विधायक ने कहा कि महिलाएं बांझ रहें, मगर ऐसे बच्चे को जन्म न दें, जो संस्कारी न हो ,ऐसे नेताओं का क्या करना चाइये? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसे नेताओं को जो जिस तरह से स्टेटमेंट देते हैं ऐसे नेताओं को पद से हटाना चाहिए और उनको कुछ महीने के लिए सोशल सर्विस कोई भी विमेंस वेलफेयर एसोसिएशन या समाज सेवा में लगाना चाहिए ताकि उन पर कुछ बदलाव आए जब तक उन पर बदलाव बदलाव ना आए उनको जो पदवी है या मंत्री पद भी है उनको प्राप्त नहीं होना चाहिए
Romanized Version
ऐसे नेताओं को जो जिस तरह से स्टेटमेंट देते हैं ऐसे नेताओं को पद से हटाना चाहिए और उनको कुछ महीने के लिए सोशल सर्विस कोई भी विमेंस वेलफेयर एसोसिएशन या समाज सेवा में लगाना चाहिए ताकि उन पर कुछ बदलाव आए जब तक उन पर बदलाव बदलाव ना आए उनको जो पदवी है या मंत्री पद भी है उनको प्राप्त नहीं होना चाहिएAise Netaon Ko Jo Jis Tarah Se Statement Dete Hain Aise Netaon Ko Pad Se Hatana Chahiye Aur Unko Kuch Mahine Ke Liye Social Service Koi Bhi Womens Welfare Association Ya Samaaj Seva Mein Lagana Chahiye Taki Un Par Kuch Badlav Aaye Jab Tak Un Par Badlav Badlav Na Aaye Unko Jo Padvi Hai Ya Mantri Pad Bhi Hai Unko Prapt Nahi Hona Chahiye
Likes  20  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह नेता नहीं है खास किसिंग कैसे लोग हैं जो ऐसे मानसिक रोग से ग्रसित हैं इनका इलाज तभी होगा जब मैं चुनाव में जनता सबक सिखाएगी जनता बेचारी भोली भाली बहुत जल्दी भूल जाती है इन नेताओं के करतूत ऐसे नेताओं को जनता सबक सिखाती है और सिखाएगी तभी मैं समझ में आएगा
Romanized Version
यह नेता नहीं है खास किसिंग कैसे लोग हैं जो ऐसे मानसिक रोग से ग्रसित हैं इनका इलाज तभी होगा जब मैं चुनाव में जनता सबक सिखाएगी जनता बेचारी भोली भाली बहुत जल्दी भूल जाती है इन नेताओं के करतूत ऐसे नेताओं को जनता सबक सिखाती है और सिखाएगी तभी मैं समझ में आएगाYeh Neta Nahi Hai Khas Kissing Kaise Log Hain Jo Aise Mansik Rog Se Grasit Hain Inka Ilaj Tabhi Hoga Jab Main Chunav Mein Janta Sabak Sikhaegi Janta Bechari Bholi Bhaali Bahut Jaldi Bhul Jati Hai In Netaon Ke Karatut Aise Netaon Ko Janta Sabak Sikhati Hai Aur Sikhaegi Tabhi Main Samajh Mein Aayega
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस तरीके का जो गैर जिम्मेदार अबे बुनियाद बयान है बिल्कुल बेकार बकवास जो बयान बाजी है यह BJP के मध्य प्रदेश के विधायक हैं उन्होंने हाल ही में किया है इस तरीके के बाद उनकी हिसाब से जब बच्चा पैदा होने वाला होता है तो एक मां को यह सोचना चाहिए कि उसका जो बच्चा जो दुनिया से अनजान है जैसे कोई सी चीज की समझ नहीं है क्या वह संस्कारी है या नहीं इस चीज का पता लगाना चाहिए या नहीं ऐसा कोई उपकरण डेवलप होना चाहिए जिससे यह पता लगाया जा सके तो इस तरीके की बिल्कुल निहायती बकवास बातें जो है यह