क्या आप मुझे 1984 के सिख विरोधी दंगे के बारे में कुछ बता सकते है? क्या हुआ था उस दंगे में? ...

500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

क्या देश में कांग्रेस पर प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए क्योंकि असली दंगे तो कांग्रेस ने ही करवाए थे चाहे 1975 की इमरजेंसी हो या फिर 1984 के सिख दंगे ? ...

देखे किसी भी पार्टी पर प्रतिबंध लगाना उचित नहीं होगा क्योंकि जब आप बात करें 1975 या फिर 1984 के दंगों की या इमरजेंसी की तो उस समय कांग्रेस में जो कार्यकर्ता थे वह अलग थे इस समय जो कार्य करता है कांग्रजवाब पढ़िये
ques_icon

हमारे देश में जाती के नाम पर जो रोज दंगे होते है उनके बारे में कुछ बताइये? ...

कि हमारे समाज में आए दिन जो है जाति के नाम पर दंगे हो रहे हैं इसके बारे में सबसे बड़ी चीज उसके बाद जो है आज 2 तारीख को भारत बंद हुआ भारत बंद होने के बाद जो हमारी याद आती है वह भी इन लोगों के बीच की दूजवाब पढ़िये
ques_icon

क्या आरक्षण के प्रति हो रहे दंगे पर सरकार को कार्रवाई नहीं करना चाहिए ? ...

बिल्कुल हमारे समाज में आरक्षण के प्रति जो भी दंगे हो रहे हैं इससे सरकार को पूरी कार्यवाही करने का हक है लेकिन नौकरी गवर्नमेंट ऐसा क्यों नहीं करती है मान लीजिए कोई भी आरक्षण के लिए जो है दंगे हो रहे हैजवाब पढ़िये
ques_icon

जितने भी दंगे हुए है ज्यादातर जहाँ BJP की सरकार है वही हुए है ऐसा क्यों? ...

देखिये, मुझे लगता है कि केवल बीजेपी शासित राज्यों में दंगे हुए यह कहना बिल्कुल गलत है l क्योंकि अगर आप पश्चिम बंगाल की बात करते तो पश्चिम बंगाल में भी आए दिन दंगे होते रहते, हैदराबाद की बात करो तो हैदजवाब पढ़िये
ques_icon

महाराष्ट्र में आए दिन आरक्षण के लिए दंगे हो रहे हैं इसके कारण क्या है ? ...

महाराष्ट्र में आए दिन आरक्षण के लिए दंगे हो रहे हैं इसका क्या कारण है तो बिल्कुल आपने सही बोला जैसा कि महाराष्ट्र का जो है पता करके बताते हैं आंकड़ों के हिसाब से महाराज की जय हो बहुत ही चिंताजनक है हाजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सन 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद जिस प्रकार से तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी की हत्या हुई थी उसके पश्चात सिख विरोधी दंगे चाहे पूरे भारत में फैल गए थे विशेषकर दिल्ली के कुछ इलाकों में जो कि पिछड़े इलाके में आया था सुलतानपुरी मंगोलपुरी त्रिलोकपुरी तथा अन्य इलाके में भयंकर रूप से सिखों का नरसंहार हुआ तेरे दंगों का नाम तो दिया गया परंतु पूर्ण रूप से आदर्श अंगार था कांग्रेस के कई नेता है इसके चपेट में आ गए तथा उनके विरुद्ध बहुत से मामले अदालतों में भी 4 दिन रहे बहुत से आरोपी धीरे-धीरे करके पर ही होते गए तथा सिखों को न्याय लगातार ना मिलने के कारण में एक सुरक्षा और निराशा की भावना घर कर गई धीरे-धीरे करके या मामले या तो खत्म होते चले गए या फिर डाल दो कि मैं फाइल कर्तव्य पड़े रह गए लेकिन एक महत्वपूर्ण फैसला आज आया है जब दिल्ली हाईकोर्ट ने सज्जन सिंह तथा अन्य कुछ आरोपियों को