क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं?

Likes  26  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

आपको क्या लगता है कि हम लोग भारत देश के विकास में अपने लालच को लाकर बहुत ही बड़ी गलती कर रहे हैं? ...

डीजे देश हमेशा सर्वोपरि आना चाहिए क्योंकि अगर देश है तो उसमें हम रह पाएंगे अगर देश की व्यवस्था खराब हो जाएगी तो हमारी व्यवस्था अपने आप को खराब हो जाएगी तो अगर हम लालच करते हैं और हम उसकी वजह से ऐसा कुजवाब पढ़िये
ques_icon

मैं हर समय निराश और हर हुआ महसूस करता हूँ। अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए कोई सुझाव दें? ...

बहुत सारे तरीके हैं जिनसे आप अपनी इस निराशा से बाहर आ सकते हैं सबसे पहले तो अपनी इस निराशा को किसी के साथ बांटी आप किसी ऐसे परिजन से बात कर सकते हैं जिसे आज इस पर आप बहुत भरोसा करते हैं जिससे आपका कोईजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईमानदारी एक गुण है लोग हर समय मंदार ईमानदार हो सकते हैं ऐसा कुछ नहीं है तो 1 गुण है और इसमें समय की कोई पाबंदी नहीं है वह 24 घंटे पूरी जिंदगी कोई बात नहीं है कोई बात नहीं
ईमानदारी एक गुण है लोग हर समय मंदार ईमानदार हो सकते हैं ऐसा कुछ नहीं है तो 1 गुण है और इसमें समय की कोई पाबंदी नहीं है वह 24 घंटे पूरी जिंदगी कोई बात नहीं है कोई बात नहीं
Likes  117  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्त दो चीजें होती हैं एक तो यह कि वह जो आइडियल चीज जो आप चाहते हैं या वह जो स्टैंडर्ड है वह जो बेंचमार्क A1 तो और दूसरा यह कि जो रियालिटी है अब सवाल है कि क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं हां क्यों नहीं हो सकते होने में क्या है होने में तो डर से निकली हो सकते हैं और एक लेकिन क्या वह हैं क्या वह उस तरीके से बढ़ रहे हैं कि वहां हो सकते हैं या वहां पहुंच सकते हैं जी नहीं बिल्कुल नहीं लोग आज प्रतिस्पर्धा में बहुत ज्यादा इससे पहले कभी ऐसा नहीं था आज हमारे पास सब अशोक सुविधाएं हैं जाने के लिए है बात करने के लिए ट्रांसपोर्टेशन के लिए कम्युनिकेशन के लिए सब तरीके की सुख सुविधाएं रहने के लिए खाने पीने के लिए लेकिन आज इंसान इस होड़ में इस तरीके से लगा हुआ है एकत्रित करने में चीजों को अपने आप को ऊपर उठाने में कि उसे समझ नहीं आता वह ध्यान नहीं देता कि मैं किसी का बुरा तो नहीं कर किसी के साथ कोई अन्याय तो नहीं कर रहा कुछ गलत तो नहीं कहा लोग छोड़िए वह तो प्रकृति को भी नहीं छोड़ा तो यहां पर दिक्कत परेशानी आ जाती है अच्छा सारे काम क्या वह सही तरीके से करते हैं जी नहीं सारे काम सही तरीके से नहीं करता है एग्जांपल ही ले लीजिए वह इतने सारे लोग हैं चाहे वह छोटी कंपनियों बड़ी कंपनियों खोलकर बैठे हैं ऑफिस बना कर बैठे हैं कारोबार बना कर बैठे हैं क्या वह टैक्स देते हैं जिन्हें उनके मन में तो हमेशा ही लगा रहता है कि मैं कैसे अपना टैक्स का पैसा बचा लो अरे भाई आप टैक्स नहीं दोगे तो सरकार