बीजेपी के विधायक सांसद लोग पिछले कुछ महीनों से लगातार कर रहे हैं और इन पर ना कोई बवाल हो रहा है ना कोई खबर बन रही है सुर्खियां बन रही है क्योंकि यह BJP के नरेंद्र मोदी के एक विधायक ने इस तरीके की बहन बाजी कि अगर विपक्षी सिम विधायक सांसद ने की होती तो दिन-रात इस पर डिबेट न्यूज़ डिबेट होती रहती है लाइन बनी रहती है यह माना है यही टाइम है जहां सब लोग दबाव में काम कर रहे हैं तो इस प्रकार की जब तक रहेगी तो वह लोग अपने पार्टी अपने विधायकों पर रेप के आरोप आरोप बलात्कारी को बचाने की कोशिश करती है तो यह तो केवल बयान बाजी इस पर कार्रवाई होना इस तरीके की चीज कुछ भी एक्शन लेना तुम फालतू की एक अमीर पालना
Romanized Version
देखिए इस तरीके का जो गैर जिम्मेदार अबे बुनियाद बयान है बिल्कुल बेकार बकवास जो बयान बाजी है यह BJP के मध्य प्रदेश के विधायक हैं उन्होंने हाल ही में किया है इस तरीके के बाद उनकी हिसाब से जब बच्चा पैदा होने वाला होता है तो एक मां को यह सोचना चाहिए कि उसका जो बच्चा जो दुनिया से अनजान है जैसे कोई सी चीज की समझ नहीं है क्या वह संस्कारी है या नहीं इस चीज का पता लगाना चाहिए या नहीं ऐसा कोई उपकरण डेवलप होना चाहिए जिससे यह पता लगाया जा सके तो इस तरीके की बिल्कुल निहायती बकवास बातें जो है यह बीजेपी के विधायक सांसद लोग पिछले कुछ महीनों से लगातार कर रहे हैं और इन पर ना कोई बवाल हो रहा है ना कोई खबर बन रही है सुर्खियां बन रही है क्योंकि यह BJP के नरेंद्र मोदी के एक विधायक ने इस तरीके की बहन बाजी कि अगर विपक्षी सिम विधायक सांसद ने की होती तो दिन-रात इस पर डिबेट न्यूज़ डिबेट होती रहती है लाइन बनी रहती है यह माना है यही टाइम है जहां सब लोग दबाव में काम कर रहे हैं तो इस प्रकार की जब तक रहेगी तो वह लोग अपने पार्टी अपने विधायकों पर रेप के आरोप आरोप बलात्कारी को बचाने की कोशिश करती है तो यह तो केवल बयान बाजी इस पर कार्रवाई होना इस तरीके की चीज कुछ भी एक्शन लेना तुम फालतू की एक अमीर पालनाDekhie Is Tarike Ka Jo Gair Zimmedar Abe Buniyad Bayan Hai Bilkul Bekar Bakwas Jo Bayan Busy Hai Yeh BJP Ke Madhya Pradesh Ke Vidhayak Hain Unhone Haal Hi Mein Kiya Hai Is Tarike Ke Baad Unki Hisab Se Jab Baccha Paida Hone Wala Hota Hai To Ek Maa Ko Yeh Sochna Chahiye Ki Uska Jo Baccha Jo Duniya Se Anjaan Hai Jaise Koi Si Cheez Ki Samajh Nahi Hai Kya Wah Sanskari Hai Ya Nahi Is Cheez Ka Pata Lagana Chahiye Ya Nahi Aisa Koi Upkaran Develop Hona Chahiye Jisse Yeh Pata Lagaya Ja Sake To Is Tarike Ki Bilkul Nihayati Bakwas Batein Jo Hai Yeh Bjp Ke Vidhayak Saansad Log Pichle Kuch Mahinon Se Lagatar Kar Rahe Hain Aur In Par Na Koi Bawaal Ho Raha Hai Na Koi Khabar Ban Rahi Hai Soorkhiyaan Ban Rahi Hai Kyonki Yeh BJP Ke Narendra Modi Ke Ek Vidhayak Ne Is Tarike Ki Behen Busy Ki Agar Vipakshi Sim Vidhayak Saansad Ne Ki Hoti