क्या हिंदी मध्यम में पढ़ने से इंजीनियर बन सकते हैं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई मेरे से पूछे एक ही में हिंदी माध्यम से पढ़ाई करने के बाद टाइम्स ऑफ इंडिया में इकोनॉमिक्स टाइम्स में एडिटर बन सकता हूं वह तो मैं सोच लूंगा यार कैसे होगा यह तो मुश्किल है क्योंकि इकोनामिक टाइम्स टाइम्स ऑफ इंडिया इंग्लिश पेपर बन सकता है इंजीनियर क्या होता है तुमको अप्लाई करके अपने दिमाग का इस्तेमाल करके वह आउटकम लाता है ऐसा कोई प्रोडक्ट बनाता है जिससे कि लोगों की इच्छा की पूर्ति होती है अब अपने आसपास अगर मीनिंग के प्रोडक्ट देखने हैं तो आप कहां देख सकते हैं आप एरोप्लेन देख सकते आपके मोबाइल फोन दे सकते हैं जर्मन शिक्षिका ने बनाई है मोबाइल फोन ठीक है सबको पता है तो भाषा का इंजीनियरिंग से क्या संबंध है कि अच्छी हिंदी मीडियम के बच्चे खूब जाते हैं आपकी बहुत अच्छी बुक इन हिंदी इंग्लिश आ जाएगी क्या की इनिंग का काम चल जाएगा क्योंकि इंजीनियर बनने के लिए पहले इंजीनियरिंग जानना जरूरी है भाषा सपोर्ट है आपके अंदर टेक्नोलॉजी का क्रेजीनेस चाहिए आपको इंजीनियर बनने का क्रेज होना चाहिए भाषा बस सपोर्ट है आप पकड़ लेंगे
Romanized Version
अगर कोई मेरे से पूछे एक ही में हिंदी माध्यम से पढ़ाई करने के बाद टाइम्स ऑफ इंडिया में इकोनॉमिक्स टाइम्स में एडिटर बन सकता हूं वह तो मैं सोच लूंगा यार कैसे होगा यह तो मुश्किल है क्योंकि इकोनामिक टाइम्स टाइम्स ऑफ इंडिया इंग्लिश पेपर बन सकता है इंजीनियर क्या होता है तुमको अप्लाई करके अपने दिमाग का इस्तेमाल करके वह आउटकम लाता है ऐसा कोई प्रोडक्ट बनाता है जिससे कि लोगों की इच्छा की पूर्ति होती है अब अपने आसपास अगर मीनिंग के प्रोडक्ट देखने हैं तो आप कहां देख सकते हैं आप एरोप्लेन देख सकते आपके मोबाइल फोन दे सकते हैं जर्मन शिक्षिका ने बनाई है मोबाइल फोन ठीक है सबको पता है तो भाषा का इंजीनियरिंग से क्या संबंध है कि अच्छी हिंदी मीडियम के बच्चे खूब जाते हैं आपकी बहुत अच्छी बुक इन हिंदी इंग्लिश आ जाएगी क्या की इनिंग का काम चल जाएगा क्योंकि इंजीनियर बनने के लिए पहले इंजीनियरिंग जानना जरूरी है भाषा सपोर्ट है आपके अंदर टेक्नोलॉजी का क्रेजीनेस चाहिए आपको इंजीनियर बनने का क्रेज होना चाहिए भाषा बस सपोर्ट है आप पकड़ लेंगेAgar Koi Mere Se Puche Ek Hi Mein Hindi Maadhyam Se Padhai Karne Ke Baad Times Of India Mein Economics Times Mein Editor Ban Sakta Hoon Wah To Main Soch Lunga Yaar Kaise Hoga Yeh To Mushkil Hai Kyonki Ikonamik Times Times Of India English Paper Ban Sakta Hai Engineer Kya Hota Hai Tumko Apply Karke Apne Dimag Ka Istemal Karke Wah Outcome Lata Hai Aisa Koi Product Banata Hai Jisse Ki Logon Ki Icha Ki Purti Hoti Hai Ab Apne Aaspass Agar Meaning Ke Product Dekhne Hain To Aap Kahaan Dekh Sakte Hain Aap Aeroplane Dekh Sakte Aapke Mobile Phone De Sakte Hain German Shikshika Ne Banai Hai Mobile Phone Theek Hai Sabko Pata Hai To Bhasha Ka Engineering Se Kya Sambandh Hai Ki Acchi Hindi Medium Ke Bacche Khoob Jaate Hain Aapki Bahut Acchi Book In Hindi English Aa Jayegi Kya Ki Inning Ka Kaam Chal Jayega Kyonki Engineer Banne Ke Liye Pehle Engineering Janana Zaroori Hai Bhasha Support Hai Aapke Andar Technology Ka Krejines Chahiye Aapko Engineer Banne Ka Craze Hona Chahiye Bhasha Bus Support Hai Aap Pakad Lenge
Likes  59  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

क्या हम हिंदी मध्यम से IAS और IPS बन सकते है या हिंदी मध्यम वालोको कोई प्रॉब्लम फेस करना? ...

