देश में rape बहुत ज्यादा हो रहे क्या इसके खिलाफ फांसी का कानून बनाएगी सरकार? ...

Likes  0  Dislikes

3 Answers


जवाब पढ़िये
आदि के देश में जो है रे बहुत ज्यादा और अगर हम देखें तो दिन भर दिन रेप के केस है सारे हो जिस प्रकार से रेप को लेकर भारत में देखिए भारत की जनता जो है अपना बस स्टेशन निकाल रही है सरकार पर रुका ना कहो पर हमें सख्त कानून बनाने पड़ेंगे लेकिन मुझे नहीं लगता है इसके खिलाफ फांसी का कानून जो है बनानी चाहिए सरकार की किसी की रेप का सलूशन फांसी से नहीं आ सकता है अगर हम अल्फिया के अगर हम रेप केस की बात करें तो करूंगा जितनी भी अक्क्यूस्ड है जितने भी आरोपी अगर मैंने सबको अगर आप रेप की सजा में अगर हम उन्हें फांसी की सजा देते हैं तो कहां कहां पर है इसे देखिए रेप का प्रॉब्लम से वह साउथ नहीं हो पाएगा क्योंकि अगर हमें रेप का प्रॉब्लम सॉल्व करना है तो देखिए फांसी जो इसका सलूशन नहीं हो सकती है अगर की अगर फांसी ही अगर इसका सलूशन होता तो फिर मेरे हिसाब से निर्भया केस के बाद कोई भी जो है रेप केसेस नहीं होने से दे पाते क्योंकि निर्भया केस क्या कल पेरेंट्स को भी या फिर उनकी आरोपी को भी देखिए फांसी की सजा मिली थी तो का नाका पर अगर हमें देश में रेप इंश्योरेंस आगे नहीं देखना है तो मेरे हिसाब से जितना हो सके उतना अगर हम देश में सेक्स एजुकेशन के बारे में पढ़ाया हम यह कार्य किस प्रकार से रेप पर बुरी चीज है साइकोलॉजी के लिए 22 मिनट डिवाइस प्राइस का नाका पर गर्म साइकॉलजी एल्बम सेक्स एजुकेशन अगर हम स्कूल लेवल में ग्रामीण लिस्ट कर दे तो कहना का ऑपरेशन में पता चलेगा रेप कौनसे-कौनसे उसकी आवश्यकता है मेंटल है उसकी आवश्यकता फिजिकल टेस्ट हो सकता है और यही चीज करने के बाद ही देखिए मुझे लगता है रेप जो है वह बहुत कम होगा तो कहां का प्रदेश में रेलवे को बहुत ज्यादा बढ़ रहा है तो इसके खिलाफ मुझे नहीं लगता फांसी का कानून जय हो सरकार बनानी चाहिएAadi Ke Desh Mein Jo Hai Ray Bahut Jyada Aur Agar Hum Dekhen To Din Bhar Din Rape Ke Case Hai Sare Ho Jis Prakar Se Rape Ko Lekar Bharat Mein Dekhie Bharat Ki Janta Jo Hai Apna Bus Station Nikal Rahi Hai Sarkar Par Ruka Na Kaho Par Hume Sakht Kanoon Banane Padenge Lekin Mujhe Nahi Lagta Hai Iske Khilaf Fansi Ka Kanoon Jo Hai Banani Chahiye Sarkar Ki Kisi Ki Rape Ka Salution Fansi Se Nahi Aa Sakta Hai Agar Hum Alfiya Ke Agar Hum Rape Case Ki Baat Karen To Karunga Jitni Bhi Akkyusd Hai Jitne Bhi Aaropi Agar Maine Sabko Agar Aap Rape Ki Saja Mein Agar Hum Unhen Fansi Ki Saja Dete Hain To Kahan Kahan Par Hai Ise Dekhie Rape Ka Problem Se Wah South Nahi Ho Payega Kyonki Agar Hume Rape Ka Problem Solve Karna Hai To Dekhie Fansi Jo Iska Salution Nahi Ho Sakti Hai Agar Ki Agar Fansi Hi Agar Iska Salution Hota To Phir Mere Hisab Se Nirbhaya Case Ke Baad Koi Bhi Jo Hai Rape Cases Nahi Hone Se De Paate Kyonki Nirbhaya Case Kya Kal Parents Ko Bhi Ya Phir Unki Aaropi Ko Bhi Dekhie Fansi Ki Saja Mili Thi To Ka Naka Par Agar Hume Desh Mein Rape Insurance Aage Nahi Dekhna Hai To Mere Hisab Se Jitna Ho Sake Utana Agar Hum Desh Mein Sex Education Ke Baare Mein Padhaya Hum Yeh Karya Kis Prakar Se Rape Par Buri Cheez Hai Psychology Ke Liye 22 Minute Device Price Ka Naka Par Garam Saikalji Album Sex Education Agar Hum School Level Mein Gramin List Kar De To Kehna Ka Operation Mein Pata Chalega Rape Kaunse Kaunse Uski Avashyakta Hai Mental Hai Uski Avashyakta Physical Test Ho Sakta Hai Aur Yahi Cheez Karne Ke Baad Hi Dekhie Mujhe Lagta Hai Rape Jo Hai Wah Bahut Kum Hoga To Kahan Ka Pradesh Mein Railway Ko Bahut Jyada Badh Raha Hai To Iske Khilaf Mujhe Nahi Lagta Fansi Ka Kanoon Jai Ho Sarkar Banani Chahiye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए

0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


जवाब पढ़िये
देश में रेप की घटनाएं बहुत ज्यादा हो रही है लेकिन मुझे लगता है कि यह घटनाएं पहले भी हुआ करती थी लेकिन इतना सामने नहीं आती थी क्योंकि लोग यह सब बताने से कहने से घबराते थे हिचकते से उन्हें समाज का डर रहता था दुनिया का डर रहता था लेकिन जब से निर्भया कांड हुआ है और उसमें जिस साहस का परिचय उस लड़की और उस लड़की के परिवार वालों ने दिया और जिस तरह पूरे देश ने उनका साथ दिया उससे लोगों की हिम्मत होती है आज कि वह इस तरह की घटनाओं को खुल कर बताएं और उसमें मीडिया की भी एक अहम भूमिका होती है और सरकार ने भी ऐसे कई कानून लड़कियों के और जो अब जो पीड़िता होती है उस के पक्ष में बनाए हैं कि वह खुलकर सामने आती है और हमें मीडिया के द्वारा सारे देश को पता चल जाता है कि आज इस तरह की घटना हुई है इसलिए हमें यह आंकड़े पता चलते हैं कि आजकल देश में रेप की घटनाएं ज्यादा हो रही है लेकिन मुझे नहीं लगता कि फांसी इसका उपाय हो सकता है अगर ऐसा होता तो निर्भया कांड की बात और इस तरह के कैसे नहीं होते लेकिन हां मुझे यह जरूर लगता है कि हमारे समाज में नैतिक पतन बहुत ज्यादा हो रहा है इसलिए हमें अपने समाज को नैतिकता की शिक्षा जरूर देनी चाहिए उसके बारे में थोड़ा खुले विचारों से थोड़ा खुले मन से अपने बच्चों को समझाना चाहिए या स्कूल में ही हमें सेक्स की शिक्षा शुरू करनी चाहिए और लड़कियों लड़कियों में जो भेदभाव अब तक है उसे खत्म करना चाहिए तभी यह मानसिकता बदलेगी और तभी इन सब चीजों में हम एकदम जड़ से समस्या को मिटा पाएंगे फांसी देकर आपकी समस्या को जड़ से नहीं मिटा सकते हैं जब तक आप इसकी नैतिकता को नहीं समझेंगे इस अपराध को गलत नहीं समझेंगेDesh Mein Rape Ki Ghatnaye Bahut Jyada Ho Rahi Hai Lekin Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Ghatnaye Pehle Bhi Hua Karti Thi Lekin Itna Samane Nahi Aati Thi Kyonki Log Yeh Sab Batane Se Kehne Se Ghabaraate The Hichakate Se Unhen Samaaj Ka Dar Rehta Tha Duniya Ka Dar Rehta Tha Lekin Jab Se Nirbhaya Kaand Hua Hai Aur Usamen Jis Sahas Ka Parichay Us Ladki Aur Us Ladki Ke Parivar Walon Ne Diya Aur Jis Tarah Poore Desh Ne Unka Saath Diya Usse Logon Ki Himmat Hoti Hai Aaj Ki Wah Is Tarah Ki Ghatnaon Ko Khul Kar Bataen Aur Usamen Media Ki Bhi Ek Aham Bhumika Hoti Hai Aur Sarkar Ne Bhi Aise Kai Kanoon Ladkiyon Ke Aur Jo Ab Jo Pidita Hoti Hai Us Ke Paksh Mein Banaye Hain Ki Wah Khulkar Samane Aati Hai Aur Hume Media Ke Dwara Sare Desh Ko Pata Chal Jata Hai Ki Aaj Is Tarah Ki Ghatna Hui Hai Isliye Hume Yeh Aankde Pata Chalte Hain Ki Aajkal Desh Mein Rape Ki Ghatnaye Jyada Ho Rahi Hai Lekin Mujhe Nahi Lagta Ki Fansi Iska Upay Ho Sakta Hai Agar Aisa Hota To Nirbhaya Kaand Ki Baat Aur Is Tarah Ke Kaise Nahi Hote Lekin Haan Mujhe Yeh Jarur Lagta Hai Ki Hamare Samaaj Mein Naitik Patan Bahut Jyada Ho Raha Hai Isliye Hume Apne Samaaj Ko Naitikta Ki Shiksha Jarur Deni Chahiye Uske Baare Mein Thoda Khule Vicharon Se Thoda Khule Man Se Apne Bacchon Ko Samajhana Chahiye Ya School Mein Hi Hume Sex Ki Shiksha Shuru Karni Chahiye Aur Ladkiyon Ladkiyon Mein Jo Bhedbhav Ab Tak Hai Use Khatam Karna Chahiye Tabhi Yeh Mansikta Badalegi Aur Tabhi In Sab Chijon Mein Hum Ekdam Jad Se Samasya Ko Mita Paenge Fansi Dekar Aapki Samasya Ko Jad Se Nahi Mita Sakte Hain Jab Tak Aap Iski Naitikta Ko Nahi Samjhenge Is Apradh Ko Galat Nahi Samjhenge
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

