बुद्धा की सबसे अच्छी सिखायी हुई बात क्या थी? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महात्मा बुद्ध की शिक्षा में से सबसे अच्छी बात थी समानता वह समानता के पक्ष भट्ट पक्षधर थे महात्मा बुद्ध के अनुसार धार्मिक हो या आध्यात्मिक सभी क्षेत्रों में सभी स्त्री एवं पुरुषों में समान योग्यता और अधिकार होने चाहिए उनका कहना था कि शिक्षा चिकित्सा और आजीविका के क्षेत्र में भी स्त्री और पुरुषों में समानता होनी चाहिए और वह स्त्री और पुरुष की समानता के पक्षधर थे उनके अनुसार एक मानव का दूसरे मानव के साथ व्यवहार मानवता के आधार पर होना चाहिए ना कि जाति धर्म वर्ण और लिंग के आधार पर उनकी शिक्षा ने उस वक्त भी समानता को महत्वपूर्ण स्थान दिया और अगर हम बुद्ध की शिक्षा पर चलें तो आज भी हम यह चाहेंगे कि हमारे समाज में समानता हो हर आधार पर हर क्षेत्र में स्त्री और पुरुषों को भी एक समान दृष्टि से देखा जाए उन्हें एक जैसे कर्तव्य एक जैसे अधिकार दिए जाएं स्त्री और पुरुष में कोई भेद नहीं हो ना किसी को नीचा समझा जाए ना कम समझा जाए वह भी पुरुष के बराबर ही है वह भी पुरुष के समकक्ष ही है और यही बुद्ध की शिक्षाओं में एक महत्वपूर्ण शिक्षा थी एक बहुत अच्छी शिक्षा दी कि उन्होंने हमेशा समानता का पक्ष लिया और वह समानता के पक्षधर थे और वह चाहते थे कि सभी क्षेत्रों में एक समानता का भाव हो और पुरुषों को समान नजर से समान दृष्टि से और समान भाव से देखा जाए
Romanized Version
महात्मा बुद्ध की शिक्षा में से सबसे अच्छी बात थी समानता वह समानता के पक्ष भट्ट पक्षधर थे महात्मा बुद्ध के अनुसार धार्मिक हो या आध्यात्मिक सभी क्षेत्रों में सभी स्त्री एवं पुरुषों में समान योग्यता और अधिकार होने चाहिए उनका कहना था कि शिक्षा चिकित्सा और आजीविका के क्षेत्र में भी स्त्री और पुरुषों में समानता होनी चाहिए और वह स्त्री और पुरुष की समानता के पक्षधर थे उनके अनुसार एक मानव का दूसरे मानव के साथ व्यवहार मानवता के आधार पर होना चाहिए ना कि जाति धर्म वर्ण और लिंग के आधार पर उनकी शिक्षा ने उस वक्त भी समानता को महत्वपूर्ण स्थान दिया और अगर हम बुद्ध की शिक्षा पर चलें तो आज भी हम यह चाहेंगे कि हमारे समाज में समानता हो हर आधार पर हर क्षेत्र में स्त्री और पुरुषों को भी एक समान दृष्टि से देखा जाए उन्हें एक जैसे कर्तव्य एक जैसे अधिकार दिए जाएं स्त्री और पुरुष में कोई भेद नहीं हो ना किसी को नीचा समझा जाए ना कम समझा जाए वह भी पुरुष के बराबर ही है वह भी पुरुष के समकक्ष ही है और यही बुद्ध की शिक्षाओं में एक महत्वपूर्ण शिक्षा थी एक बहुत अच्छी शिक्षा दी कि उन्होंने हमेशा समानता का पक्ष लिया और वह समानता के पक्षधर थे और वह चाहते थे कि सभी क्षेत्रों में एक समानता का भाव हो और पुरुषों को समान नजर से समान दृष्टि से और समान भाव से देखा जाएMahatma Buddha Ki Shiksha Mein Se Sabse Acchi Baat Thi Samanata Wah Samanata Ke Paksh Bhatt Pakshadhar The Mahatma Buddha Ke Anusar Dharmik Ho Ya Aadhyatmik Sabhi