हिंदी मीडियम क्यों या फिर इंग्लिश मीडियम के हो इसका असर कोई भी एग्जाम को देने पर कुछ ज्यादा नहीं पड़ता है क्योंकि मेहनत तो सभी को करनी पड़ती है किसी को थोड़ी कम तो किसी को थोड़ी ज्यादा करनी पड़ती है औजवाब पढ़िये
ques_icon

हिंदी मध्यम स्टूडेंट के लिए UPSC की तैयारी के लिए बेस्ट ऑप्शनल सब्जेक्ट कौनसा है? ...

हिंदी मीडियम के स्टूडेंट चूहा यूपीएससी के लिए जो बेस्ट सब्जेक्ट माने जाते हैं जैसे कि इतिहास ले सकते हैं या फिर हिंदी भाषा ले सकते हैं हिंदी लिटरेचर ले सकते हैं इसके अलावा वह चाहे तो भूगोल या फिर राजनजवाब पढ़िये
ques_icon

हिंदी माध्यम से IAS बन सकते हैं क्या? यदि नहीं बन पाए तो क्या करना चाहिए? ...

जी हां बिलकुल हिंदी माध्यम मैं आईएस बन सकता हूं अगर मैं आपको रेशों बताऊं तो पहले हिंदी माध्यम के लोकगीत राधा आईएस क्लियर करते थे तो हिंदी माध्यम में आई है बिल्कुल बन सकते हैं और आप बिल्कुल राम अपने दिजवाब पढ़िये
ques_icon

क्या कोई IS में पहली बार हिंदी मध्यम से 1st रैंक ला सकता है और अगर नहीं ला सकता तो क्यों नहीं ला सकता है ? ...

सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं कि आईएस नहीं आई ए एस होता है इंडियन एडमिशन सर्विस दूसरी बात आपको मैं यह भी बता दो हिंदी माध्यम से फर्स्ट रैंक ला सकते इसमें कोई दो राय नहीं है तो आपका दूसरा नहीं है खत्म जवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी सर उड़ा हिंदी मीडियम से बढ़कर इंजीनियर तो बन सकते हैं लेकिन आपको हमेशा थोड़ा लॉन्ग टर्म देखना पड़ेगा क्योंकि होगा क्या की सबसे पहले तो यह देखने की जगह पढ़ाई करें तो मुझे नहीं पता कौन सी यूनिवर्सिटी है कॉलेज है जो इंजरिंग का कॉलेज है जो हिंदी में इंजरिंग बनाता है तो भले ही किताबें हिंदी में होती है या नहीं पता लेकिन अगर होली खेले तो सारा इंग्लिश में होगा और ऑस्ट्रेलिया हाइलाइट्स तो बड़ी-बड़ी का ब्रिज की जा जोड़ने के लिए वह काम पर नहीं है इसके क्लाइंट और जो प्रोजेक्ट होते हैं वहां पर इंग्लिश कम्युनिकेशन का जरूरत पड़ेगा तो सबसे पहले तो आपको यह देखना पड़ेगा कि मैं खाली अपने आप को हिंदी तक ही एडिस्ट्रिक्ट करके नहीं रखो इंग्लिश आना बहुत जरूरी है भले ही आप इंजीनियरिंग सोच सकते हैं कि हिंदी में करो उसका मुझे ठीक से नहीं पता कि हिंदी में होता है नहीं होता लेकिन इंग्लिश का आज की तारीख में बहुत एवं महत्व है क्यों क्योंकि जिस जगह पर हम पहुंचे हैं आज ऑफिस लेट एक दशक में यार समझ लिए दो शब्द दशक में जितनी आ प्रोग्रेस हमने की है चाहे वह टेक्नोलॉजी हो जाए कम्युनिकेशन ओं ग्लोबलाइजेशन ओं बहुत सारी चीजें हो गई हैं इसमें कहीं ऐसा ना हो आने वाले 10 साल 20 साल में चीजें और बदलेंगे तो कहीं ऐसा ना हो कि एक लैंग्वेज की वजह से आप कहीं पर पीछे रह जाए तो आपको लगे कि डिग्री तो है मेरे पास लेकिन मेरे को वह चीज नहीं मिली जो मुझे चाहिए थी क्योंकि आज हर बच्चा छोटे से छोटे बच्चे छोटे छोटे स्कूल सेक्स अंग्रेजी पढ़ने की कोशिश करें और साधन भी अवेलेबल हैं तो मेरी राय में आप कर सकते हैं लेकिन अगर शुरू से आप इंग्लिश के साथ आगे बढ़ना चाहे तो वह आपको हेल्प करेगा बजाय इसके कि आप हिंदी में ही रुके रहे