उम्रकैद की सजा दी है जिससे कि सिखों में जो है न्याय के प्रति सम्मान और आदर की भावना जगी होगी मुझे ऐसा लगता है कि जिस प्रकार का नरसंहार उस समय दिल्ली में विशेषकर दिल्ली में जिस 3000 से अधिक सिखों का नरसंहार कर दिया गया था इस प्रकार के मामलों को ना तो मीडिया ने उठाया ना ही सरकारी पक्ष के वकीलों ने उनका सहयोग किया ना ही उन्होंने सरकारी एजेंसियों ने तथा अन्य कमीशन आयोग तथा आयोग चुने गए उन्होंने इसका सहयोग किया परंतु आज का फैसला बहुत ही सम्मान पूर्ण है तथा इस प्रकार के फैसलों में आराम वस्तु से न्याय के प्रति आस्था सिख समाज में तथा भारतीयों में अवश्य ही बढ़ेगी धन्यवाद
Romanized Version
सन 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद जिस प्रकार से तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी की हत्या हुई थी उसके पश्चात सिख विरोधी दंगे चाहे पूरे भारत में फैल गए थे विशेषकर दिल्ली के कुछ इलाकों में जो कि पिछड़े इलाके में आया था सुलतानपुरी मंगोलपुरी त्रिलोकपुरी तथा अन्य इलाके में भयंकर रूप से सिखों का नरसंहार हुआ तेरे दंगों का नाम तो दिया गया परंतु पूर्ण रूप से आदर्श अंगार था कांग्रेस के कई नेता है इसके चपेट में आ गए तथा उनके विरुद्ध बहुत से मामले अदालतों में भी 4 दिन रहे बहुत से आरोपी धीरे-धीरे करके पर ही होते गए तथा सिखों को न्याय लगातार ना मिलने के कारण में एक सुरक्षा और निराशा की भावना घर कर गई धीरे-धीरे करके या मामले या तो खत्म होते चले गए या फिर डाल दो कि मैं फाइल कर्तव्य पड़े रह गए लेकिन एक महत्वपूर्ण फैसला आज आया है जब दिल्ली हाईकोर्ट ने सज्जन सिंह तथा अन्य कुछ आरोपियों को उम्रकैद की सजा दी है जिससे कि सिखों में जो है न्याय के प्रति सम्मान और आदर की भावना जगी होगी मुझे ऐसा लगता है कि जिस प्रकार का नरसंहार उस समय दिल्ली में विशेषकर दिल्ली में जिस 3000 से अधिक सिखों का नरसंहार कर दिया गया था इस प्रकार के मामलों को ना तो मीडिया ने उठाया ना ही सरकारी पक्ष के वकीलों ने उनका सहयोग किया ना ही उन्होंने सरकारी एजेंसियों ने तथा अन्य कमीशन आयोग तथा आयोग चुने गए उन्होंने इसका सहयोग किया परंतु आज का फैसला बहुत ही सम्मान पूर्ण है तथा इस प्रकार के फैसलों में आराम वस्तु से न्याय के प्रति आस्था सिख समाज में तथा भारतीयों में अवश्य ही बढ़ेगी धन्यवादSun 1984 Mein Operation Blue Star Ke Baad Jis Prakar Se Tatkalin Bharatiya Pradhanmantri Shrimati Indira Gandhi G Ki Hatya Hui Thi Uske Pashchat Sikh Virodhi Denge Chahe Poore Bharat Mein Fail Gaye The Visheshakar Delhi Ke Kuch Ilakon Mein Jo Ki Pichade Ilake Mein Aaya Tha Sultanpuri Mangolpuri Trilokpuri Tatha Anya Ilake Mein Bhayankar Roop Se Sikhon Ka Narasanhaar Hua Tere Dango Ka Naam To Diya Gaya Parantu Poorn Roop Se Adarsh Anger Tha Congress Ke Kai Neta Hai Iske Chapet Mein Aa Gaye Tatha Unke Viruddha Bahut Se Mamle Adalaton Mein Bhi 4 Din Rahe Bahut Se Aaropi Dhire Dhire Karke Par Hi Hote Gaye Tatha Sikhon Ko Nyay Lagatar Na Milne