चुनाव के अंतिम दौर में सवर्णों को आरक्षण देने का विचार क्यों आया? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीके सामान्य जो है कुछ समय से जो है वह भाजपा सरकार से थोड़ा नाराज चल रहे थे खासतौर से जब उन्होंने जो एससी एसटी का जो लो है उसमें जो सुप्रीम कोर्ट का जजमेंट था उसको वरुण करने के लिए उन्होंने जो चेंज कि...जवाब पढ़िये
जीके सामान्य जो है कुछ समय से जो है वह भाजपा सरकार से थोड़ा नाराज चल रहे थे खासतौर से जब उन्होंने जो एससी एसटी का जो लो है उसमें जो सुप्रीम कोर्ट का जजमेंट था उसको वरुण करने के लिए उन्होंने जो चेंज किए लॉ के अंदर और उसको रिस्टोर कर दिया सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट था जिसके अंदर ही खा गया था कि बिना डिग्री इंक्वायरी क्या बरस नहीं कर सकते हैं तो उससे 1 सवालों का बहुत बड़ा तबका था जो हमसे नाराज चल रहा था तो मेरे ख्याल से यह जो उन्होंने भाजपा सरकार ने जो कदम उठाया है यह कुछ हद तक उसको कवर करने के लिए तार उठाया हुआ है ताकि ऐसा भी लगेगी वह सामानों का भी ध्यान रखते हैं और इसमें कोई दो राय नहीं है कि इसके पीछे जो सबसे बड़ी मंशा है वह तो पॉलीटिकल ही है उनका वोट चाहते हैं और इसी वोट की वजह से उन्होंने भेजो और कदम लिया है वह कदम उसने लिया गया हैGk Samanya Jo Hai Kuch Samay Se Jo Hai Wah Bhajpa Sarkar Se Thoda Naaraj Chal Rahe The Khaasataur Se Jab Unhone Jo Sc ST Ka Jo Lo Hai Usamen Jo Supreme Court Ka Judgement Tha Usko Varun Karne Ke Liye Unhone Jo Change Kiye Law Ke Andar Aur Usko Restore Kar Diya Supreme Court Ke Judgement Tha Jiske Andar Hi Kha Gaya Tha Ki Bina Degree Enquiry Kya Baras Nahi Kar Sakte Hain To Usse 1 Sawalon Ka Bahut Bada Tabaka Tha Jo Humse Naaraj Chal Raha Tha To Mere Khayal Se Yeh Jo Unhone Bhajpa Sarkar Ne Jo Kadam Uthaya Hai Yeh Kuch Had Tak Usko Cover Karne Ke Liye Taar Uthaya Hua Hai Taki Aisa Bhi Lagegi Wah Samano Ka Bhi Dhyan Rakhate Hain Aur Isme Koi Do Raya Nahi Hai Ki Iske Piche Jo Sabse Badi Mansha Hai Wah To Political Hi Hai Unka Vote Chahte Hain Aur Isi Vote Ki Wajah Se Unhone Bhejo Aur Kadam Liya Hai Wah Kadam Usne Liya Gaya Hai
Likes  82  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम को युद्ध हो या फिर खेल का मैदान हो अंतिम समय तक अंतिम सांस तक भला कौन ऐसा है जो उस संघर्ष को जीतना नहीं चाहता उस पर विजय प्राप्त करना नहीं चाहता रही बात जवानों के लिए आरक्षण की चुनाव के समय में यह...जवाब पढ़िये
राम को युद्ध हो या फिर खेल का मैदान हो अंतिम समय तक अंतिम सांस तक भला कौन ऐसा है जो उस संघर्ष को जीतना नहीं चाहता उस पर विजय प्राप्त करना नहीं चाहता रही बात जवानों के लिए आरक्षण की चुनाव के समय में यह निर्णय लिया गया कुछ हद तक राजनीतिक दृष्टि से सही भी है इसका चुनावी लाभ निश्चित रूप से भाजपा को मिलेगा प्रधानमंत्री मोदी को मिलेगा उसे नकारा नहीं जा सकता दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बात यह भी है कि सामानों की नाराजगी भी थी एससी एसटी एक्ट को लेकर कि उसकी वजह से एक स्वाभाविक दबाव की सरकार के ऊपर बना हुआ था लगातार और अपनी मूल वोटर को अपने बेस वोटर को भारतीय जनता