जवाब पढ़िये
बिहार रेप जो बहुत हो रहे हैं अभी अभी देख सकते हो अभी कठुआ में हुए जम्मू एंड कश्मीर में तो मेरे हिसाब से फांसी की सजा जो है कानून को बनानी चाहिए क्योंकि अगर 5 दिन की सजा डिस्ट्रिक्ट होगी थोड़ी हंसी होगी तो लोग जो हैंड आएंगे यह किस करने से पहले तो इसमें क्यों होता है कि अभी कानून सख्त नहीं है इनके लिए आवश्यक पर फांसी की सजा ऐसी ऐसी सजा नहीं होती है तो इसकी वजह से जो है वह और कर रहे हैं इनको सजा जो है अच्छी-खासी तगड़ी फांसी की सजा होनी चाहिए जिससे जो है तो करने से पहले 10 बार सोचे तो यह इस से क्या हो सकता है कितने रेप कम हो सकते हैंBihar Rape Jo Bahut Ho Rahe Hain Abhi Abhi Dekh Sakte Ho Abhi Kathuaa Mein Hue Jammu End Kashmir Mein To Mere Hisab Se Fansi Ki Saja Jo Hai Kanoon Ko Banani Chahiye Kyonki Agar 5 Din Ki Saja District Hogi Thodi Hansi Hogi To Log Jo Hand Aayenge Yeh Kis Karne Se Pehle To Isme Kyun Hota Hai Ki Abhi Kanoon Sakht Nahi Hai Inke Liye Aavashyak Par Fansi Ki Saja Aisi Aisi Saja Nahi Hoti Hai To Iski Wajah Se Jo Hai Wah Aur Kar Rahe Hain Inko Saja Jo Hai Acchi Khasee Tagdi Fansi Ki Saja Honi Chahiye Jisse Jo Hai To Karne Se Pehle 10 Baar Soche To Yeh Is Se Kya Ho Sakta Hai Kitne Rape Kum Ho Sakte Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Desh Mein Rape Bahut Jyada Ho Rahe Kya Iske Khilaf Fansi Ka Kanoon Banaegi Sarkar, What Can I Do If I Want To Send Some Fans To My Country?