Ke Kaaran Mein Ek Suraksha Aur Nirasha Ki Bhavna Ghar Kar Gayi Dhire Dhire Karke Ya Mamle Ya To Khatam Hote Chale Gaye Ya Phir Dal Do Ki Main File Kartavya Pade Rah Gaye Lekin Ek Mahatvapurna Faisla Aaj Aaya Hai Jab Delhi Highcourt Ne Sajjan Singh Tatha Anya Kuch Aaropiyon Ko Umrakaid Ki Saja Di Hai Jisse Ki Sikhon Mein Jo Hai Nyay Ke Prati Samman Aur Aadar Ki Bhavna Gagi Hogi Mujhe Aisa Lagta Hai Ki Jis Prakar Ka Narasanhaar Us Samay Delhi Mein Visheshakar Delhi Mein Jis 3000 Se Adhik Sikhon Ka Narasanhaar Kar Diya Gaya Tha Is Prakar Ke Mamlon Ko Na To Media Ne Uthaya Na Hi Sarkari Paksh Ke Vakilon Ne Unka Sahyog Kiya Na Hi Unhone Sarkari Agencyon Ne Tatha Anya Commision Aayog Tatha Aayog Chune Gaye Unhone Iska Sahyog Kiya Parantu Aaj Ka Faisla Bahut Hi Samman Poorn Hai Tatha Is Prakar Ke Faisalon Mein Aaram Vastu Se Nyay Ke Prati Aastha Sikh Samaaj Mein Tatha Bharatiyon Mein Avashya Hi Badhegi Dhanyavad
Likes  73  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

1984 के कालखंड में सिख आतंकवाद अपने चरम पर था भिंडरवाला उसका नेतृत्व करता था कभी जो भारतीय राजनीति में इंदिरा जी के बहुत करीब हुआ करता था वही उस पूरे आतंकवादी अभियान को चला रहा था और सिख समाज के प्रति पूरे देश में एक स्वाभाविक रूप और गुस्सा व्याप्त था लोगों के अंदर अभी यह चल ही रहा था इसी दौरान तत्कालीन भारत के प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी की उम्र के ही अंग रक्षकों के द्वारा जो सिक्के थे उनके द्वारा हत्या कर दी गई निर्मम तरीके से इसका पूरे देश में जबरदस्त विरोध हुआ और गृह हिंसा के आदमी पूरा देश चल गया जिसमें सिखों को चुन चुन कर देश के लगभग सभी क्षेत्रों में सभी जिलों में चुन चुन कर मारा गया उसमें दिल्ली सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र था दिल्ली में सबसे अधिक कर सकते और दिल्ली में निकाल निकाल कर के सिखों को मारा गया और कहीं ना कहीं जिस तरह का आतंकवाद पंजाब के अंदर में था निर्दोष लोग मारे जा रहे थे सिख गैर सिखों की को चिन्हित करके उनकी हत्याएं कर रहे थे और ऊपर से प्रधानमंत्री की हत्या आपने आपने लोगों के सब्र का बांध टूट गया और जमकर आम लोगों का गुस्सा सिख समाज के ऊपर फूट पड़ा और चाहे वो कारू हो वाराणसी हो पटना हो देश का कोई भोपाल हो सभी क्षेत्रों में लगभग सिक्खों के ऊपर हमले हुए
Romanized Version
1984 के कालखंड में सिख आतंकवाद अपने चरम पर था भिंडरवाला उसका नेतृत्व करता था कभी जो भारतीय राजनीति में इंदिरा जी के बहुत करीब हुआ करता था वही उस पूरे आतंकवादी अभियान को चला रहा था और सिख समाज के प्रति पूरे देश में एक स्वाभाविक रूप और गुस्सा व्याप्त था लोगों के अंदर अभी यह चल ही रहा था इसी दौरान तत्कालीन भारत के प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी की उम्र के ही अंग रक्षकों के द्वारा जो सिक्के थे उनके द्वारा हत्या कर दी गई निर्मम तरीके से इसका पूरे देश