को पैसा कैसे मिलेगा सरकार काम कैसे करेगी तो जवाब आएगा भाई सरकार भी तो चोर है वहां पर भी तो काम नहीं होता वहां पर भी तो मेरा दिया हुआ पैसा वैसे उपयोग नहीं होता देखिए आप अपना फर्ज तो नहीं भाई है ना उसके बाद हम उसके बस की बात करेंगे कि भी वहां पर क्या कहानी है और उसको भी वही करना है डेफिनिटी उसको भी करना है जिसका जो काम है लेकिन क्या वह हो पा रहे हैं वह हो नहीं पा रहा तो इसीलिए और है कि हम एक दूसरे को देख कर कि नहीं नहीं वह तो नहीं कर रहा तो मेरे को भी करने की जरूरत नहीं है मैं क्यों करूं अगर मैं करता हूं तो मैं बहुत अलग थलग देखता हूं यह सारी हमारे अंदर सोच है यह प्रवृत्ति है तो इसको चेंज करना बहुत जरूरी है और अगर हम इसको नहीं करेंगे तो हम वैसे नहीं हो पाएंगे और ऐड वर्ल्ड रैंकिंग सोती है कई तरीके के रैंक होती है चाहे वह हैप्पीनेस इंडेक्स होता है आ जाए वह फल होता है चाहे वह बहुत सारी चीजें होती हैं तो उसमें हमारा नंबर काफी नीचे आता है भारत देश का नंबर काफी नीचे आता है और यहां पर ईमानदारी का भी होता है तो काफी नीचे आते हैं इस ऑफ़ डूइंग बिज़नेस भी होता है तो अभी हमारी राखी काफी अच्छी हुई है लेकिन यह सारी चीजें हमें को देखनी पड़ेगी मैरिज करनी पड़ी क्या ले जाना पड़ेगा अगर हम चाहे तो हम क्या नहीं कर सकते
दोस्त दो चीजें होती हैं एक तो यह कि वह जो आइडियल चीज जो आप चाहते हैं या वह जो स्टैंडर्ड है वह जो बेंचमार्क A1 तो और दूसरा यह कि जो रियालिटी है अब सवाल है कि क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं हां क्यों नहीं हो सकते होने में क्या है होने में तो डर से निकली हो सकते हैं और एक लेकिन क्या वह हैं क्या वह उस तरीके से बढ़ रहे हैं कि वहां हो सकते हैं या वहां पहुंच सकते हैं जी नहीं बिल्कुल नहीं लोग आज प्रतिस्पर्धा में बहुत ज्यादा इससे पहले कभी ऐसा नहीं था आज हमारे पास सब अशोक सुविधाएं हैं जाने के लिए है बात करने के लिए ट्रांसपोर्टेशन के लिए कम्युनिकेशन के लिए सब तरीके की सुख सुविधाएं रहने के लिए खाने पीने के लिए लेकिन आज इंसान इस होड़ में इस तरीके से लगा हुआ है एकत्रित करने में चीजों को अपने आप को ऊपर उठाने में कि उसे समझ नहीं आता वह ध्यान नहीं देता कि मैं किसी का बुरा तो नहीं कर किसी के साथ कोई अन्याय तो नहीं कर रहा कुछ गलत तो नहीं कहा लोग छोड़िए वह तो प्रकृति को भी नहीं छोड़ा तो यहां पर दिक्कत परेशानी आ जाती है अच्छा सारे काम क्या वह सही तरीके से करते हैं जी नहीं सारे काम सही तरीके से नहीं करता है एग्जांपल ही ले लीजिए वह इतने सारे लोग हैं चाहे वह छोटी कंपनियों बड़ी कंपनियों खोलकर बैठे हैं ऑफिस बना कर बैठे हैं कारोबार बना कर बैठे हैं क्या वह टैक्स देते हैं जिन्हें उनके मन में तो हमेशा ही लगा रहता है कि मैं कैसे अपना टैक्स का पैसा बचा लो अरे भाई आप टैक्स नहीं दोगे तो सरकार को पैसा कैसे मिलेगा सरकार काम कैसे करेगी तो जवाब आएगा भाई सरकार भी तो चोर है वहां पर भी तो काम नहीं होता वहां पर भी