राहुल गाँधी और नरेंद्र मोदी में क्या बुराइयां हैं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मेरा कहना यह है कि आप दूसरों में बुराई खोजने के बजाय उनमें अच्छाइयां खोलें और एक पंक्ति मुझे याद आ रही है जो मैं आपसे कहूंगा बुरा जो खोजन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न ...
जवाब पढ़िये
देखिए मेरा कहना यह है कि आप दूसरों में बुराई खोजने के बजाय उनमें अच्छाइयां खोलें और एक पंक्ति मुझे याद आ रही है जो मैं आपसे कहूंगा बुरा जो खोजन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न कोई तो दूसरों की बुराइयों को ना देखते हुए आदमी अपने अपने अंदर अपने खुद को झांक कर देखें तो वह ज्यादा सही हैDekhie Mera Kehna Yeh Hai Ki Aap Dusron Mein Burayi Khojne Ke Bajay Unmen Acchaiyan Kholen Aur Ek Pankti Mujhe Yaad Aa Rahi Hai Jo Main Aapse Kahunga Bura Jo Khojan Main Chala Bura N Miliya Koye Jo Dil Khoja Aapna Mujhse Bura N Koi To Dusron Ki Buraiyon Ko Na Dekhte Hue Aadmi Apne Apne Andar Apne Khud Ko Jhank Kar Dekhen To Wah Jyada Sahi Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल जी और मोदी जी दोनों ही राजनीति से संबंध रखते हैं और दोनों ही देश की सबसे दो बड़ी पार्टी के नेता है और क्योंकि वह देश का नेतृत्व करते हैं इसलिए मुझे लगता है कि जनता उन्हें अच्छाई और बुराई की माप...
जवाब पढ़िये
राहुल जी और मोदी जी दोनों ही राजनीति से संबंध रखते हैं और दोनों ही देश की सबसे दो बड़ी पार्टी के नेता है और क्योंकि वह देश का नेतृत्व करते हैं इसलिए मुझे लगता है कि जनता उन्हें अच्छाई और बुराई की मापदंड से देखती है लेकिन मुझे लगता है कि ऐसा नहीं है कि उन दोनों में ही कोई बुराई है मुझे ऐसी कोई बुराई दोनों ही नेताओं में नजर नहीं आती है दोनों ही अपनी पार्टी का नेतृत्व करते हैं और अपनी जगह दोनों ही सही हो सकते हैं और गलत हो सकते हैं क्योंकि हर वक्त इंसान सही नहीं हो सकता है और हर वक्त इंसान गलत भी नहीं हो सकता है हर इंसान की अपनी एक अलग समझ होती है किसी को किसी क्षेत्र में ज्यादा नॉलेज होती है और किसी को उस किसी क्षेत्र में कम बोली होती है राहुल गांधी एक राजनीतिक परिवार से संबंध रखते हैं और उनके परिवार में सभी लोग राजनीति में रहे हैं लेकिन उस के विपरीत मोदी जी एक सामान्य परिवार से संबंध रखते हैं और वह राजनीति में अपने बल पर आए हैं तो यह समानताएं और असमानताएं जरूर उनमें हो सकती है लेकिन बुराई का जहां तक का अपने प्रश्न पूछा है तो मुझे नहीं लगता है कि दोनों में ही कोई बुराई है राहुल जी अभी यंग है और उनको बहुत कुछ सीखना बात बाकी है लेकिन सीखने की कोई उम्र नहीं होती हर उम्र में इंसान कुछ न कुछ सीखता ही है उसी तरह से मोदी जी एक परिपक्व राजनेता है लेकिन गलतियां उनसे भी हो सकती है और आज जब वह भारत के प्रधानमंत्री हैं तो एक सर्वोच्च पद पर रहते हुए वह सारी जनता को खुश नहीं रख सकते तो जरूर उनमें जो कमियां हैं वह हमें दिखाई दे रही होगी कि उन्होंने यह कार्य नहीं किए हैं लेकिन जहां तक मुझे लगता है दोनों ही नेता अपनी जगह सही हैRahul Ji Aur Modi Ji Dono Hi Rajneeti Se Sambandh Rakhate Hain Aur Dono Hi Desh Ki Sabse Do Badi Party Ke