Romanized Version
जी सर उड़ा हिंदी मीडियम से बढ़कर इंजीनियर तो बन सकते हैं लेकिन आपको हमेशा थोड़ा लॉन्ग टर्म देखना पड़ेगा क्योंकि होगा क्या की सबसे पहले तो यह देखने की जगह पढ़ाई करें तो मुझे नहीं पता कौन सी यूनिवर्सिटी है कॉलेज है जो इंजरिंग का कॉलेज है जो हिंदी में इंजरिंग बनाता है तो भले ही किताबें हिंदी में होती है या नहीं पता लेकिन अगर होली खेले तो सारा इंग्लिश में होगा और ऑस्ट्रेलिया हाइलाइट्स तो बड़ी-बड़ी का ब्रिज की जा जोड़ने के लिए वह काम पर नहीं है इसके क्लाइंट और जो प्रोजेक्ट होते हैं वहां पर इंग्लिश कम्युनिकेशन का जरूरत पड़ेगा तो सबसे पहले तो आपको यह देखना पड़ेगा कि मैं खाली अपने आप को हिंदी तक ही एडिस्ट्रिक्ट करके नहीं रखो इंग्लिश आना बहुत जरूरी है भले ही आप इंजीनियरिंग सोच सकते हैं कि हिंदी में करो उसका मुझे ठीक से नहीं पता कि हिंदी में होता है नहीं होता लेकिन इंग्लिश का आज की तारीख में बहुत एवं महत्व है क्यों क्योंकि जिस जगह पर हम पहुंचे हैं आज ऑफिस लेट एक दशक में यार समझ लिए दो शब्द दशक में जितनी आ प्रोग्रेस हमने की है चाहे वह टेक्नोलॉजी हो जाए कम्युनिकेशन ओं ग्लोबलाइजेशन ओं बहुत सारी चीजें हो गई हैं इसमें कहीं ऐसा ना हो आने वाले 10 साल 20 साल में चीजें और बदलेंगे तो कहीं ऐसा ना हो कि एक लैंग्वेज की वजह से आप कहीं पर पीछे रह जाए तो आपको लगे कि डिग्री तो है मेरे पास लेकिन मेरे को वह चीज नहीं मिली जो मुझे चाहिए थी क्योंकि आज हर बच्चा छोटे से छोटे बच्चे छोटे छोटे स्कूल सेक्स अंग्रेजी पढ़ने की कोशिश करें और साधन भी अवेलेबल हैं तो मेरी राय में आप कर सकते हैं लेकिन अगर शुरू से आप इंग्लिश के साथ आगे बढ़ना चाहे तो वह आपको हेल्प करेगा बजाय इसके कि आप हिंदी में ही रुके रहेG Sar Uda Hindi Medium Se Badhkar Engineer To Ban Sakte Hain Lekin Aapko Hamesha Thoda Long Term Dekhna Padega Kyonki Hoga Kya Ki Sabse Pehle To Yeh Dekhne Ki Jagah Padhai Karen To Mujhe Nahi Pata Kaon Si University Hai College Hai Jo Injaring Ka College Hai Jo Hindi Mein Injaring Banata Hai To Bhale Hi Kitaben Hindi Mein Hoti Hai Ya Nahi Pata Lekin Agar Holi Khele To Saara English Mein Hoga Aur Austrailia Highlights To Badi Badi Ka Bridge Ki Ja Jodne Ke Liye Wah Kaam Par Nahi Hai Iske Client Aur Jo Project Hote Hain Wahan Par English Communication Ka Zaroorat Padega To Sabse Pehle To Aapko Yeh Dekhna Padega Ki Main Khaali Apne Aap Ko Hindi Tak Hi Edistrikt Karke Nahi Rakho English Aana Bahut Zaroori Hai Bhale Hi Aap Engineering Soch Sakte Hain Ki Hindi Mein Karo Uska Mujhe Theek Se Nahi Pata Ki Hindi Mein Hota Hai Nahi Hota Lekin English Ka Aaj Ki Tarikh Mein Bahut Evam Mahatva Hai Kyon Kyonki Jis Jagah Par Hum Pahuche Hain