पश्चिम बंगाल पंचायत चुनावों में 11 लोगों की मौत हो गई। इससे बचने के लिए क्या किया जाना चाहिए? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसके थे तब शायद ही 6 लोगों की मौत हुई थी अब शायद 11 लोगों की मौत हो गई है तो उसे दिखाता है कहीं ना कहीं पश्चिम बंगाल की स्थिति ममता के समय में इतनी बर्बाद हो चुकी है आज अगर विदेश का कोई भी प्रदेश सबसे बुरी तरीके से दंगे से प्रभावित है तो पश्चिम बंगाल में जहां इस सरकार पुलिस प्रशासन और अपराध न्यायालय कोर्ट सब मिलकर भी एक चुनाव को शांतिपूर्ण नहीं जला सकते करा सकते तो आप समझ लिए कितनी बुरी स्थिति व प्रदेश हैं मुझे लगता है कि सरकार को बीच में दखल देना चाहिए देखना चाहिए जिस प्रकार लोगों की हत्या हो रही है जिंदगी हो रहा है कहीं ना कहीं ऐसी सरकार को के खिलाफ राज्यपाल को रिपोर्ट राष्ट्रपति को भेजनी चाहिए और प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाना अब जरूरी हो गया है क्योंकि अब यह प्रदेश पूरी तरीके से ममता जी ने बर्बाद करके रखा हुआ है
Romanized Version
उसके थे तब शायद ही 6 लोगों की मौत हुई थी अब शायद 11 लोगों की मौत हो गई है तो उसे दिखाता है कहीं ना कहीं पश्चिम बंगाल की स्थिति ममता के समय में इतनी बर्बाद हो चुकी है आज अगर विदेश का कोई भी प्रदेश सबसे बुरी तरीके से दंगे से प्रभावित है तो पश्चिम बंगाल में जहां इस सरकार पुलिस प्रशासन और अपराध न्यायालय कोर्ट सब मिलकर भी एक चुनाव को शांतिपूर्ण नहीं जला सकते करा सकते तो आप समझ लिए कितनी बुरी स्थिति व प्रदेश हैं मुझे लगता है कि सरकार को बीच में दखल देना चाहिए देखना चाहिए जिस प्रकार लोगों की हत्या हो रही है जिंदगी हो रहा है कहीं ना कहीं ऐसी सरकार को के खिलाफ राज्यपाल को रिपोर्ट राष्ट्रपति को भेजनी चाहिए और प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाना अब जरूरी हो गया है क्योंकि अब यह प्रदेश पूरी तरीके से ममता जी ने बर्बाद करके रखा हुआ हैUske The Tab Shayad Hi 6 Logon Ki Maut Hui Thi Ab Shayad 11 Logon Ki Maut Ho Gayi Hai To Use Dikhaata Hai Kahin Na Kahin Paschim Bengal Ki Sthiti Mamata Ke Samay Mein Itni Barbad Ho Chuki Hai Aaj Agar Videsh Ka Koi Bhi Pradesh Sabse Buri Tarike Se Denge Se Prabhavit Hai To Paschim Bengal Mein Jahan Is Sarkar Police Prashasan Aur Apradh Nyayalaya Court Sab Milkar Bhi Ek Chunav Ko Shantipurna Nahi Jala Sakte Kra Sakte To Aap Samajh Liye Kitni Buri Sthiti V Pradesh Hain Mujhe Lagta Hai Ki Sarkar Ko Beech Mein Dakhal Dena Chahiye Dekhna Chahiye Jis Prakar Logon Ki Hatya Ho Rahi Hai Zindagi Ho Raha Hai Kahin Na Kahin Aisi Sarkar Ko Ke Khilaf Rajyapal Ko Report Rashtrapati Ko Bhejnee Chahiye Aur Pradesh Mein Rashtrapati Shasan Lagana Ab Zaroori Ho Gaya Hai Kyonki Ab Yeh Pradesh Puri Tarike Se Mamata Ji Ne Barbad Karke Rakha Hua Hai
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

ques_icon

ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजेंद्र जी पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान करीब 11 लोगों की मौत हो गई इस से साफ दिखाई देते हैं कि कैसे ममता बनर्जी के राज में पश्चिम बंगाल की हालत बहुत खराब हो चुकी है पश्चिम बंगाल को जरूरत है एक नए राष्ट्रीयता की एक नई तरह की राजनीति कि मैं यह नहीं कह रहा कि वहां पर कांग्रेस या बीजेपी और कुछ ऐसा कोई ऐसी सरकार आए कोई ऐसी पार्टी है लेकिन ऐसे लोग हैं जो यह पश्चिमी वालों की गुंडागर्दी है