Neta Hai Aur Kyonki Wah Desh Ka Netritva Karte Hain Isliye Mujhe Lagta Hai Ki Janta Unhen Acchai Aur Burayi Ki Mapadand Se Dekhti Hai Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Aisa Nahi Hai Ki Un Dono Mein Hi Koi Burayi Hai Mujhe Aisi Koi Burayi Dono Hi Netaon Mein Nazar Nahi Aati Hai Dono Hi Apni Party Ka Netritva Karte Hain Aur Apni Jagah Dono Hi Sahi Ho Sakte Hain Aur Galat Ho Sakte Hain Kyonki Har Waqt Insaan Sahi Nahi Ho Sakta Hai Aur Har Waqt Insaan Galat Bhi Nahi Ho Sakta Hai Har Insaan Ki Apni Ek Alag Samajh Hoti Hai Kisi Ko Kisi Kshetra Mein Jyada Knowledge Hoti Hai Aur Kisi Ko Us Kisi Kshetra Mein Kum Boli Hoti Hai Rahul Gandhi Ek Rajnitik Parivar Se Sambandh Rakhate Hain Aur Unke Parivar Mein Sabhi Log Rajneeti Mein Rahe Hain Lekin Us Ke Viparit Modi Ji Ek Samanya Parivar Se Sambandh Rakhate Hain Aur Wah Rajneeti Mein Apne Bal Par Aaye Hain To Yeh Samantaen Aur Asamantaen Jarur Unmen Ho Sakti Hai Lekin Burayi Ka Jahan Tak Ka Apne Prashna Poocha Hai To Mujhe Nahi Lagta Hai Ki Dono Mein Hi Koi Burayi Hai Rahul Ji Abhi Young Hai Aur Unko Bahut Kuch Sikhna Baat Baki Hai Lekin Seekhne Ki Koi Umar Nahi Hoti Har Umar Mein Insaan Kuch N Kuch Sikhata Hi Hai Ussi Tarah Se Modi Ji Ek Paripakva Rajneta Hai Lekin Galtiya Unse Bhi Ho Sakti Hai Aur Aaj Jab Wah Bharat Ke Pradhanmantri Hain To Ek Sarvoch Pad Par Rehte Hue Wah Saree Janta Ko Khush Nahi Rakh Sakte To Jarur Unmen Jo Kamiyan Hain Wah Hume Dikhai De Rahi Hogi Ki Unhone Yeh Karya Nahi Kiye Hain Lekin Jahan Tak Mujhe Lagta Hai Dono Hi Neta Apni Jagah Sahi Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको बताना चाहते आप ने जो क्वेश्चन किया कि राहुल गांधी नरेंद्र मोदी में क्या बुराई है हम आपको बता दें कि राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी में कोई बुराई नहीं है दोनों यह दोनों ही पॉलिटिशन है और ऐसा नहीं है ...
जवाब पढ़िये
आपको बताना चाहते आप ने जो क्वेश्चन किया कि राहुल गांधी नरेंद्र मोदी में क्या बुराई है हम आपको बता दें कि राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी में कोई बुराई नहीं है दोनों यह दोनों ही पॉलिटिशन है और ऐसा नहीं है कि बिशनपुर ही होते हैं जो भी करते हैं जनता के लिए करते तो कभी-कभी गलती इंसान से होती जाती है लेकिन ऐसा नहीं है कि वह दोनों ही पूरेAapko Batana Chahte Aap Ne Jo Question Kiya Ki Rahul Gandhi Narendra Modi Mein Kya Burayi Hai Hum Aapko Bata Dein Ki Rahul Gandhi Aur Narendra Modi Mein Koi Burayi Nahi Hai Dono Yeh Dono Hi Politician Hai Aur Aisa Nahi Hai Ki Bishanpur Hi Hote Hain Jo Bhi Karte Hain Janta Ke Liye Karte To Kabhi Kabhi Galti Insaan Se Hoti Jati Hai Lekin Aisa Nahi Hai Ki Wah Dono Hi Poore
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Rahul Gandhi Aur Narendra Modi Mein Kya Buraiyan Hain, What Are The Wrongs In Rahul Gandhi And Narendra Modi? , बुराइयां

vokalandroid