क्या सभी अंधविश्वासों के पीछे कुछ कारण होते है? समझाएँ। ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही बात है भाई हाल अंधविश्वास के पीछे कुछ ना कुछ कारण होता है जिसे एक मैं बताना चाहूंगा कि एक उदाहरण कि ऐसे भी हो सकता है मां बाप अपने बच्चों से कहते हैं कि बेटा यह मत करो वह मत कर यहां मत जा ...जवाब पढ़िये
बिल्कुल सही बात है भाई हाल अंधविश्वास के पीछे कुछ ना कुछ कारण होता है जिसे एक मैं बताना चाहूंगा कि एक उदाहरण कि ऐसे भी हो सकता है मां बाप अपने बच्चों से कहते हैं कि बेटा यह मत करो वह मत कर यहां मत जा जात को मत जा पता है रात को मुझे जाने से मना क्यों करती है यदि गलती से कोई दुर्घटना हो जाती है कुछ हो जाता है ऐसा जो बच्चे खेलते गए थे तो उनकी ज्यादा थक जाते हैं तो भी माफ कर सकते हैं बच्चे कहते हैं बेटा रात को मत घुमा कर वहां पर भूत रहता है तो बच्चे डर जाते हैं भाई इतने हम जितने छोटे में जो भी काम करते हैं ना उसमें परिपक्व हो जाते हैं तो वह सोचने लगते हैं या भूत होते हैं एक दो बार तो सोचेंगे कुछ नहीं कुछ अब कह नहीं लगेंगी दूसरे भी कहने लगी थी से भी उसे लगता है बिल्कुल यही बात बिल्कुल सच्ची है तो वह सुबह से झूठ मजाक नहीं उससे बात को बाय हमेशा सच बैठाकर मानता है और कभी भी बात होती है तो हमेशा यही सोचता है अभी आप भूत ना आजा यार मैं इतनी रात को नहीं जाऊंगा तो बताओ यार क्या भूत होते हैं उनका बचपन नेपाली में सब कुछ अंधविश्वास है तो अंधविश्वास जो इन लोगों ने किसी ग्रुप में बताना चाहती थी लेकिन वह किसी ग्रुप में आ जाता है कोई भी बात दूसरे तरीके से कहना तो चाहते हैं कि रात को बाहर मत जाओ यह मत करो लेकिन उन्होंने क्या कहा भूत होते हैं इसलिए मत जाओ तो हम खुद को मानने लगते हैं इसके पीछे कारण नहीं देखते हैं बस यही हमारा अंधविश्वास होता हैBilkul Sahi Baat Hai Bhai Haal Andhavishvas Ke Piche Kuch Na Kuch Kaaran Hota Hai Jise Ek Main Batana Chahunga Ki Ek Udaharan Ki Aise Bhi Ho Sakta Hai Maa Baap Apne Bacchon Se Kehte Hain Ki Beta Yeh Mat Karo Wah Mat Kar Yahan Mat Ja Jaat Ko Mat Ja Pata Hai Raat Ko Mujhe Jaane Se Mana Kyun Karti Hai Yadi Galti Se Koi Durghatna Ho Jati Hai Kuch Ho Jata Hai Aisa Jo Bacche Khelte Gaye The To Unki Jyada Thak Jaate Hain To Bhi Maaf Kar Sakte Hain Bacche Kehte Hain Beta Raat Ko Mat Ghuma Kar Wahan Par Bhoot Rehta Hai To Bacche Dar Jaate Hain Bhai Itne Hum Jitne Chote Mein Jo Bhi Kaam Karte Hain Na Usamen Paripakva Ho Jaate Hain To Wah Sochne Lagte Hain Ya Bhoot Hote Hain Ek Do Baar To Sochenge Kuch Nahi Kuch Ab Keh Nahi Lagengi Dusre Bhi Kehne Lagi Thi Se Bhi Use Lagta Hai Bilkul Yahi Baat Bilkul Sachhi Hai To Wah Subah Se Jhuth Mazak Nahi Usse Baat Ko By Hamesha Sach Baithakar Manata Hai Aur Kabhi Bhi Baat Hoti Hai To Hamesha Yahi Sochta Hai Abhi Aap Bhoot Na Aaja Yaar Main Itni Raat Ko Nahi Jaunga To Batao Yaar Kya Bhoot Hote Hain Unka Bachpan Nepali Mein Sab Kuch Andhavishvas Hai To Andhavishvas Jo In Logon Ne Kisi Group Mein Batana Chahti Thi Lekin Wah Kisi Group Mein Aa Jata Hai Koi Bhi Baat Dusre Tarike Se Kehna To Chahte Hain Ki Raat Ko Bahar Mat Jao Yeh Mat Karo Lekin Unhone Kya Kaha Bhoot Hote Hain Isliye Mat Jao To Hum Khud Ko Manane Lagte Hain Iske Piche Kaaran Nahi Dekhte Hain Bus Yahi Hamara Andhavishvas Hota Hai