पार्टी खोना भी नहीं चाहती थी एक यह भी कारण है इन सब कारणों से ऊपर उठकर के थोड़ा अगर हम सोचे तो बहुत लंबे समय से स्वर्ण समाज का गरीब भले ही मेधावी हो भले ही कितना तेज हो वहीं अगर एससी एसटी ओबीसी का ₹100 का फॉर्म का फीस लगता है तो ही उससे कई गुना ज्यादा उसे पे करना पड़ता है तो अगर देखा जाए तो समाज में यह खाई निरंतर बहुत बड़े पैमाने पर बढ़ती चली जा रही थी इसके लिए विदेशों में बसे अपने आप प्रवासी भारतीय भारत से अप्लाई ठोकर के दूसरे देशों में गए हैं उनका भी एक मनोवैज्ञानिक दबाव भारत के ऊपर था कि यहां की व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन किया जाए और उसी दिशा में सर्वांगीण सोच को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री का यह निर्णय देश को मजबूत करने वाला निर्णय है इसे किसी पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर के सोचने की आवश्यकता नहीं है सबका साथ सबका विकास का जो मंत्र है इसी से चिंता अर्थ होगाRam Ko Yudh Ho Ya Phir Khel Ka Maidan Ho Antim Samay Tak Antim Saans Tak Bhala Kaon Aisa Hai Jo Us Sangharsh Ko Jeetana Nahi Chahta Us Par Vijay Prapt Karna Nahi Chahta Rahi Baat Jawano Ke Liye Aarakshan Ki Chunav Ke Samay Mein Yeh Nirnay Liya Gaya Kuch Had Tak Raajnitik Drishti Se Sahi Bhi Hai Iska Chunavi Labh Nishchit Roop Se Bhajpa Ko Milega Pradhanmantri Modi Ko Milega Use Nukaraa Nahi Ja Sakta Dusri Sabse Mahatvapurna Baat Yeh Bhi Hai Ki Samano Ki Narajgi Bhi Thi Sc ST Act Ko Lekar Ki Uski Wajah Se Ek Svabhavik Dabaav Ki Sarkar Ke Upar Bana Hua Tha Lagatar Aur Apni Mul Voter Ko Apne Base Voter Ko Bharatiya Janta Party Khona Bhi Nahi Chahti Thi Ek Yeh Bhi Kaaran Hai In Sab Kaarno Se Upar Uthakar Ke Thoda Agar Hum Soche To Bahut Lambe Samay Se Swarn Samaaj Ka Garib Bhale Hi Medavi Ho Bhale Hi Kitna Tez Ho Wahin Agar Sc ST Obc Ka ₹ Ka Form Ka Fees Lagta Hai To Hi Usse Kai Guna Zyada Use Pe Karna Padata Hai To Agar Dekha Jaye To Samaaj Mein Yeh Khai Nirantar Bahut Bade Paimane Par Badhti Chali Ja Rahi Thi Iske Liye Videshon Mein Base Apne Aap Pravasi Bharatiya Bharat Se Apply Thokar Ke Dusre Deshon Mein Gaye Hain Unka Bhi Ek Manovaigyanik Dabaav Bharat Ke Upar Tha Ki Yahan Ki Vyavastha Mein Amulchul Pariwartan Kiya Jaye Aur Ussi Disha Mein Sarvangiṇa Soch Ko Dhyan Mein Rakhate Huye Pradhanmantri Ka Yeh Nirnay Desh Ko Mazboot Karne Vala Nirnay Hai Ise Kisi Purvagrah Se Grasit Hokar Ke Sochne Ki Avashyakta Nahi Hai Sabka Saath Sabka Vikash Ka Jo Mantra Hai Isi Se Chinta Arth Hoga
Likes  77  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चुनाव के अंतिम दिनों में हो या स्टार्टिंग हो सवालों के लिए आर्थिक आधार पर आरक्षण देने का विचार सामाजिक दृष्टि से सही है चाहे वह चुनाव के समय आता है चुनाव के बाद आता अगर चुनाव से स्टार्ट में आता है तो...जवाब पढ़िये
