मुझे यूपीएससी की तैयारी करनी है तो मेरे लिए बेस्ट कोचिंग इंस्ट्यूट क्या हो सकता है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स यूपीएससी तैयारी करने के लिए कोचिंग और सेल्फी दोनों का रोल होता है बेटा बेटा बहुत सारी प्रॉब्लम जैसे क्रिएट होते रहते हैं सोशल जस्टिस में गवर्नेंस में आई आर में कुछ इकोनॉमिक्स के वर्ड होते हैं सेंटेंस ओं थे जिसको समझ नहीं पाते हैं ऐसे साइंस ज्योग्राफी है कंडोम क्या होता है हमें देना जरूरी होता है बेटा एक माहौल में होता है दूसरी चीज में होता है बेटा की रोटी बनी रहती है वैसे पड़ा जब सेल्फ स्टडी करते हैं उसे बहुत सारी प्रॉब्लम क्रिएट होते जैसे बेटा क्या होता है कि कोई टॉपिक समय से समाप्त नहीं हो पाता है और हमेशा ही लगता की तैयारी मेरी अधूरी है लेकिन जब कोचिंग कर लेते तो लगता है कि मेरी तैयारी पूरी हो चुकी अब उसको जो हमें जो है रेगुलर प्रैक्टिस करने की जरूरत है बेटा है ना दूसरी चीज है बेटा की कोचिंग कर लेने से जोश बहुत ज्यादा इंपॉर्टेंट चीजें होती है कि हमें ग्रुप के साथ साथ हमारा एक टाइम ड्यूरेशन के अंदर चीजें हमारी खबर हो जाती है बेटा तो कोचिंग करना जरूरी होता है कोचिंग में कीजिए कहां की जाए और हर कोचिंग में हर टॉपिक अच्छी नहीं होती बेटा तो कोचिंग में बहुत सोच समझ के करना चाहिए कि सीट और किसी कोचिंग में सब कुछ करिए कि जीएसके पार्ट अच्छे हैं तो जीएस में कौन से अच्छे हैं इस तरीकों को ध्यान में देना चाहिए बेटा अलग अलग है डिविलियर्स की कोचिंग करनी चाहिए और और दिल्ली का दिल्ली का बेटा जो है लेखन शैली पर काम करते रहना चाहिए कोचिंग में हो सकता है तो ठीक है भाई आप में कर सकते हैं अभी बैकग्राउंड काम कर रहे हैं तो इसे एक जो है कहीं ना कहीं इसका भी भी फर्क पड़ता है और टीचर जो है अपने अनुभव के माध्यम से आपको एक बेस्ट कर देता है ओके फ्रेंड्स गुड नाइट गोविंद शुक्ला इलाहाबाद उद्भव
Romanized Version
हेलो फ्रेंड्स यूपीएससी तैयारी करने के लिए कोचिंग और सेल्फी दोनों का रोल होता है बेटा बेटा बहुत सारी प्रॉब्लम जैसे क्रिएट होते रहते हैं सोशल जस्टिस में गवर्नेंस में आई आर में कुछ इकोनॉमिक्स के वर्ड होते हैं सेंटेंस ओं थे जिसको समझ नहीं पाते हैं ऐसे साइंस ज्योग्राफी है कंडोम क्या होता है हमें देना जरूरी होता है बेटा एक माहौल में होता है दूसरी चीज में होता है बेटा की रोटी बनी रहती है वैसे पड़ा जब सेल्फ स्टडी करते हैं उसे बहुत सारी प्रॉब्लम क्रिएट होते जैसे बेटा क्या होता है कि कोई टॉपिक समय से समाप्त नहीं हो पाता है और हमेशा ही लगता की तैयारी मेरी अधूरी है लेकिन जब कोचिंग कर लेते तो लगता है कि मेरी तैयारी पूरी हो चुकी अब उसको जो हमें जो है रेगुलर प्रैक्टिस करने की जरूरत है बेटा है ना दूसरी चीज है बेटा की कोचिंग कर लेने से जोश बहुत ज्यादा इंपॉर्टेंट चीजें होती है कि हमें ग्रुप के साथ साथ हमारा एक टाइम ड्यूरेशन के अंदर चीजें हमारी खबर हो जाती है बेटा तो कोचिंग करना जरूरी होता है कोचिंग में कीजिए कहां की जाए और हर कोचिंग में हर टॉपिक अच्छी नहीं होती बेटा तो कोचिंग में बहुत सोच समझ के करना चाहिए कि सीट और किसी कोचिंग में