To Din Raat Is Par Debate News Debate Hoti Rehti Hai Line Bani Rehti Hai Yeh Mana Hai Yahi Time Hai Jahan Sab Log Dabaav Mein Kaam Kar Rahe Hain To Is Prakar Ki Jab Tak Rahegi To Wah Log Apne Party Apne Vidhayakon Par Rape Ke Aarop Aarop Balatkari Ko Bachane Ki Koshish Karti Hai To Yeh To Kewal Bayan Busy Is Par Karyawahi Hona Is Tarike Ki Cheez Kuch Bhi Action Lena Tum Faltu Ki Ek Amir Paalnaa
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसे नेता कलंक होते हैं मुझे लगता है भारत के ऊपर ऐसे कोई भी सेट में होना कभी लाइफ में पास किसी को भी नहीं करनी चाहिए क्योंकि आप काफी मां का दिल तोड़ रहे हैं आप तो कह रहे हैं आपको ऐसे स्टेटमेंट पैदा करने के लिए ऐसी सीमेंट सॉरी बोलने से पहले हजार बार सोचना चाहिए और उसके बाद में रखने के बाद भी गलती से भी नहीं चाहिए ऐसे नेताओं को मुझे पार्टी से पार्टी का भी नाम खराब कर रहे हैं समय पर कोई भी मां इस चीज को सुनकर पार्टी को वोट नहीं देना चाहेगी देखे आत्माओं को यह बोलिए कि अपने बच्चों को संस्कारी बनाइए आपको बचपन से यह ध्यान रखना अपने किसी और संस्कारी लड़के को बाहर नहीं निकलती है वह सारी खुशीया कारणों से बनता है जब वह बड़ा हो जाता है तो यह जानना दे ऐसे बच्चों को साफ हो यह समझाइए कि वह अपने बच्चों को संस्कारी कैसे बनाना कि यह बताइए उन्हें कि वह मैदान में या ना करें क्योंकि आप नेता कोई नहीं होता है आप कोई नहीं होता
Romanized Version
ऐसे नेता कलंक होते हैं मुझे लगता है भारत के ऊपर ऐसे कोई भी सेट में होना कभी लाइफ में पास किसी को भी नहीं करनी चाहिए क्योंकि आप काफी मां का दिल तोड़ रहे हैं आप तो कह रहे हैं आपको ऐसे स्टेटमेंट पैदा करने के लिए ऐसी सीमेंट सॉरी बोलने से पहले हजार बार सोचना चाहिए और उसके बाद में रखने के बाद भी गलती से भी नहीं चाहिए ऐसे नेताओं को मुझे पार्टी से पार्टी का भी नाम खराब कर रहे हैं समय पर कोई भी मां इस चीज को सुनकर पार्टी को वोट नहीं देना चाहेगी देखे आत्माओं को यह बोलिए कि अपने बच्चों को संस्कारी बनाइए आपको बचपन से यह ध्यान रखना अपने किसी और संस्कारी लड़के को बाहर नहीं निकलती है वह सारी खुशीया कारणों से बनता है जब वह बड़ा हो जाता है तो यह जानना दे ऐसे बच्चों को साफ हो यह समझाइए कि वह अपने बच्चों को संस्कारी कैसे बनाना कि यह बताइए उन्हें कि वह मैदान में या ना करें क्योंकि आप नेता कोई नहीं होता है आप कोई नहीं होताAise Neta Kulak Hote Hain Mujhe Lagta Hai Bharat Ke Upar Aise Koi Bhi Set Mein Hona Kabhi Life Mein Paas Kisi Ko Bhi Nahi Karni Chahiye Kyonki Aap Kafi Maa Ka Dil Tod Rahe Hain Aap To Keh Rahe Hain Aapko Aise Statement Paida Karne Ke Liye Aisi Cement Sorry Bolne Se Pehle Hazar Baar Sochna Chahiye Aur Uske Baad Mein Rakhne Ke Baad Bhi Galti Se Bhi Nahi Chahiye Aise Netaon Ko Mujhe Party Se Party Ka Bhi Naam Kharab Kar Rahe