चुनाव के अंतिम दिनों में हो या स्टार्टिंग हो सवालों के लिए आर्थिक आधार पर आरक्षण देने का विचार सामाजिक दृष्टि से सही है चाहे वह चुनाव के समय आता है चुनाव के बाद आता अगर चुनाव से स्टार्ट में आता है तो और भी चीजें सामने आती क्या कर राज्यों के चुनाव हो रहे हैं जो राज्यों के चुनाव चलते रहते हैं कि राज्य चुनाव से पहले आरक्षण को लेकर आ रहे हो वगैरा-वगैरा चीजें तो आर्थिक आधार पर आरक्षण देश में जरूरी है क्योंकि ऐसे लोग जो आज भी केवल सबड जाति में पैदा हुए लेकिन आर्थिक रूप से पूछ लो कास्ट एंड ट्राइप्सिन वैलेंटाइन तो उनके साथ सामाजिक न्याय नहीं होता आर्टिकल 14 नहीं आ पाता फॉलो नहीं कर रहा था समाज में एक दूसरे को देखने का नजरिया गिरा था जो sc-st भाई लोगों को देखने नजरे गिरा था और एक हीन भावना पैदा होती तो सरकार द्वारा उठाए कदम सराहनीय चुनाव के अंतिम दिनों में होठों के ऊपर और अगर इसको राजनीतिक रुप से दूर रखें तो आर्थिक रूप से आरक्षण समाज में एक नया योगदान देगा धन्यवाद डायरेक्टर वेदास आईएसChunav Ke Antim Dinon Mein Ho Ya Starting Ho Sawalon Ke Liye Aarthik Aadhar Par Aarakshan Dene Ka Vichar Samajik Drishti Se Sahi Hai Chahe Wah Chunav Ke Samay Aata Hai Chunav Ke Baad Aata Agar Chunav Se Start Mein Aata Hai To Aur Bhi Cheezen Samane Aati Kya Kar Rajyo Ke Chunav Ho Rahe Hain Jo Rajyo Ke Chunav Chalte Rehte Hain Ki Rajya Chunav Se Pehle Aarakshan Ko Lekar Aa Rahe Ho Vagaira Vagaira Cheezen To Aarthik Aadhar Par Aarakshan Desh Mein Zaroori Hai Kyonki Aise Log Jo Aaj Bhi Kewal Sabad Jati Mein Paida Huye Lekin Aarthik Roop Se Pooch Lo Caste End Traipsin Valentine To Unke Saath Samajik Nyay Nahi Hota Article 14 Nahi Aa Pata Follow Nahi Kar Raha Tha Samaaj Mein Ek Dusre Ko Dekhne Ka Najariya Gira Tha Jo Sc-st Bhai Logon Ko Dekhne Nazre Gira Tha Aur Ek Heen Bhavna Paida Hoti To Sarkar Dwara Uthye Kadam Sarahniya Chunav Ke Antim Dinon Mein Hothon Ke Upar Aur Agar Isko Raajnitik Roop Se Dur Rakhen To Aarthik Roop Se Aarakshan Samaaj Mein Ek Naya Yogdan Dega Dhanyavad Director Vedas Ias
Likes  65  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Romanized Version
Likes  21  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए चुनाव के अंतिम दौर में सवर्णों को रिजर्वेशन या आरक्षण देने का विचार सरकार के मन में क्यों आया यह वह सवाल है जो आम मतदाता के मन में बिजली की तरह पॉर्न धाग हुआ सवाल है देखिए निश्चित रूप से सवर्णों...जवाब पढ़िये
देखिए चुनाव के अंतिम दौर में सवर्णों को रिजर्वेशन या आरक्षण देने का विचार सरकार के मन में क्यों आया यह वह सवाल है जो आम मतदाता के मन में बिजली की तरह पॉर्न धाग हुआ सवाल है देखिए निश्चित रूप से सवर्णों को आरक्षण देने के लिए जो बीजेपी सरकार दिया भारतीय जनता पार्टी थी को शुरू से इस मामले को विचाराधीन मानकर चल रही थी लेकिन चुकी हर विधेयक को लाने का किसी अध्यादेश को पारित करने का एक पूरा संसदीय प्रक्रिया होती है पूरा का पूरा पार्लियामेंट्री सिस्टम होता है और जब तक उन तमाम दोनों से वह गुजर ना जाए वह संसद में नहीं लाया जा सकता और ना ही उसको लागू किया जा सकता तो जो बाकी सरकारी हूं उनको भी अपने फेवर में करना रहता है तो इस तरह की तमाम चुनौतियों से होकर गुजरा हुआ यह मुद्दा आज कम से कम अपने मुकाम पर तो पहुंचा कम से