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि सभी अंधविश्वासों के पीछे कारण बिल्कुल नहीं होते लेकिन कुछ ऐसे अंधविश्वास नहीं कर सकते हैं लेकिन कुछ ऐसे ट्रेडिशन से कुछ तो ऐसी परंपरा होते जिनके पीछे जो है वह वैज्ञानिक कारण हो सकता है...जवाब पढ़िये
मुझे लगता है कि सभी अंधविश्वासों के पीछे कारण बिल्कुल नहीं होते लेकिन कुछ ऐसे अंधविश्वास नहीं कर सकते हैं लेकिन कुछ ऐसे ट्रेडिशन से कुछ तो ऐसी परंपरा होते जिनके पीछे जो है वह वैज्ञानिक कारण हो सकता है कृपया करके साइंटिफिक रीजन हो सकता है वह चीज करने के पीछे भले ही हमको वह चीज अंधश्रद्धा लगे या फिर हमें उस चीज के बारे में पता ना हो वह एक अलग बात है लेकिन अब इसलिए अगर किसी और वेदों में जैसे कि हिंदू धर्म में जो है वह जो होते रुक गए थे जुर्रत उन्हें जो सबसे ऊंचा माना जाता है फिर सबसे है उन्हें इंपॉर्टेंट दिया जाता है तो फिर भेजो में किसी भी प्रकार की लेडीस हंस दी गई है कुछ परंपराएं बताई गई है तो वहां पर बिल्कुल उनके पीछे जो है किसको प्रकार का वैज्ञानिक कारण जरूर होगा उसका फल जरूर होगा उसके लिए वहां पर जो चीजें मिशन की गई है लेकिन बहुत सारे ऐसे अंधश्रद्धा होती है जो धीरे-धीरे लोगों ने ही बनाए रखे तो उनमें जो किसी प्रकार का कोई कारण नहीं होता है लोग जो एक दूसरे की बात सुन के बातों में आंखें जो है उन चीजों पर विश्वास करने लगते हैं वह पूरी तरह से गलत है तो हमें जो है कोई भी चीज करने के पहले उस चीज को समझना चाहिए सबसे इंपॉर्टेंट उसके पीछे कोई साइंटिफिक रीजन है वह ढूंढने और बाद में ही उस चीज को जो है करना चाहिएMujhe Lagta Hai Ki Sabhi Andhvishvaso Ke Piche Kaaran Bilkul Nahi Hote Lekin Kuch Aise Andhavishvas Nahi Kar Sakte Hain Lekin Kuch Aise Tradition Se Kuch To Aisi Parampara Hote Jinke Piche Jo Hai Wah Vaigyanik Kaaran Ho Sakta Hai Kripya Karke Scientific Reason Ho Sakta Hai Wah Cheez Karne Ke Piche Bhale Hi Hamko Wah Cheez Andhashraddha Lage Ya Phir Hume Us Cheez Ke Baare Mein Pata Na Ho Wah Ek Alag Baat Hai Lekin Ab Isliye Agar Kisi Aur Vedon Mein Jaise Ki Hindu Dharm Mein Jo Hai Wah Jo Hote Ruk Gaye The Jurrat Unhen Jo Sabse Uncha Mana Jata Hai Phir Sabse Hai Unhen Important Diya Jata Hai To Phir Bhejo Mein Kisi Bhi Prakar Ki Ladies Hans Di Gayi Hai Kuch Paramparaen Batai Gayi Hai To Wahan Par Bilkul Unke Piche Jo Hai Kisko Prakar Ka Vaigyanik Kaaran Jarur Hoga Uska Fal Jarur Hoga Uske Liye Wahan Par Jo Cheezen Mission Ki Gayi Hai Lekin Bahut Sare Aise Andhashraddha Hoti Hai Jo Dhire Dhire Logon Ne Hi Banaye Rakhe To Unmen Jo Kisi Prakar Ka Koi Kaaran Nahi Hota Hai Log Jo Ek Dusre Ki Baat Sun Ke Baaton Mein Aankhen Jo Hai Un Chijon Par Vishwas Karne Lagte Hain Wah Puri Tarah Se Galat Hai To Hume Jo Hai Koi Bhi Cheez Karne Ke Pehle Us Cheez Ko Samajhna Chahiye Sabse Important Uske Piche Koi Scientific Reason Hai Wah Dhundhane Aur Baad Mein Hi Us Cheez Ko Jo Hai Karna Chahiye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन कुछ चीजों के कारण होते हैं बट हरण द्वार अंधविश्वास के पीछे कारण मैं इस बात से सहमत नहीं हूं इसी काबिल है जैसे कि हमारी मां हमेशा हमेशा कहती है हमसे कि हमें अपना सर हमें अपना पैर जो है वह दक्षिण ...जवाब पढ़िये
