जम के दिए क्यूँ जलाए जाते है? क्या कहानी है इसके पीछे? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीपावली इसलिए मनाया जाता है कि किसे कहते हैं कि जो भगवान रामचंद्र जी थे रावण का वध करके दीपावली के दिन अयोध्या वापस लौटे थे तो उनके स्वागत के लिए पूरे अयोध्या को अच्छे से अलग अलग जगह दीप जला के रोशन र...
जवाब पढ़िये
दीपावली इसलिए मनाया जाता है कि किसे कहते हैं कि जो भगवान रामचंद्र जी थे रावण का वध करके दीपावली के दिन अयोध्या वापस लौटे थे तो उनके स्वागत के लिए पूरे अयोध्या को अच्छे से अलग अलग जगह दीप जला के रोशन रोशनी दी गई थी और सुंदर बनाया गया था यह त्यौहार कार्तिक अमावस्या के दिन होता है इसलिए चांद की रोशनी नहीं पड़ती है और हर जगह को के द्वारा रोशनी की जाती है यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक माना जाता है और अंधकार एक बुराई का हिस्सा माना जाता है इसलिए उसे दूर करने के लिए डिपो द्वारा अच्छाई फैलाई जाती है क्योंकि वह एक चीज का प्रतीक है जो दीप दीप होते हैं जो प्रकाश होता है उसे काफी अच्छा माना जाता है इससे जो वातावरण है वह काफी रंगीन हो जाता है रौनक हर जगह बढ़ जाती है दीपों का पौराणिक कथा में काफी महत्व पूर्ण स्थान है कि उनसे जो तेल के लिए होते हैं उनसे काफी सारी चीजें जितनी भी पूजा-पाठ की प्रक्रियाएं होती है उनमें इस्तेमाल किए जाते हैं इसलिए दिवाली के दिन भी उन्हें चलाया जाता हैDeepavali Eeslie Manaaya Jaata Hai Qi Kise Kehte Hain Qi Joe Bhagwan Ramchandra G The Ravan Ka Vadh Karake Deepavali K Din Ayodhya Vapusha Laute The To Unke Swaagat K Lie Poore Ayodhya Co Achchhe Se Eluga Eluga Jagah Dip Jalla K Roshan Roshni They Gi Thi Aur Sundar Banaya Gaya Thaa Yeh Tyauhar Kartik Amavasya K Din Hota Hai Eeslie Chand Ki Roshni Nahin Padati Hai Aur Her Jagah Co K Dwara Roshni Ki Jaati Hai Yeh Tyauhar Burai Per Acchai Ki Jeet Ka Pratik Mana Jaata Hai Aur Andhakar Ek Burai Ka Hissa Mana Jaata Hai Eeslie Usse Dur Karne K Lie Depo Dwara Acchai Failaai Jaati Hai Kyonki Wah Ek Chij Ka Pratik Hai Joe Dip Dip Hote Hain Joe Prakash Hota Hai Usse Kaafi Accha Mana Jaata Hai Issase Joe Vatavaran Hai Wah Kaafi Rangeen Ho Jaata Hai Raunak Her Jagah Badh Jaati Hai Dipon Ka Pauraaneek Kethaa Mein Kaafi Mahatva Purn Sthan Hai Qi Unse Joe Tell K Lie Hote Hain Unse Kaafi Sari Chijen Jitni Bhi Pooja Patha Ki Prakriyaen Hoti Hai Unme Istemaal Kiye Jaate Hain Eeslie Diwali K Din Bhi Unhein Chalaya Jaata Hai
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एमकेडीए दीपावली से ठीक 1 दिन पहले जो छोटी दीवाली मनाई जाती है उस दिन पर मुख्य तौर पर ही राम की पूजा किया जाता है यम की पूजा करने का विधान है इस पर की मिट्टी के तेल के सरसों का तेल डालकर घर से बाहर जो ...