Hain Samay Par Koi Bhi Maa Is Cheez Ko Sunkar Party Ko Vote Nahi Dena Chahegi Dekhe Aatmaao Ko Yeh Bolie Ki Apne Bacchon Ko Sanskari Banaaie Aapko Bachpan Se Yeh Dhyan Rakhna Apne Kisi Aur Sanskari Ladke Ko Bahar Nahi Nikalti Hai Wah Saree Khushiya Kaarno Se Banta Hai Jab Wah Bada Ho Jata Hai To Yeh Janana De Aise Bacchon Ko Saaf Ho Yeh Samjhaiye Ki Wah Apne Bacchon Ko Sanskari Kaise Banana Ki Yeh Bataiye Unhen Ki Wah Maidan Mein Ya Na Karen Kyonki Aap Neta Koi Nahi Hota Hai Aap Koi Nahi Hota
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक विधायक ने ऐसा कहा कि महिलाएं बज रहे लेकिन ऐसे बच्चे को जन्म ना दें जो संस्कारी ना होते कि मुझे लगता है कि ऐसे नेताओं को अपनी सोच बदलनी चाहिए और देखे कोई भी बच्चा अपनी मां के गर्भ से अच्छाई बुराई संस्कार या और और चीजे सीख कर नहीं आता है उसे जन्म लेने के बाद इन चीजों का ज्ञान होता है कि क्या चीज सही है क्या चीज गलत है संस्कार क्या होते हैं या क्या नहीं होते हैं कौन सी कौन सी चीज करना सही है कौन सी कौन सी चीज नहीं करनी चाहिए तो इन सब चीजों का ज्ञान उसे अपने परिवार आसपास और करीबी लोगों से मिलता है तो नेताओं को इस तरह का बयान देना बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि उनको इस चीज की समझ होनी चाहिए कि वह जो बोल रहे हैं वह सही नहीं है और क्या चीज जब महिलाओं के ऊपर इस तरह इस तरह के बयान का क्या असर होगा कि हर महिला के लिए अपना बच्चा बहुत ज्यादा प्रिय होता है अजीज होता है तो अगर आप किसी महिला के लिए इस तरह से बोल रहे तो आपके अंदर महिला के लिए कोई भी सम्मान नहीं रह गया है और आप किसी भी महिला क्यों पर जब उसका बच्चा कैसा होगा कैसा नहीं होगा यह शुरुआत से नहीं बोल सकते हैं तो इस तरह के बयान का कोई वजूद नहीं है कोई लॉजिक नहीं है तो मुझे लगता है नेताओं को समझ रखनी चाहिए और इस तरह के बयान करने से बचना चाहिए और बयान अगर देना ही है तो आप देश के हित के बारे में या फिर ऐसी चीजों के बारे में बयान दीजिए जो कि कहीं ना कहीं आपकी सरकार से आपके देश से पहले बंदूक इस तरह की चीजों के बयान देने से आप अपने आप को एक अशिक्षित और 1 बिलकुल लॉजिकल नेता साबित कर देते हैं तो मुझे लगता है इस पर इस तरह के बयान को नहीं देना चाहिए और उनको अपनी सोच बदलने की जल्द से जल्द आवश्यकता है
Romanized Version
एक विधायक ने ऐसा कहा कि महिलाएं बज रहे लेकिन ऐसे बच्चे को जन्म ना दें जो संस्कारी ना होते कि मुझे लगता है कि ऐसे नेताओं को अपनी सोच बदलनी चाहिए और देखे कोई भी बच्चा अपनी मां के गर्भ से अच्छाई बुराई संस्कार या और और चीजे सीख कर नहीं आता है उसे जन्म लेने के बाद इन चीजों का ज्ञान होता है कि क्या चीज सही है क्या चीज गलत है संस्कार क्या होते हैं या क्या नहीं होते हैं कौन सी कौन सी चीज करना सही है कौन सी कौन सी चीज नहीं करनी चाहिए तो इन सब चीजों का ज्ञान उसे अपने परिवार आसपास