में जबरदस्त विरोध हुआ और गृह हिंसा के आदमी पूरा देश चल गया जिसमें सिखों को चुन चुन कर देश के लगभग सभी क्षेत्रों में सभी जिलों में चुन चुन कर मारा गया उसमें दिल्ली सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र था दिल्ली में सबसे अधिक कर सकते और दिल्ली में निकाल निकाल कर के सिखों को मारा गया और कहीं ना कहीं जिस तरह का आतंकवाद पंजाब के अंदर में था निर्दोष लोग मारे जा रहे थे सिख गैर सिखों की को चिन्हित करके उनकी हत्याएं कर रहे थे और ऊपर से प्रधानमंत्री की हत्या आपने आपने लोगों के सब्र का बांध टूट गया और जमकर आम लोगों का गुस्सा सिख समाज के ऊपर फूट पड़ा और चाहे वो कारू हो वाराणसी हो पटना हो देश का कोई भोपाल हो सभी क्षेत्रों में लगभग सिक्खों के ऊपर हमले हुए1984 Ke Kalakhand Mein Sikh Aatankwad Apne Charam Par Tha Bhindarvala Uska Netritva Karta Tha Kabhi Jo Bharatiya Rajneeti Mein Indira G Ke Bahut Karib Hua Karta Tha Wahi Us Poore Aatankwadi Abhiyan Ko Chala Raha Tha Aur Sikh Samaaj Ke Prati Poore Desh Mein Ek Svabhavik Roop Aur Gussa Vyapt Tha Logon Ke Andar Abhi Yeh Chal Hi Raha Tha Isi Dauran Tatkalin Bharat Ke Pradhanmantri Swargiya Shrimati Indira Gandhi Ki Umar Ke Hi Ang Rakshako Ke Dwara Jo Sikke The Unke Dwara Hatya Kar Di Gayi Nirmam Tarike Se Iska Poore Desh Mein Jabardast Virodh Hua Aur Grah Hinsa Ke Aadmi Pura Desh Chal Gaya Jisme Sikhon Ko Chun Chun Kar Desh Ke Lagbhag Sabhi Kshetro Mein Sabhi Jilon Mein Chun Chun Kar Mara Gaya Usamen Delhi Sarvadhik Prabhavit Shetra Tha Delhi Mein Sabse Adhik Kar Sakte Aur Delhi Mein Nikal Nikal Kar Ke Sikhon Ko Mara Gaya Aur Kahin Na Kahin Jis Tarah Ka Aatankwad Punjab Ke Andar Mein Tha Nirdosh Log Maare Ja Rahe The Sikh Gair Sikhon Ki Ko Chinhit Karke Unki Hatyaain Kar Rahe The Aur Upar Se Pradhanmantri Ki Hatya Aapne Aapne Logon Ke Sabr Ka Bandh Toot Gaya Aur Jamakar Aam Logon Ka Gussa Sikh Samaaj Ke Upar Foot Pada Aur Chahe Vo Karu Ho Varanasi Ho Patna Ho Desh Ka Koi Bhopal Ho Sabhi Kshetro Mein Lagbhag Sikkhon Ke Upar Hamle Huye
Likes  6  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हम आपको बिल्कुल बता सकते हैं 1984 के सिख दंगे हैं सिख विरोधी दंगे वह क्यों हुए असल में इसको दंगा कहना ही नहीं चाहिए दंगा दो गुटों के बीच में होता है जबकि एक तरफा हिंसा थी यह जनसंघ आरता कांग्रेस के लोगों ने निर्मम तरीके से सिखों की निर्दोष सिखों की भाइयों बहनों की हत्या की थी ठीक है यह हुआ क्यों था 1984 में ही प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के बॉडीगार्ड ज्योति उस इन थे और उन्होंने उन की गोली मारकर हत्या कर दी थी अब आज के समय में यह कहा जाता है कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता ठीक है कोई भी अगर मुस्लिम कुछ कर देगा तो क्या बोलते हैं आतंकवाद का धर्म नहीं होता तो सिखों के लिए धन कैसे होगा अगर