क्या भारतीय खिलाड़ियों को भी अन्य क्रिकेट लीग में खेलना चाहिए? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो क्रिकेटर भारतीय टीम से जुड़े हुए हैं यानि कि भारतीय टीम के सदस्य हैं उन्हें तू दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में बिल्कुल नहीं खेलना चाहिए क्योंकि पहले से ही भारतीय टीम का जो शेडूल होता है वह काफी ज्यादा एक्टिव होता है यानी कि वह काफी ज्यादा व्यस्त होते हैं उनके पास अपने लिए अपने परिवार वालों के लिए बिलकुल समय नहीं होता है लगातार उनके विदेशी दौरे होते रहते हैं साथ ही साथ डोमेस्टिक टूर्नामेंट में भी वह शिरकत करते हैं इसके अलावा लगभग 2 महीने IPL चलता है तो इसलिए मुझे लगता है कि जो भारतीय खिलाड़ी हैं उन्हें अन्य देशों के क्रिकेट लीग से अपने आप को भी रखना बेहतर रहता लेकिन जो खिलाड़ी भारतीय टीम के सदस्य नहीं है और यह कोशिश कर रहे हैं कि जल्द ही उनका सिलेक्शन भारतीय टीम में हो जाए उनके लिए अन्य देशों के क्रिकेट लीग में खेलना एक अच्छा मौका साबित हो सकता है वह दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में खेल कर अपने आपको साबित कर सकते हैं और अपनी प्रतिभा को भी निकाल सकते हैं क्योंकि दूसरे देशों में भी बहुत सारे अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी खेलते हैं जिससे उन्हें सीखने काफी कुछ मिल सकता है तो युवाओं के लिए एक अच्छा अवसर है कि अगर वह दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में खेले और दूसरे खिलाड़ियों से कुछ अच्छा सीख हैं तो इससे उनके भारतीय टीम में शामिल होने की जो संभावना है वह काफी ज्यादा बढ़ जाएगी अगर वह वहां पर अच्छा प्रदर्शन करते हैं लेकिन विराट कोहली या फिर रोहित शर्मा महेंद्र सिंह धोनी इस तरह की जो खिलाड़ी है जो पहले से ही बहुत ज्यादा व्यस्त रहते हैं भारतीय क्रिकेट के वजह से उन्हें दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में खोल खेलने की कोई आवश्यकता नहीं है और उन्हें नहीं खेलना चाहिए क्योंकि पहले से ही वह बहुत ज्यादा व्यस्त होते हैं उनके पास अपने परिवार को देने के लिए भी बहुत कम समय होता है और अगर उसमें भी वह दूसरे देश में क्रिकेट लीग खेलने के लिए चले जाएंगे तो और भी समय नहीं बचेगा साथ ही साथ उनकी बॉडी को रिलैक्स करने का भी प्रॉपर समय नहीं मिल पाएगा जिससे उनका फिटनेस सही नहीं रह सकता है और वह इंजर्ड भी हो सकते हैं
Romanized Version
जो क्रिकेटर भारतीय टीम से जुड़े हुए हैं यानि कि भारतीय टीम के सदस्य हैं उन्हें तू दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में बिल्कुल नहीं खेलना चाहिए क्योंकि पहले से ही भारतीय टीम का जो शेडूल होता है वह काफी ज्यादा एक्टिव होता है यानी कि वह काफी ज्यादा व्यस्त होते हैं उनके पास अपने लिए अपने परिवार वालों के लिए बिलकुल समय नहीं होता है लगातार उनके विदेशी दौरे होते रहते हैं साथ ही साथ डोमेस्टिक टूर्नामेंट में भी वह शिरकत करते हैं इसके अलावा लगभग 2 महीने IPL चलता है तो इसलिए मुझे लगता है कि जो भारतीय खिलाड़ी हैं उन्हें अन्य देशों के क्रिकेट लीग से अपने आप को भी रखना बेहतर रहता लेकिन जो खिलाड़ी भारतीय टीम के सदस्य नहीं है और यह कोशिश कर रहे हैं कि जल्द ही उनका सिलेक्शन भारतीय टीम में हो जाए उनके लिए अन्य देशों के क्रिकेट लीग में खेलना एक अच्छा मौका साबित हो सकता है वह दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में खेल कर अपने आपको साबित कर सकते हैं और अपनी प्रतिभा को भी निकाल सकते हैं क्योंकि दूसरे देशों में भी बहुत सारे अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी खेलते हैं जिससे उन्हें सीखने