तो मेरा दिया हुआ पैसा वैसे उपयोग नहीं होता देखिए आप अपना फर्ज तो नहीं भाई है ना उसके बाद हम उसके बस की बात करेंगे कि भी वहां पर क्या कहानी है और उसको भी वही करना है डेफिनिटी उसको भी करना है जिसका जो काम है लेकिन क्या वह हो पा रहे हैं वह हो नहीं पा रहा तो इसीलिए और है कि हम एक दूसरे को देख कर कि नहीं नहीं वह तो नहीं कर रहा तो मेरे को भी करने की जरूरत नहीं है मैं क्यों करूं अगर मैं करता हूं तो मैं बहुत अलग थलग देखता हूं यह सारी हमारे अंदर सोच है यह प्रवृत्ति है तो इसको चेंज करना बहुत जरूरी है और अगर हम इसको नहीं करेंगे तो हम वैसे नहीं हो पाएंगे और ऐड वर्ल्ड रैंकिंग सोती है कई तरीके के रैंक होती है चाहे वह हैप्पीनेस इंडेक्स होता है आ जाए वह फल होता है चाहे वह बहुत सारी चीजें होती हैं तो उसमें हमारा नंबर काफी नीचे आता है भारत देश का नंबर काफी नीचे आता है और यहां पर ईमानदारी का भी होता है तो काफी नीचे आते हैं इस ऑफ़ डूइंग बिज़नेस भी होता है तो अभी हमारी राखी काफी अच्छी हुई है लेकिन यह सारी चीजें हमें को देखनी पड़ेगी मैरिज करनी पड़ी क्या ले जाना पड़ेगा अगर हम चाहे तो हम क्या नहीं कर सकते
Likes  113  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स नहीं मुझे ऐसा नहीं लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं यही रियल आंसर एडवांस अरे जो मैं आपको दे सकती हूं क्योंकि आज का जो वातावरण हो गया है जो लोगों की सोच विचार हो गए हैं उसमें ईमानदारी का स्थान उतना रह नहीं गया है और लोगों से ज्यादा इमानदारी आपको एक्सपेक्ट भी नहीं करनी चाहिए यह बहुत इंपॉर्टेंट है क्योंकि अगर आप एक इमानदार इंसान है तो आप अपने ऊपर काम कर सकते हैं अपनी तरफ से बेस्ट से बेस्ट ज्यादा से ज्यादा ईमानदार रह सकती हैं अपने रिश्तो में अपने प्रोफेशन में लाइट अपने ऑफिस में जहां पर भी आप चाहे आप अपनी तरफ से बेस्ट एफर्ट कर सकते हैं लेकिन आप दूसरों से हमेशा अगर इमानदारी का एक्सपेक्टेशन रखेंगे तो आप दुखी होंगे आप परेशान होंगे तो आजकल इतना लोग इमानदार हो नहीं रहे इसको अगर थोड़ा सा स्वीकार कर लेंगे तो जीवन थोड़ा सा शांति में हो जाएगा थैंक यू सो मच
हेलो फ्रेंड्स नहीं मुझे ऐसा नहीं लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं यही रियल आंसर एडवांस अरे जो मैं आपको दे सकती हूं क्योंकि आज का जो वातावरण हो गया है जो लोगों की सोच विचार हो गए हैं उसमें ईमानदारी का स्थान उतना रह नहीं गया है और लोगों से ज्यादा इमानदारी आपको एक्सपेक्ट भी नहीं करनी चाहिए यह बहुत इंपॉर्टेंट है क्योंकि अगर आप एक इमानदार इंसान है तो आप अपने ऊपर काम कर सकते हैं अपनी तरफ से बेस्ट से बेस्ट ज्यादा से ज्यादा ईमानदार रह सकती हैं अपने रिश्तो में अपने प्रोफेशन में लाइट अपने ऑफिस में जहां पर भी आप चाहे आप अपनी तरफ से बेस्ट एफर्ट कर सकते हैं लेकिन आप दूसरों से हमेशा अगर इमानदारी का एक्सपेक्टेशन रखेंगे तो आप दुखी होंगे आप परेशान होंगे तो आजकल इतना लोग इमानदार हो नहीं रहे इसको अगर थोड़ा सा स्वीकार कर लेंगे तो जीवन थोड़ा सा शांति में हो जाएगा थैंक यू सो मच
