क्या चेन्नई के दर्शकों के लिए आईपीएल मैच के दौरान क्रिकेट स्टेडियम के अंदर अपने जूते फेंकना सही था? ...

Likes  0  Dislikes

6 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
कि हम सभी जानते ही हैं कि अभी जो का बिल विवाद है पानी का विवाह यह भी अपनी चरम सीमा पर है काफी लोग इसका विरोध कर रहे हैं क्योंकि सुप्रीम कोर्ट में जो लास्ट डेट दी थी सेंट्रल गवर्नमेंट को कमेटी को कम करने के लिए काफी विवाद से रिलेटेड अभी तक नहीं हुई है और प्रोडक्ट कर रही है इसको देखते हुए दो व्यक्तियों ने जूता क्वालिटी बोल रही थी कि अगर चेन्नई सुपर किंग्स मैच रद्द नहीं करेगी या फिर वह अगर मैच खेलेगी तो काला लगाकर खेलेंगे अगर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो काफी विरोध और काफी सुरक्षा के बाद भी यह विरोध हुआ मैं मानता हूं कि यह मामला पानी से जुड़ा है और जो हमारी जिंदगी की लाइफ लाइन है पानी उस से रिलेटेड है अगर विरोध करना है तो विरोध सही तरीके से किया जाए ना कि जूता फेंक कर या फिर ऐसा कोई काम कर कर जिससे आम जनता को दिक्कत हो रही है क्योंकि पानी का विवाद और IPL दोनों ही एक अलग चीज है दोनों को एकदम लिंग नहीं करना चाहिए और अगली मैं आपको यह बोलना चाहूंगा लेकिन हम सभी जानते कि आज भारत में 1 तरीके से इंटरनेट चल रहा है लोग लोकतंत्र की बात नहीं मानते और अपनी बात को मनवाने के लिए गवर्नमेंट से वह दंगे फसाद करते हैं देख सकते हैं बी एससी एसटी एक्ट वॉइस चेंजर सुप्रीम कोर्ट के द्वारा किए गए उसमें भी चेंजेस लाने के लिए कितने सारे दंगे की है क्या कितने लोगों की मौत हुई ऐसी और भी कई कई सारी कॉन्स्टिट्यूशन ऑफ़ सुप्रीम कोर्ट की कोर्ट जजमेंट है उनको नहीं माना गया जैसे पद्मावती मूवी रिलीज़ होना उसके बाद दंगे हुए ऐसा कोई भी चीज और ऐसा कोई भी फुटेज जिससे आम जनता को नुकसान ना पहुंचे टीचर लोकतंत्र का उल्लंघन हो और देश को बचाना वह काफी खराब है मैसेज का सपोर्ट नहीं करताKi Hum Sabhi Jante Hi Hain Ki Abhi Jo Ka Bill Vivad Hai Pani Ka Vivah Yeh Bhi Apni Charam Seema Par Hai Kafi Log Iska Virodh Kar Rahe Hain Kyonki Supreme Court Mein Jo Last Date Di Thi Central Government Ko Committee Ko Kum Karne Ke Liye Kafi Vivad Se Related Abhi Tak Nahi Hui Hai Aur Product Kar Rahi Hai Isko Dekhte Hue Do Vyaktiyon Ne Juta Quality Bol Rahi Thi Ki Agar Chennai Super Kings Match Radd Nahi Karegi Ya Phir Wah Agar Match Khelegi To Kala Lagakar Khelenge Agar Unki Mange Nahi Maani Gayi To Kafi Virodh Aur Kafi Suraksha Ke Baad Bhi Yeh Virodh Hua Main Manata Hoon Ki Yeh Maamla Pani Se Juda Hai Aur Jo Hamari Zindagi Ki Life Line Hai Pani Us Se Related Hai Agar Virodh Karna Hai To Virodh Sahi Tarike Se Kiya Jaye Na Ki Juta Fenk Kar Ya Phir Aisa Koi Kaam Kar Kar Jisse Aam Janta Ko Dikkat Ho Rahi Hai Kyonki Pani Ka Vivad Aur IPL Dono Hi Ek Alag Cheez Hai Dono Ko Ekdam Ling Nahi Karna Chahiye Aur Agli Main Aapko Yeh Bolna Chahunga Lekin Hum Sabhi Jante Ki Aaj Bharat Mein 1 Tarike Se Internet Chal Raha Hai Log Loktantra Ki Baat Nahi Manate Aur Apni Baat Ko Manvaane Ke Liye Government Se Wah Denge Fasad Karte Hain Dekh Sakte Hain Be Sc ST Act Voice Changer Supreme Court Ke Dwara Kiye Gaye Usamen Bhi Changes Lane Ke Liye Kitne Sare Denge Ki Hai Kya Kitne Logon Ki Maut Hui Aisi Aur Bhi Kai Kai Saree Constitution Of Supreme Court Ki Court Judgement Hai Unko Nahi Mana Gaya Jaise Padmavati Movie Riliz Hona Uske Baad Denge Hue Aisa Koi Bhi Cheez Aur Aisa Koi Bhi Futej Jisse Aam Janta Ko Nuksan Na Pahuche Teacher Loktantra Ka Ullanghan Ho Aur Desh Ko Bachaana Wah Kafi Kharab Hai Massage Ka Support Nahi Karta
Likes  6  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