और करीबी लोगों से मिलता है तो नेताओं को इस तरह का बयान देना बिल्कुल भी सही नहीं है क्योंकि उनको इस चीज की समझ होनी चाहिए कि वह जो बोल रहे हैं वह सही नहीं है और क्या चीज जब महिलाओं के ऊपर इस तरह इस तरह के बयान का क्या असर होगा कि हर महिला के लिए अपना बच्चा बहुत ज्यादा प्रिय होता है अजीज होता है तो अगर आप किसी महिला के लिए इस तरह से बोल रहे तो आपके अंदर महिला के लिए कोई भी सम्मान नहीं रह गया है और आप किसी भी महिला क्यों पर जब उसका बच्चा कैसा होगा कैसा नहीं होगा यह शुरुआत से नहीं बोल सकते हैं तो इस तरह के बयान का कोई वजूद नहीं है कोई लॉजिक नहीं है तो मुझे लगता है नेताओं को समझ रखनी चाहिए और इस तरह के बयान करने से बचना चाहिए और बयान अगर देना ही है तो आप देश के हित के बारे में या फिर ऐसी चीजों के बारे में बयान दीजिए जो कि कहीं ना कहीं आपकी सरकार से आपके देश से पहले बंदूक इस तरह की चीजों के बयान देने से आप अपने आप को एक अशिक्षित और 1 बिलकुल लॉजिकल नेता साबित कर देते हैं तो मुझे लगता है इस पर इस तरह के बयान को नहीं देना चाहिए और उनको अपनी सोच बदलने की जल्द से जल्द आवश्यकता हैEk Vidhayak Ne Aisa Kaha Ki Mahilaye Baj Rahe Lekin Aise Bacche Ko Janm Na Dein Jo Sanskari Na Hote Ki Mujhe Lagta Hai Ki Aise Netaon Ko Apni Soch Badalni Chahiye Aur Dekhe Koi Bhi Baccha Apni Maa Ke Garbh Se Acchai Burayi Sanskar Ya Aur Aur Cheeje Seekh Kar Nahi Aata Hai Use Janm Lene Ke Baad In Chijon Ka Gyaan Hota Hai Ki Kya Cheez Sahi Hai Kya Cheez Galat Hai Sanskar Kya Hote Hain Ya Kya Nahi Hote Hain Kaun Si Kaun Si Cheez Karna Sahi Hai Kaun Si Kaun Si Cheez Nahi Karni Chahiye To In Sab Chijon Ka Gyaan Use Apne Parivar Aaspass Aur Karibi Logon Se Milta Hai To Netaon Ko Is Tarah Ka Bayan Dena Bilkul Bhi Sahi Nahi Hai Kyonki Unko Is Cheez Ki Samajh Honi Chahiye Ki Wah Jo Bol Rahe Hain Wah Sahi Nahi Hai Aur Kya Cheez Jab Mahilaon Ke Upar Is Tarah Is Tarah Ke Bayan Ka Kya Asar Hoga Ki Har Mahila Ke Liye Apna Baccha Bahut Jyada Priya Hota Hai Azeez Hota Hai To Agar Aap Kisi Mahila Ke Liye Is Tarah Se Bol Rahe To Aapke Andar Mahila Ke Liye Koi Bhi Samman Nahi Rah Gaya Hai Aur Aap Kisi Bhi Mahila Kyun Par Jab Uska Baccha Kaisa Hoga Kaisa Nahi Hoga Yeh Shuruvat Se Nahi Bol Sakte Hain To Is Tarah Ke Bayan Ka Koi Vajud Nahi Hai Koi Logic Nahi Hai To Mujhe Lagta Hai Netaon Ko Samajh Rakhni Chahiye Aur Is Tarah Ke Bayan Karne Se Bachana Chahiye Aur Bayan Agar Dena Hi Hai To Aap Desh Ke Hit Ke Baare Mein Ya Phir Aisi Chijon Ke Baare Mein Bayan Dijiye Jo Ki Kahin Na Kahin Aapki Sarkar Se Aapke Desh Se Pehle Bandook Is Tarah Ki Chijon Ke Bayan Dene Se Aap Apne Aap Ko Ek Ashikshit Aur 1 Bilkul Logical Neta Saabit Kar Dete Hain