देश को विकसित बनाने के लिए सरकार के सामने क्या बड़ी मजबूरियां हैं ? ...

Likes  0  Dislikes

2 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
विदेश के विदेश को विकसित बनाने के लिए सरकार को मुझे लगता है सबसे पहले जो बढ़ती हुई आबादी है उस पर कंट्रोल करना पड़ेगा फैमिली प्लानिंग भारत में सबसे पहले स्टार्ट लेकिन अगर आप उसके रिजल्ट देखेंगे तो वह साइड इफेक्ट भी नहीं है जिस प्रकार देश में बस रेट बहुत ज्यादा है और आने वाले समय में हम चाइना की पॉपुलेशन को भी क्रॉस कर जाएंगे तो मुझे लगता है इसके गंभीर परिणाम होंगे तो सरकार को सबसे पहले सजग होकर बढ़ती हुई आबादी को देखते हुए कुछ ना कुछ कानून नियम कानून बनाने पड़ेंगे और उसको ठीक से इंप्लीमेंट भी करना पड़ेगा क्योंकि बढ़ती हुई जनसंख्या की वजह से बेरोजगारी बढ़ रही है अशिक्षा बढ़ रही है उनका स्वास्थ्य सेवाएं दूसरा बेसिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी सरकार को कार्य करना पड़ेगा तब जाकर हम कह सकते हैं आने वाले समय में हम इस देश को विकसित देश देख सकते हैं क्योंकि हमारे देश की सबसे बड़ी समस्या यही है कि कानून तो बहुत है लेकिन किसी भी कानून का सख्ती से पालन नहीं किया जाताVidesh Ke Videsh Ko Viksit Banane Ke Liye Sarkar Ko Mujhe Lagta Hai Sabse Pehle Jo Badhti Hui Aabadi Hai Us Par Control Karna Padega Family Planning Bharat Mein Sabse Pehle Start Lekin Agar Aap Uske Result Dekhenge To Wah Side Effect Bhi Nahi Hai Jis Prakar Desh Mein Bus Rate Bahut Jyada Hai Aur Aane Wale Samay Mein Hum China Ki Population Ko Bhi Cross Kar Jaenge To Mujhe Lagta Hai Iske Gambhir Parinam Honge To Sarkar Ko Sabse Pehle Sajag Hokar Badhti Hui Aabadi Ko Dekhte Hue Kuch Na Kuch Kanoon Niyam Kanoon Banane Padenge Aur Usko Theek Se Implement Bhi Karna Padega Kyonki Badhti Hui Jansankhya Ki Wajah Se Berojgari Badh Rahi Hai Asiksha Badh Rahi Hai Unka Swasthya Sevayen Doosra Basic Infrastructure Par Bhi Sarkar Ko Karya Karna Padega Tab Jaakar Hum Keh Sakte Hain Aane Wale Samay Mein Hum Is Desh Ko Viksit Desh Dekh Sakte Hain Kyonki Hamare Desh Ki Sabse Badi Samasya Yahi Hai Ki Kanoon To Bahut Hai Lekin Kisi Bhi Kanoon Ka Sakhti Se Palan Nahi Kiya Jata
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए

0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
देश को विकसित करने के लिए बहुत सारी चीजों का देखरेख करना पड़ेगा जैसे कि बेरोजगारी हटाना पड़ेगा और पहली बार जो करप्शन और क्रिमिनल में चोला है लॉक और थोड़ा स्ट्रीक करना पड़ेगा जैसे कि क्रिमिनल एक्टिविटी ना हो और जैसे कि एजुकेटेड सबको ऐसे कंपलसरी कर दीजिए सबको पढ़ाई-लिखाई करना पड़ेगा डेफिनेटली जो भी हो जाए देश एजुकेटेड हो गया और नौकरी ज्यादा से ज्यादा कंपनी इस ओपन करें ज्यादा से ज्यादा नौकरी ओपन करो नहीं तो नए प्रोजेक्ट ओपन करें जैसे कि बेरोजगार लोगों को रोजगार मिल सके क्योंकि क्या होता सरजू इंडियन से भारत के बाहर जाकर बहुत नाम कर रहे हैं अगर क्योंकि भारत में उनको स्कोप नहीं मिलता है तो इसलिए वह भारत के बाहर जाते हैं पैसे कमाने के लिए और अपना फ्यूचर