कम किसी सरकार ने पहल तो की तो इसलिए देर आए दुरुस्त आए लेकिन कुछ भी हो इस सरकार ने कम से कम इस मामले में विचार तो किया पिछले 60 वर्षों में जिन सरकारों ने इस और जरा भी ध्यान नहीं दिया बहुत ज्यादा दोषी हैं भारतीय जनता पार्टी भी निश्चित रूप से है कुछ ना कुछ डिलीट तो उन्होंने भी किया है लेकिन कम से कम आज उन्होंने उस विचार को मूर्त रुप देने का काम कर दिया और उसे कम से कम सफलतापूर्वक उन्होंने पारित कर दिया और आज सवर्णों के पास भी आरक्षण है जो भी जरूरतमंद है जो भी प्रतिभावान है कम से कम बुआ बागी आ पाएंगे उनकी शैक्षणिक योग्यता उनकी क्षमताएं अब व्यर्थ नहीं जाएगी वह देश हित में लगेगी तो कम से कम स्वागत करना चाहिए कोई भी अच्छी चीज अगर किसी सरकार द्वारा लागू की जाए तो उसे स्वागत करके स्वीकार करना चाहिए अप्रिशिएट करना चाहिए धन्यवादDekhie Chunav Ke Antim Daur Mein Swarno Ko Reservation Ya Aarakshan Dene Ka Vichar Sarkar Ke Man Mein Kyon Aaya Yeh Wah Sawal Hai Jo Aam Matdata Ke Man Mein Bijli Ki Tarah Porn Dhag Hua Sawal Hai Dekhie Nishchit Roop Se Swarno Ko Aarakshan Dene Ke Liye Jo Bjp Sarkar Diya Bharatiya Janta Party Thi Ko Shuru Se Is Mamle Ko Vicharadhin Manakar Chal Rahi Thi Lekin Chuki Har Vidhayak Ko Lane Ka Kisi Adhyadesh Ko Paarit Karne Ka Ek Pura Sansadiya Prakriya Hoti Hai Pura Ka Pura Parliamentary System Hota Hai Aur Jab Tak Un Tamam Dono Se Wah Gujar Na Jaye Wah Sansad Mein Nahi Laya Ja Sakta Aur Na Hi Usko Laagu Kiya Ja Sakta To Jo Baki Sarkari Hoon Unko Bhi Apne Favor Mein Karna Rehta Hai To Is Tarah Ki Tamam Chunautiyon Se Hokar Gujara Hua Yeh Mudda Aaj Kam Se Kam Apne Mukam Par To Pahuncha Kam Se Kam Kisi Sarkar Ne Pahal To Ki To Isliye Der Aaye Durust Aaye Lekin Kuch Bhi Ho Is Sarkar Ne Kam Se Kam Is Mamle Mein Vichar To Kiya Pichhle 60 Varshon Mein Jin Sarkaro Ne Is Aur Jara Bhi Dhyan Nahi Diya Bahut Zyada Doshi Hain Bharatiya Janta Party Bhi Nishchit Roop Se Hai Kuch Na Kuch Delete To Unhone Bhi Kiya Hai Lekin Kam Se Kam Aaj Unhone Us Vichar Ko Murt Roop Dene Ka Kaam Kar Diya Aur Use Kam Se Kam Safaltaapurvak Unhone Paarit Kar Diya Aur Aaj Swarno Ke Paas Bhi Aarakshan Hai Jo Bhi Jaruratmand Hai Jo Bhi Pratibhavan Hai Kam Se Kam Buaa Bagi Aa Payenge Unki Shaikshnik Yogyata Unki Kshamataen Ab Vyarth Nahi Jayegi Wah Desh Hit Mein Lagegi To Kam Se Kam Swaagat Karna Chahiye Koi Bhi Acchi Cheez Agar Kisi Sarkar Dwara Laagu Ki Jaye To Use Swaagat Karke Sweekar Karna Chahiye Aprishiet Karna Chahiye Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस बात का बड़ा सिंपल शांत करें क्योंकि मीटिंग का जो है वह बहुत कौर और मैन वोट बैंक मानी जाती है बीजेपी की और दो पांच राज्य में चुनाव हुए वह मेडिकास का वोट बैंक के बीजेपी की से किसका तभी जाकर मतल...जवाब पढ़िये