एक सिख बॉडीगार्ड ने इंदिरा गांधी जी को मार दिया जो कि पूरी तरह से गलत था उससे खुद बॉडीगार्ड को आप जो सजा देना है दे दीजिए फांसी दे दीजिए मृत्यु दंड दे दीजिए आजीवन कारावास तिथि लेकिन यह सोच कर कि एक सिख ने मारा इसलिए पूरे सिखों को निर्दोष सिखों को आप पंजाब में दिल्ली में बड़ी मात्रा में और यूपी वेस्ट इलाकों में लगभग 3000 सिक्कों को जला दिया गया था जिंदा उनकी हत्या कर दी गई थी और टायर डाल डाल कर जलाया गया था इतनी निर्मम तरीके से और आज भी उस केस की सुनवाई नहीं हो पा रही है हो रही है तो अभी हाल ही में एक कांग्रेस के लीडर सज्जन कुमार को आजीवन कारावास की सजा मिली है लेकिन और भी दोषी अभी बाकी हैं जिन्हें सजा मिलना बाकी है जगदीश टाइटलर है और भी नेता है कांग्रेस के तुम को सजा मिलना चाहिए और यह यही इस कारण दंगा हुआ था यहां तक कि वहां के लोग वर्तमान प्रधानमंत्री राजीव गांधी तो उन्होंने कहा था कि जब बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है तब उन्होंने इंदिरा गांधी को बड़ा पेड़ कहा था और उस हिंसा को यह मान्यता कि धरती हिलती है इससे आप समझ सकते हैं कि कांग्रेस कितनी और संवेदनशील थी उस समय और आज भी है
Romanized Version
जी हम आपको बिल्कुल बता सकते हैं 1984 के सिख दंगे हैं सिख विरोधी दंगे वह क्यों हुए असल में इसको दंगा कहना ही नहीं चाहिए दंगा दो गुटों के बीच में होता है जबकि एक तरफा हिंसा थी यह जनसंघ आरता कांग्रेस के लोगों ने निर्मम तरीके से सिखों की निर्दोष सिखों की भाइयों बहनों की हत्या की थी ठीक है यह हुआ क्यों था 1984 में ही प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के बॉडीगार्ड ज्योति उस इन थे और उन्होंने उन की गोली मारकर हत्या कर दी थी अब आज के समय में यह कहा जाता है कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता ठीक है कोई भी अगर मुस्लिम कुछ कर देगा तो क्या बोलते हैं आतंकवाद का धर्म नहीं होता तो सिखों के लिए धन कैसे होगा अगर एक सिख बॉडीगार्ड ने इंदिरा गांधी जी को मार दिया जो कि पूरी तरह से गलत था उससे खुद बॉडीगार्ड को आप जो सजा देना है दे दीजिए फांसी दे दीजिए मृत्यु दंड दे दीजिए आजीवन कारावास तिथि लेकिन यह सोच कर कि एक सिख ने मारा इसलिए पूरे सिखों को निर्दोष सिखों को आप पंजाब में दिल्ली में बड़ी मात्रा में और यूपी वेस्ट इलाकों में लगभग 3000 सिक्कों को जला दिया गया था जिंदा उनकी हत्या कर दी गई थी और टायर डाल डाल कर जलाया गया था इतनी निर्मम तरीके से और आज भी उस केस की सुनवाई नहीं हो पा रही है हो रही है तो अभी हाल ही में एक कांग्रेस के लीडर सज्जन कुमार को आजीवन कारावास की सजा मिली है लेकिन और भी दोषी अभी बाकी हैं जिन्हें सजा मिलना बाकी है जगदीश टाइटलर है और भी नेता है कांग्रेस के तुम को सजा मिलना चाहिए और यह यही इस कारण दंगा हुआ था यहां तक कि वहां के लोग वर्तमान प्रधानमंत्री राजीव गांधी तो उन्होंने कहा था कि जब बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है तब उन्होंने इंदिरा गांधी को बड़ा पेड़ कहा था और उस हिंसा को यह मान्यता कि धरती हिलती है