अपना सवाल पूछिए

0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
जी नहीं मेरे हिसाब से तो चेन्नई कि दर्शकों द्वारा आईपीएल मैच के दौरान क्रिकेट स्टेडियम में खिलाड़ियों के ऊपर अपने जूते देखना और बिल्कुल भी सही नहीं था क्योंकि देखिए और खिलाड़ियों का काम अपना सिर खेलना होता है और लोगों का मनोरंजन करना होता है और उनके अंदर कहीं ना कहीं टीम स्पिरिट होती है जिनकी प्रतीक एक संवेदना होती है जिसकी वजह से वह खेलते हैं लेकिन अगर खेल रहे हैं और आप उनके खिलाफ प्रोटेस्ट करना चाहते हैं उससे IPL फ्रेंचाइजी के खिलाफ नोटिस करना चाहते हैं तो वह और भी तरीके होते हैं उसको करने के और जब यह प्रोडक्ट शुरू करी गई थी कि IPL नहीं होगा चेन्नई में इस बार तो यह बात तो पहले ही कही गई थी कि यह बहुत 33 फुल प्रोटेस्ट है और इसमें किसी भी तरह का हंगामा या किसी भी तरह का विवाद नहीं होगा लेकिन इस प्रोटेस्ट को इस तरह से दर्शन अपने आक्रोश को इस तरह से दर्शाना कि आप खिलाड़ियों के ऊपर रोक जूते फेंक रहे हैं उनको खेल के बीच में इस तरह से परेशान कर रहे हैं तो यह बिल्कुल भी सही नहीं हो यह चीज चाहिए दिखा रही है कि यह पिक व्हाट इस नहीं है बल्कि लोगों का आक्रोश है जो कि गलत तरह से बाहर आ रहा है और मैं इस चीज को बिल्कुल भी समर्थन नहीं करती हूं मैं मानती हूं कि मुझे लगता है कि यह चीज लोगों द्वारा बहुत ही गलत पकड़ी गई थी और लोगों को समझना चाहिए कि अगर आईपीएल फ्रेंचाइजी वहां पर मैं आज करा रही है और खिलाड़ियों को खेल ना वहां पर मजबूरी है तो वह उसमें कुछ नहीं कर सकते हैं वह पीछे नहीं हट सकते हैं तो आप खिलाड़ियों के खिलाड़ी आईपीएल में फ्रेंचाइजी के खिलाफ टेस्ट कर सकते हैं परंतु और खिलाड़ियों ने आपका क्या बिगाड़ा है या फिर उनके साथ इस तरह से व्यवहार क्यों करना चाहिएJi Nahi Mere Hisab Se To Chennai Ki Darshakon Dwara Ipl Match Ke Dauran Cricket Stadium Mein Khiladiyon Ke Upar Apne Jute Dekhna Aur Bilkul Bhi Sahi Nahi Tha Kyonki Dekhie Aur Khiladiyon Ka Kaam Apna Sir Khelna Hota Hai Aur Logon Ka Manoranjan Karna Hota Hai Aur Unke Andar Kahin Na Kahin Team Spirit Hoti Hai Jinaki Pratik Ek Savedna Hoti Hai Jiski Wajah Se Wah Khelte Hain Lekin Agar Khel Rahe Hain Aur Aap Unke Khilaf Protest Karna Chahte Hain Usse IPL Franchise Ke Khilaf Notice Karna Chahte Hain To Wah Aur Bhi Tarike Hote Hain Usko Karne Ke Aur Jab Yeh Product Shuru Kari Gayi Thi Ki IPL Nahi Hoga Chennai Mein Is Baar To Yeh Baat To Pehle Hi Kahi Gayi Thi Ki Yeh Bahut 33 Full Protest Hai Aur Isme Kisi Bhi Tarah Ka Hungama Ya Kisi Bhi Tarah Ka Vivad Nahi Hoga Lekin Is Protest Ko Is Tarah Se Darshan Apne Aakrosh Ko Is Tarah Se Darshana Ki Aap Khiladiyon Ke Upar Rok Jute Fenk Rahe Hain Unko Khel Ke Beech Mein Is Tarah Se Pareshan Kar Rahe Hain To Yeh Bilkul Bhi Sahi Nahi Ho Yeh Cheez Chahiye Dikha Rahi Hai Ki Yeh Pic What Is Nahi Hai Balki Logon Ka Aakrosh Hai Jo Ki Galat Tarah Se Bahar Aa Raha Hai Aur Main Is Cheez Ko Bilkul Bhi Samarthan Nahi Karti Hoon Main Maanati Hoon Ki Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Cheez Logon Dwara Bahut Hi Galat Pakadi Gayi Thi Aur Logon Ko Samajhna Chahiye Ki Agar Ipl Franchise Wahan Par Main Aaj Kra Rahi Hai Aur Khiladiyon Ko Khel Na Wahan Par Majburi Hai To Wah Usamen Kuch Nahi Kar Sakte Hain Wah Piche Nahi Hut Sakte Hain To Aap Khiladiyon Ke Khiladi Ipl Mein Franchise Ke Khilaf Test Kar Sakte Hain Parantu Aur Khiladiyon Ne Aapka Kya Bigada Hai Ya Phir Unke Saath Is Tarah Se Vyavhar Kyun Karna Chahiye