देखिए इस बात का बड़ा सिंपल शांत करें क्योंकि मीटिंग का जो है वह बहुत कौर और मैन वोट बैंक मानी जाती है बीजेपी की और दो पांच राज्य में चुनाव हुए वह मेडिकास का वोट बैंक के बीजेपी की से किसका तभी जाकर मतलब बीजेपी को एक करो यहां पर झटका लगा जा एमपी और छत्तीसगढ़ या फिर कोई भी और राज्य जहां पर बीजेपी हारी और वे डिड यू आस्क वोट बैंक को जो है पास लाने का एक के पास एक ही कारण था कि जो यह 10 वीं सदी का आरक्षण जोए सवर्णों के लिए आर्थिक आधार पर आया है वह मिलाया गया ताकि उस वोट बैंक मित्र कैसे बचाया जा सके और जहां तक में बताते हैं उनकी आरक्षण इसलिए लोकसभा राजसभा से 500 गए कि सबको पता कि कोर्ट में ही स्ट्राइक डाउन कर जाएगा कि आरक्षण जो एकदम 31 इस पर लाया गया यह जमीन बिलीफ आरक्षण के पीछे जो जिस प्रकार से समुदाय और प्रचार खेला जाता है उसकी शादी मैच नहीं करता उसके साथ इस टाइम नहीं करता एसबीसी आरक्षण अगर आप ला रहे थे उसका जवाब कर दीजिए कि 8 लाख से ऊपर नीचे हम आपके जमाने वाले को आरक्षण का अजवाइन लाभ मिलेगा जबकि ढाई लाख से ऊपर देश में अली कमाने वाला आदमी जो है वह टेक्स्ट पर होता तो यह आरक्षण का मामला सिर्फ अगर मैं कहूं तो चुनावी ढोल पीटा गया सरकार के द्वारा और कोई इसमें कोई भी इसमें बेनिफिट नहीं दूंगा क्योंकि उसको पता कि जब भी मटर कोर्ट में उठेगा तो स्ट्राइक डाउन कर जाएगा इसीलिए सिर्फ वोट बैंक को बचाने के लिए बीजेपी ने यह सवर्णों की तस्वीर से आरक्षण का हिस्सा और कौन स्टेशन में बहुत इंपॉर्टेंट चेंज किया हुआ हैDekhie Is Baat Ka Bada Simple Shaant Karen Kyonki Meeting Ka Jo Hai Wah Bahut Kaur Aur Man Vote Bank Maani Jati Hai Bjp Ki Aur Do Paanch Rajya Mein Chunav Huye Wah Medikas Ka Vote Bank Ke Bjp Ki Se Kiska Tabhi Jaakar Matlab Bjp Ko Ek Karo Yahan Par Jhatka Laga Ja Mp Aur Chattisgarh Ya Phir Koi Bhi Aur Rajya Jahan Par Bjp Haari Aur Ve Did You Ask Vote Bank Ko Jo Hai Paas Lane Ka Ek Ke Paas Ek Hi Kaaran Tha Ki Jo Yeh 10 Vi Sadi Ka Aarakshan Joye Swarno Ke Liye Aarthik Aadhar Par Aaya Hai Wah Milaya Gaya Taki Us Vote Bank Mitra Kaise Bachaya Ja Sake Aur Jahan Tak Mein Batatey Hain Unki Aarakshan Isliye Lok Sabha Rajyasabha Se 500 Gaye Ki Sabko Pata Ki Court Mein Hi Strike Down Kar Jayega Ki Aarakshan Jo Ekdam 31 Is Par Laya Gaya Yeh Jameen Belief Aarakshan Ke Piche Jo Jis Prakar Se Samuday Aur Prachar Khela Jata Hai Uski Shadi Match Nahi Karta Uske Saath Is Time Nahi Karta SBC Aarakshan Agar Aap La Rahe The Uska Jawab Kar Dijiye Ki 8 Lakh Se Upar Neeche Hum Aapke Jamaane Wali Ko Aarakshan Ka Ajavain Labh Milega Jabki Dhai Lakh Se Upar Desh Mein Ali Kamane Vala Aadmi Jo Hai Wah Text Par Hota To Yeh Aarakshan Ka Maamla Sirf Agar Main Kahun To Chunavi Dhol Pita Gaya Sarkar Ke Dwara Aur Koi Isme Koi Bhi Isme Benefit Nahi Dunga Kyonki Usko Pata Ki Jab Bhi Matar Court Mein Uthega To Strike Down Kar Jayega Isliye Sirf Vote Bank Ko Bachane Ke Liye Bjp Ne Yeh Swarno Ki Tasveer Se Aarakshan Ka Hissa Aur Kaon Station Mein Bahut Important Change Kiya Hua Hai
Likes  15  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवालों को यह सामान भर के लोगों को यह रिजर्वेशन सरकार द्वारा दिया गया है यह लोकसभा राजसभा में पास हो चुका है और आज के दिन राष्ट्रपति ने इसे अप्रूव कर दिया साइन कर दिया है और राष्ट्रपति के साइन करते हुए...जवाब पढ़िये