Aaj Office Let Ek Dashak Mein Yaar Samajh Liye Do Shabdh Dashak Mein Jitni Aa Progress Humne Ki Hai Chahe Wah Technology Ho Jaye Communication On Globalization On Bahut Saree Cheezen Ho Gayi Hain Isme Kahin Aisa Na Ho Aane Wali 10 Saal 20 Saal Mein Cheezen Aur Badalenge To Kahin Aisa Na Ho Ki Ek Language Ki Wajah Se Aap Kahin Par Piche Rah Jaye To Aapko Lage Ki Degree To Hai Mere Paas Lekin Mere Ko Wah Cheez Nahi Mili Jo Mujhe Chahiye Thi Kyonki Aaj Har Baccha Chote Se Chote Bacche Chote Chote School Sex Angrezi Padhne Ki Koshish Karen Aur Sadhan Bhi Available Hain To Meri Raya Mein Aap Kar Sakte Hain Lekin Agar Shuru Se Aap English Ke Saath Aage Badhana Chahe To Wah Aapko Help Karega Bajay Iske Ki Aap Hindi Mein Hi Ruke Rahe
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल आप हिंदी माध्यम से पढ़ने से बिल्कुल आप इंजीनियर बन सकते हैं ऐसी कोई रोक टोक नहीं क्या हिंदी मीडियम से है या फिर इस गाने मीडियम से तो आप इंजीनियर बन सकते इंग्लिश शार्ट हिंदी या फिर से को स्ट्रीट वीडियो में जैसे बंगाली से यहां पर मैं बंगाल सूरत बंगाली मीडियम भी होता है उसे पर कि वह बिन जी नहीं बन सकते ऐसी कोई दिक्कत नहीं है कुछ कुछ सब्जेक्ट डिफरेंट इंग्लिश में तो थोड़ी आपको दिक्कत आ सकती है लेकिन अगर अभी मेरी समीक्षा बैठक अगले उस चीज को तो आप डेफिनटली बन सकते कोई दिक्कत नहीं है
Romanized Version
जी बिल्कुल आप हिंदी माध्यम से पढ़ने से बिल्कुल आप इंजीनियर बन सकते हैं ऐसी कोई रोक टोक नहीं क्या हिंदी मीडियम से है या फिर इस गाने मीडियम से तो आप इंजीनियर बन सकते इंग्लिश शार्ट हिंदी या फिर से को स्ट्रीट वीडियो में जैसे बंगाली से यहां पर मैं बंगाल सूरत बंगाली मीडियम भी होता है उसे पर कि वह बिन जी नहीं बन सकते ऐसी कोई दिक्कत नहीं है कुछ कुछ सब्जेक्ट डिफरेंट इंग्लिश में तो थोड़ी आपको दिक्कत आ सकती है लेकिन अगर अभी मेरी समीक्षा बैठक अगले उस चीज को तो आप डेफिनटली बन सकते कोई दिक्कत नहीं हैG Bilkul Aap Hindi Maadhyam Se Padhne Se Bilkul Aap Engineer Ban Sakte Hain Aisi Koi Rok Tok Nahi Kya Hindi Medium Se Hai Ya Phir Is Gaane Medium Se To Aap Engineer Ban Sakte English Shaart Hindi Ya Phir Se Ko Street Video Mein Jaise Bengali Se Yahan Par Main Bengal Surat Bengali Medium Bhi Hota Hai Use Par Ki Wah Bin G Nahi Ban Sakte Aisi Koi Dikkat Nahi Hai Kuch Kuch Subject Different English Mein To Thodi Aapko Dikkat Aa Sakti Hai Lekin Agar Abhi Meri Samiksha Baithak Agle Us Cheez Ko To Aap Definatali Ban Sakte Koi Dikkat Nahi Hai
