भारतीय इतिहास क्षेत्र को समझाएं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत प्राचीन सभ्यता का देश से भारत का सामाजिक आर्थिक सांस्कृतिक विन्यास क्षेत्रीय विस्तार में एक लंबी प्रक्रिया के उत्पाद है भारतीय इतिहास सिंधु घाटी सभ्यता के जन्म के साथ और आर्य के आने में शुरू होता...
जवाब पढ़िये
भारत प्राचीन सभ्यता का देश से भारत का सामाजिक आर्थिक सांस्कृतिक विन्यास क्षेत्रीय विस्तार में एक लंबी प्रक्रिया के उत्पाद है भारतीय इतिहास सिंधु घाटी सभ्यता के जन्म के साथ और आर्य के आने में शुरू होता है और इसके अलावा मैं आपको यह बोलना चाहूंगा जैसे कि भारत पहले अंग्रेजों के गुलाम थे तो जब आजाद भगत सिंह जवाहरलाल नेहरू महात्मा गांधी जैसे बड़े-बड़े लोगों को उन्होंने बहुत मेहनत किया उसके बाद ही जाकर बहुत मुश्किल से अंग्रेज भारत छोड़कर बहुत सारे बहुत सब कुछ हो जो ब्रिटिश सर्च YOUTUBE वह हमसे बहुत कुछ लूट के भी लेकर गए तो उसके बाद तो फाइनल ही 15 अगस्त 1947 को भारत को आजादी मिली और उसके बाद जो प्रथम प्राइम मिनिस्टर थे तो उनका नाम था जवाहरलाल नेहरु जोBharat Prachin Sabhyata Ka Desh Se Bharat Ka Samajik Aarthik Sanskritik Vinyas Kshetriya Vistar Mein Ek Lambi Prakriya Ke Utpaad Hai Bhartiya Itihas Sindhu Ghati Sabhyata Ke Janm Ke Saath Aur Aarya Ke Aane Mein Shuru Hota Hai Aur Iske Alava Main Aapko Yeh Bolna Chahunga Jaise Ki Bharat Pehle Angrejo Ke Gulam The To Jab Azad Bhagat Singh Jawaharlal Nehru Mahatma Gandhi Jaise Bade Bade Logon Ko Unhone Bahut Mehnat Kiya Uske Baad Hi Jaakar Bahut Mushkil Se Angrej Bharat Chodkar Bahut Sare Bahut Sab Kuch Ho Jo British Search YOUTUBE Wah Humse Bahut Kuch Loot Ke Bhi Lekar Gaye To Uske Baad To Final Hi 15 August 1947 Ko Bharat Ko Azadi Mili Aur Uske Baad Jo Pratham Prime Minister The To Unka Naam Tha Jawaharlal Nehru Jo
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Bharatiya Itihas Kshetra Ko Samjhayen ?, Explain The Indian History Area?

vokalandroid