Likes  113  Dislikes      
WhatsApp_icon
Likes  6  Dislikes      
WhatsApp_icon
Likes  23  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार न्यू खेलती आपका सवाल क्या आपको लगता है कि लोकप्रश्न ईमानदार परीक्षा का बेटा बेटी हॉस्पिटल अभिमान तो सच में ईमानदार है बहुत कम लोग होते हैं जो इमानदारी से नौकरी पाने के लिए नौकरी पाने तक के लिए रिश्वत देनी पड़ती है रिश्वत लेने वाले भी ऐसा नहीं है नहीं आप गरीब है तो आपसे इतना नहीं ले सकती है एक डिमांड होती है उसकी पत्नी
नमस्कार न्यू खेलती आपका सवाल क्या आपको लगता है कि लोकप्रश्न ईमानदार परीक्षा का बेटा बेटी हॉस्पिटल अभिमान तो सच में ईमानदार है बहुत कम लोग होते हैं जो इमानदारी से नौकरी पाने के लिए नौकरी पाने तक के लिए रिश्वत देनी पड़ती है रिश्वत लेने वाले भी ऐसा नहीं है नहीं आप गरीब है तो आपसे इतना नहीं ले सकती है एक डिमांड होती है उसकी पत्नी
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर समय ईमानदार नहीं हो सकते क्योंकि यह कलयुग है कलयुग में हर मिनट में आदमी की सोच बदलती रहती है हम कितना भी नहीं चाहिए हमें बुरा काम नहीं करना है लेकिन अपनी सोच बहुत तक जाती है
हर समय ईमानदार नहीं हो सकते क्योंकि यह कलयुग है कलयुग में हर मिनट में आदमी की सोच बदलती रहती है हम कितना भी नहीं चाहिए हमें बुरा काम नहीं करना है लेकिन अपनी सोच बहुत तक जाती है
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे तो नहीं लगता कि हाय समय लोग इमानदार हो सकते हैं मुझे लगता है कुछ समय है समय है नहीं मानता हो सकता है लेकिन एनी अनुमान है मेरे मन हो तो कुछ लोग ही ऐसा है मैं नहीं है बाकी सब तो इमानदारी है ही नहीं क्यों सही बोला ना
मुझे तो नहीं लगता कि हाय समय लोग इमानदार हो सकते हैं मुझे लगता है कुछ समय है समय है नहीं मानता हो सकता है लेकिन एनी अनुमान है मेरे मन हो तो कुछ लोग ही ऐसा है मैं नहीं है बाकी सब तो इमानदारी है ही नहीं क्यों सही बोला ना
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे तो नहीं लगता कि लोग कभी ईमानदार शहर समय ईमानदार हो पाएंगे क्योंकि ग्रह नक्षत्र चाल ऐसे इंसान में भ्रम पैदा करते हैं एक हर इंसान में लेकिन एक टाइम तो जरूर आता है उसका टाइम आता है कि वह ईमानदार हो जाता है लेकिन हर समय कोई भी व्यक्ति ईमानदार नहीं हो सकता हो सकते हैं वह जो ईमानदार होगा वह शुरुआत से ही अपने जीवन काल की शुरुआत से ही ईमानदार होगा और नहीं तो कहीं ना कहीं पूरी तरह से कोई भी सा ईमानदार नहीं होता है थोड़ी बहुत तो छोटी से छोटी क्लब बेईमानी तो कहीं ना कहीं करते ही हैं