काफी कुछ मिल सकता है तो युवाओं के लिए एक अच्छा अवसर है कि अगर वह दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में खेले और दूसरे खिलाड़ियों से कुछ अच्छा सीख हैं तो इससे उनके भारतीय टीम में शामिल होने की जो संभावना है वह काफी ज्यादा बढ़ जाएगी अगर वह वहां पर अच्छा प्रदर्शन करते हैं लेकिन विराट कोहली या फिर रोहित शर्मा महेंद्र सिंह धोनी इस तरह की जो खिलाड़ी है जो पहले से ही बहुत ज्यादा व्यस्त रहते हैं भारतीय क्रिकेट के वजह से उन्हें दूसरे देशों के क्रिकेट लीग में खोल खेलने की कोई आवश्यकता नहीं है और उन्हें नहीं खेलना चाहिए क्योंकि पहले से ही वह बहुत ज्यादा व्यस्त होते हैं उनके पास अपने परिवार को देने के लिए भी बहुत कम समय होता है और अगर उसमें भी वह दूसरे देश में क्रिकेट लीग खेलने के लिए चले जाएंगे तो और भी समय नहीं बचेगा साथ ही साथ उनकी बॉडी को रिलैक्स करने का भी प्रॉपर समय नहीं मिल पाएगा जिससे उनका फिटनेस सही नहीं रह सकता है और वह इंजर्ड भी हो सकते हैंJo Cricketer Bhartiya Team Se Jude Hue Hain Yani Ki Bhartiya Team Ke Sadasya Hain Unhen Tu Dusre Deshon Ke Cricket League Mein Bilkul Nahi Khelna Chahiye Kyonki Pehle Se Hi Bhartiya Team Ka Jo Shedul Hota Hai Wah Kafi Jyada Active Hota Hai Yani Ki Wah Kafi Jyada Vyasta Hote Hain Unke Paas Apne Liye Apne Parivar Walon Ke Liye Bilkul Samay Nahi Hota Hai Lagatar Unke Videshi Daure Hote Rehte Hain Saath Hi Saath Domestic Tournament Mein Bhi Wah Shirakat Karte Hain Iske Alava Lagbhag 2 Mahine IPL Chalta Hai To Isliye Mujhe Lagta Hai Ki Jo Bhartiya Khiladi Hain Unhen Anya Deshon Ke Cricket League Se Apne Aap Ko Bhi Rakhna Behtar Rehta Lekin Jo Khiladi Bhartiya Team Ke Sadasya Nahi Hai Aur Yeh Koshish Kar Rahe Hain Ki Jald Hi Unka Selection Bhartiya Team Mein Ho Jaye Unke Liye Anya Deshon Ke Cricket League Mein Khelna Ek Accha Mauka Saabit Ho Sakta Hai Wah Dusre Deshon Ke Cricket League Mein Khel Kar Apne Aapko Saabit Kar Sakte Hain Aur Apni Pratibha Ko Bhi Nikal Sakte Hain Kyonki Dusre Deshon Mein Bhi Bahut Sare Antar Rashtriya Khiladi Khelte Hain Jisse Unhen Seekhne Kafi Kuch Mil Sakta Hai To Yuvaon Ke Liye Ek Accha Avsar Hai Ki Agar Wah Dusre Deshon Ke Cricket League Mein Khele Aur Dusre Khiladiyon Se Kuch Accha Seekh Hain To Isse Unke Bhartiya Team Mein Shamil Hone Ki Jo Sambhavna Hai Wah Kafi Jyada Badh Jayegi Agar Wah Wahan Par Accha Pradarshan Karte Hain Lekin Virat Kohli Ya Phir Rohit Sharma Mahendra Singh Dhoni Is Tarah Ki Jo Khiladi Hai Jo Pehle Se Hi Bahut Jyada Vyasta Rehte Hain Bhartiya Cricket Ke Wajah Se Unhen Dusre Deshon Ke Cricket League Mein Khol Khelne Ki Koi Avashyakta Nahi Hai Aur Unhen Nahi Khelna Chahiye Kyonki Pehle Se Hi Wah Bahut Jyada Vyasta Hote Hain Unke Paas Apne Parivar Ko Dene Ke Liye Bhi Bahut Kum Samay Hota Hai Aur Agar Usamen Bhi Wah Dusre Desh Mein Cricket League Khelne Ke Liye Chale Jaenge To Aur Bhi Samay Nahi Bachega Saath Hi Saath Unki Body Ko Relax Karne Ka Bhi Proper Samay Nahi Mil Payega Jisse Unka Fitness Sahi Nahi Rah Sakta Hai Aur Wah Injured Bhi Ho Sakte Hain
Likes  10  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Bharatiya Khiladiyon Ko Bhi Anya Cricket League Mein Khelna Chahiye,Should The Indian Players Also Play In The Other Cricket League?,


vokalandroid