जवाब पढ़िये
एमकेडीए दीपावली से ठीक 1 दिन पहले जो छोटी दीवाली मनाई जाती है उस दिन पर मुख्य तौर पर ही राम की पूजा किया जाता है यम की पूजा करने का विधान है इस पर की मिट्टी के तेल के सरसों का तेल डालकर घर से बाहर जो कुछ ऊंचे स्थान है वहां पर रख दिया जाता है और इसलिए ध्यान दिया जाता है कि लोग जो है दक्षिण दिशा में होनी चाहिए दक्षिण दिशा में इसलिए जाता है क्योंकि यह दिशा चुनें स्वामी यमराज का होता है और इसकी जो कहानी है कुछ इस प्रकार से है युवराज का दिया दिखाने के पीछे जो पानी कथा है उसमें रंतिदेव नाम का एक बहुत धर्म अपनाया था कि अनजाने में कोई भी बात नहीं करता था जब मौत का समय उसका पास आग लगा तो उसके सामने जब तू तो है आकर खड़ा हुआ दिखाई दिया अपने यमदूत को सामने देखकर राजा बोलता है कि कोई पाप याद है मैंने अभी तक नहीं किया है तो आप मुझे क्यों ले जाने के लिए आए हैं यह बात सुनकर यमदूत ने कहा कि राजन एक बार आपके दरवाजे से एक ब्राह्मण भूखा चला गया था उस पाप के कारण आपको यह फल मिला है तो फिर भी राजा ने कहा कि मैं आपसे विनती करता हूं कि मुझे 1 साल का समय दे राजा ने बात सुनकर यमदूत ने यह वापिस इस समय देकर वापस से हम लोग चले गए उनके बाद राजा जो है अपनी परेशानी को लेकर विश्व के पास पहुंचे पापों की मुक्ति का उपाय पूछा उन्होंने फिर ऋषि बोले कि कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को व्रत रखें और शाम के समय घर से बाहर दक्षिण दिशा में हमको दिया दिखाएं फिर ब्राह्मण को भोज करवा कर उन्हें अपने अपराधों के लिए क्षमा मांगने के लिए कागज पर आ जाना ठीक वैसे ही क्या किया और विश्व कोष से जैसे बताया गया था वैसे किया राजा पाप मुक्त हो गया और उन्हें विष्णु लोक में स्थान मिला था तब से यह पता चली आ रही है कि उस दिन यमराज को दिए दिखाने की पता है और जो लोग आज तक फॉलो कर रहे हैंMKDA Deepavali Se Thik 1 Din Pehle Joe Choti Diwali Manai Jaati Hai Oosh Din Per Mukhya Taur Per Hea Ram Ki Pooja Kiya Jaata Hai Ym Ki Pooja Karne Ka Vidhan Hai Is Per Ki Mitti K Tell K Sarson Ka Tell Dalakar Ghar Se Baahar Joe Kuch Unche Sthan Hai Vahan Per Rakh Diya Jaata Hai Aur Eeslie Dhyan Diya Jaata Hai Qi Log Joe Hai Dakshin Disha Mein Honi Chahie Dakshin Disha Mein Eeslie Jaata Hai Kyonki Yeh Disha Chunen Swami Yamraaj Ka Hota Hai Aur Essaki Joe Kahaani Hai Kuch Is Prakar Se Hai Yuvraj Ka Diya Dikhaane K Pichhe Joe Pani Kethaa Hai Usme Rantidev Naam Ka Ek Bahut Dharm Apnaaya Thaa Qi Anjanay Mein Koi Bhi Baat Nahin Karata Thaa Jab Maut Ka Samay Uska Pass Aga Laga To Uske Samne Jab Tu To Hai Aakar Khada Hua Dikhaai Diya Apne Yamdut Co Samne Dekhakar Raja Bolta Hai Qi Koi Pap Youth Hai Maine Abhi Tak Nahin Kiya Hai To Aap Mujhe Kio Le Jane K Lie Ae Hain Yeh Baat Sunkara Yamdut Ne Kaha Qi Rajan Ek Bar Aapke Darvaje Se Ek Brahman Bhookhaa Challa Gaya Thaa Oosh Pap K Karan Aapko Yeh Fal Milaa Hai To Phir Bhi Raja Ne Kaha Qi Main Aapse Vinti Karata Hoon Qi Mujhe 1 Saul Ka Samay They Raja Ne Baat Sunkara Yamdut Ne Yeh Vapis Is Samay Dekar Vapusha Se Hum Log Chale Ge Unke Baad Raja Joe Hai Apni Pareshani Co Lycra Vishwa K Pass Pahunche Papon Ki Mukti Ka Upay Pucha Unhonne Phir Rishi Bole Qi Kartik Mass K Krushna Pax Ki Chaturdashi Co Vrat Rekhain Aur Sham K Samay Ghar Se Baahar Dakshin Disha Mein Humko Diya Dikhaen Phir Brahman Co Bhoj Karava Car Unhein Apne Apradho K Lie Kshama Mangane K Lie Kagaj Per Aa Jaana Thik Vaise Hea Kya Kiya Aur Vishwa Kosh Se Jaise Bataya Gaya Thaa Vaise Kiya Raja Pap Mukta Ho Gaya Aur Unhein Vishnu Lok Mein Sthan Milaa Thaa Taba Se Yeh Patta Chali Aa Rahi Hai Qi Oosh Din Yamraaj Co Die Dikhaane Ki Patta Hai Aur Joe Log Aj Tak Follow Car Rahe Hain
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यम का दिया है और इसे हम कभी दिया कहते हैं इसके जलाने का मुख्य कार्य होता है कि बहुत पहले पुरानी बात है कि एक राजा हुआ करते थे जिनकी कोई भी संतान नहीं थी तो आज आप उनकी संतान हुई तो वह बहुत खुश हुए लेकि...