मुझे तो नहीं लगता कि लोग कभी ईमानदार शहर समय ईमानदार हो पाएंगे क्योंकि ग्रह नक्षत्र चाल ऐसे इंसान में भ्रम पैदा करते हैं एक हर इंसान में लेकिन एक टाइम तो जरूर आता है उसका टाइम आता है कि वह ईमानदार हो जाता है लेकिन हर समय कोई भी व्यक्ति ईमानदार नहीं हो सकता हो सकते हैं वह जो ईमानदार होगा वह शुरुआत से ही अपने जीवन काल की शुरुआत से ही ईमानदार होगा और नहीं तो कहीं ना कहीं पूरी तरह से कोई भी सा ईमानदार नहीं होता है थोड़ी बहुत तो छोटी से छोटी क्लब बेईमानी तो कहीं ना कहीं करते ही हैं
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग हर समय ईमानदार नहीं होते हैं कभी-कभी उनको भी झूठ बोलना पड़ता है अभी भंडारी का साथ छोड़ना पड़ता है मजबूरी बन
लोग हर समय ईमानदार नहीं होते हैं कभी-कभी उनको भी झूठ बोलना पड़ता है अभी भंडारी का साथ छोड़ना पड़ता है मजबूरी बन
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कभी-कभी व्यक्ति के जीवन में ऐसा कहा जाता है कि उसके ईमानदारी का साथ छोड़ना पड़ता है चाह कर भी नहीं कर सकता क्योंकि कुछ के काम में कुछ ऐसी मजबूरियां ही आ जाती है इसलिए कहा जाता है कि हर व्यक्ति हर समय ईमानदार नहीं रह सकता
कभी-कभी व्यक्ति के जीवन में ऐसा कहा जाता है कि उसके ईमानदारी का साथ छोड़ना पड़ता है चाह कर भी नहीं कर सकता क्योंकि कुछ के काम में कुछ ऐसी मजबूरियां ही आ जाती है इसलिए कहा जाता है कि हर व्यक्ति हर समय ईमानदार नहीं रह सकता
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका सवाल ये है कि क्या आपको लगता है कि लोग हर्ष नहीं मिल रहा हो सकते हैं वहां यदि लोग अपने इमानदारी से रहें एक-दूसरे को चलाने जैसे कि हम हम ईमानदार एवं किसी और को कहें कि आप भी ईमानदारी से रहिए वो किसी और का कैसे बातें डिवाइड होकर पूरे देश में फैल जाए तो इस डर से लोग इमानदार हो सकते हैं थैंक यू
देखिए आपका सवाल ये है कि क्या आपको लगता है कि लोग हर्ष नहीं मिल रहा हो सकते हैं वहां यदि लोग अपने इमानदारी से रहें एक-दूसरे को चलाने जैसे कि हम हम ईमानदार एवं किसी और को कहें कि आप भी ईमानदारी से रहिए वो किसी और का कैसे बातें डिवाइड होकर पूरे देश में फैल जाए तो इस डर से लोग इमानदार हो सकते हैं थैंक यू
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभिमान पर हो सकते हैं लगता है ना जी हमें नहीं लगता है कि लोग इमानदार हर समय हो सकते हैं क्योंकि लोगों की नियत हर टाइम बदलती रहती
अभिमान पर हो सकते हैं लगता है ना जी हमें नहीं लगता है कि लोग इमानदार हर समय हो सकते हैं क्योंकि लोगों की नियत हर टाइम बदलती रहती
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी व्यक्ति हर समय ईमानदार नहीं होता समय के अनुसार ही इंसान बदलता रहता है
कोई भी व्यक्ति हर समय ईमानदार नहीं होता समय के अनुसार ही इंसान बदलता रहता है
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं मुझे ऐसा बिल्कुल नहीं लगता कि लोग हमेशा जगह ईमानदार हो क्योंकि दुकानदार कभी मंदार हो ही नहीं सकता करो ईमानदार होगा तो दुकानदारी सही से नहीं कर पाएगा ईमानदार होना है तो डॉक्टर को होना चाहिए साधु महात्मा के लिए सही होनी चाहिए मेरे ख्याल से तो इतने ही लोग सुधर जाएं डॉक्टर दुकानदार तो बस बहुत कुछ हो सकता