बनाने के लिए अगर भारत सरकार वह करप्शन नहीं होता तो अभी तक भारत कहां से चलकर कहां पहुंच जाता तो मेरे हिसाब से तो पॉलिटिशन लोग हैं उनको करप्शन बंद करना चाहिए और ऐसे की सरकारी दफ्तरों में अगर कोई रिश्वत लेता है तो डायरेक्ट बिना सस्पेंड किया उसको कंपनी से निकाल देना चाहिए सब चीज अगर सरकार को ध्यान में रखेंगे तो कंपनी भारत का विकास हो सकता हैDesh Ko Viksit Karne Ke Liye Bahut Saree Chijon Ka Dekharekh Karna Padega Jaise Ki Berojgari Hatana Padega Aur Pehli Baar Jo Corruption Aur Criminal Mein Chola Hai Lock Aur Thoda Streak Karna Padega Jaise Ki Criminal Activity Na Ho Aur Jaise Ki Educated Sabko Aise Compulsory Kar Dijiye Sabko Padhai Likhai Karna Padega Definetli Jo Bhi Ho Jaye Desh Educated Ho Gaya Aur Naukri Jyada Se Jyada Company Is Open Karen Jyada Se Jyada Naukri Open Karo Nahi To Naye Project Open Karen Jaise Ki Berojgar Logon Ko Rojgar Mil Sake Kyonki Kya Hota Sarju Indian Se Bharat Ke Bahar Jaakar Bahut Naam Kar Rahe Hain Agar Kyonki Bharat Mein Unko Scope Nahi Milta Hai To Isliye Wah Bharat Ke Bahar Jaate Hain Paise Kamane Ke Liye Aur Apna Future Banane Ke Liye Agar Bharat Sarkar Wah Corruption Nahi Hota To Abhi Tak Bharat Kahan Se Chalkar Kahan Pahunch Jata To Mere Hisab Se To Politician Log Hain Unko Corruption Band Karna Chahiye Aur Aise Ki Sarkari Daftaron Mein Agar Koi Rishwat Leta Hai To Direct Bina Suspend Kiya Usko Company Se Nikal Dena Chahiye Sab Cheez Agar Sarkar Ko Dhyan Mein Rakhenge To Company Bharat Ka Vikash Ho Sakta Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
सरकार के सामने चुनौती है सरकार खुद ही चुनौती है तो वह जो भी सरकार में आता है गवर्नमेंट में आता है वह सभी के सभी उसका पेट पहली बार आ नहीं रहा करना पड़ता है अपने रिश्तेदार करता है और पब्लिक को बेवकूफ बनाता है मुझको पता है क्या कल फिर आना नहीं फिर वह बैठकर खाएगा 5 साल 10 साल तक कितने पैसे कमा लेता है फिर आ गया कैसे करना है तो और जो थोड़ा बहुत होता है ऐसी बात नहीं कुछ ना कुछ तो होता ही है क्योंकि ऐसा तो है नहीं कि मतलब जो पूरे कपड़े खाएंगे पब्लिक भी है सारी चीजें तो पब्लिक जब मैं मेरा तो मानना ही सरकार खुद जिम्मेवार है और कोई भी मत मजबूरियां सरकार की कोई मजबूरियां नहीं है वैसे पब्लिक नहीं है वह खुद मजबूरी है सरकार जो गवर्नमेंट इंडिया में हुए खुद मंजूरी बनती है और वह मुझे कुछ फर्क नहीं करना चाहता है और करना चाहे तो वह बहुत सारी चीजें हम जो भी करते हैं अपने इंडिया में अगर होने के लिए काम करें वह इमानदारी से काम कर जाए से एक बढ़कर होता है प्राइवेट सेक्टर में काम करता है उसको अपने मतलब ड्यूटी नहीं करते जब मैं वहां से निकाल बिना कपड़ों पर नाटक काम नहीं करने पर उसको पेमेंट नहीं मिलता है तो मुझे लगता है कि प्राइवेट सेक्टर को भी इस तरह से करना चाहिए ताकि वहां से हॉस्पिटल जा सके और कहीं ना कहीं अगर आप ईमानदारी से काम करते हैं लगता है आपने कौन सी गैस होती है और उसे पब्लिक ऑफ प्रॉफिट होगा और उसके साथ-साथ अमरकंटक को प्रॉफिट होगा कम से कम एंड प्रॉफिट होता है