जवाब पढ़िये
यम का दिया है और इसे हम कभी दिया कहते हैं इसके जलाने का मुख्य कार्य होता है कि बहुत पहले पुरानी बात है कि एक राजा हुआ करते थे जिनकी कोई भी संतान नहीं थी तो आज आप उनकी संतान हुई तो वह बहुत खुश हुए लेकिन ना जो उनके राज्य के ज्योतिषी थे उन्होंने यह कहा कि इस बालक की मृत्यु हो जाएगी उसकी शादी के तीसरे दिन है उसकी मृत्यु हो जाएगी तो उसका आज को बढ़ा हुआ उसकी उसका विवाह हुआ और उसके शादी के तीसरे दिन ही यमराज उसे लेने आ गए तो उनकी पत्नी बहुत जोर जोर से रो के खिलाफ करने लगी कि उन्हें छोड़ देने की कोई ऐसा तरीका सुलझाने के लिए कि जिससे उनकी मृत्यु ना हो तो यमराज ने एक तरीका सताया सुझाया कि कार्तिक मास की त्रयोदशी के दिन तीसरे दिन के दिन अगर वह एक दिया जो है वो दक्षिण दिशा की तरफ घर के पीछे जिला के सिर्फ एक सिंगल दिया घर के पीछे जला के रात भर रात्रि जागरण करेगी तो उनके पति ने पति है उनकी जान जो है वह रामराज्य है वह बक्श देंगे यानी कि उनको नहीं मारेंगे तो इसे जो है यह प्रक्रिया चलती आ रही हैYm Ka Diya Hai Aur Isse Hum Kabhi Diya Kehte Hain Iske Jalaane Ka Mukhya Karya Hota Hai Qi Bahut Pehle Purani Baat Hai Qi Ek Raja Hua Karte The Jinaki Koi Bhi Sataan Nahin Thi To Aj Aap Unki Sataan Hue To Wah Bahut Khush Huye Lekin Na Joe Unke Rajya K Jyotishi The Unhonne Yeh Kaha Qi Is Balak Ki Mrityu Ho Jaaegi Uski Shadi K Tisare Din Hai Uski Mrityu Ho Jaaegi To Uska Aj Co Badha Hua Uski Uska Vivah Hua Aur Uske Shadi K Tisare Din Hea Yamraaj Usse Lene Aa Ge To Unki Patni Bahut Goru Goru Se Row K Khilaf Karne Lagi Qi Unhein Chod Dane Ki Koi Aisa Tarika Suljhaane K Lie Qi Jisase Unki Mrityu Na Ho To Yamraaj Ne Ek Tarika SATAYA Sujhaya Qi Kartik Mass Ki Tryodashee K Din Tisare Din K Din Agar Wah Ek Diya Joe Hai Vo Dakshin Disha Ki Tarf Ghar K Pichhe Jailaa K Sirf Ek Single Diya Ghar K Pichhe Jalla K Raat Bhora Rathri Jagran Karegii To Unke Pati Ne Pati Hai Unki Jaan Joe Hai Wah Ramrajya Hai Wah Baksh Denge Yaanee Qi Unko Nahin Marenge To Isse Joe Hai Yeh Prakriya Chalti Aa Rahi Hai
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Jam Ke Diye Kyun Jalae Jaate Hai Kya Kahani Hai Iske Peeche

vokalandroid