लेकिन कुछ चीजों के कारण होते हैं बट हरण द्वार अंधविश्वास के पीछे कारण मैं इस बात से सहमत नहीं हूं इसी काबिल है जैसे कि हमारी मां हमेशा हमेशा कहती है हमसे कि हमें अपना सर हमें अपना पैर जो है वह दक्षिण करके नहीं सोना चाहिए मैंने हाल ही में पढ़ा की आखिरी सच है हमारी बॉडी में देख एक मैगनेट की तरह आठ करती है जो हमारा सर है वह नॉर्थ पोल होता है और जो हमारा पैर है वह साउथ को रोता है तो करो अपने प्यार को साउथ पोल की तरफ करके सोए हमारा प्यार भी साउथ हो जाएगा और साउथ की साउथ रहेगा और हमारा सरल हो जाएगा और वह नोट के साथ रहेगा आपस में आते हैं तुम्हें अलग होने की कोशिश मतलब हमें अलग होने की कोशिश करते हैं तो इससे क्या होता है कि हमारा जो प्यार है जो साउथ में होता है वह साउथ को रिपेयर करें और हमारा सर नोट फ्री बंद करेगा बॉडी को स्ट्रांग करती है यह बहुत ही मिनिमम सिंह के जो गया फिर ऐसा कहा जाता है बट उसने छोटे बच्चों को सही के लिए ऐसे नहीं सुनाया जाता है कि सब कुछ आता है कि बच्चे लंबे हो तंदुरुस्त हो और अगर आप उल्टा सोएंगे यानी कि अगर आप सर को अपने साउथ में करेंगे और प्यार को अपने नोट्स में करेंगे तो नार्थ साउथ प्राप्त करेंगे और बॉडी लंबी उम्र आपकी हाइट में इनक्रीस होगी यह जिंदगी छोटे बच्चों के लिए होता है ऐसे कुछ कुछ चीज है जिनमें कोई रीजन है और सारी चीजों में रीज़न नहीं हैLekin Kuch Chijon Ke Kaaran Hote Hain But Haran Dwar Andhavishvas Ke Piche Kaaran Main Is Baat Se Sahmat Nahi Hoon Isi Kaabil Hai Jaise Ki Hamari Maa Hamesha Hamesha Kahti Hai Humse Ki Hume Apna Sar Hume Apna Pair Jo Hai Wah Dakshin Karke Nahi Sona Chahiye Maine Haal Hi Mein Padha Ki Aakhiri Sach Hai Hamari Body Mein Dekh Ek Magnet Ki Tarah Aath Karti Hai Jo Hamara Sar Hai Wah North Pole Hota Hai Aur Jo Hamara Pair Hai Wah South Ko Rota Hai To Karo Apne Pyar Ko South Pole Ki Taraf Karke Soye Hamara Pyar Bhi South Ho Jayega Aur South Ki South Rahega Aur Hamara Saral Ho Jayega Aur Wah Note Ke Saath Rahega Aapas Mein Aate Hain Tumhein Alag Hone Ki Koshish Matlab Hume Alag Hone Ki Koshish Karte Hain To Isse Kya Hota Hai Ki Hamara Jo Pyar Hai Jo South Mein Hota Hai Wah South Ko Repair Karen Aur Hamara Sar Note Free Band Karega Body Ko Strong Karti Hai Yeh Bahut Hi Minimum Singh Ke Jo Gaya Phir Aisa Kaha Jata Hai But Usne Chote Bacchon Ko Sahi Ke Liye Aise Nahi Sunaya Jata Hai Ki Sab Kuch Aata Hai Ki Bacche Lambe Ho Tandurust Ho Aur Agar Aap Ulta Soenge Yani Ki Agar Aap Sar Ko Apne South Mein Karenge Aur Pyar Ko Apne Notes Mein Karenge To Naarth South Prapt Karenge Aur Body Lambi Umar Aapki Height Mein Increase Hogi Yeh Zindagi Chote Bacchon Ke Liye Hota Hai Aise Kuch Kuch Cheez Hai Jinmein Koi Reason Hai Aur Saree Chijon Mein Rizan Nahi Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरुण जी देसी वैसे तो यह सुपर स्टेशन से अंधविश्वास इन के पीछे लॉजिक नहीं होते हैं और जो लोग इन को ब्लाइंड फोल्ड जाने के बिना सोचे समझे फॉलो करते हैं बोलो बहुत पर ऐसे गलतियां कर जाते हैं जो जिनके परिणाम...जवाब पढ़िये