अगर सभी सरकारी व करता जो भी है और अफसर हो या फिर किसी भी पद पर हूं वह उसको हंसने से काम करना होगा क्योंकि पैसे देखते हैं कि आप बहुत अच्छे लगते हैं पर काम से रंग से नहीं करता है यह सब चीजें चेंज करना होगा इसमें कुछ ना कुछ गवर्नमेंट कोई ऐसा इंस्टिट्यूट लेना चाहिए जिससे यह जो मतलब सरकारी जॉब करते हैं उसको राजस्थान पुलिस की बेटी बड़े और वह इमानदारी से बताना वीडियो चैट कैसे प्राइवेट सेक्टर में जो मतलब काम करते हैं तो ऐसे मतलब धीरे-धीरे यह सब चीजें चेंज होने से बहुत सारी चीजें हो सकती हैं और आगे बढ़ेSarkar Ke Samane Chunauti Hai Sarkar Khud Hi Chunauti Hai To Wah Jo Bhi Sarkar Mein Aata Hai Government Mein Aata Hai Wah Sabhi Ke Sabhi Uska Pet Pehli Baar Aa Nahi Raha Karna Padata Hai Apne Rishtedar Karta Hai Aur Public Ko Bewakoof Banata Hai Mujhko Pata Hai Kya Kal Phir Aana Nahi Phir Wah Baithkar Khaega 5 Saal 10 Saal Tak Kitne Paise Kama Leta Hai Phir Aa Gaya Kaise Karna Hai To Aur Jo Thoda Bahut Hota Hai Aisi Baat Nahi Kuch Na Kuch To Hota Hi Hai Kyonki Aisa To Hai Nahi Ki Matlab Jo Poore Kapde Khayenge Public Bhi Hai Saree Cheezen To Public Jab Main Mera To Manana Hi Sarkar Khud Jimmewar Hai Aur Koi Bhi Mat Majabooriyan Sarkar Ki Koi Majabooriyan Nahi Hai Waise Public Nahi Hai Wah Khud Majburi Hai Sarkar Jo Government India Mein Hue Khud Manjuri Banti Hai Aur Wah Mujhe Kuch Fark Nahi Karna Chahta Hai Aur Karna Chahe To Wah Bahut Saree Cheezen Hum Jo Bhi Karte Hain Apne India Mein Agar Hone Ke Liye Kaam Karen Wah Imaandari Se Kaam Kar Jaye Se Ek Badhkar Hota Hai Private Sector Mein Kaam Karta Hai Usko Apne Matlab Duty Nahi Karte Jab Main Wahan Se Nikal Bina Kapadon Par Natak Kaam Nahi Karne Par Usko Payment Nahi Milta Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Private Sector Ko Bhi Is Tarah Se Karna Chahiye Taki Wahan Se Hospital Ja Sake Aur Kahin Na Kahin Agar Aap Imaandaari Se Kaam Karte Hain Lagta Hai Aapne Kaun Si Gas Hoti Hai Aur Use Public Of Profit Hoga Aur Uske Saath Saath Amarkantak Ko Profit Hoga Kum Se Kum End Profit Hota Hai Agar Sabhi Sarkari V Karta Jo Bhi Hai Aur Afsar Ho Ya Phir Kisi Bhi Pad Par Hoon Wah Usko Hansane Se Kaam Karna Hoga Kyonki Paise Dekhte Hain Ki Aap Bahut Acche Lagte Hain Par Kaam Se Rang Se Nahi Karta Hai Yeh Sab Cheezen Change Karna Hoga Isme Kuch Na Kuch Government Koi Aisa Institute Lena Chahiye Jisse Yeh Jo Matlab Sarkari Job Karte Hain Usko Rajasthan Police Ki Beti Bade Aur Wah Imaandari Se Batana Video Chat Kaise Private Sector Mein Jo Matlab Kaam Karte Hain To Aise Matlab Dhire Dhire Yeh Sab Cheezen Change Hone Se Bahut Saree Cheezen Ho Sakti Hain Aur Aage Badhe
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Desh Ko Viksit Banane Ke Liye Sarkar Ke Samane Kya Badi Majabooriyan Hain ?, What Are The Major Compulsions In Front Of The Government To Develop The Country? , Majabooriyan