सवालों को यह सामान भर के लोगों को यह रिजर्वेशन सरकार द्वारा दिया गया है यह लोकसभा राजसभा में पास हो चुका है और आज के दिन राष्ट्रपति ने इसे अप्रूव कर दिया साइन कर दिया है और राष्ट्रपति के साइन करते हुए अब यह लागू हो जाएगा तो सामान्य वर्ग के लोगों के लिए जो इकोनॉमिकल वीक हैं जो आर्थिक रुप से कमजोर लोग उस सेक्शन के लिए रिजर्वेशन है यह काफी अच्छी पहल है अच्छा फैसला है इससे जो सामान वर के गरीबों को काफी फायदा होगा आप और एक इस फैसले से जो एससी एसटी और जनरल व के बीच में मिनिट्स है तो वह भी कम होगा जो कटता है इसकी उनको मिलता है रिजर्वेशन को नहीं मिलता तो यह भी एक अच्छा है और दूसरा पॉलिटिकली यह लास्ट में लिया गया फैसला चुनाव के टाइम पर ही तो सभी पार्टियां करती हैं जब उनके ऊपर बहुत दबाव आ जाता है तभी वह अच्छे फैसले लिया करती हैं किसी भी वजह से वह फैसला लिया गया है तो यह अच्छा है अब बस यह बात है यह कितना फायदेमंद होगा यह भविष्य बताएगा क्योंकि अभी भी इसमें कुछ लगने से 800000 की आय दी गई है तो यह कितने लोगों को फायदा पहुंचा पाएगी 18 लाख में तो बहुत लोग आ जाते हैं अभी एक गरीब लोगों को कितना गरीब लोगों के जो एजुकेयर जो शिक्षा संस्थान है और जो नौकरियों में रिजर्वेशन है कितना फायदा करेगा यह भविष्य में पता चलेगा और इसमें जो भी है आगे चलकर और परिवर्तन होते रहे तो यह यह फैसला बहुत अच्छा साबित होगा और इस तरह सेSawalon Ko Yeh Saamaan Bhar Ke Logon Ko Yeh Reservation Sarkar Dwara Diya Gaya Hai Yeh Lok Sabha Rajyasabha Mein Paas Ho Chuka Hai Aur Aaj Ke Din Rashtrapati Ne Ise Apoorav Kar Diya Sign Kar Diya Hai Aur Rashtrapati Ke Sign Karte Huye Ab Yeh Laagu Ho Jayega To Samanya Varg Ke Logon Ke Liye Jo Ikonamikal Weak Hain Jo Aarthik Roop Se Kamjor Log Us Section Ke Liye Reservation Hai Yeh Kafi Acchi Pahal Hai Accha Faisla Hai Isse Jo Saamaan War Ke Garibon Ko Kafi Fayda Hoga Aap Aur Ek Is Faisle Se Jo Sc ST Aur General V Ke Bich Mein Minutes Hai To Wah Bhi Kam Hoga Jo Katataa Hai Iski Unko Milta Hai Reservation Ko Nahi Milta To Yeh Bhi Ek Accha Hai Aur Doosra Politically Yeh Last Mein Liya Gaya Faisla Chunav Ke Time Par Hi To Sabhi Partyian Karti Hain Jab Unke Upar Bahut Dabaav Aa Jata Hai Tabhi Wah Acche Faisle Liya Karti Hain Kisi Bhi Wajah Se Wah Faisla Liya Gaya Hai To Yeh Accha Hai Ab Bus Yeh Baat Hai Yeh Kitna Faydemand Hoga Yeh Bhavishya Batayega Kyonki Abhi Bhi Isme Kuch Lagne Se 800000 Ki Aay Di Gayi Hai To Yeh Kitne Logon Ko Fayda Pahuncha Payegi 18 Lakh Mein To Bahut Log Aa Jaate Hain Abhi Ek Garib Logon Ko Kitna Garib Logon Ke Jo Ejukeyar Jo Shiksha Sansthan Hai Aur Jo Naukriyon Mein Reservation Hai Kitna Fayda Karega Yeh Bhavishya Mein Pata Chalega Aur Isme Jo Bhi Hai Aage Chalkar Aur Pariwartan Hote Rahe To Yeh Yeh Faisla Bahut Accha Saabit Hoga Aur Is Tarah Se
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन यह है कि चुनाव के अंतिम दौर में ही सवर्णों की याद क्यों आई भाजपा को और सवर्णों को आखिरी टाइम पर आरक्षण क्यों दिया गया सीधा-सीधा में इसका आंसर मिल रहा है कि अभी भाजपा की हिंदी भाषी प्रदेशों मे...जवाब पढ़िये
