महिलाओं का मूड इतना क्यों बदलता है? रिश्ते पर इसका क्या प्रभाव पड़ता है? ...

Likes  0  Dislikes

5 Answers


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
हां जी हां करके महिलाएं जो मुझे लगता है वह जो आदमी होते उनके अनुकूल में ज्यादा इमोशनल और ज्यादा साफ होती हैं अंदर से तो अगर उनको डांट दिया जाए या को छोटे-छोटे इंश्योरेंस हो जाए तो उसे अपसेट हो जाती हैं गुस्सा हो जाती हैं तो इसलिए उनका मूड जो है जल्दी आप सिंह होता है और हमको जो है महिलाओं से इज्जत से बात करनी चाहिए क्योंकि वह जो है बहुत कुछ कहती हैं अपने जीवन में और बहुत सारी शिक्षक भी रहते हैं और बहुत कुछ ऐसा है और वह आती है किसी फैमिली में मतलब किसी और का घर छोड़कर बाकी है दूसरे फैमिली में ताकि उनका घर बसा और पूरी जिंदगी उनके साथ निकाल देती है तो मैं तुमको महिलाओं के साथ जो है थोड़ी इज्जत से बात करनी चाहिएHaan Ji Haan Karke Mahilaye Jo Mujhe Lagta Hai Wah Jo Aadmi Hote Unke Anukul Mein Jyada Emotional Aur Jyada Saaf Hoti Hain Andar Se To Agar Unko Dant Diya Jaye Ya Ko Chote Chote Insurance Ho Jaye To Use Upset Ho Jati Hain Gussa Ho Jati Hain To Isliye Unka Mood Jo Hai Jaldi Aap Singh Hota Hai Aur Hamko Jo Hai Mahilaon Se Izzat Se Baat Karni Chahiye Kyonki Wah Jo Hai Bahut Kuch Kahti Hain Apne Jeevan Mein Aur Bahut Saree Shikshak Bhi Rehte Hain Aur Bahut Kuch Aisa Hai Aur Wah Aati Hai Kisi Family Mein Matlab Kisi Aur Ka Ghar Chodkar Baki Hai Dusre Family Mein Taki Unka Ghar Basa Aur Puri Zindagi Unke Saath Nikal Deti Hai To Main Tumko Mahilaon Ke Saath Jo Hai Thodi Izzat Se Baat Karni Chahiye
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए


Englist → हिंदी

अतिरिक्त विकल्प यहां दिखाई देते हैं!


0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
महिलाओं बहुत इमोशनल होते हैं और सेंसिटिव भी महिलाओं ऐसे ही बनाया गया है और ज्यादातर महिलाओं बहुत इमोशनल होते हैं और वह इमोशंस को एक्सप्रेस कर देते हैं और उनके आप बॉडी के जो चेंज होते हैं उसको मुड़ी बनाते हैं और हमारे इमोशंस को कंट्रोल करना बहुत ही जरूरी है कुछ लड़कों ज्यादातर समझदार होते हैं और यह समझ सकते हैं कि हम बहुत ही आम मेंटली कांस्टेबल होते हैं कभी-कभी इमोशंस के कारण से लेकिन कुछ लड़कों को समझ नहीं सकते हैं और हम यह रिलेशनशिप में बहुत सारी प्रॉब्लम क्रिएट कर सकते हैं तो एक्सप्रेस करने की तरीका बहुत दुखी है और हमें हमारी फीलिंग्स को अच्छी तरह से एक्सप्रेस करना जरूरी है ताकि हमारे रिश्तो में कोई प्रॉब्लम ना आ जाएMahilaon Bahut Emotional Hote Hain Aur Sensitive Bhi Mahilaon Aise Hi Banaya Gaya Hai Aur Jyadatar Mahilaon Bahut Emotional Hote Hain Aur Wah Emotional Ko Express Kar Dete Hain Aur Unke Aap Body Ke Jo Change Hote Hain Usko Mudee Banate Hain Aur Hamare Emotional Ko Control Karna Bahut Hi Zaroori Hai Kuch Ladko Jyadatar Samajhdar Hote Hain Aur Yeh Samajh Sakte Hain Ki Hum Bahut Hi Aam Mentally Constable Hote Hain Kabhi Kabhi Emotional Ke Kaaran Se Lekin Kuch Ladko Ko Samajh Nahi Sakte Hain Aur Hum Yeh Relationship Mein Bahut Saree Problem Create Kar Sakte Hain To Express Karne Ki Tarika Bahut Dukhi Hai Aur Hume Hamari Feelings Ko Acchi Tarah Se Express Karna Zaroori Hai Taki Hamare Rishto Mein Koi Problem Na Aa Jaye
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