Likes  57  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां क्यों नहीं देश के हजारों इंजीनियर लोग स्कूल में हिंदी में ही पढ़ाई की थी आप भी हिंदी में पढ़ाई कर सकते हैं पर साथ साथ अंग्रेजी सीखिए और अच्छी तरह सीखी है मुझे नहीं मालूम किस विश्वविद्यालय में इंजीनियरिंग की पढ़ाई हिंदी में होती है शायद कहीं भी नहीं पर यदि आपने अंग्रेजी ध्यान से सीखी है तो आपको कोई दिक्कत नहीं होगी इस समय इंजीनियरिंग में उच्च शिक्षा पाने के लिए अंग्रेजी जानना बेहद जरूरी है तकनीकी शब्दों का भंडार और विदेशी किताबों और दस्तावेजों का अध्ययन करने के लिए और विश्व भर के इंजीनियर समुदाय से संपर्क करने के लिए अंग्रेजी अनिवार्य है
Romanized Version
हां क्यों नहीं देश के हजारों इंजीनियर लोग स्कूल में हिंदी में ही पढ़ाई की थी आप भी हिंदी में पढ़ाई कर सकते हैं पर साथ साथ अंग्रेजी सीखिए और अच्छी तरह सीखी है मुझे नहीं मालूम किस विश्वविद्यालय में इंजीनियरिंग की पढ़ाई हिंदी में होती है शायद कहीं भी नहीं पर यदि आपने अंग्रेजी ध्यान से सीखी है तो आपको कोई दिक्कत नहीं होगी इस समय इंजीनियरिंग में उच्च शिक्षा पाने के लिए अंग्रेजी जानना बेहद जरूरी है तकनीकी शब्दों का भंडार और विदेशी किताबों और दस्तावेजों का अध्ययन करने के लिए और विश्व भर के इंजीनियर समुदाय से संपर्क करने के लिए अंग्रेजी अनिवार्य हैHaan Kyon Nahi Desh Ke Hajaron Engineer Log School Mein Hindi Mein Hi Padhai Ki Thi Aap Bhi Hindi Mein Padhai Kar Sakte Hain Par Saath Saath Angrezi Sikhiye Aur Acchi Tarah Sikhi Hai Mujhe Nahi Maloom Kis Vishwavidyala Mein Engineering Ki Padhai Hindi Mein Hoti Hai Shayad Kahin Bhi Nahi Par Yadi Aapne Angrezi Dhyan Se Sikhi Hai To Aapko Koi Dikkat Nahi Hogi Is Samay Engineering Mein Uccha Shiksha Pane Ke Liye Angrezi Janana Behad Zaroori Hai Takniki Shabdon Ka Bhandar Aur Videshi Kitabon Aur Dastawejon Ka Adhyayan Karne Ke Liye Aur Vishwa Bhar Ke Engineer Samuday Se Sampark Karne Ke Liye Angrezi Anivarya Hai
Likes  69  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी माध्यम से जो बच्चे पढ़ते हैं उनके पास कॉन्सेप्ट होता है बल्कि जो इंग्लिश मीडियम से पढ़ते हैं उनके पास कोई कांटेक्ट नहीं होता है उनके पास पशु रट्टा मारने की आदत होती है तो हिंदी मीडियम वाले जब इंजीनियरिंग करते हैं सबसे अधिक आईआईटी क्वालीफाई हिंदी मीडियम वाले ही करते हैं और जो आईआईटीएन बनते हैं वह काफी अच्छे इंजीनियर बनते हैं काफी अच्छे साइंटिस्ट बनते हैं और वही आईएस ए एस आई एस बी क्वालीफाई करते हैं तो हिंदी मीडियम के बच्चों का इंग्लिश भी सबसे अधिक स्ट्रांग होता है भारत आज पूरे विश्व में सबसे अधिक इंग्लिश बोलने वाला देश है यह शायद आपको नहीं पता होगा भारत वर्ल्ड में सबसे अधिक इंग्लिश बोलने वाले लोग भी भारत में रहते हैं इसलिए हिंदी मीडियम के लोगों को कभी यह नहीं सोचना चाहिए कि हम हिंदी मीडियम से हैं हम इंग्लिश नहीं पढ़ सकते हैं हिंदी इंग्लिश नहीं बोल सकते वह ट्राई करते हैं तो वह सबसे अच्छा और सबसे बेटर करते हैं धन्यवाद
Romanized Version
