मैं जब भी कोई काम करने जाता हूँ, मैं उस पर ध्यान नहीं लगा पता और इसके वजह से मुझे काफ़ी नुक़सान होता ही। मैं अपने लक्ष्यों पर कैसे ध्यान केंद्रित करूं? ...

Likes  0  Dislikes

6 Answers


जवाब पढ़िये
क्या आपको चाहिए कि आप काम का बंटवारा करें एक एक करके काम को रखिए प्राणी टेबल्स जो ज्यादा इंपॉर्टेंट है पहले उसको कीजिए और स्टेप बाय स्टेप सारे काम खत्म के जाप सारे कामों को एक साथ करेंगे तो नेचुरल एक काम भी पूरा नहीं होगा मल्टी टास्किंग जो है वह सबके बस की बात नहीं है और अगर आप के बस की बात नहीं है तो आपको वह करना भी नहीं चाहिए दूसरा अगर आपको उसमें रुचि नहीं है इंटरेस्ट नहीं है जबरदस्ती आप कर रहे हैं तो भी आप उसमें ध्यान नहीं दे पाएंगे जिससे सफल हो जायेगा आपका मेहनत तो आपको एक एक अदा करना चाहिए उसमें इंटरेस्ट होना चाहिए इंटरेस्ट होगा तो आपको वह मेहनत जो है भारी नहीं पड़ेगा आप उसे सकेंगे नहीं आपको अच्छा लगेगा और आप उसमें ज्यादा जानकारी प्राप्त करेंगे और अब डेफिनिटी सफल होंगे तो अगर आपको अपने लक्ष्य पर ध्यान देना है तो प्लीज भाई काम कीजिए जिसमें आपकी रुचि हो जिसमें आपकी इंटरेस्ट हो जिसमें आपका स्विच और आपको दिख रहा है किसी के दबाव में आकर कुछ ना करें कि वह हमेशा वैशाली होगा हमें कोई काम करना चाहिए जो हमारे इंटरेस्ट नहीं हो जिसके हम काबिल हैं और जिसके बारे में हम जानकारी प्राप्त करते रहे उस फिल्म में भी कुछ नए-नए जो अविष्कार होते हैं हमें पता होना चाहिए विष्णु और वे स्टे अपडेटेड और वह अगर हमारी इच्छा को हमारी इंटरेस्ट का हो तो मैं बाहर से पहचान की जरूरत भी नहीं पड़ती हम खुद ही अपने आप को प्रोत्साहित कर सकते हैं और जो काम आपको इतना टाइम लगता है करने में वह काम आप छुट्टियों में खत्म कर सकते हैं बिकॉज यह आपका आपकी इच्छा है आपका फ्रेंड है और आपका लक्ष्य है तो अपने सपने को इतना बड़ा कीजिए कि बस आप रही थी अब यह सपना मुझे बना ही है छोटे सपनों को अक्सर हम लोग बोलते हैं कल करेंगे परसों करेंगे सपना देखिए अपने खुद का सपना जो आपके इंटरेस्ट का उसे बहुत बड़ा कीजिए और आपके सामने रास्ता दिख जाएगा उस पर चलते चाहिए रुकावट आए तो थोड़ा विश्राम कीजिए उसके बाद से रास्ता खुल जाएगा वही कीजिए जो आपको पसंद हो जो मेहनत आपको बोल ना लगे
Likes  41  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए

0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


Likes  12  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

जवाब पढ़िये
देखे यहां पर दो चीजों का जिक्र है एक आम दोष है लक्ष्मी लक्ष्मी लक्ष्मी को उपलब्ध नहीं है एक अच्छी में है एक्शन फॉर सेटिस्फेक्शन एक्शन रोल है टारगेट अचीव बजे का प्लेसमेंट नहीं हो सकता है लेकिन
Likes  11  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions


More Answers


जवाब पढ़िये
किसी भी काम को करते समय उस काम में आपका ध्यान ना लगना या बात बताता है कि आपको उस काम के प्रति रुचि नहीं है आपको या तो वह काम जबरदस्ती कराया जा रहा है या आप अपनी मजबूरी के कारण उस काम को कर रहे हैं किसी भी काम करने के पीछे आपको यह देखना आवश्यक हो जाता है कि उस काम के पीछे आपका लाभ है या नहीं उसके करने से आपको जीवन में कितने फायदे पहुंच रहे हैं अगर वह काम आप के फायदे का है और आपकी रुचि का नहीं है फिर भी व्यावहारिक तौर पर इस बात को विशेष रुप से ध्यान रखना चाहिए क्योंकि व्यावहारिक जीवन ही महत्वपूर्ण होता है क्या काल्पनिक सोच या मुझे काम पसंद नहीं है इत्यादि कहने से कोई फायदा नहीं होगा काम करने के लिए आपको उस चीज को सोचना पड़ेगा उस समझना पड़ेगा अगर आपको उसने फायदा होता है आपकी आर्थिक दृष्टि बढ़ती है आपके कार्यक्षेत्र में वृद्धि होती है तो आप उस काम को मन लगाकर कीजिए लेकिन अगर आप कोई से कोई फायदा नहीं है किसी भी प्रकार का उनकी कोई इंटरेस्ट नहीं हो रहा है अगर आप उस काम को बिल्कुल भी नहीं करना चाहते हैं तब आप काम को छोड़ दीजिए क्योंकि बिना मन से कोई भी काम नहीं किया जा सकता है
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