इससे आप समझ सकते हैं कि कांग्रेस कितनी और संवेदनशील थी उस समय और आज भी हैG Hum Aapko Bilkul Bata Sakte Hain 1984 Ke Sikh Denge Hain Sikh Virodhi Denge Wah Kyon Huye Asal Mein Isko Danga Kehna Hi Nahi Chahiye Danga Do Guton Ke Bich Mein Hota Hai Jabki Ek Tarafa Hinsa Thi Yeh Jansandh Arata Congress Ke Logon Ne Nirmam Tarike Se Sikhon Ki Nirdosh Sikhon Ki Bhaiyon Bahanon Ki Hatya Ki Thi Theek Hai Yeh Hua Kyon Tha 1984 Mein Hi Pradhanmantri Indira Gandhi G Ke Bodygaurd Jyoti Us In The Aur Unhone Un Ki Goli Marakar Hatya Kar Di Thi Ab Aaj Ke Samay Mein Yeh Kaha Jata Hai Ki Aatankwad Ka Koi Dharm Nahi Hota Theek Hai Koi Bhi Agar Muslim Kuch Kar Dega To Kya Bolte Hain Aatankwad Ka Dharm Nahi Hota To Sikhon Ke Liye Dhan Kaise Hoga Agar Ek Sikh Bodygaurd Ne Indira Gandhi G Ko Maar Diya Jo Ki Puri Tarah Se Galat Tha Usse Khud Bodygaurd Ko Aap Jo Saja Dena Hai De Dijiye Fansi De Dijiye Mrityu Dand De Dijiye Aajivan Karavas Tithi Lekin Yeh Soch Kar Ki Ek Sikh Ne Mara Isliye Poore Sikhon Ko Nirdosh Sikhon Ko Aap Punjab Mein Delhi Mein Badi Matra Mein Aur Up West Ilakon Mein Lagbhag 3000 Sikko Ko Jala Diya Gaya Tha Zinda Unki Hatya Kar Di Gayi Thi Aur Tyre Dal Dal Kar Jalaaya Gaya Tha Itni Nirmam Tarike Se Aur Aaj Bhi Us Case Ki Sunavai Nahi Ho Pa Rahi Hai Ho Rahi Hai To Abhi Haal Hi Mein Ek Congress Ke Leader Sajjan Kumar Ko Aajivan Karavas Ki Saja Mili Hai Lekin Aur Bhi Doshi Abhi Baki Hain Jinhen Saja Milna Baki Hai Jagdish Tytler Hai Aur Bhi Neta Hai Congress Ke Tum Ko Saja Milna Chahiye Aur Yeh Yahi Is Kaaran Danga Hua Tha Yahan Tak Ki Wahan Ke Log Vartaman Pradhanmantri Rajeev Gandhi To Unhone Kaha Tha Ki Jab Bada Ped Girta Hai To Dharti Hilati Hai Tab Unhone Indira Gandhi Ko Bada Ped Kaha Tha Aur Us Hinsa Ko Yeh Manyata Ki Dharti Hilati Hai Isse Aap Samajh Sakte Hain Ki Congress Kitni Aur Samvedansheel Thi Us Samay Aur Aaj Bhi Hai
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें आज तक यह समझ में नहीं आया कि सिख लोग कांग्रेस पार्टी को वोट क्यों देते हैं कांग्रेस पार्टी नहीं 1984 का दंगा करवाया था हमारे देश में न जाने कितने सिख भाई बहनों के साथ गलत हुआ और आज वही कांग्रेस पार्टी है जिसने मध्यप्रदेश में कमलनाथ जी को मुख्यमंत्री बनाया है एक सिख दंगों का जो मेन मुजरिम था आज वह मुख्यमंत्री बनाए किसी स्टेट का उसके बाद भी हमारे सीख भाई कांग्रेस पार्टी को वोट देते हैं मैं आप सभी देशवासियों से निवेदन करना चाहता हूं कांग्रेस पार्टी अच्छी पार्टी नहीं है कांग्रेस पार्टी हमें भ्रमित करने की कोशिश करती है कांग्रेस पार्टी हमारे देश में भ्रष्टाचार की राजनीति करती है दंगा करवाती है तो साथ करवाती है गरीबों को मरवाती है किसानों के ऊपर लाठीचार्ज करवाती है आइए हम सभी लोग मिलजुलकर अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि हमारे देश के किसानों को उनका अधिकार मिल सकेगा वो को उनका अधिकार मिल सके और 1984 के दंगों के सभी अपराधियों को फांसी के फंदे पर लटकाया जा सके धन्यवाद