उसे कम कर सके क्योंकि पश्चिम बंगाल की हालत बहुत खराब है फिर चाहे रोहिंग्या मामला हो जाए ममता बनर्जी की बयान हूं या यह गुंडाराज हो गया हमने देखा कि चुनाव के लिए नामांकन भरने के लिए भी बहुत सारे लोगों को आगे तक आने नहीं दिया गया तू ही गुंडाराज इतना ज्यादा जिद डेमोक्रेसी के ऊपर हावी हो रहा है कि जो भारत में जो यह स्वतंत्रता हमें सबको मिली है हर काम करने की कोशिश की जा रही है और जब जान अभी जा रही है तो यह बहुत साफ-साफ समझ में आ रही है कि वहां की राजनीति कैसी है तो अब चुनाव में उनकी जनता को यह देख सुरक्षित करना पड़ेगा कि ममता बनर्जी को वोट ना जाकर किसी और पार्टी को वोट दिए जाएं क्योंकि अगर ऐसे ही चलता रहा तो मां की हालत और ज्यादा खराब हो जाएगी
Romanized Version
राजेंद्र जी पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान करीब 11 लोगों की मौत हो गई इस से साफ दिखाई देते हैं कि कैसे ममता बनर्जी के राज में पश्चिम बंगाल की हालत बहुत खराब हो चुकी है पश्चिम बंगाल को जरूरत है एक नए राष्ट्रीयता की एक नई तरह की राजनीति कि मैं यह नहीं कह रहा कि वहां पर कांग्रेस या बीजेपी और कुछ ऐसा कोई ऐसी सरकार आए कोई ऐसी पार्टी है लेकिन ऐसे लोग हैं जो यह पश्चिमी वालों की गुंडागर्दी है उसे कम कर सके क्योंकि पश्चिम बंगाल की हालत बहुत खराब है फिर चाहे रोहिंग्या मामला हो जाए ममता बनर्जी की बयान हूं या यह गुंडाराज हो गया हमने देखा कि चुनाव के लिए नामांकन भरने के लिए भी बहुत सारे लोगों को आगे तक आने नहीं दिया गया तू ही गुंडाराज इतना ज्यादा जिद डेमोक्रेसी के ऊपर हावी हो रहा है कि जो भारत में जो यह स्वतंत्रता हमें सबको मिली है हर काम करने की कोशिश की जा रही है और जब जान अभी जा रही है तो यह बहुत साफ-साफ समझ में आ रही है कि वहां की राजनीति कैसी है तो अब चुनाव में उनकी जनता को यह देख सुरक्षित करना पड़ेगा कि ममता बनर्जी को वोट ना जाकर किसी और पार्टी को वोट दिए जाएं क्योंकि अगर ऐसे ही चलता रहा तो मां की हालत और ज्यादा खराब हो जाएगीRajendra Ji Paschim Bengal Mein Chunav Ke Dauran Karib 11 Logon Ki Maut Ho Gayi Is Se Saaf Dikhai Dete Hain Ki Kaise Mamata Banerjee Ke Raj Mein Paschim Bengal Ki Halat Bahut Kharab Ho Chuki Hai Paschim Bengal Ko Zaroorat Hai Ek Naye Rastriyata Ki Ek Nayi Tarah Ki Rajneeti Ki Main Yeh Nahi Keh Raha Ki Wahan Par Congress Ya Bjp Aur Kuch Aisa Koi Aisi Sarkar Aaye Koi Aisi Party Hai Lekin Aise Log Hain Jo Yeh Pashchimi Walon Ki Gundagardi Hai Use Kum Kar Sake Kyonki Paschim Bengal Ki Halat Bahut Kharab Hai Phir Chahe Rohingya Maamla Ho Jaye Mamata Banerjee Ki Bayan Hoon Ya Yeh Gundaraj Ho Gaya Humne Dekha Ki Chunav Ke Liye Namankan Bharne Ke Liye Bhi Bahut Sare Logon Ko Aage Tak Aane Nahi Diya Gaya Tu Hi Gundaraj Itna Jyada Jid Democracy Ke Upar Havi Ho Raha Hai Ki Jo Bharat Mein Jo Yeh Swatantrata Hume Sabko Mili Hai Har Kaam Karne Ki Koshish Ki Ja Rahi Hai Aur Jab Jaan Abhi Ja Rahi Hai To Yeh Bahut Saaf Saaf Samajh Mein Aa Rahi Hai Ki Wahan Ki Rajneeti Kaisi Hai To Ab Chunav Mein Unki Janta Ko Yeh Dekh Surakshit Karna Padega Ki Mamata Banerjee Ko Vote Na Jaakar Kisi Aur Party Ko Vote Diye Jayen Kyonki Agar Aise Hi Chalta Raha To Maa Ki Halat Aur Jyada Kharab Ho Jayegi