अरुण जी देसी वैसे तो यह सुपर स्टेशन से अंधविश्वास इन के पीछे लॉजिक नहीं होते हैं और जो लोग इन को ब्लाइंड फोल्ड जाने के बिना सोचे समझे फॉलो करते हैं बोलो बहुत पर ऐसे गलतियां कर जाते हैं जो जिनके परिणाम बहुत गलत होता है लेकिन फिर भी कुछ ऐसे अंधविश्वास है जिनके पीछे आप चली रिजल्ट होते हैं जैसे कि कोई जान दे देता हूं कि एक अंधविश्वास एक एकर किसी की आग सुनील से आ रहे हैं किसी को दाग देकर आया तो उसके बाद नहा लें तो यह बोलते हैं कि अशुद्ध चाहते हैं इसलिए शुद्ध होने के लिए नहा ले लेकिन इसके पीछे रीजन है कि जो डेड बॉडी होती है ताकि उसे इंफेक्शन हो जाए इसीलिए लोग नहा लेते हैं दूसरा एक अंधे जैसे कि लोग बोलते की रात में पीपल के पेड़ के नीचे नहीं जाना चाहिए भूत आ जाएंगे आपको गलत होता है तो उसकी फिर साइंटिफिक लॉजिक है कि पीपल का पेड़ रात में कार्बन डाइऑक्साइड एक दिल करता है यानी कि वहां पर कहां पर है ज्यादा होती है तो वह बॉडी के लिए तैयार रहती है इसीलिए रात में पीपल के पेड़ के आसपास जाने के लिए लोग मना करते हैं तो इस तरह की जो रिजल्ट है कुछ थोड़ी बहुत है लॉजिकल हैं लेकिन कुछ और मौसी तो यह भी काम के होते हैं सिर्फ लोगों के अंदर एक धर्म को लेकर नेगेटिव अप्रोच क्रिएट करने के लिएArun Ji Desi Waise To Yeh Super Station Se Andhavishvas In Ke Piche Logic Nahi Hote Hain Aur Jo Log In Ko Blind Fold Jaane Ke Bina Soche Samjhe Follow Karte Hain Bolo Bahut Par Aise Galtiya Kar Jaate Hain Jo Jinke Parinam Bahut Galat Hota Hai Lekin Phir Bhi Kuch Aise Andhavishvas Hai Jinke Piche Aap Chali Result Hote Hain Jaise Ki Koi Jaan De Deta Hoon Ki Ek Andhavishvas Ek Acre Kisi Ki Aag Sunil Se Aa Rahe Hain Kisi Ko Daag Dekar Aaya To Uske Baad Naha Lein To Yeh Bolte Hain Ki Ashuddh Chahte Hain Isliye Shudh Hone Ke Liye Naha Le Lekin Iske Piche Reason Hai Ki Jo Dead Body Hoti Hai Taki Use Infection Ho Jaye Isliye Log Naha Lete Hain Doosra Ek Andhe Jaise Ki Log Bolte Ki Raat Mein Pipal Ke Ped Ke Neeche Nahi Jana Chahiye Bhoot Aa Jaenge Aapko Galat Hota Hai To Uski Phir Scientific Logic Hai Ki Pipal Ka Ped Raat Mein Carbon Dioxide Ek Dil Karta Hai Yani Ki Wahan Par Kahan Par Hai Jyada Hoti Hai To Wah Body Ke Liye Taiyaar Rehti Hai Isliye Raat Mein Pipal Ke Ped Ke Aaspass Jaane Ke Liye Log Mana Karte Hain To Is Tarah Ki Jo Result Hai Kuch Thodi Bahut Hai Logical Hain Lekin Kuch Aur Mausi To Yeh Bhi Kaam Ke Hote Hain Sirf Logon Ke Andar Ek Dharm Ko Lekar Negative Approach Create Karne Ke Liye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

...जवाब पढ़िये
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Sabhi Andhvishvaso Ke Peeche Kuch Kaaran Hote Hai Samajhayen , Are There Some Reasons Behind All Superstitions? Explain.

vokalandroid