Kshetro Mein Sabhi Stri Evam Purushon Mein Saman Yogyata Aur Adhikaar Hone Chahiye Unka Kehna Tha Ki Shiksha Chikitsa Aur Aajiwika Ke Kshetra Mein Bhi Stri Aur Purushon Mein Samanata Honi Chahiye Aur Wah Stri Aur Purush Ki Samanata Ke Pakshadhar The Unke Anusar Ek Manav Ka Dusre Manav Ke Saath Vyavhar Manavta Ke Aadhar Par Hona Chahiye Na Ki Jati Dharm Varn Aur Ling Ke Aadhar Par Unki Shiksha Ne Us Waqt Bhi Samanata Ko Mahatvapurna Sthan Diya Aur Agar Hum Buddha Ki Shiksha Par Chalen To Aaj Bhi Hum Yeh Chahenge Ki Hamare Samaaj Mein Samanata Ho Har Aadhar Par Har Kshetra Mein Stri Aur Purushon Ko Bhi Ek Saman Drishti Se Dekha Jaye Unhen Ek Jaise Kartavya Ek Jaise Adhikaar Diye Jayen Stri Aur Purush Mein Koi Bhed Nahi Ho Na Kisi Ko Nicha Samjha Jaye Na Kum Samjha Jaye Wah Bhi Purush Ke Barabar Hi Hai Wah Bhi Purush Ke Samkaksh Hi Hai Aur Yahi Buddha Ki Shikshaon Mein Ek Mahatvapurna Shiksha Thi Ek Bahut Acchi Shiksha Di Ki Unhone Hamesha Samanata Ka Paksh Liya Aur Wah Samanata Ke Pakshadhar The Aur Wah Chahte The Ki Sabhi Kshetro Mein Ek Samanata Ka Bhav Ho Aur Purushon Ko Saman Nazar Se Saman Drishti Se Aur Saman Bhav Se Dekha Jaye
Likes  1  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिन आपको कुछ बुद्धा जी की सबसे अच्छी सिखाई बातें बताना चाहता हूं उन्होंने एक बात बोलिए मन सब कुछ है आपको क्या लगता है आप क्या बनेंगे हम अपने विचारों से आकार लेते हैं जैसे हम सोचते हैं वैसे ही हो जाते हैं जब हम जब हमारा मन शुद्ध होता है तो खुशी एक छाया की तरह होती है जो कभी नहीं जाती अतीत में मत रहो भविष्य का सपना मत देखो वर्तमान सन पर दिमाग पर ध्यान केंद्रित करते रहो
Romanized Version
जिन आपको कुछ बुद्धा जी की सबसे अच्छी सिखाई बातें बताना चाहता हूं उन्होंने एक बात बोलिए मन सब कुछ है आपको क्या लगता है आप क्या बनेंगे हम अपने विचारों से आकार लेते हैं जैसे हम सोचते हैं वैसे ही हो जाते हैं जब हम जब हमारा मन शुद्ध होता है तो खुशी एक छाया की तरह होती है जो कभी नहीं जाती अतीत में मत रहो भविष्य का सपना मत देखो वर्तमान सन पर दिमाग पर ध्यान केंद्रित करते रहोJin Aapko Kuch Buddha Ji Ki Sabse Acchi Sikhai Batein Batana Chahta Hoon Unhone Ek Baat Bolie Man Sab Kuch Hai Aapko Kya Lagta Hai Aap Kya Banenge Hum Apne Vicharon Se Aakaar Lete Hain Jaise Hum Sochte Hain Waise Hi Ho Jaate Hain Jab Hum Jab Hamara Man Shudh Hota Hai To Khushi Ek Chaya Ki Tarah Hoti Hai Jo Kabhi Nahi Jati Atit Mein Mat Raho Bhavishya Ka Sapna Mat Dekho Vartaman Sun Par Dimag Par Dhyan Kendrit Karte Raho
Likes  0  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Buddha Ki Sabse Acchi Sikhayi Hui Baat Kya Thi,What Was The Best Taught Thing Of Buddha?,


vokalandroid