Likes  7  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चुनावों के दौरान इतना ज्यादा जो भीषण जो हिंसा भड़क गई जो उस 11 लोगों की मौत हो गई यह बहुत ही ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और एक तरीके से केवल एक जैसे हिटलर के जमाने में हो गई थी अपनी चीज शुक्रिया रखना किसी और को चुनाव नहीं लड़ने देना किसी और को कंट्रोल नहीं देना यानी कुल मिलाकर जो ममता बनर्जी की पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हरकत की है वह शर्मनाक घटना है बहुत ज्यादा निंदनीय घटना है जो केवल बातें बनाने से कुछ नहीं होगा जरूरत है इतनी ज्यादा कठोर कार्रवाई करने की और केवल उस कार्यकर्ता की नहीं बल्कि उस पार्टी के नेता सुप्रीमो ममता बनर्जी के ऊपर कारवाई करने कि जिससे कि उनके कार्यकर्ता संभल कर काम करें इस प्रकार की घटनाओं को योजना हिंसा को अंजाम ना दें यह ना सोचें कि वहां पर इतनी मेजोरिटी में उनकी सरकार दो कुछ भी कर सकते हैं तो जाहिर तौर पर सजा मिलनी चाहिए ओके बाय टीएमसी को नहीं जो भी जाना है ना बोला उसको क्योंकि हिंसा जो ऐसी चीजें होती हैं मान साइड नहीं होती है तभी
Romanized Version
चुनावों के दौरान इतना ज्यादा जो भीषण जो हिंसा भड़क गई जो उस 11 लोगों की मौत हो गई यह बहुत ही ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण घटना है और एक तरीके से केवल एक जैसे हिटलर के जमाने में हो गई थी अपनी चीज शुक्रिया रखना किसी और को चुनाव नहीं लड़ने देना किसी और को कंट्रोल नहीं देना यानी कुल मिलाकर जो ममता बनर्जी की पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हरकत की है वह शर्मनाक घटना है बहुत ज्यादा निंदनीय घटना है जो केवल बातें बनाने से कुछ नहीं होगा जरूरत है इतनी ज्यादा कठोर कार्रवाई करने की और केवल उस कार्यकर्ता की नहीं बल्कि उस पार्टी के नेता सुप्रीमो ममता बनर्जी के ऊपर कारवाई करने कि जिससे कि उनके कार्यकर्ता संभल कर काम करें इस प्रकार की घटनाओं को योजना हिंसा को अंजाम ना दें यह ना सोचें कि वहां पर इतनी मेजोरिटी में उनकी सरकार दो कुछ भी कर सकते हैं तो जाहिर तौर पर सजा मिलनी चाहिए ओके बाय टीएमसी को नहीं जो भी जाना है ना बोला उसको क्योंकि हिंसा जो ऐसी चीजें होती हैं मान साइड नहीं होती है तभीChunavon Ke Dauran Itna Jyada Jo Bhishan Jo Hinsa Bhadak Gayi Jo Us 11 Logon Ki Maut Ho Gayi Yeh Bahut Hi Jyada Durbhagyaporn Ghatna Hai Aur Ek Tarike Se Kewal Ek Jaise Hitler Ke Jamaane Mein Ho Gayi Thi Apni Cheez Shukriyaa Rakhna Kisi Aur Ko Chunav Nahi Ladane Dena Kisi Aur Ko Control Nahi Dena Yani Kul Milakar Jo Mamata Banerjee Ki Party Ke Karyakartao Ne Harkat Ki Hai Wah Sharmnaak Ghatna Hai Bahut Jyada Nindaniya Ghatna Hai Jo Kewal Batein Banane Se Kuch Nahi Hoga Zaroorat Hai Itni Jyada Kathor Karyawahi Karne Ki Aur Kewal Us Karyakarta Ki Nahi Balki Us Party Ke Neta Supremo Mamata Banerjee Ke Upar Karwai Karne Ki Jisse Ki Unke Karyakarta Sambhal Kar Kaam Karen Is Prakar Ki Ghatnaon Ko Yojana Hinsa Ko Anjaam Na Dein Yeh Na Sochen Ki Wahan Par Itni Majority Mein Unki Sarkar Do Kuch Bhi Kar Sakte Hain To Jaahir Taur Par Saja Milani Chahiye Ok By Tmc Ko Nahi Jo Bhi Jana Hai Na Bola Usko Kyonki Hinsa Jo Aisi Cheezen Hoti Hain Maan Side Nahi Hoti Hai Tabhi
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Paschim Bengal Panchayat Chunavon Mein 11 Logon Ki Maut Ho Gayi Isse Bachne Ke Liye Kya Kiya Jana Chahiye,In West Bengal Panchayat Elections, 11 People Died. What Should Be Done To Avoid This?,


vokalandroid