Romanized Version
हमें आज तक यह समझ में नहीं आया कि सिख लोग कांग्रेस पार्टी को वोट क्यों देते हैं कांग्रेस पार्टी नहीं 1984 का दंगा करवाया था हमारे देश में न जाने कितने सिख भाई बहनों के साथ गलत हुआ और आज वही कांग्रेस पार्टी है जिसने मध्यप्रदेश में कमलनाथ जी को मुख्यमंत्री बनाया है एक सिख दंगों का जो मेन मुजरिम था आज वह मुख्यमंत्री बनाए किसी स्टेट का उसके बाद भी हमारे सीख भाई कांग्रेस पार्टी को वोट देते हैं मैं आप सभी देशवासियों से निवेदन करना चाहता हूं कांग्रेस पार्टी अच्छी पार्टी नहीं है कांग्रेस पार्टी हमें भ्रमित करने की कोशिश करती है कांग्रेस पार्टी हमारे देश में भ्रष्टाचार की राजनीति करती है दंगा करवाती है तो साथ करवाती है गरीबों को मरवाती है किसानों के ऊपर लाठीचार्ज करवाती है आइए हम सभी लोग मिलजुलकर अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि हमारे देश के किसानों को उनका अधिकार मिल सकेगा वो को उनका अधिकार मिल सके और 1984 के दंगों के सभी अपराधियों को फांसी के फंदे पर लटकाया जा सके धन्यवादHume Aaj Tak Yeh Samajh Mein Nahi Aaya Ki Sikh Log Congress Party Ko Vote Kyon Dete Hain Congress Party Nahi 1984 Ka Danga Karvaya Tha Hamare Desh Mein N Jaane Kitne Sikh Bhai Bahanon Ke Saath Galat Hua Aur Aaj Wahi Congress Party Hai Jisne Madhya Pradesh Mein Kamalnath G Ko Mukhyamantri Banaya Hai Ek Sikh Dango Ka Jo Main Mujarim Tha Aaj Wah Mukhyamantri Banaye Kisi State Ka Uske Baad Bhi Hamare Seekh Bhai Congress Party Ko Vote Dete Hain Main Aap Sabhi Deshvasiyon Se Nivedan Karna Chahta Hoon Congress Party Acchi Party Nahi Hai Congress Party Hume Bharmit Karne Ki Koshish Karti Hai Congress Party Hamare Desh Mein Bhrashtachar Ki Rajneeti Karti Hai Danga Karwati Hai To Saath Karwati Hai Garibon Ko Marvati Hai Kisano Ke Upar Lathicharj Karwati Hai Aaiye Hum Sabhi Log Miljulakar Apna Mahatvapurna Vote Bharatiya Janta Party Ko Dein Taki Hamare Desh Ke Kisano Ko Unka Adhikaar Mil Sakega Vo Ko Unka Adhikaar Mil Sake Aur 1984 Ke Dango Ke Sabhi Apradhiyon Ko Fansi Ke Fande Par Latakaaya Ja Sake Dhanyavad
Likes  13  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देना भी सवाल के जवाब में मैं यही कहना चाहूंगा कि जो उन्होंने सौ चौरासी में जो ऑपरेशन ब्लूस्टार अमृतसर गोल्डन टेंपल में किया गया उसी के एवज में इंदिरा गांधी की हत्या कर दी गई उसी सा और जिस दिन गांधी की हत्या हुई उसी दिन सिख विरोधी दंगे भड़के दंगों में बहुत ज्यादा सिख मारे गए थे पूरे देश में सबसे ज्यादा सिक्स दिल्ली में मारे गए थे सरकारी रिकॉर्ड क्यों बताता है उससे कई गुना ज्यादा सिखों की हत्या हुई थी न सिर्फ सिर्फ मेल पुरुषों की हत्या होती