आपके अनुसार जीवन की सच्चाई क्या है? जीवन में कुछ सच ऐसे भी होते है जिसे सुन कर या जान कर हमें दुःख होता है। उस सच्चाई का सामना हम कैसे करे? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा नहीं है कि यह जीवन की कोई एक बात है या दो बात है होता क्या है कि अलग अलग मुकाम पर अलग-अलग जगह पर अलग-अलग इंसान को अलग अलग चीज का सामना करना पड़ता है और उसे कई बार लगा कि मैंने कभी सोचा नहीं था ऐसा हो गया मेरी लाइफ में मैंने कभी नहीं आता और ऐसा हो गया किसी की भी लाइफ उठाकर देख लीजिए आप ऐसे बहुत सारे एग्जाम पर मिलेंगे जहां पर उसने कभी ऐसा सोचा नहीं था और ऐसा हो गया 1 2 एग्जांपल से समझ सकते हैं एक लड़के ने बहुत मेहनत की कि चलो भैया मैंने पढ़ाई कर ली इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन मिल जाए पता चला उसको मिला नहीं उसको किसी छोटे से शहर में एक असी क्लास इन जॉइनिंग कॉलेज में एडमिशन मिल गया हुसैन की पढ़ाई की और उसके बाद उसका क्या निकला जा के लिए ट्राई किया उसको जो अभी नहीं मिला 1 मिनट राई के 2 महीने 6 महीने 1 साल 2 साल उसके बाद जवाब नहीं मिला तो क्या उसने कभी यह सोचा था कि यार ऐसा भी हो जाएगा लेकिन देखी हो गया उसके लिए तो सबसे बड़े ताज्जुब की बात है कि ऐसा कैसे हो गया इसी तरह हमारे पास तो बहुत सारे लोग साथ साथ में देखते हैं यह लगता है कि वह सब लोग मेरी तारीफ करें मेरे प्रशंसक हैं मेरे साथ हैं मेरी बातें मान रहे हैं यह हो रहा है वह लाइक करती है कि लाइक एकदम सिंह जी बहुत अच्छी जा रही है लेकिन अचानक से कुछ ऊपर नीचे हो जाता है माली जी आपका उधर चला जाता है आप कुछ ऐसी स्थिति में आ जाते हैं पता चलते मेरे साथ तो कोई भी नहीं खड़ा हुआ यह जीवन की सच्चाई है जो अलग-अलग शेष पर अलग-अलग इंसान को अलग-अलग रूप में मिलती है और हम उसके लिए तैयार नहीं होते तो यह बोलता हूं कि हर चीज के लिए तैयार रहना चाहिए जरूरी नहीं है कि जो जैसा है वह वैसा ही आपको दिखेगा वैसे ही आपको मिलेगा हो सकता है सच्चाई कुछ और हो मिला आपको कुछ और है तो थोड़े से जागरूक रहें सतर्क रहिए आगे बढ़िए
ऐसा नहीं है कि यह जीवन की कोई एक बात है या दो बात है होता क्या है कि अलग अलग मुकाम पर अलग-अलग जगह पर अलग-अलग इंसान को अलग अलग चीज का सामना करना पड़ता है और उसे कई बार लगा कि मैंने कभी सोचा नहीं था ऐसा हो गया मेरी लाइफ में मैंने कभी नहीं आता और ऐसा हो गया किसी की भी लाइफ उठाकर देख लीजिए आप ऐसे बहुत सारे एग्जाम पर मिलेंगे जहां पर उसने कभी ऐसा सोचा नहीं था और ऐसा हो गया 1 2 एग्जांपल से समझ सकते हैं एक लड़के ने बहुत मेहनत की कि चलो भैया मैंने पढ़ाई कर ली इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन मिल जाए पता चला उसको मिला नहीं उसको किसी छोटे से शहर में एक असी क्लास इन जॉइनिंग कॉलेज में एडमिशन मिल गया हुसैन की पढ़ाई की और उसके बाद उसका क्या निकला जा के लिए ट्राई किया उसको जो अभी नहीं मिला 1 मिनट राई के 2 महीने 6 महीने 1 साल 2 साल उसके बाद जवाब नहीं मिला तो क्या उसने कभी यह सोचा था कि यार ऐसा भी हो जाएगा लेकिन देखी हो गया उसके लिए तो सबसे बड़े ताज्जुब की बात है कि ऐसा कैसे हो गया इसी तरह हमारे पास तो बहुत सारे लोग साथ साथ में देखते हैं यह लगता है कि वह सब लोग मेरी तारीफ करें मेरे प्रशंसक हैं मेरे साथ हैं मेरी बातें मान रहे हैं यह हो रहा है वह लाइक करती है कि लाइक एकदम सिंह जी बहुत अच्छी जा रही है लेकिन अचानक से कुछ ऊपर नीचे हो जाता है माली जी आपका उधर चला जाता है आप कुछ ऐसी स्थिति में आ जाते हैं पता चलते मेरे साथ तो कोई भी नहीं खड़ा हुआ यह जीवन की सच्चाई है जो अलग-अलग शेष पर अलग-अलग इंसान को अलग-अलग रूप में मिलती है और हम उसके लिए तैयार नहीं होते तो यह बोलता हूं कि हर चीज के लिए तैयार रहना चाहिए जरूरी नहीं है कि जो जैसा है वह वैसा ही आपको दिखेगा वैसे ही आपको मिलेगा हो सकता है सच्चाई कुछ और हो मिला आपको कुछ और है तो थोड़े से जागरूक रहें सतर्क रहिए आगे बढ़िए
Likes  8  Dislikes      
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

ना चाहते हुए भी मेंरे अंदर नकारात्मक विचार आ जाते हैं लेकिन घरवालों को यकीन है कि मीर अंदर बहुत हिम्मत है और मैं कुछ कर सकती हूँ मैं क्या करूँ? ...

