अपनी अलग पहचान कैसे बना सकते है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी पहचान बनानी है कि सारे देश में हमको लोग जाने तो आपको समाज...जवाब पढ़िये
अभी पहचान बनानी है कि सारे देश में हमको लोग जाने तो आपको समाज सेवा करनी चाहिए समाज सेवा एक ऐसी जी जाएगी आपकी पहचान खुद ब खुद आपको मालूम नहीं चलेगा कि देश के लोग हमें कैसे जानते जाने लगे हम उनको नहीं जाने के लिए हमें जाने के लिए समाज सेवा सबसे बड़ी चीज है समाज सेवा कोई भी काम हो सकता है किसी की भी मदद करो पर इतना मत करो हो सकता है इसके लिए आपके परिवार के आपके मित्र आपके रिश्तेदार आपके विरोधी हो जाए क्योंकि समाज सेवा में किसी को कोई फायदा नहीं मिलती जैसे पैसा मिले कोई जॉब नहीं है वह निस्वार्थ सेवा है लेकिन निस्वार्थ जो लोग अपना स्वार्थ नहीं देते वही लोग देश में रोशन हो पाते हैं क्योंकि परोपकार दर्द जो सज्जन कभी नहीं मरते हैं सूर्य चंद्रमा जब तक हैं उन पर एस्से झड़ते हैं जो परोपकार केंद्रित हो जाए तो उनका नाम तो मरने के बाद ही मर जाता है उनकी पहचान ऐसी अमित पत्थर की लकीर हो जाती है वह कहीं मिटती नहीं है उनका तो उदाहरण दिया जाता है कि परोपकारी बनो तो ऐसा बनो तो परोपकार ऐसी पहचान है जो देश क्या विदेशों में भी आपकी पहचान बना देगी लेकिन है करना कठिन है लेकिन मनुष्य के निश्चय के आगे तो पहाड़ भी सर झुका देता है चट्टानें भी टूट जाते हैं जब मनुष्य अपना दृढ़ निश्चय ठान लेता है तो मनुष्य के लिए कुछ असंभव नहीं हैAbhi Pehchaan Banani Hai Ki Sare Desh Mein Hamko Log Jaane To Aapko Samaaj Seva Karni Chahiye Samaaj Seva Ek Aisi Ji Jayegi Aapki Pehchaan Khud B Khud Aapko Maloom Nahi Chalega Ki Desh Ke Log Hume Kaise Jante Jaane Lage Hum Unko Nahi Jaane Ke Liye Hume Jaane Ke Liye Samaaj Seva Sabse Badi Cheez Hai Samaaj Seva Koi Bhi Kaam Ho Sakta Hai Kisi Ki Bhi Madad Karo Par Itna Mat Karo Ho Sakta Hai Iske Liye Aapke Parivar Ke Aapke Mitra Aapke Rishtedar Aapke Virodhi Ho Jaye Kyonki Samaaj Seva Mein Kisi Ko Koi Fayda Nahi Milti Jaise Paisa Mile Koi Job Nahi Hai Wah Niswaarth Seva Hai Lekin Niswaarth Jo Log Apna Swartha Nahi Dete Wahi Log Desh Mein Roshan Ho Paate Hain Kyonki Paropkaar Dard Jo Sajjan Kabhi Nahi Marte Hain Surya Chandrama Jab Tak Hain Un Par Essay Jhadate Hain Jo Paropkaar Kendrit Ho Jaye To Unka Naam To Marne Ke Baad Hi Mar Jata Hai Unki Pehchaan Aisi Amit Pathar Ki Lakir Ho Jati Hai Wah Kahin Mitati Nahi Hai Unka To Udaharan Diya Jata Hai Ki Paropakari Bano To Aisa Bano To Paropkaar Aisi Pehchaan Hai Jo Desh Kya Videshon Mein Bhi Aapki Pehchaan Bana Degi Lekin Hai Karna Kathin Hai Lekin Manushya Ke Nishchay Ke Aage To Pahad Bhi Sar Jhuka Deta Hai Chattanen Bhi Toot Jaate Hain Jab Manushya Apna Dridh Nishchay Than Leta Hai To Manushya Ke Liye Kuch Asambhav Nahi Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ठेकेदार अपनी अलग पहचान बनानी है तो आपको कुछ डिफरेंट करना भी होगा जैसे कि...जवाब पढ़िये
ठेकेदार अपनी अलग पहचान बनानी है तो आपको कुछ डिफरेंट करना भी होगा जैसे कि अगर मैं सैंपल लेकर आपको समझाऊं कि अगर स्कूल में 50 बच्चे हैं 50 बच्चों में अलग पहचान दो ही टाइप के बच्चों की होती है याद तू जो फेल होते रहते हर बार जो कुछ नहीं कर पाते तो उनका एक टॉपिक होता है कि एग्जाम क्यों लिखने आए जिसको तो नहीं पहले या जॉब करते हैं जो उनकी पहचान होती मेडिकल स्टूडेंट्स होते हैं उनकी पहचान नहीं होती क्योंकि वह भीड़ में आते हैं भीड़ के साथ आते हैं वह उनकी कोई पहचान नहीं होती है एग्जांपल साफ-साफ लिख कर आपको कुछ डिफरेंट करना पड़ेगा हर फील्ड में कुछ ना कुछ ऐसा तरीका होता जिसमें आप कुछ ऐसे डिफरेंट कर सकते हैं जिससे आपकी पहचान बन जाएThekedaar Apni Alag Pehchaan Banani Hai To Aapko Kuch Different Karna Bhi Hoga Jaise Ki Agar Main Sample Lekar Aapko Samjhau Ki Agar School Mein 50 Bacche Hain 50 Bacchon Mein Alag Pehchaan Do Hi Type Ke Bacchon Ki Hoti Hai Yaad Tu Jo Fail Hote Rehte Har Baar Jo Kuch Nahi Kar Paate To Unka Ek Topic Hota Hai Ki Exam Kyun Likhne Aaye Jisko To Nahi Pehle Ya Job Karte Hain Jo Unki Pehchaan Hoti Medical Students Hote Hain Unki Pehchaan Nahi Hoti Kyonki Wah Bheed Mein Aate Hain Bheed Ke Saath Aate Hain Wah Unki Koi Pehchaan Nahi Hoti Hai Example Saaf Saaf Likh Kar Aapko Kuch Different Karna Padega Har Field Mein Kuch Na Kuch Aisa Tarika Hota Jisme Aap Kuch Aise Different Kar Sakte Hain Jisse Aapki Pehchaan Ban Jaye
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Apni Alag Pehchaan Kaise Bana Sakte Hai, How Can You Create Your Own Identity? , Manushya Kaise Bana