बल्कि बच्चे औरतों के साथ भी बहुत ज्यादा दुराचार और नरसंहार किया गया था आती आपको जवाब मिल गया होगा आपके अपने सवाल का हां मैं इससे भी गौर रोशनी ज्यादा चाहूंगा जो ऑपरेशन ब्लूस्टार था वह खालिस्तान मूवमेंट के खिलाफ था समय कम है इससे ज्यादा मैं इसमें भी जवाब नहीं दे सकता आयोग की आंखों में जॉब समझ में आया वह अच्छा लगा हो अगर जवाब अच्छा लगा उसको लाइक और शेयर करना मत भूलिए गा और अगर आप मुझे इंस्टाग्राम पर फॉलो करना चा यह तो मैंने अपनी स्टाग्राम किया ही नहीं इसकी प्रोफाइल में दे रखी है
Romanized Version
देना भी सवाल के जवाब में मैं यही कहना चाहूंगा कि जो उन्होंने सौ चौरासी में जो ऑपरेशन ब्लूस्टार अमृतसर गोल्डन टेंपल में किया गया उसी के एवज में इंदिरा गांधी की हत्या कर दी गई उसी सा और जिस दिन गांधी की हत्या हुई उसी दिन सिख विरोधी दंगे भड़के दंगों में बहुत ज्यादा सिख मारे गए थे पूरे देश में सबसे ज्यादा सिक्स दिल्ली में मारे गए थे सरकारी रिकॉर्ड क्यों बताता है उससे कई गुना ज्यादा सिखों की हत्या हुई थी न सिर्फ सिर्फ मेल पुरुषों की हत्या होती बल्कि बच्चे औरतों के साथ भी बहुत ज्यादा दुराचार और नरसंहार किया गया था आती आपको जवाब मिल गया होगा आपके अपने सवाल का हां मैं इससे भी गौर रोशनी ज्यादा चाहूंगा जो ऑपरेशन ब्लूस्टार था वह खालिस्तान मूवमेंट के खिलाफ था समय कम है इससे ज्यादा मैं इसमें भी जवाब नहीं दे सकता आयोग की आंखों में जॉब समझ में आया वह अच्छा लगा हो अगर जवाब अच्छा लगा उसको लाइक और शेयर करना मत भूलिए गा और अगर आप मुझे इंस्टाग्राम पर फॉलो करना चा यह तो मैंने अपनी स्टाग्राम किया ही नहीं इसकी प्रोफाइल में दे रखी हैDena Bhi Sawal Ke Jawab Mein Main Yahi Kehna Chahunga Ki Jo Unhone Sau Chaurasi Mein Jo Operation Blustar Amritsar Golden Temple Mein Kiya Gaya Ussi Ke Evaj Mein Indira Gandhi Ki Hatya Kar Di Gayi Ussi Sa Aur Jis Din Gandhi Ki Hatya Hui Ussi Din Sikh Virodhi Denge Bhadake Dango Mein Bahut Zyada Sikh Maare Gaye The Poore Desh Mein Sabse Zyada Six Delhi Mein Maare Gaye The Sarkari Record Kyon Batata Hai Usse Kai Guna Zyada Sikhon Ki Hatya Hui Thi N Sirf Sirf Mail Purushon Ki Hatya Hoti Balki Bacche Auraton Ke Saath Bhi Bahut Zyada Duraachaar Aur Narasanhaar Kiya Gaya Tha Aati Aapko Jawab Mil Gaya Hoga Aapke Apne Sawal Ka Haan Main Isse Bhi Gaur Roshni Zyada Chahunga Jo Operation Blustar Tha Wah Khalistan Movement Ke Khilaf Tha Samay Kam Hai Isse Zyada Main Isme Bhi Jawab Nahi De Sakta Aayog Ki Aakhon Mein Job Samajh Mein Aaya Wah Accha Laga Ho Agar Jawab Accha Laga Usko Like Aur Share Karna Mat Bhuliye Ga Aur Agar Aap Mujhe Instagram Par Follow Karna Cha Yeh To Maine Apni Stagram Kiya Hi Nahi Iski Profile Mein De Rakhi Hai
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Aap Mujhe 1984 Ke Sikh Virodhi Dange Ke Bare Mein Kuch Bata Sakte Hai Kya Hua Tha Us Dange Mein,


vokalandroid