To Mujhe Lagta Hai Is Par Is Tarah Ke Bayan Ko Nahi Dena Chahiye Aur Unko Apni Soch Badalne Ki Jald Se Jald Avashyakta Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन ऐसे ही नेता होते हैं ऐसे ही लोग होते हैं जो हमारे देश को डेवलप होने से रोकते हैं मुझे लगता है इन्हीं जैसे लोगों को लगता है कि एक तरह के लोग सही होते हैं और एक तरह के लोग गलत होते हैं तो अगर आप उनके टाइप के लोगों में से नहीं हैं तो आप गलत हैं आप सर्वाइव नहीं करनी चाहिए तो यही है लोग नाशनलिस्म से प्ले टेशन डिस्क्रिमिनेशन लाते हैं हमारे देश में और जब हम ही नहीं गोपाल में रख देते हैं तो हम और ज्यादा उन्हें नफरत करते हैं यह सब चीजें फैलाने के लिए तो हम उनका स्टेटमेंट सेंसिटिव इन सेंसिटिव तो लगता ही है कि उन्होंने ऐसा कहा पर मुझे ज्यादा अगर हम जाकर सोचे तो मुझे यह बहुत ही डिस्टर्ब नहीं फिर भी लगता है कि आप ऐसा सोच कर सकते हैं कि जो एक पर्टिकुलर टाइप के लोग हैं वह हमारे देश में होना ही नहीं चाहिए भैया वह पैदा ही नहीं होना चाहिए तो मुझे लगता है कि हमें ऐसे नेताओं को चांस देना कम करना पड़ेगा छोड़ना चाहिए और ऐसे नहीं तो क्यों एक्सेप्ट नहीं करना चाहिए ऐसे विधायकों को
Romanized Version
लेकिन ऐसे ही नेता होते हैं ऐसे ही लोग होते हैं जो हमारे देश को डेवलप होने से रोकते हैं मुझे लगता है इन्हीं जैसे लोगों को लगता है कि एक तरह के लोग सही होते हैं और एक तरह के लोग गलत होते हैं तो अगर आप उनके टाइप के लोगों में से नहीं हैं तो आप गलत हैं आप सर्वाइव नहीं करनी चाहिए तो यही है लोग नाशनलिस्म से प्ले टेशन डिस्क्रिमिनेशन लाते हैं हमारे देश में और जब हम ही नहीं गोपाल में रख देते हैं तो हम और ज्यादा उन्हें नफरत करते हैं यह सब चीजें फैलाने के लिए तो हम उनका स्टेटमेंट सेंसिटिव इन सेंसिटिव तो लगता ही है कि उन्होंने ऐसा कहा पर मुझे ज्यादा अगर हम जाकर सोचे तो मुझे यह बहुत ही डिस्टर्ब नहीं फिर भी लगता है कि आप ऐसा सोच कर सकते हैं कि जो एक पर्टिकुलर टाइप के लोग हैं वह हमारे देश में होना ही नहीं चाहिए भैया वह पैदा ही नहीं होना चाहिए तो मुझे लगता है कि हमें ऐसे नेताओं को चांस देना कम करना पड़ेगा छोड़ना चाहिए और ऐसे नहीं तो क्यों एक्सेप्ट नहीं करना चाहिए ऐसे विधायकों कोLekin Aise Hi Neta Hote Hain Aise Hi Log Hote Hain Jo Hamare Desh Ko Develop Hone Se Rokte Hain Mujhe Lagta Hai Inhin Jaise Logon Ko Lagta Hai Ki Ek Tarah Ke Log Sahi Hote Hain Aur Ek Tarah Ke Log Galat Hote Hain To Agar Aap Unke Type Ke Logon Mein Se Nahi Hain To Aap Galat Hain Aap Survive Nahi Karni Chahiye To Yahi Hai Log Nashanalism Se Play Teshan Discrimination Late Hain Hamare Desh Mein Aur Jab Hum Hi Nahi Gopal Mein Rakh Dete Hain To Hum Aur Jyada Unhen Nafrat Karte Hain Yeh Sab Cheezen Phailane Ke Liye To Hum Unka Statement Sensitive In Sensitive To Lagta Hi Hai Ki Unhone Aisa