प्ले क्लिक करके जवाब सुनिये। जवाब पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करिये...जवाब पढ़िये
असमी रिकॉर्डिंग इसका रीजन यही हो सकता है कि शायद जो हार्मोनल चेंज होता है उनकी वजह से या फिर आगे से पीड़ित होते हैं बुरे दिन हो सकते हैं मुझको इसका रिकॉर्डिंग ऐसा नहीं होता कि महिलाओं के साथ ऐसा होता है पुरुषों के अंदर भी मूछ वाला यह बिल्कुल होता है हां ऐसा जरूर मुझे तो लगता है कि महिलाएं थोड़ा जो उनके पास इमोशंस होते हुए पैदा होते हैं मैं यह चीज नहीं कह रही हूं कि महिलाएं इमोशनल साथ होते क्योंकि मेरा अब तो वह चीज BP वीडियो बिजल पर डिपेंड करती है लेकिन क्योंकि महिला के अंदर ज्यादा होते हैं तो वह हर चीज को बहुत दुखी महसूस करती है तो अगर कोई मूवी देख लेंगे रोमांटिक साथ मूवी इमोशन से दिमाग में रहेंगे अक्षर से मिलेगा कई बार इन चीजों का बहुत फर्क पड़ता है बहुत ही ज्यादा कुछ नहीं किया जहां पर कोई पर्टिकुलर सिचुएशन में किसी लड़के ने या किसी और व्यक्ति ने कुछ गलत किया हो रही है इमोशंस को उस मोड को जो एक रिप्लाई तो उसको अपनी रियल लाइफ से कनेक्ट कर सकती हो ऐसी बातें महिलाएं भी कर सकते हो तो रिलेशनशिप के बाद गलत असर पड़ जाता है क्योंकि सबको पता था कि रिलेशंस कितने ज्यादा इंपोर्टेंट है ना करें और थोड़ा अपने पार्टनर उसके मुंह से तो कंट्रोल करने की कोशिश कर रहे हैंAsmi Recording Iska Reason Yahi Ho Sakta Hai Ki Shayad Jo Harmonal Change Hota Hai Unki Wajah Se Ya Phir Aage Se Peedit Hote Hain Bure Din Ho Sakte Hain Mujhko Iska Recording Aisa Nahi Hota Ki Mahilaon Ke Saath Aisa Hota Hai Purushon Ke Andar Bhi Much Wala Yeh Bilkul Hota Hai Haan Aisa Jarur Mujhe To Lagta Hai Ki Mahilaye Thoda Jo Unke Paas Emotional Hote Hue Paida Hote Hain Main Yeh Cheez Nahi Keh Rahi Hoon Ki Mahilaye Emotional Saath Hote Kyonki Mera Ab To Wah Cheez BP Video Bijal Par Depend Karti Hai Lekin Kyonki Mahila Ke Andar Jyada Hote Hain To Wah Har Cheez Ko Bahut Dukhi Mahsus Karti Hai To Agar Koi Movie Dekh Lenge Romantic Saath Movie Emotion Se Dimag Mein Rahenge Akshar Se Milega Kai Baar In Chijon Ka Bahut Fark Padata Hai Bahut Hi Jyada Kuch Nahi Kiya Jahan Par Koi Particular Situation Mein Kisi Ladke Ne Ya Kisi Aur Vyakti Ne Kuch Galat Kiya Ho Rahi Hai Emotional Ko Us Mode Ko Jo Ek Reply To Usko Apni Real Life Se Connect Kar Sakti Ho Aisi Batein Mahilaye Bhi Kar Sakte Ho To Relationship Ke Baad Galat Asar Padh Jata Hai Kyonki Sabko Pata Tha Ki Rileshans Kitne Jyada Important Hai Na Karen Aur Thoda Apne Partner Uske Mooh Se To Control Karne Ki Koshish Kar Rahe Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions


More Answers


यह तो सच है कि महिलाओं को बहुत ही मोटी कहा जाता है और उसका रीज़न ऑफ़ तो उनका नहीं सर भी कह सकते हैं और कभी-कभी नहीं सबसे हटकर उसे ज्यादा कर मैं बात करूं तो एक पेज आता है मंथ में जिसे हम ना में सक्षम साइकिल कहते कहते हैं तो उस टाइम पर बूट तो इंच होते हैं जो कि हार्मोन चेंज इसकी वजह से होता है तो काफी हद तक इस को पीएम सबी अकाउंट किया जाता है और कई हर एक महिला के साथ अलग-अलग होता है किसी के साथ पहले किसी के साथ उस दरमियान किसी के साथ उस पीरियड के बाद उनके साथ ऐसा होता है तो मुझे चुन चुन के इस वक्त नीचे का हिस्सा बन चुके हैं इसलिए आपसे विनती है मैं तो इसका उनकी लाइफ में इस तरह का इंदौर डेवलपमेंट उनके साथ स्टार्ट हो जाता है इस तरह का फिजिकल डेवलपमेंट के साथ स्टार्ट हो जाता है तो वह मोटी होने का तो फिर से वह भिन्न को शुरू हो जाता है और कोई नहीं बताए तो एक नौटंकी आपको हर एक महिला इस तरह से ग्रसित दिखेगी और रही बात मोदी होने की तो हर चीज की वजह से होता है बड़ी कुछ कुछ भी ऐसा होता है महिलाएं क्यों होती है तो वह तो असली पीएमएस होते हैं मैं सक्षम साइक्लोथॉन की होती है हनुमंत कि उसका रीजन हो सकती है बट कभी-कभी हो सकता है