क्वेश्चन यह है कि चुनाव के अंतिम दौर में ही सवर्णों की याद क्यों आई भाजपा को और सवर्णों को आखिरी टाइम पर आरक्षण क्यों दिया गया सीधा-सीधा में इसका आंसर मिल रहा है कि अभी भाजपा की हिंदी भाषी प्रदेशों में जो भाजपा के गढ़ माने जाते रहे तीन राज्यों में उसकी करारी हार हुई है और कांग्रेस की सरकार बनी है क्योंकि 1 तरीके से सेमीफाइनल की तरह ट्रीट किए जा रहे थे बिफोर लोक सभा इलेक्शन कमीशन तो यही है यदि मध्य प्रदेश की बात करें तो वह भाजपा 15 साल से वहां पर काबिज की सत्ता पर पर अब वहां से हटा दी गई है वहां का जो ग्वालियर चंबल वाला भाग है यह बात करें जो साउथ एमपी है वहां पर भाजपा को बहुत बड़ी सीटों का नुकसान हुआ है उसका मेन रीजन यही है कि sc-st एट्रोसिटी एक्ट में जो केंद्र सरकार ने परिवर्तन किया था उसको वापस से रिस्टोर कर दिया था सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना करते हुए दोबारा से जो ऑलरेडी पहले से जो एससी एसटी एट्रोसिटी एक्ट था जिसमें किसी को भी अरेस्ट किया जा सकता है और नॉन बेलेबल होगा नॉन कंपाउंडेबल होगा उसको दोबारा से रिस्टोर करना जिसके प्रति सवर्णों में बहुत ज्यादा आक्रोश था अगर हमें खोना भी देखें तो हमें यह सोचना चाहिए कि पहली बार 70 साल में किसी पार्टी ने आर्थिक रूप से गरीब लोगों के बारे में सोचा अभी तक जो भी 49.5% का आरक्षण है यह पूरा पूरा जाति के आधार पर है क्या यह चीज को सही मानते बहुत सेक्सी हैं जो जिनके पास अच्छा पैसा है जो अपनी लाइफ में अच्छा कर सकते हैं या जिनके माता-पिता ऑलरेडी आरक्षण का फायदा उठा चुके हैं परंतु उनके बच्चे और उनके आगे वाली पीढ़ियां भी उसका फायदा उठाएंगे इस तरीके का आरक्षण में बिल्कुल भी सही नहीं मानती हूं और उससे बहुत ज्यादा बेहतर होगा कि जो हमारे गरीब सवर्ण भाई लोग हैं उनको आरक्षण मिले आर्थिक रूप से आरक्षण बिल्कुल सही है किस टाइम पर भाजपा का तो मैं इसका स्वागत करती हूं थैंक यू सो मच
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बिलकुल गलत सोचा है प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने स्टेप बाय स्टेप काम किया है एससीएसटी वालों को उनका अधिकार मिला है सोनू को उनका अधिकार मिला है मुस्लिम महिलाओं को उनका अधिकार मिला है और सबक...जवाब पढ़िये
आपने बिलकुल गलत सोचा है प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने स्टेप बाय स्टेप काम किया है एससीएसटी वालों को उनका अधिकार मिला है सोनू को उनका अधिकार मिला है मुस्लिम महिलाओं को उनका अधिकार मिला है और सबका साथ सबका विकास वाले मंत्र से जो कार्य हो रहा है वह सभी धर्म सभी जाति के लिए समान भाव से कार्य हो रहा है यह कहना गलत है कि सवर्णों को लास्ट में आरक्षण दिया गया है वोट बैंक की राजनीति के लिए यह बिल्कुल गलत है अगर वोट बैंक की राजनीति करनी होती प्रधानमंत्री जी को तो कभी भी जीएसटी हमारे देश में नहीं लागू होता कभी भी नोट बंदी नहीं होता कभी भी रोड सड़क को अच्छा नहीं बनाया जाता है कभी भी 18000 गांव में बिजली नहीं पहुंचाई जाती और गरीबों को हमेशा गरीब बनाकर रखा जाता और हमारे देश के किसानों को उनका अधिकार नहीं मिलता कांग्रेस पार्टी ने हमारे देश