सिकरवारों का इतिहास? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काशी के पास जो है बेसिकली सूर्यवंशी गोत्र सिकरवार वंश है राजस्थान मध्य प्रदेश बिहार उत्तर प्रदेश के जिला जो आगरा गाजीपुर का सोच पाया जाता है और आगरा जिले में गांव में सिकरवार वंश का बहुत सारी प्राचीन ...जवाब पढ़िये
काशी के पास जो है बेसिकली सूर्यवंशी गोत्र सिकरवार वंश है राजस्थान मध्य प्रदेश बिहार उत्तर प्रदेश के जिला जो आगरा गाजीपुर का सोच पाया जाता है और आगरा जिले में गांव में सिकरवार वंश का बहुत सारी प्राचीन और बहुत ही पुराना गांव है वहां पर और आगरा फोर्ट पर जो है सिकरवार की पूर्वजों ने ही बनाया था तो इस वंश का नाम रमेश सिकरवार राजस्थान के सीकर जिले से मिलता है यह जो इंस्पेक्शन किया इसलिए उनका जो वंश की कुलदेवी है कामाख्या देवी मंदिर बना हुआ कामाख्या में कि बिहार में कामाख्या मंदिर बना हुआ है तो उसके नाम से काफी फेमस हैKashi Ke Paas Jo Hai Basically Suryawanshi Gotra Sikarwar Vansh Hai Rajasthan Madhya Pradesh Bihar Uttar Pradesh Ke Jila Jo Agra Gajipur Ka Soch Paya Jata Hai Aur Agra Jile Mein Gav Mein Sikarwar Vansh Ka Bahut Saree Prachin Aur Bahut Hi Purana Gav Hai Wahan Par Aur Agra Fort Par Jo Hai Sikarwar Ki Purwaajon Ne Hi Banaya Tha To Is Vansh Ka Naam Ramesh Sikarwar Rajasthan Ke Seeker Jile Se Milta Hai Yeh Jo Inspection Kiya Isliye Unka Jo Vansh Ki Kuldevi Hai Kamakhya Devi Mandir Bana Hua Kamakhya Mein Ki Bihar Mein Kamakhya Mandir Bana Hua Hai To Uske Naam Se Kafi Famous Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Sikarvaron Ka Itihas, History Of The Seekers? , Sikarwar Gotra