नहीं मुझे ऐसा बिल्कुल नहीं लगता कि लोग हमेशा जगह ईमानदार हो क्योंकि दुकानदार कभी मंदार हो ही नहीं सकता करो ईमानदार होगा तो दुकानदारी सही से नहीं कर पाएगा ईमानदार होना है तो डॉक्टर को होना चाहिए साधु महात्मा के लिए सही होनी चाहिए मेरे ख्याल से तो इतने ही लोग सुधर जाएं डॉक्टर दुकानदार तो बस बहुत कुछ हो सकता
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं मेरे को नहीं लगता कि कोई आदमी ईमानदार आते समय में चल रहा है लेकिन चलाया में पैसा देखकर सब बिगड़ जाता हूं
नहीं मेरे को नहीं लगता कि कोई आदमी ईमानदार आते समय में चल रहा है लेकिन चलाया में पैसा देखकर सब बिगड़ जाता हूं
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लगता है कि ईमानदार सही समय पर सही इंसान कर सकता है लेकिन आज के डेट पर कम हैं और ज्यादा भी हैं लेकिन बोल नहीं सकती मंडारी का कोई भी नतीजा अच्छा रन लाकर अच्छा भी अच्छा रहने का मतलब है कि अच्छा से रंग लेकर आया है ईमानदारी एक अच्छा का नतीजा है और इमानदार इंसान का सही रूप से धरती पर जगन और झूठे इंसान का पूरी पूरा धरती पर जगह है यह कैसा इंसाफ है सब सब सब इंसान हैं सबके मन भाव एक होना चाहिए
लगता है कि ईमानदार सही समय पर सही इंसान कर सकता है लेकिन आज के डेट पर कम हैं और ज्यादा भी हैं लेकिन बोल नहीं सकती मंडारी का कोई भी नतीजा अच्छा रन लाकर अच्छा भी अच्छा रहने का मतलब है कि अच्छा से रंग लेकर आया है ईमानदारी एक अच्छा का नतीजा है और इमानदार इंसान का सही रूप से धरती पर जगन और झूठे इंसान का पूरी पूरा धरती पर जगह है यह कैसा इंसाफ है सब सब सब इंसान हैं सबके मन भाव एक होना चाहिए
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं ऐसा नहीं होता कि लोग हर समय ईमानदार हूं क्योंकि जब लोग इमानदारी ऐसे करते हैं तो वह अपना हर कुछ जवान के लिए तैयार रहते लेकिन जहां पर ईमानदार लोग नहीं होते हैं वह लोग यह सोचते हैं कि मैं इसे अपना यह चीज छीन लो अपनी चीज बारे में ज्यादा सोचते हो कि ईमानदार लोगों का कोई किसी से मतलब नहीं होता उनको उनको केवल अपने काम से मतलब होता है और दूसरों लोगों को बीच में अंतर नहीं है कि वह क्या कर रहा है क्या नहीं इस बात से पहचाने जाते हैं
नहीं ऐसा नहीं होता कि लोग हर समय ईमानदार हूं क्योंकि जब लोग इमानदारी ऐसे करते हैं तो वह अपना हर कुछ जवान के लिए तैयार रहते लेकिन जहां पर ईमानदार लोग नहीं होते हैं वह लोग यह सोचते हैं कि मैं इसे अपना यह चीज छीन लो अपनी चीज बारे में ज्यादा सोचते हो कि ईमानदार लोगों का कोई किसी से मतलब नहीं होता उनको उनको केवल अपने काम से मतलब होता है और दूसरों लोगों को बीच में अंतर नहीं है कि वह क्या कर रहा है क्या नहीं इस बात से पहचाने जाते हैं
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं इंसान हर समय ईमानदार नहीं हो सकता हो सकता है लेकिन कुछ पल कुछ वक्त ऐसे भी आते हैं जीवन में जब हमें ना चाहते हुए भी झूठ का सहारा लेना होता है
