसलिए मैं अरविंद केजरीवाल का समर्थन नहीं करती हूं मुझे उन पर भरोसा नहीं है उनकी बातों पर मुझे विश्वास नहीं है इसीलिए मैं उनका समर्थन नहीं करती
Romanized Version
आम आदमी पार्टी 2012 में इलेक्शन से पहले देश के सामने आई थी और ऐसा लगा था कि देश की युवा शक्ति राजनीति में अपनी सक्रिय भूमिका निभाएगी और जनता को ही विश्वास होने लगा था कि युवा सोच युवा विचार और युवाओं की जागरूकता भारत के लोकतंत्र को एक नई दिशा देगी उन्होंने अपना वोट दिया आम आदमी पार्टी को यह सोचकर कि आम आदमी पार्टी उनकी समस्याओं को समझेगी क्योंकि वह एक आम इंसान और जनता की भलाई के बारे में सोचेंगे और दिल्ली के मुख्यमंत्री बने आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल लेकिन वह अपने सहयोगियों को भी साथ लेकर नहीं चल पाए और उनकी कथनी और करनी में फर्क रहा उनकी सहयोगी का कहना है कि उन्होंने अपने आराम के लिए अपने सहयोगियों को साथ छोड़ दिया माफी प्रकरण पर भी उनके सहयोगियों का यही कहना है कि उन्होंने खुद के लिए बाकी सभी को हंसा दिया बाकी सभी लोगों पर कैसे चल रहे हैं लेकिन उन्होंने माफी मांग कर अपने आप को अलग कर दिया तो अरविंद केजरीवाल की जो भी बातें सामने आई है उससे मुझे नहीं लगता है कि वह इस भरोसे लायक नेता है और उनके हाथ में ऐसा कुछ है कि वह देश की जनता के लिए कुछ कर सके देश का विकास कर सके इसलिए मैं अरविंद केजरीवाल का समर्थन नहीं करती हूं मुझे उन पर भरोसा नहीं है उनकी बातों पर मुझे विश्वास नहीं है इसीलिए मैं उनका समर्थन नहीं करतीAam Aadmi Party 2012 Mein Election Se Pehle Desh Ke Samane Eye Thi Aur Aisa Laga Tha Ki Desh Ki Yuva Shakti Rajneeti Mein Apni Sakriy Bhumika Nibhaegi Aur Janta Ko Hi Vishwas Hone Laga Tha Ki Yuva Soch Yuva Vichar Aur Yuvaon Ki Jagrukta Bharat Ke Loktantra Ko Ek Nayi Disha Degi Unhone Apna Vote Diya Aam Aadmi Party Ko Yeh Sochkar Ki Aam Aadmi Party Unki Samasyaon Ko Samjhegi Kyonki Wah Ek Aam Insaan Aur Janta Ki Bhalai Ke Baare Mein Sochenge Aur Delhi Ke Mukhyamantri Bane Aam Aadmi Party Ke Arvind Kejriwal Lekin Wah Apne Sahayogeeyon Ko Bhi Saath Lekar Nahi Chal Paye Aur Unki Kathni Aur Karni Mein Fark Raha Unki Sahayogi Ka Kehna Hai Ki Unhone Apne Aaram Ke Liye Apne Sahayogeeyon Ko Saath Chod Diya Maafi Prakaran Par Bhi Unke Sahayogeeyon Ka Yahi Kehna Hai Ki Unhone Khud Ke Liye Baki Sabhi Ko Hamsa Diya Baki Sabhi Logon Par Kaise Chal Rahe Hain Lekin Unhone Maafi Maang Kar Apne Aap Ko Alag Kar Diya To Arvind Kejriwal Ki Jo Bhi Batein Samane Eye Hai Usse Mujhe Nahi Lagta Hai Ki Wah Is Bharose Layak Neta Hai Aur Unke Hath Mein Aisa Kuch Hai Ki Wah Desh Ki Janta Ke Liye Kuch Kar Sake Desh Ka Vikash Kar Sake Isliye Main Arvind Kejriwal Ka Samarthan Nahi Karti Hoon Mujhe Un Par Bharosa Nahi Hai Unki Baaton Par Mujhe Vishwas Nahi Hai Isliye Main Unka Samarthan Nahi Karti
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Aap Bhi Arvind Kejriwal Ka Samarthan Karna Pasand Karenge,


vokalandroid