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

यह तो सच है कि महिलाओं को बहुत ही मोटी कहा जाता है और उसका रीज़न ऑफ़ तो उनका नहीं सर भी कह सकते हैं और कभी-कभी नहीं सबसे हटकर उसे ज्यादा कर मैं बात करूं तो एक पेज आता है मंथ में जिसे हम ना में सक्षम साइकिल कहते कहते हैं तो उस टाइम पर बूट तो इंच होते हैं जो कि हार्मोन चेंज इसकी वजह से होता है तो काफी हद तक इस को पीएम सबी अकाउंट किया जाता है और कई हर एक महिला के साथ अलग-अलग होता है किसी के साथ पहले किसी के साथ उस दरमियान किसी के साथ उस पीरियड के बाद उनके साथ ऐसा होता है तो मुझे चुन चुन के इस वक्त नीचे का हिस्सा बन चुके हैं इसलिए आपसे विनती है मैं तो इसका उनकी लाइफ में इस तरह का इंदौर डेवलपमेंट उनके साथ स्टार्ट हो जाता है इस तरह का फिजिकल डेवलपमेंट के साथ स्टार्ट हो जाता है तो वह मोटी होने का तो फिर से वह भिन्न को शुरू हो जाता है और कोई नहीं बताए तो एक नौटंकी आपको हर एक महिला इस तरह से ग्रसित दिखेगी और रही बात मोदी होने की तो हर चीज की वजह से होता है बड़ी कुछ कुछ भी ऐसा होता है महिलाएं क्यों होती है तो वह तो असली पीएमएस होते हैं मैं सक्षम साइक्लोथॉन की होती है हनुमंत कि उसका रीजन हो सकती है बट कभी-कभी हो सकता हैYeh To Sach Hai Ki Mahilaon Ko Bahut Hi Moti Kaha Jata Hai Aur Uska Rizan Of To Unka Nahi Sar Bhi Keh Sakte Hain Aur Kabhi Kabhi Nahi Sabse Hatakar Use Jyada Kar Main Baat Karun To Ek Page Aata Hai Month Mein Jise Hum Na Mein Saksham Cycle Kehte Kehte Hain To Us Time Par Boot To Inch Hote Hain Jo Ki Hormone Change Iski Wajah Se Hota Hai To Kafi Had Tak Is Ko Pm Sabi Account Kiya Jata Hai Aur Kai Har Ek Mahila Ke Saath Alag Alag Hota Hai Kisi Ke Saath Pehle Kisi Ke Saath Us Darmiyaan Kisi Ke Saath Us Period Ke Baad Unke Saath Aisa Hota Hai To Mujhe Chun Chun Ke Is Waqt Neeche Ka Hissa Ban Chuke Hain Isliye Aapse Vinati Hai Main To Iska Unki Life Mein Is Tarah Ka Indore Development Unke Saath Start Ho Jata Hai Is Tarah Ka Physical Development Ke Saath Start Ho Jata Hai To Wah Moti Hone Ka To Phir Se Wah Bhinn Ko Shuru Ho Jata Hai Aur Koi Nahi Bataye To Ek Nautanki Aapko Har Ek Mahila Is Tarah Se Grasit Dikhegi Aur Rahi Baat Modi Hone Ki To Har Cheez Ki Wajah Se Hota Hai Badi Kuch Kuch Bhi Aisa Hota Hai Mahilaye Kyun Hoti Hai To Wah To Asli Piemaes Hote Hain Main Saksham Saiklothan Ki Hoti Hai Hanumantal Ki Uska Reason Ho Sakti Hai But Kabhi Kabhi Ho Sakta Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

हर महीने औरतों को हमने चेंज के थ्रू जाना पड़ता है और इन होम नर्सिंग जिसकी वजह से ही औरतों का मूड जो है वह इतना ज्यादा ऊपर नीचे होता है मूड स्विंग बहुत ज्यादा होते हैं और यह महीने की बात है दिस इज अ वेरी नार्मल नाच रहे थे 56 दिन फीमेल लेकिन इसे रिश्तो पर असर पड़ता है क्योंकि कभी खुशी होती है कभी गम होता है कभी लड़ाई होती है तो कभी प्यार से बात करने का तरीका होता है अन्यथा अपनी पिक अप द मुझसे तू जरूरी नहीं है कि हर किसी को ही मूड स्विंग्स है वह समझ में आए जरूरी ने के घर में आपकी सारी फैमिली मेंबर्स को यह बात समझ में आपकी दोस्तों को यह बात समझ में आया या फिर आपके हस्बैंड को भी हो सकता है यह मूल सिंह की बात शुरू शुरू में समझ में ना आए इसकी वजह से रिश्तो पर असर पड़ता है क्योंकि हर एक इंसान इस बात को नहीं समझ सकता कि वह 2 मिनट रूक एक औरत को हमने चेंज हो रहे हैं बायोलॉजी के लिए शी इज नॉट की पनवेल से स्क्रीन शॉट कीपिंग वेयर इस वजह से ऐसी हालत मूड स्विंग्स जिसकी वजह से मीटिंग होने की वजह से ही टेंपल महबूब ही बढ़ता और उतरता रहता है अंधा 3 दिन की आखिरी रिश्ते पर भी असर पड़ने लग जाता है

