भारत का प्रधानमंत्री सांसद के द्वारा ना चुना जाना चाहिए, ब्लके सीधे जनता द्वारा चुना जाना चाहिए। ऐसा क्यों नही हो सकता है ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बी के दो तरीके के गवर्नमेंट होती है क्या प्रेसीडेंशियल फॉर्म ऑफ गवर्नमेंट और दूसरा होता है जो हमारा पालम एंट्री सिस्टम ऑफ गवर्नेंस है यह दो जो मॉडल्स है वह डेमोक्रेसी में पॉपुलर हैं इंडिया जो है वह पा...जवाब पढ़िये
बी के दो तरीके के गवर्नमेंट होती है क्या प्रेसीडेंशियल फॉर्म ऑफ गवर्नमेंट और दूसरा होता है जो हमारा पालम एंट्री सिस्टम ऑफ गवर्नेंस है यह दो जो मॉडल्स है वह डेमोक्रेसी में पॉपुलर हैं इंडिया जो है वह पालम एंट्री डेमोक्रेसी को फॉलो करता है और पाल अमेठी डेमोक्रेसी का सिस्टम नहीं होता है कि सबसे पहले जनता जो है वह मेंबर पार्लियामेंट को चुनती है और उसके बाद में वह फिर जो है प्रधानमंत्री का अगर हमें प्रधानमंत्री को डायरेक्टरी चलना है तो हमें सिस्टम बदलना पड़ेगा और हमें प्रेसीडेंशियल सिस्टम में जाना पड़ेगा जैसा कि अमेरिका में हैं और तभी जो है वह डायरेक्ट इलेक्शन जो है वह प्रसिडेंट का हो सकता हैBe Ke Do Tarike Ke Government Hoti Hai Kya Presidenshiyal Form Of Government Aur Doosra Hota Hai Jo Hamara Palam Entry System Of Governance Hai Yeh Do Jo Models Hai Wah Democracy Mein Popular Hain India Jo Hai Wah Palam Entry Democracy Ko Follow Karta Hai Aur Pal Amethi Democracy Ka System Nahi Hota Hai Ki Sabse Pehle Janta Jo Hai Wah Member Parliament Ko Chunati Hai Aur Uske Baad Mein Wah Phir Jo Hai Pradhanmantri Ka Agar Hume Pradhanmantri Ko Dayrektari Chalna Hai To Hume System Badalna Padega Aur Hume Presidenshiyal System Mein Jana Padega Jaisa Ki America Mein Hain Aur Tabhi Jo Hai Wah Direct Election Jo Hai Wah Prasident Ka Ho Sakta Hai
Likes  67  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कौन कहता है कि हमारे देश के प्रधानमंत्री सांसद के द्वारा चुने जाते हैं जनता के द्वारा द्वारा नहीं चुने जाते हैं देखिए प्रधानमंत्री का चुनाव जनता के द्वारा ही होता है यह थोड़ा सोचने का तरीका आपका अलग ह...जवाब पढ़िये
कौन कहता है कि हमारे देश के प्रधानमंत्री सांसद के द्वारा चुने जाते हैं जनता के द्वारा द्वारा नहीं चुने जाते हैं देखिए प्रधानमंत्री का चुनाव जनता के द्वारा ही होता है यह थोड़ा सोचने का तरीका आपका अलग है जो प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होते हैं उन्हीं को देखकर सांसदों को वोट दिया जाता है अगर प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार सही नहीं रहेगा तू कभी जीत नहीं पाएगा वह प्रधानमंत्री नहीं बन पाएगा और बहुत सारी जनता ऐसी होती है जो सिर्फ क्षेत्रीय नेता को देख कर आज के डेट में कोई वोट नहीं दे रहा है आज के देश आज के डेट में नेशनल पार्टी को देखकर वोट दिया जाता है और प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार कौन है उसको देखकर सांसदों को वोट दिया जाता है धन्यवादKaon Kahata Hai Ki Hamare Desh Ke Pradhanmantri Saansad Ke Dwara Chune Jaate Hain Janta Ke Dwara Dwara Nahi Chune Jaate Hain Dekhie Pradhanmantri Ka Chunav Janta Ke Dwara Hi Hota Hai Yeh Thoda Sochne Ka Tarika Aapka Alag Hai Jo Pradhanmantri Pad Ke Ummidvar Hote Hain Unhin Ko Dekhkar Sansadon Ko Vote Diya Jata Hai Agar Pradhanmantri Pad Ka Ummidvar Sahi Nahi Rahega Tu Kabhi Jeet Nahi Payega Wah Pradhanmantri Nahi Ban Payega Aur Bahut Saree Janta Aisi Hoti Hai Jo Sirf Kshetriya Neta Ko Dekh Kar Aaj Ke Date Mein Koi Vote Nahi De Raha Hai Aaj Ke Desh Aaj Ke Date Mein National Party Ko Dekhkar Vote Diya Jata Hai Aur Pradhanmantri Pad Ka Ummidvar Kaon Hai Usko Dekhkar Sansadon Ko Vote Diya Jata Hai Dhanyavad
Likes  14  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत के प्रधानमंत्री जो जनता के द्वारा चुना जाना चाहिए ज्यादा सटीक और ज्यादा अच्छा फैसला होगा लेकिन जनता को जागरूक होना पड़ेगा उन्हें बिना किसी भी तरह के जो अवैध रिश्ते होते राजनेताओं के साथ उनसे किसी...जवाब पढ़िये
भारत के प्रधानमंत्री जो जनता के द्वारा चुना जाना चाहिए ज्यादा सटीक और ज्यादा अच्छा फैसला होगा लेकिन जनता को जागरूक होना पड़ेगा उन्हें बिना किसी भी तरह के जो अवैध रिश्ते होते राजनेताओं के साथ उनसे किसी भी तरह का लाभ ना लेकर जो देश के सहयोग से आदमी को चुनना होगा तभी यह जो सिस्टम है अच्छा कहलायेगाBharat Ke Pradhanmantri Jo Janata Ke Swara Chuna Jana Chahiye Zyada Sateek Aur Zyada Accha Faisla Hoga Lekin Janata Ko Jaagruk Hona Padega Unhen Bina Kisi Bhi Tarah Ke Jo Awaidh Rishte Hote Rajnetao Ke Saath Unse Kisi Bhi Tarah Karne Labh Na Lekar Jo Desh Ke Sahyog Se Aadmi Ko Chunana Hoga Tabhi Yeh Jo System Hai Accha Kehlayega
Likes  13  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Bharat Karne Pradhanmantri Saansad Ke Swara Na Chuna Jana Chahiye Balki Seedhe Janata Swara Chuna Jana Chahiye Aisa Kyon Nahi Ho Sakta Hai ?