Likes  3  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
मैं मेरे हिसाब से बिल्कुल गलत था फाफ डू प्लेसी पर रहो जूता फेंका गया यह तो प्रेम की लगन में भी नहीं थे वह पानी लेकर के आए थे और उन पर जूता फेंका गया मुझे इस बात का बहुत बुरा लगा अगर आपको याद हो तो 2015 में चेन्नई में काफी बुरी तरह से फट जाए थे और उनमें से उनके बारे में शुभकामनाएं करने वाला उनके लिए अच्छा सोचने वाला मैसेज और कोई था तू पागल प्रेमी थे उन्होंने ट्वीट कर आता चेन्नई के लोगों के लिए और उन्होंने कहा था वह सब उनकी सेफ्टी के लिए शुभकामनाएं उन्होंने मनोकामना की थी और उन्हें गुड भी सकते थे और आज उन पर रहते जूता फेंका जा रहा है मेरे सबसे बहुत गलत है लेकिन उनका गुस्सा अपनी जगह है बट यह कोई तरीका नहीं है वहां पर खेल चल रहा है वहां पर बाहर से लोग हैं और फोन पर जूता फेंका यह कहां का है अगर इतना ही हम अपने भारतीय संस्कारों के बारे में हम पोस्ट करते हैं तो अभी अतिथि देवो भव आ कि हमारी कहां गई सो हमने जूता फेंक दिया ऐसे उन पर भी तुमने अतिथि का अनादर कर कम से कम इन चीजों का तो ख्याल करना चाहिए लोगों को उनका गुस्सा कावेरी सुपर है तो वह अपना गुस्सा कहीं और जाकर निकले मुझे टेंशन मिलनी थी उन्हें IPL कि तुम मिल गई उनके उपयोग किया जा रहा है तो अब उन्हें किस बात पर गुस्सा मुझे समझ नहीं आ रहा और अपने गुस्से का यह सबसे गलत तरीके का प्रदर्शन खिलाड़ी पर इस तरह से अपमानित करना मेरे से बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण की घटनाएं कितनी होगी उतना हमारे लिए शर्म की बात हुई हैMain Mere Hisab Se Bilkul Galat Tha Faf Do Plesi Par Raho Juta Fainkaa Gaya Yeh To Prem Ki Lagan Mein Bhi Nahi The Wah Pani Lekar Ke Aaye The Aur Un Par Juta Fainkaa Gaya Mujhe Is Baat Ka Bahut Bura Laga Agar Aapko Yaad Ho To 2015 Mein Chennai Mein Kafi Buri Tarah Se Phat Jaye The Aur Unmen Se Unke Baare Mein Subhkamnaayain Karne Wala Unke Liye Accha Sochne Wala Massage Aur Koi Tha Tu Pagal Premi The Unhone Tweet Kar Aata Chennai Ke Logon Ke Liye Aur Unhone Kaha Tha Wah Sab Unki Safety Ke Liye Subhkamnaayain Unhone Manokamana Ki Thi Aur Unhen Good Bhi Sakte The Aur Aaj Un Par Rehte Juta Fainkaa Ja Raha Hai Mere Sabse Bahut Galat Hai Lekin Unka Gussa Apni Jagah Hai But Yeh Koi Tarika Nahi Hai Wahan Par Khel Chal Raha Hai Wahan Par Bahar Se Log Hain Aur Phone Par Juta Fainkaa Yeh Kahan Ka Hai Agar Itna Hi Hum Apne Bhartiya Sanskaron Ke Baare Mein Hum Post Karte Hain To Abhi Atithi Devo Bhav Aa Ki Hamari Kahan Gayi So Humne Juta Fenk Diya Aise Un Par Bhi Tumne Atithi Ka Anadar Kar Kum Se Kum In Chijon Ka To Khayal Karna Chahiye Logon Ko Unka Gussa Kaveri Super Hai To Wah Apna Gussa Kahin Aur Jaakar Nikale Mujhe Tension Milani Thi Unhen IPL Ki Tum Mil Gayi Unke Upyog Kiya Ja Raha Hai To Ab Unhen Kis Baat Par Gussa Mujhe Samajh Nahi Aa Raha Aur Apne Gusse Ka Yeh Sabse Galat Tarike Ka Pradarshan Khiladi Par Is Tarah Se Apmanit Karna Mere Se Bahut Hi Durbhagyaporn Ki Ghatnaye Kitni Hogi Utana Hamare Liye Sharm Ki Baat Hui Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Chennai Ke Darshakon Ke Liye Ipl Match Ke Dauran Cricket Stadium Ke Andar Apne Jute Phenkana Sahi Tha, Was It Right For The Visitors Of Chennai To Throw Their Shoes Inside The Cricket Stadium During The IPL Match? , Movieriliz





मन में है सवाल?