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

Romanized Version

हर महीने औरतों को हमने चेंज के थ्रू जाना पड़ता है और इन होम नर्सिंग जिसकी वजह से ही औरतों का मूड जो है वह इतना ज्यादा ऊपर नीचे होता है मूड स्विंग बहुत ज्यादा होते हैं और यह महीने की बात है दिस इज अ वेरी नार्मल नाच रहे थे 56 दिन फीमेल लेकिन इसे रिश्तो पर असर पड़ता है क्योंकि कभी खुशी होती है कभी गम होता है कभी लड़ाई होती है तो कभी प्यार से बात करने का तरीका होता है अन्यथा अपनी पिक अप द मुझसे तू जरूरी नहीं है कि हर किसी को ही मूड स्विंग्स है वह समझ में आए जरूरी ने के घर में आपकी सारी फैमिली मेंबर्स को यह बात समझ में आपकी दोस्तों को यह बात समझ में आया या फिर आपके हस्बैंड को भी हो सकता है यह मूल सिंह की बात शुरू शुरू में समझ में ना आए इसकी वजह से रिश्तो पर असर पड़ता है क्योंकि हर एक इंसान इस बात को नहीं समझ सकता कि वह 2 मिनट रूक एक औरत को हमने चेंज हो रहे हैं बायोलॉजी के लिए शी इज नॉट की पनवेल से स्क्रीन शॉट कीपिंग वेयर इस वजह से ऐसी हालत मूड स्विंग्स जिसकी वजह से मीटिंग होने की वजह से ही टेंपल महबूब ही बढ़ता और उतरता रहता है अंधा 3 दिन की आखिरी रिश्ते पर भी असर पड़ने लग जाता हैHar Mahine Auraton Ko Humne Change Ke Through Jana Padata Hai Aur In Home Nursing Jiski Wajah Se Hi Auraton Ka Mood Jo Hai Wah Itna Jyada Upar Neeche Hota Hai Mood Swing Bahut Jyada Hote Hain Aur Yeh Mahine Ki Baat Hai This Is A Very Normal Nach Rahe The 56 Din Female Lekin Ise Rishto Par Asar Padata Hai Kyonki Kabhi Khushi Hoti Hai Kabhi Gum Hota Hai Kabhi Ladai Hoti Hai To Kabhi Pyar Se Baat Karne Ka Tarika Hota Hai Anyatha Apni Pic Up D Mujhse Tu Zaroori Nahi Hai Ki Har Kisi Ko Hi Mood Swing Hai Wah Samajh Mein Aaye Zaroori Ne Ke Ghar Mein Aapki Saree Family Members Ko Yeh Baat Samajh Mein Aapki Doston Ko Yeh Baat Samajh Mein Aaya Ya Phir Aapke Husband Ko Bhi Ho Sakta Hai Yeh Mul Singh Ki Baat Shuru Shuru Mein Samajh Mein Na Aaye Iski Wajah Se Rishto Par Asar Padata Hai Kyonki Har Ek Insaan Is Baat Ko Nahi Samajh Sakta Ki Wah 2 Minute Ruk Ek Aurat Ko Humne Change Ho Rahe Hain Biology Ke Liye Shi Is Not Ki Panvel Se Screen Shot Keeping Where Is Wajah Se Aisi Halat Mood Swing Jiski Wajah Se Meeting Hone Ki Wajah Se Hi Temple Mahabooba Hi Badhta Aur Utarata Rehta Hai Andha 3 Din Ki Aakhiri Rishte Par Bhi Asar Padane Lag Jata Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Mahilaon Ka Mood Itna Kyun Badalta Hai Rishte Par Iska Kya Prabhav Padata Hai , Why Does The Mood Of Women Change So Much? What Is The Effect On The Relationship?





मन में है सवाल?