थॉट्स को कंट्रोल करने के लिए आपके पास अपने दिमाग पर कंट्रोल होना चाहिए इसका सही तरीका है कि आप मेडिटेशन कर सकते हैं आप भी है सुबह उठ के दिल्ली मेडिटेशन करते हैं तो आप दिमाग पर कंट्रोल कर पाएंगे और उससजवाब पढ़िये
ques_icon

हमें अपने जीवन में अपने पसंदीदा क्षेत्र में सफल होने के लिए क्या करना चाहिए? ...

अगर आप अपने पसंदीदा क्षेत्र में सफल होना चाहते हैं तो उसके लिए वह मेहनत करनी पड़ेगी नई चीजें सीखनी पड़ेगी नहीं नॉलेज अरे स्टिल सीखने पड़ेंगे और अपने जो भी स्कूल से उसे अपडेट करते रहिए टाइम टो टाइम तो जवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा तजुर्बा यह कहता है कि जीवन की सच्चाई ऐसे सचिन अतुलकर यह जानकर में दुख होता है वह कौन से होते हैं और सच्चाई का सामना कैसे करें के सबसे पहले सबसे इंपॉर्टेंट जो सच्चाई होती है वह यह होती है कि आपके आसपास रहने वाले 80 से 85% व्यक्ति जो होते हैं वह आपके सारे आपका पैसा आपकी पोजीशन के कारण आपके पास होते हैं सच्चाई यही होती है इसको आप जैसे मर्जी समझना चाहिए देखना चाहिए दे दीजिए और यह कैसी चीज होती है कि उसका जब पड़ता है उठता है तो बहुत सारे लोगों से सहन नहीं होता राधा 8085 भी में कम बोल रहा हूं 95% लोग जरूरी नहीं है वह आस-पास वाले लोग सिर्फ आपके दोस्त यारों आपके रिश्तेदार और जब उसको सहन नहीं कर पाते जब आपके पास शहर में पैसा पोजीशन उनमें से एक चीज नहीं रहती हो जाती है वह सच्चाई कुछ दिया कि आ रही है तो बोलोगे दिन के लिए मैं इतना कराए दिल के साथ जो हमारे लिए ऐसा कहते थे और अभी क्या कैसा व्यवहार करती दिखी हमेशा याद रखे कभी भी इंसान पैसों के कारण या प्रदूषण के कारण नहीं टूटता इंसान हमेशा अपने जोए खासम खास लोग होते हैं ना इनके बदले हुए व्यवहार के कारण होता है आपको इस को किस तरह से हैंडल करना है तो मेरा हमेशा कहना ही होता कि इस मुगालते में मत रहिए कि मैं तो बहुत अच्छा हूं और मेरे आस-पास जो लोगों मेरे कारण है इस चीज को इतनी जल्दी जान जाए कि वह व्यक्ति जो आपसे आपकी पोजीशन पैसा और पद के कारण मिला है उसकी उसका जुड़ाव तभी तक रहेगा तो आप अपने आपको उसी हिसाब से उस इंसान से जुड़े
मेरा तजुर्बा यह कहता है कि जीवन की सच्चाई ऐसे सचिन अतुलकर यह जानकर में दुख होता है वह कौन से होते हैं और सच्चाई का सामना कैसे करें के सबसे पहले सबसे इंपॉर्टेंट जो सच्चाई होती है वह यह होती है कि आपके आसपास रहने वाले 80 से 85% व्यक्ति जो होते हैं वह आपके सारे आपका पैसा आपकी पोजीशन के कारण आपके पास होते हैं सच्चाई यही होती है इसको आप जैसे मर्जी समझना चाहिए देखना चाहिए दे दीजिए और यह कैसी चीज होती है कि उसका जब पड़ता है उठता है तो बहुत सारे लोगों से सहन नहीं होता राधा 8085 भी में कम बोल रहा हूं 95% लोग जरूरी नहीं है वह आस-पास वाले लोग सिर्फ आपके दोस्त यारों आपके रिश्तेदार और जब उसको सहन नहीं कर पाते जब आपके पास शहर में पैसा पोजीशन उनमें से एक चीज नहीं रहती हो जाती है वह सच्चाई कुछ दिया कि आ रही है तो बोलोगे दिन के लिए मैं इतना कराए दिल के साथ जो हमारे लिए ऐसा कहते थे और अभी क्या कैसा व्यवहार करती दिखी हमेशा याद रखे कभी भी इंसान पैसों के कारण या प्रदूषण के कारण नहीं टूटता इंसान हमेशा अपने जोए खासम खास लोग होते हैं ना इनके बदले हुए व्यवहार के कारण होता है आपको इस को किस तरह से हैंडल करना है तो मेरा हमेशा कहना ही होता कि इस मुगालते में मत रहिए कि मैं तो बहुत अच्छा हूं और मेरे आस-पास जो लोगों मेरे कारण है इस चीज को इतनी जल्दी जान जाए कि वह व्यक्ति जो आपसे आपकी पोजीशन पैसा और पद के कारण मिला है उसकी उसका जुड़ाव तभी तक रहेगा तो आप अपने आपको उसी हिसाब से उस इंसान से जुड़े
Likes  10  Dislikes      
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Aapke Anusaar Jeevan Ki Sacchai Kya Hai Jeevan Mein Kuch Sach Aise Bhi Hote Hai Jise Sun Kar Ya Jaan Kar Humein Duhkh Hota Hai Us Sacchai Ka Samana Hum Kaise Kare,


vokalandroid