हिंदी माध्यम से जो बच्चे पढ़ते हैं उनके पास कॉन्सेप्ट होता है बल्कि जो इंग्लिश मीडियम से पढ़ते हैं उनके पास कोई कांटेक्ट नहीं होता है उनके पास पशु रट्टा मारने की आदत होती है तो हिंदी मीडियम वाले जब इंजीनियरिंग करते हैं सबसे अधिक आईआईटी क्वालीफाई हिंदी मीडियम वाले ही करते हैं और जो आईआईटीएन बनते हैं वह काफी अच्छे इंजीनियर बनते हैं काफी अच्छे साइंटिस्ट बनते हैं और वही आईएस ए एस आई एस बी क्वालीफाई करते हैं तो हिंदी मीडियम के बच्चों का इंग्लिश भी सबसे अधिक स्ट्रांग होता है भारत आज पूरे विश्व में सबसे अधिक इंग्लिश बोलने वाला देश है यह शायद आपको नहीं पता होगा भारत वर्ल्ड में सबसे अधिक इंग्लिश बोलने वाले लोग भी भारत में रहते हैं इसलिए हिंदी मीडियम के लोगों को कभी यह नहीं सोचना चाहिए कि हम हिंदी मीडियम से हैं हम इंग्लिश नहीं पढ़ सकते हैं हिंदी इंग्लिश नहीं बोल सकते वह ट्राई करते हैं तो वह सबसे अच्छा और सबसे बेटर करते हैं धन्यवादHindi Maadhyam Se Jo Bacche Padhte Hain Unke Paas Concept Hota Hai Balki Jo English Medium Se Padhte Hain Unke Paas Koi Contact Nahi Hota Hai Unke Paas Pashu Ratta Maarne Ki Aadat Hoti Hai To Hindi Medium Wali Jab Engineering Karte Hain Sabse Adhik IIT Qualify Hindi Medium Wali Hi Karte Hain Aur Jo IITN Bante Hain Wah Kafi Acche Engineer Bante Hain Kafi Acche Scientist Bante Hain Aur Wahi Ias A S I S Be Qualify Karte Hain To Hindi Medium Ke Bacchon Ka English Bhi Sabse Adhik Strong Hota Hai Bharat Aaj Poore Vishwa Mein Sabse Adhik English Bolne Vala Desh Hai Yeh Shayad Aapko Nahi Pata Hoga Bharat World Mein Sabse Adhik English Bolne Wali Log Bhi Bharat Mein Rehte Hain Isliye Hindi Medium Ke Logon Ko Kabhi Yeh Nahi Sochna Chahiye Ki Hum Hindi Medium Se Hain Hum English Nahi Padh Sakte Hain Hindi English Nahi Bol Sakte Wah Try Karte Hain To Wah Sabse Accha Aur Sabse Better Karte Hain Dhanyavad
Likes  9  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या हिंदी मीडियम से पढ़ने वाले छात्र इंजीनियर बन सकते हैं हां बिल्कुल ऐसा बिलकुल पॉसिबल है क्यों नहीं बन सकते हैं आपने चाहे जिस हिंदी मीडियम से जिस भाषा में अपनी अपनी पढ़ाई की हो बचपन से लेकर अभी तक जो भी अपने प्रारंभिक शिक्षा यानी एलिमेंट्री नॉलेज जैसी भी हासिल की हो जिस भी है लैंग्वेज में हिंदी में या इंग्लिश में यह कोई बहुत बड़ा रोल नहीं प्ले करती है इंजीनियर बनने में बाधा नहीं बनता है आप इंजीनियर इंजीनियर कर सकते हैं मेन बात है कि आप की जो आपने हाई स्कूल इंटर में सब्जेक्ट पढ़े हैं जिसे साइंस और मैथ फिजिक्स केमिस्ट्री जैसे सब्जेक्ट इन में आपकी कितनी पकड़ तो अगर आप की साइंस के क्षेत्र में बहुत अच्छी पकड़ है मैथ में आप औसत हैं तो आप बहुत अच्छे इंजीनियर बन सकते हैं क्योंकि इंजीनियर में यह सब्जेक्ट अच्छे होने जरूरी हैं आप इंजीनियर बन सकते हैं लेकिन अगर आपको आई स्टडी करनी है तो इंग्लिश को भी इंप्रूव करना होगा इंग्लिश का थोड़ा-थोड़ा औसत होना भी जरूरी है क्योंकि सारे टाइम्स जितनी बुक्स में जो भी हमारे