सब कुछ करिए कि जीएसके पार्ट अच्छे हैं तो जीएस में कौन से अच्छे हैं इस तरीकों को ध्यान में देना चाहिए बेटा अलग अलग है डिविलियर्स की कोचिंग करनी चाहिए और और दिल्ली का दिल्ली का बेटा जो है लेखन शैली पर काम करते रहना चाहिए कोचिंग में हो सकता है तो ठीक है भाई आप में कर सकते हैं अभी बैकग्राउंड काम कर रहे हैं तो इसे एक जो है कहीं ना कहीं इसका भी भी फर्क पड़ता है और टीचर जो है अपने अनुभव के माध्यम से आपको एक बेस्ट कर देता है ओके फ्रेंड्स गुड नाइट गोविंद शुक्ला इलाहाबाद उद्भवHello Friends Upsc Taiyari Karne Ke Liye Coaching Aur Selfie Dono Ka Roll Hota Hai Beta Beta Bahut Saree Problem Jaise Create Hote Rehte Hain Social Justice Mein Governance Mein I R Mein Kuch Economics Ke Word Hote Hain Sentence On The Jisko Samajh Nahi Paate Hain Aise Science Geography Hai Condom Kya Hota Hai Hume Dena Zaroori Hota Hai Beta Ek Maahaul Mein Hota Hai Dusri Cheez Mein Hota Hai Beta Ki Roti Bani Rehti Hai Waise Pada Jab Self Study Karte Hain Use Bahut Saree Problem Create Hote Jaise Beta Kya Hota Hai Ki Koi Topic Samay Se Samapt Nahi Ho Pata Hai Aur Hamesha Hi Lagta Ki Taiyari Meri Adhuri Hai Lekin Jab Coaching Kar Lete To Lagta Hai Ki Meri Taiyari Puri Ho Chuki Ab Usko Jo Hume Jo Hai Regular Practice Karne Ki Zaroorat Hai Beta Hai Na Dusri Cheez Hai Beta Ki Coaching Kar Lene Se Josh Bahut Zyada Important Cheezen Hoti Hai Ki Hume Group Ke Saath Saath Hamara Ek Time Duration Ke Andar Cheezen Hamari Khabar Ho Jati Hai Beta To Coaching Karna Zaroori Hota Hai Coaching Mein Kijiye Kahaan Ki Jaye Aur Har Coaching Mein Har Topic Acchi Nahi Hoti Beta To Coaching Mein Bahut Soch Samajh Ke Karna Chahiye Ki Seat Aur Kisi Coaching Mein Sab Kuch Kariye Ki GSK Part Acche Hain To GS Mein Kaon Se Acche Hain Is Trikon Ko Dhyan Mein Dena Chahiye Beta Alag Alag Hai Devilliers Ki Coaching Karni Chahiye Aur Aur Delhi Ka Delhi Ka Beta Jo Hai Lekhan Shaili Par Kaam Karte Rehna Chahiye Coaching Mein Ho Sakta Hai To Theek Hai Bhai Aap Mein Kar Sakte Hain Abhi Background Kaam Kar Rahe Hain To Ise Ek Jo Hai Kahin Na Kahin Iska Bhi Bhi Fark Padata Hai Aur Teacher Jo Hai Apne Anubhav Ke Maadhyam Se Aapko Ek Best Kar Deta Hai Ok Friends Good Night Govind Shukla Allahabad Udbhav
Likes  14  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

भारत के UPSC परीक्षा के सबसे अच्छे कोचिंग इंस्टीट्यूट का क्या नाम है ? ...

यूपीएससी के लिए भाषण क्वेश्चन बहुत अच्छे हैं जिनकी भारत आईएएस अकैडमी दिल्ली में खासकर बच्चे कोचिंग में वहां पर जाकर पढ़ सकते नेशनल आईएएस अकैडमी अवॉर्ड्स है बहुत अच्छे-अच्छे क्वेश्चन छूट है आईपीसी के लजवाब पढ़िये
ques_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Mujhe Upsc Ki Taiyari Karni Hai Toh Mere Liye Best Coaching Institute Kya Ho Sakta Hai,


vokalandroid