नहीं इंसान हर समय ईमानदार नहीं हो सकता हो सकता है लेकिन कुछ पल कुछ वक्त ऐसे भी आते हैं जीवन में जब हमें ना चाहते हुए भी झूठ का सहारा लेना होता है
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका जो सवाल है क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं कुछ लोग ऐसे होते हैं कि जो हर समय क्या मैं छन भर भी ईमानदारी को सहन नहीं करते हम लोग इमानदारी होते हैं वह क्षण भर के लिए भी ईमानदारी अपने पास नहीं लाते लेकिन हां कुछ लोग होते होंगे जिनके मन में बलि को कितना शोटाइम हूं उनके दिल में घमंड आता होगा घमंड क्या मैं ईमानदारी आती होगी लेकिन हम कुछ लोग होते हैं ऐसे के जिनके पास ही चीजें भटकती भी नहीं है संसार है बहुत बड़ा है सब तरह के लोग पाए जाते हैं थैंक यू
आपका जो सवाल है क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं कुछ लोग ऐसे होते हैं कि जो हर समय क्या मैं छन भर भी ईमानदारी को सहन नहीं करते हम लोग इमानदारी होते हैं वह क्षण भर के लिए भी ईमानदारी अपने पास नहीं लाते लेकिन हां कुछ लोग होते होंगे जिनके मन में बलि को कितना शोटाइम हूं उनके दिल में घमंड आता होगा घमंड क्या मैं ईमानदारी आती होगी लेकिन हम कुछ लोग होते हैं ऐसे के जिनके पास ही चीजें भटकती भी नहीं है संसार है बहुत बड़ा है सब तरह के लोग पाए जाते हैं थैंक यू
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां आपको तो लग सकता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं पर लोग का विचार इमानदारी होना चाहिए अरे टाइम ईमानदारी दिखाने में लोग कोई घटा होती है आजकल की दुनिया में ईमानदारी हर कोई दिखा नहीं जाता है
जी हां आपको तो लग सकता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं पर लोग का विचार इमानदारी होना चाहिए अरे टाइम ईमानदारी दिखाने में लोग कोई घटा होती है आजकल की दुनिया में ईमानदारी हर कोई दिखा नहीं जाता है
Likes  3  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं यह क्वेश्चन है मैं जवाब देता हूं नहीं इसमें समय कौन सा इंसान बदल जाता है
क्या आपको लगता है कि लोग हर समय ईमानदार हो सकते हैं यह क्वेश्चन है मैं जवाब देता हूं नहीं इसमें समय कौन सा इंसान बदल जाता है
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें लगता है कि सभी लोग की मंदार नहीं होते और इस बात को लेकर कि कौन से लोग ईमानदार है और कौन नहीं है इस बात पर भी शक नहीं कर सकते अगर हम तमन्ना माना जाए तो स्वार्थी में से प्रसिद्ध व्यक्ति मंदार नहीं होते होते हैं जिसको केवल अपने कर्तव्य से मतलब होते हैं और वह व्यक्ति लाइफ में फस अपने कर्तव्य के प्रति झुकाव रखते हैं उसे किसी भी तरह से और किसी भी क्षेत्र में ज्यादा लगाव नहीं होते वह हमेशा समझते हैं कि कर्म ही पूजा है अगर हम दूसरे शब्दों में भी कर सकते हैं कि लोग अपनी लाइफ को ज्यादा सुचारू तरीके से आरामदायक बनाने के लिए लोग भ्रष्टाचार में प्रवेश करते हैं दूसरी तरफ कहूं तो कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपने कर्तव्य के प्रति काफी जागरुकता रखते हैं और अपने कामों को अपने पोस्ट को अपने सम्मान को बनाए रखना चाहते हैं तो कुल मिलाकर बोले तो अपने अपनी धरती पर कुछ लोग ऐसे हैं जिन पर पूरा विश्वास किया जा सकता है जहां लोग इमानदार है और कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो विश्वासघात होते हैं तो पूरे इस धरती पर सभी लोग इमानदार नहीं होते
हमें लगता है कि सभी लोग की मंदार नहीं होते और इस बात को लेकर कि कौन से लोग ईमानदार है और कौन नहीं है इस बात पर भी शक नहीं कर सकते अगर हम तमन्ना माना जाए तो स्वार्थी में से प्रसिद्ध व्यक्ति मंदार नहीं होते होते हैं जिसको केवल अपने कर्तव्य से मतलब होते हैं और वह व्यक्ति लाइफ में फस अपने कर्तव्य के प्रति झुकाव रखते हैं उसे किसी भी तरह से और किसी भी क्षेत्र में ज्यादा लगाव नहीं होते वह हमेशा समझते हैं कि कर्म ही पूजा है अगर हम दूसरे शब्दों में भी कर सकते हैं कि लोग अपनी लाइफ को ज्यादा सुचारू तरीके से आरामदायक बनाने के लिए लोग भ्रष्टाचार में प्रवेश करते हैं दूसरी तरफ कहूं तो कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपने कर्तव्य के प्रति काफी जागरुकता रखते हैं और अपने कामों को अपने पोस्ट को अपने सम्मान को बनाए रखना चाहते हैं तो कुल मिलाकर बोले तो अपने अपनी धरती पर कुछ लोग ऐसे हैं जिन पर पूरा विश्वास किया जा सकता है जहां लोग इमानदार है और कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो विश्वासघात होते हैं तो पूरे इस धरती पर सभी लोग इमानदार नहीं होते
Likes  3  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कभी नहीं हो सकते लोग इमानदार लोक सभी माननीय सकते दुकान से जा करते हैं करते हैं कि मेरे को 50 ग्राम चीनी दे दो उसके बाद वह बोलते बोलते हैं कुछ नहीं भैया फोटो जैसे कि यह बोलते नहीं इसलिए लोग कभी भी ईमानदार नहीं हो सकते नहीं तो
कभी नहीं हो सकते लोग इमानदार लोक सभी माननीय सकते दुकान से जा करते हैं करते हैं कि मेरे को 50 ग्राम चीनी दे दो उसके बाद वह बोलते बोलते हैं कुछ नहीं भैया फोटो जैसे कि यह बोलते नहीं इसलिए लोग कभी भी ईमानदार नहीं हो सकते नहीं तो
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग तो हमेशा ईमानदारी होती है लेकिन यह जो दुनिया है तो लोगों को ईमानदार होने से रोक देता है क्योंकि लोग अपनी जेनरेशन की वजह से चलते हैं जैसे कि मैंने कुछ अच्छा काम किया वह भी वही करता है तो मैंने बुरा काम किया वह भी वही करता है दुनिया के वजह से नंदिनी श्लोक डरती
लोग तो हमेशा ईमानदारी होती है लेकिन यह जो दुनिया है तो लोगों को ईमानदार होने से रोक देता है क्योंकि लोग अपनी जेनरेशन की वजह से चलते हैं जैसे कि मैंने कुछ अच्छा काम किया वह भी वही करता है तो मैंने बुरा काम किया वह भी वही करता है दुनिया के वजह से नंदिनी श्लोक डरती
Likes  2  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:


vokalandroid