Kaha Par Mujhe Jyada Agar Hum Jaakar Soche To Mujhe Yeh Bahut Hi Disturb Nahi Phir Bhi Lagta Hai Ki Aap Aisa Soch Kar Sakte Hain Ki Jo Ek Particular Type Ke Log Hain Wah Hamare Desh Mein Hona Hi Nahi Chahiye Bhaiya Wah Paida Hi Nahi Hona Chahiye To Mujhe Lagta Hai Ki Hume Aise Netaon Ko Chance Dena Kum Karna Padega Chodna Chahiye Aur Aise Nahi To Kyun Except Nahi Karna Chahiye Aise Vidhayakon Ko
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल नेताओं के बेतुके बयानों का चलन सा हो गया है और फिर मीडिया ऐसे बयानों को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर बताती है जिससे भी मुझे लगता है कि यह नेता लोग ज्यादा इस तरह की बयानबाजी करते हैं क्योंकि अभी चुनाव का समय है और 2018 में इलेक्शन होने वाले हैं और राजनीति में अपनी महत्व को दिखाने के लिए अपने आपको साबित करने के लिए और सुर्खियों में रहने के लिए मुझे लगता है नेता लोग इस तरह के बयान देते हैं सबसे पहले तो मैं यह कहना चाहूंगी मीडिया को इस तरह के बयानों को इतना हाइलाइट नहीं करना चाहिए जिससे यह नेता लोग सुर्खियों में रहना चाहते हैं और इस तरह के बेतुके बयान देते हैं और दूसरी बार जनता को भी इस तरह के नेताओं को ज्यादा तवज्जो नहीं देनी चाहिए जो इस तरह की बेतुकी और उनकी बातें करते हैं उन्हें समझ ही नहीं है कि वह क्या बोल रहे हैं उस बात का अर्थ क्या है उसका क्या मतलब निकलता है क्या उन्हें पता है कि एक बच्चे का संस्कार बंद होना सिर्फ मां की जिम्मेदारी है या पूरे परिवार की जिम्मेदारी है या उसके पिता की भी जिम्मेदारी है क्या वह इन बातों को समझते हैं क्या वह इन बातों को जानते हैं नहीं वह सिर्फ बयानबाजी करते हैं सिर्फ बयान देना जानते हैं ताकि उनके बयानों को विवादास्पद बताकर या गलत बता कर या सुर्खियों में लगाकर मीडिया जोर शोर से छापे और उस विधायक का नाम हो जनता उसे जानने लगे और आप और हम जैसे लोग सोच मंच पर उनका बखान करें उनकी बात करें उनके बारे में जाने सोचे उनके बारे में बात करें मुझे लगता है बस वह यही चाहते हैं तो हमें जनता को इन्वाइट करना चाहिए उन्हें तवज्जो नहीं देनी चाहिए
Romanized Version
आजकल नेताओं के बेतुके बयानों का चलन सा हो गया है और फिर मीडिया ऐसे बयानों को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर बताती है जिससे भी मुझे लगता है कि यह नेता लोग ज्यादा इस तरह की बयानबाजी करते हैं क्योंकि अभी चुनाव का समय है और 2018 में इलेक्शन होने वाले हैं और राजनीति में अपनी महत्व को दिखाने के लिए अपने आपको साबित करने के लिए और सुर्खियों में रहने के लिए मुझे लगता है नेता लोग इस तरह के बयान देते हैं सबसे पहले तो मैं यह कहना चाहूंगी मीडिया को इस तरह के बयानों को इतना हाइलाइट नहीं करना चाहिए जिससे यह नेता लोग सुर्खियों में रहना चाहते हैं और इस तरह के बेतुके बयान देते हैं और दूसरी बार जनता को भी इस तरह के नेताओं को ज्यादा तवज्जो