में हमेशा शुरू से ही गलत राजनीति की उसने हमारे देश को गरीब बना दिया गरीब इसलिए बनाया कि गरीब बनाया और जूजू के टेट बनाया हमारे देश में शिक्षा की व्यवस्था को खराब की कांग्रेस पार्टी नेता की शिक्षा की व्यवस्था कर खराब रहेगी तो उन्हें वह आसानी से भ्रमित कर सकते हैं लेकिन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हमारे देश में शिक्षा की व्यवस्था अच्छी हुई है शिक्षा की व्यवस्था अच्छी होने से हमारे देश के लोग एजुकेटेड हो रहे हैं उनके अंदर सोचने और समझने की क्षमता बढ़ी है और आने वाले टाइम में एक बार फिर से उड़ान मंत्री बनेंगे और हम आप सभी सवा सौ करोड़ देशवासियों से मैं विकास सिंह निवेदन करना चाहता हूं आपको भ्रमित होने की जरूरत नहीं है आप अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को भारतीय जनता पार्टी को अपना महत्वपूर्ण वोट देंगे तो हमारे देश में एक बार फिर से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी प्रधानमंत्री बनेंगे और हमारे देश को आगे बढ़ाएंगे धन्यवादAapne Bilkul Galat Socha Hai Pradhanmantri Shri Narendra Modi G Ne Step By Step Kaam Kiya Hai SCST Walon Ko Unka Adhikaar Mila Hai Sonu Ko Unka Adhikaar Mila Hai Muslim Mahilaon Ko Unka Adhikaar Mila Hai Aur Sabka Saath Sabka Vikash Wali Mantra Se Jo Karya Ho Raha Hai Wah Sabhi Dharm Sabhi Jati Ke Liye Saman Bhav Se Karya Ho Raha Hai Yeh Kehna Galat Hai Ki Swarno Ko Last Mein Aarakshan Diya Gaya Hai Vote Bank Ki Rajneeti Ke Liye Yeh Bilkul Galat Hai Agar Vote Bank Ki Rajneeti Karni Hoti Pradhanmantri G Ko To Kabhi Bhi Gst Hamare Desh Mein Nahi Laagu Hota Kabhi Bhi Note Bandi Nahi Hota Kabhi Bhi Road Sadak Ko Accha Nahi Banaya Jata Hai Kabhi Bhi 18000 Gav Mein Bijli Nahi Pahunchai Jati Aur Garibon Ko Hamesha Garib Banakar Rakha Jata Aur Hamare Desh Ke Kisano Ko Unka Adhikaar Nahi Milta Congress Party Ne Hamare Desh Mein Hamesha Shuru Se Hi Galat Rajneeti Ki Usne Hamare Desh Ko Garib Bana Diya Garib Isliye Banaya Ki Garib Banaya Aur Zuzu Ke Teat Banaya Hamare Desh Mein Shiksha Ki Vyavastha Ko Kharab Ki Congress Party Neta Ki Shiksha Ki Vyavastha Kar Kharab Rahegi To Unhen Wah Aasani Se Bharmit Kar Sakte Hain Lekin Pradhanmantri Shri Narendra Modi G Ke Netritva Mein Hamare Desh Mein Shiksha Ki Vyavastha Acchi Hui Hai Shiksha Ki Vyavastha Acchi Hone Se Hamare Desh Ke Log Educated Ho Rahe Hain Unke Andar Sochne Aur Samjhne Ki Kshamta Badhi Hai Aur Aane Wali Time Mein Ek Baar Phir Se Uddan Mantri Banenge Aur Hum Aap Sabhi Sava Sau Crore Deshvasiyon Se Main Vikash Singh Nivedan Karna Chahta Hoon Aapko Bharmit Hone Ki Zaroorat Nahi Hai Aap Apna Mahatvapurna Vote Bharatiya Janta Party Ko Bharatiya Janta Party Ko Apna Mahatvapurna Vote Denge To Hamare Desh Mein Ek Baar Phir Se Pradhanmantri Shri Narendra Modi G Pradhanmantri Banenge Aur Hamare Desh Ko Aage Badhaege Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Chunav Ke Antim Daur Mein Swarno Ko Aarakshan Dene Ka Vichar Kyon Aaya