जवाब पढ़िये
बहुत ही आसान सा तरीका मैं आपको बताती हूं जो भी आपका काम है जिसमें आप अपने ध्यान को लगाना चाहते हैं जिस वक्त आप वह काम करने के लिए बैठे तो आप साथ में एक पेपर और पेन भी रखें जैसा कि आप अपने सवाल में बता रहे हैं कि आपका ध्यान उस वक्त उस काम में नहीं लगता जो आपको करना चाहिए तो अब आपको पेपर पर नहीं लिखना है यह आप साफ करना है कि इस वक्त मेरा ध्यान इस काम में नहीं लग रहा तो मेरा ध्यान है कहां जैसे मान लीजिए आप कुछ काम करने बैठे और आपकी दीवानी कुछ और बातें चल रही है तभी वहां पर आपका फोकस नहीं है तो जो जो बातें उससे मैं आपके दिमाग में चल रही है आप उसको पेपर पेन लेकर बैठी है और उस पर पेपर पर लिख दी जाए अच्छा अभी मेरे दिमाग में यह ख्याल आया अभी यह ख्याल है ऐसा जब आप की लिस्ट बन जाए 50 मिनट आप इस चीज को ऑफ करें उसके बाद आप खुद को टाइम दे कि मैं अपने आपको 5 मिनट का समय और देता हूं अपने दिमाग को टाइम दे रहे हैं आप की अब तुझे और जो सोचना है सोच ले जहां जाना है वहां चले जा उसके बाद 5 मिनट के बाद मैं अपना पूरा ध्यान इसी काम पर लगाना चाहता हूं जब आप ऐसा कहेंगे तो रिजल्ट आप खुद ही देखिए आपको क्या मिलता है और हो सके तो मुझे बताइएगा कि आपको क्या इसका फायदा हो
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

जवाब पढ़िये
नमस्कार दोस्तों मैं नौरंग शर्मा आज बात करने जा रहा हूं कि जब भी आप कोई काम करने जाते हैं तो उस पर ध्यान नहीं लगा पाती और इसकी वजह से आपको काफी समस्याएं जो है वह आ रही है तो देखिए काम तो हमें करना ही पड़ेगा काम हमारी जरूरत है काम भी कई तरीके के होते हैं पर्सनल काम प्रोफेशनल काम घर परिवार से जुड़े काम समाज से जुड़े काम तो काम के बिना तो खैर हम रह भी नहीं सकते तो हमारी जरूरत भी है और हमें करना भी चाहिए लेकिन काम तो सभी करते हैं लेकिन फिर भी कुछ कामों के रिजल्ट इतने अच्छे आते हैं और कुछ कामों का रिजल्ट बिल्कुल नहीं आता तो क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा अंतर क्यों आता है किसी के किए हुए कामों का तो देखिए वह अंतर इसका जवाब उतना ही आसान है इसीलिए आता है क्योंकि जो लोग अपने काम पर फोकस करते हैं वह लोग उस काम में सफल हो जाते हैं और जो लोग उसको कस को मेंटेन नहीं रख पाते वह काम में पिछड़ जाते हैं बाकियों की तुलना में तो फोकस करने के लिए बहुत सारी योगा टेक्निक्स भी है बहुत सारे मेडिटेशन भी हैं जिनका सहारा आप ले सकते हैं उसके अलावा जो इंटरनल और एक्सटर्नल डिस्ट्रेक्शन है उनको थोड़ा थोड़ा हटा भी सकते हैं थोड़े एफर्ट्स लगाकर मोबाइल आज के दौर में सबसे बड़ा डिस्ट्रेक्शन है जब भी आप किसी मीटिंग में हो या जरूरी काम कर रहे हो उधर आना आप अपने मोबाइल को जो है वह बंद कर देंगे तो आप शायद कुछ हद तक उस काम को अच्छे से कर पाएंगे और अपना फोकस भी उस पर बनाए रख पाएंगे क्योंकि हमें घड़ी घड़ी मोबाइल देखने की एक हैबिट हो गई है और भी डिस्ट्रक्शन हो सकते हैं जिन्हें आप अपने एयरपोर्ट से दूर कर सकते हैं धन्यवाद
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Main Jab Bhi Koi Kaam Karne Jata Hoon Main Us Par Dhyan Nahi Laga Pata Aur Iske Wajah Se Mujhe Kafi Nuksan Hota Hi Main Apne Lakshyo Par Kaise Dhyan Kendrit Karun , Whenever I Go To Work, I Do Not Care About It, And Because Of This, I Would Be Very Lucky. How Do I Focus On My Goals?