नहीं देनी चाहिए जो इस तरह की बेतुकी और उनकी बातें करते हैं उन्हें समझ ही नहीं है कि वह क्या बोल रहे हैं उस बात का अर्थ क्या है उसका क्या मतलब निकलता है क्या उन्हें पता है कि एक बच्चे का संस्कार बंद होना सिर्फ मां की जिम्मेदारी है या पूरे परिवार की जिम्मेदारी है या उसके पिता की भी जिम्मेदारी है क्या वह इन बातों को समझते हैं क्या वह इन बातों को जानते हैं नहीं वह सिर्फ बयानबाजी करते हैं सिर्फ बयान देना जानते हैं ताकि उनके बयानों को विवादास्पद बताकर या गलत बता कर या सुर्खियों में लगाकर मीडिया जोर शोर से छापे और उस विधायक का नाम हो जनता उसे जानने लगे और आप और हम जैसे लोग सोच मंच पर उनका बखान करें उनकी बात करें उनके बारे में जाने सोचे उनके बारे में बात करें मुझे लगता है बस वह यही चाहते हैं तो हमें जनता को इन्वाइट करना चाहिए उन्हें तवज्जो नहीं देनी चाहिएAajkal Netaon Ke Betuke Bayanon Ka Chalan Sa Ho Gaya Hai Aur Phir Media Aise Bayanon Ko Bahut Badha Chadhakar Batati Hai Jisse Bhi Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Neta Log Jyada Is Tarah Ki Bayanbazi Karte Hain Kyonki Abhi Chunav Ka Samay Hai Aur 2018 Mein Election Hone Wale Hain Aur Rajneeti Mein Apni Mahatva Ko Dikhane Ke Liye Apne Aapko Saabit Karne Ke Liye Aur Surkhiyon Mein Rehne Ke Liye Mujhe Lagta Hai Neta Log Is Tarah Ke Bayan Dete Hain Sabse Pehle To Main Yeh Kehna Chahungi Media Ko Is Tarah Ke Bayanon Ko Itna Highlight Nahi Karna Chahiye Jisse Yeh Neta Log Surkhiyon Mein Rehna Chahte Hain Aur Is Tarah Ke Betuke Bayan Dete Hain Aur Dusri Baar Janta Ko Bhi Is Tarah Ke Netaon Ko Jyada Tavajjo Nahi Deni Chahiye Jo Is Tarah Ki Betuki Aur Unki Batein Karte Hain Unhen Samajh Hi Nahi Hai Ki Wah Kya Bol Rahe Hain Us Baat Ka Arth Kya Hai Uska Kya Matlab Nikalta Hai Kya Unhen Pata Hai Ki Ek Bacche Ka Sanskar Band Hona Sirf Maa Ki Jimmedari Hai Ya Poore Parivar Ki Jimmedari Hai Ya Uske Pita Ki Bhi Jimmedari Hai Kya Wah In Baaton Ko Samajhte Hain Kya Wah In Baaton Ko Jante Hain Nahi Wah Sirf Bayanbazi Karte Hain Sirf Bayan Dena Jante Hain Taki Unke Bayanon Ko Vivadaspad Batakar Ya Galat Bata Kar Ya Surkhiyon Mein Lagakar Media Jor Shor Se Chape Aur Us Vidhayak Ka Naam Ho Janta Use Jaanne Lage Aur Aap Aur Hum Jaise Log Soch Manch Par Unka Bakhan Karen Unki Baat Karen Unke Baare Mein Jaane Soche Unke Baare Mein Baat Karen Mujhe Lagta Hai Bus Wah Yahi Chahte Hain To Hume Janta Ko Invite Karna Chahiye Unhen Tavajjo Nahi Deni Chahiye
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Vidhayak Ne Kaha Ki Mahilaen Banjh Rahen Magar Aise Bacche Ko Janam Na Dein Jo Sanskari Na Ho Aise Netaon Ka Kya Karna Chahiye,


vokalandroid