टेक्नालॉजी के वर्ड होते हैं जो भी तकनीकी शब्द होते हैं वह कुछ इंग्लिश से प्रेरित होते हैं तो इंग्लिश के होते हैं तो इसलिए थोड़ी इंग्लिश औसत होनी चाहिए आपको उतनी इंग्लिश आनी चाहिए लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं कह सकते हिंदी मीडियम के छात्र या अन्य भाषाओं के छात्र इंजीनियर नहीं बन सकते आप बन सकते हैं आप अपने सब्जेक्ट को मजबूत पकड़ बनाई और आप अच्छे से पढ़ाई करें इंग्लिश अगर आगे की लेवल के लिए इंग्लिश भी अच्छे से पेपर के लिए आप आसानी से इंजीनियर बन जाएंगे
Romanized Version
क्या हिंदी मीडियम से पढ़ने वाले छात्र इंजीनियर बन सकते हैं हां बिल्कुल ऐसा बिलकुल पॉसिबल है क्यों नहीं बन सकते हैं आपने चाहे जिस हिंदी मीडियम से जिस भाषा में अपनी अपनी पढ़ाई की हो बचपन से लेकर अभी तक जो भी अपने प्रारंभिक शिक्षा यानी एलिमेंट्री नॉलेज जैसी भी हासिल की हो जिस भी है लैंग्वेज में हिंदी में या इंग्लिश में यह कोई बहुत बड़ा रोल नहीं प्ले करती है इंजीनियर बनने में बाधा नहीं बनता है आप इंजीनियर इंजीनियर कर सकते हैं मेन बात है कि आप की जो आपने हाई स्कूल इंटर में सब्जेक्ट पढ़े हैं जिसे साइंस और मैथ फिजिक्स केमिस्ट्री जैसे सब्जेक्ट इन में आपकी कितनी पकड़ तो अगर आप की साइंस के क्षेत्र में बहुत अच्छी पकड़ है मैथ में आप औसत हैं तो आप बहुत अच्छे इंजीनियर बन सकते हैं क्योंकि इंजीनियर में यह सब्जेक्ट अच्छे होने जरूरी हैं आप इंजीनियर बन सकते हैं लेकिन अगर आपको आई स्टडी करनी है तो इंग्लिश को भी इंप्रूव करना होगा इंग्लिश का थोड़ा-थोड़ा औसत होना भी जरूरी है क्योंकि सारे टाइम्स जितनी बुक्स में जो भी हमारे टेक्नालॉजी के वर्ड होते हैं जो भी तकनीकी शब्द होते हैं वह कुछ इंग्लिश से प्रेरित होते हैं तो इंग्लिश के होते हैं तो इसलिए थोड़ी इंग्लिश औसत होनी चाहिए आपको उतनी इंग्लिश आनी चाहिए लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं कह सकते हिंदी मीडियम के छात्र या अन्य भाषाओं के छात्र इंजीनियर नहीं बन सकते आप बन सकते हैं आप अपने सब्जेक्ट को मजबूत पकड़ बनाई और आप अच्छे से पढ़ाई करें इंग्लिश अगर आगे की लेवल के लिए इंग्लिश भी अच्छे से पेपर के लिए आप आसानी से इंजीनियर बन जाएंगेKya Hindi Medium Se Padhne Wali Chatra Engineer Ban Sakte Hain Haan Bilkul Aisa Bilkul Possible Hai Kyon Nahi Ban Sakte Hain Aapne Chahe Jis Hindi Medium Se Jis Bhasha Mein Apni Apni Padhai Ki Ho Bachpan Se Lekar Abhi Tak Jo Bhi Apne Prarambhik Shiksha Yani Elimentri Knowledge Jaisi Bhi Hasil Ki Ho Jis Bhi Hai Language Mein Hindi Mein Ya English Mein Yeh Koi Bahut Bada Roll Nahi Play Karti Hai Engineer Banne Mein Badha Nahi Banta Hai Aap Engineer Engineer Kar Sakte Hain Main Baat Hai Ki Aap Ki Jo Aapne Hi School Inter Mein Subject Padhe Hain Jise Science Aur Math Physics Chemistry Jaise Subject In Mein Aapki Kitni Pakad To Agar Aap Ki Science Ke Shetra Mein Bahut Acchi Pakad Hai Math Mein Aap Ausat Hain To Aap Bahut Acche Engineer Ban Sakte Hain Kyonki Engineer Mein Yeh Subject Acche Hone Zaroori Hain Aap Engineer Ban Sakte Hain Lekin Agar Aapko I Study Karni Hai To English Ko Bhi Improve Karna Hoga English Ka Thoda Thoda Ausat Hona Bhi Zaroori Hai Kyonki Sare Times Jitni Books Mein Jo Bhi Hamare Technology Ke Word Hote Hain Jo Bhi Takniki Shabdh Hote Hain Wah Kuch English Se Prerit Hote Hain To English Ke Hote Hain To Isliye Thodi English Ausat Honi Chahiye Aapko Utani English Aani Chahiye Lekin Aisa Bilkul Bhi Nahi Keh Sakte Hindi Medium Ke Chatra Ya Anya Bhashaon Ke Chatra Engineer Nahi Ban Sakte Aap Ban Sakte Hain Aap Apne Subject Ko Mazboot Pakad Banai Aur Aap Acche Se Padhai Karen English Agar Aage Ki Level Ke Liye English Bhi Acche Se Paper Ke Liye Aap Aasani Se Engineer Ban Jaenge
Likes  11  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी मध्यम या फिर इंग्लिश मध्यम की बात नहीं है यहां पर यहां पर यह बात है क्या आपको साइंस में कितनी दिलचस्पी है आपको विज्ञान में कितनी दिलचस्पी और आपको वह आता है कि नहीं इसका कोई भी रिलेशन या तालुकात नहीं है कि हिंदी मीडियम में अगर किसी ने पढ़ा तो इंजीनियर नहीं बन सकता क्यों नहीं बन सकता अगर आप दृढ़ निश्चय रखेंगे अगर आप हम साथ में करेंगे अगर आप मेहनत करेंगे तो क्यों नहीं कर सकते जरूर कर सकते हैं वहां पर मेन बात हिंदी या इंग्लिश की नहीं बल्कि विज्ञान में आपकी जो ज्ञान है उसके बाद में
Romanized Version
हिंदी मध्यम या फिर इंग्लिश मध्यम की बात नहीं है यहां पर यहां पर यह बात है क्या आपको साइंस में कितनी दिलचस्पी है आपको विज्ञान में कितनी दिलचस्पी और आपको वह आता है कि नहीं इसका कोई भी रिलेशन या तालुकात नहीं है कि हिंदी मीडियम में अगर किसी ने पढ़ा तो इंजीनियर नहीं बन सकता क्यों नहीं बन सकता अगर आप दृढ़ निश्चय रखेंगे अगर आप हम साथ में करेंगे अगर आप मेहनत करेंगे तो क्यों नहीं कर सकते जरूर कर सकते हैं वहां पर मेन बात हिंदी या इंग्लिश की नहीं बल्कि विज्ञान में आपकी जो ज्ञान है उसके बाद मेंHindi Madhyam Ya Phir English Madhyam Ki Baat Nahi Hai Yahan Par Yahan Par Yeh Baat Hai Kya Aapko Science Mein Kitni Dilchaspi Hai Aapko Vigyan Mein Kitni Dilchaspi Aur Aapko Wah Aata Hai Ki Nahi Iska Koi Bhi Relation Ya Talukat Nahi Hai Ki Hindi Medium Mein Agar Kisi Ne Padha To Engineer Nahi Ban Sakta Kyon Nahi Ban Sakta Agar Aap Dridh Nishchay Rakhenge Agar Aap Hum Saath Mein Karenge Agar Aap Mehnat Karenge To Kyon Nahi Kar Sakte Jarur Kar Sakte Hain Wahan Par Main Baat Hindi Ya English Ki Nahi Balki Vigyan Mein Aapki Jo Gyaan Hai Uske Baad Mein
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kya Hindi Madhyam Mein Padhne Se Engineer Ban Sakte Hain ?,Sakhavu Imdb,


vokalandroid