जन लोकपाल बिल पास होने मे सरकार असहमत क्यो हैं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दर्शन कोई भी सरकार या पार्टी भ्रष्टाचार में संलिप्त होकर यह कार्य करती हैं वह सत्ता में बने रहने के लिए यह सप्ताह की प्राप्ति के लिए किसी न किसी गैर कानूनी कार्य में संलग्न रहती हैं या कांग्रेस और भाज...
जवाब पढ़िये
दर्शन कोई भी सरकार या पार्टी भ्रष्टाचार में संलिप्त होकर यह कार्य करती हैं वह सत्ता में बने रहने के लिए यह सप्ताह की प्राप्ति के लिए किसी न किसी गैर कानूनी कार्य में संलग्न रहती हैं या कांग्रेस और भाजपा व अन्य पार्टियों नाइस पर क्या स्थिति है वह नहीं चाहती कि जन लोकपाल बिल पारित हो क्योंकि पारित हो जाएगा तुम भी भ्रष्टाचार में संलिप्त रहते हैं उनके नेताओं के कार्यकर्ताओं के द्वारा ऐसा किया जाता रहता है यदि फिर कोई पकड़ा जाता है फिर पार्टी को कलंकित होने की संभावना है या आने वाले समय में भविष्य में सत्ता में आने की संभावना होती है जिससे कि नहीं चाहते कि जन लोकपाल बिल पारित हो क्योंकि इसमें इतनी अच्छी व्यवस्था की गई कि हमारे देश से भ्रष्टाचार बिल्कुल ही खत्म हो जाएगा क्योंकि जो केंद्र में लोकपाल नियुक्त होगा और राज्यों में लोकायुक्त यह इतने शक्तिशाली होंगे निष्पक्ष होंगे तो इनका स्वतंत्र निकाय होगा कि किसी की भी जांच कर सकते हैं आम आदमी यदि किसी नेता कर्मचारी या न्यायाधीश के खिलाफ शिकायत करता है तो लोकपाल व लोकायुक्त निष्पक्ष जांच प्रारंभ कर देंगे उनको किसी की परमिशन की नहीं है और भी 1 साल के अंदर उन्हें सजा भी दे देंगे तो इसमें बहुत ही अच्छी व्यवस्था की गई है इसके द्वारा कोई भी नेता अधिकारी कर्मचारी या न्यायाधीश भृष्टाचार नहीं कर पाएगा यदि करता है तो उनको तुरंत कार्रवाई की जाएगी और उन्हें सजा की प्राप्ति हुई जिससे हमारे देश में इन अधिकारियों कर्मचारियों = 4 गुंठा ही खत्म हो जाएगा लेकिन यह कोई भी पार्टी नहीं चाहेगी क्योंकि उनको डर होता है हम खुद जानते हैं कोई भी चुनाव जीतकर इतना ज्यादा पैसे की बर्बादी करता है और आए दिन भ्रष्टाचार के मामले तो आते रहते नेताओं के द्वारा अधिकारियों के द्वारा आती है कोई नहीं चाहता कि ऐसा हो क्योंकि उनके पार्टी को गिरने की संभावना है सत्ता में आने की संभावना है यह स्थिति भाजपा की है यदि में पारित भी करेंगे तो एक कमजोर लोकपाल बिल पारित करेंगे जिसमें लोकपाल लोकायुक्त बहुत ही कम अधिकार दिए जाएंगे और अन्ना हजारे की मांग एक एक मजबूत लोकपाल बिल पारित हो जिसमें लोकपाल भी बहुत ज्यादा शक्तियां व सभी जितने स्वतंत्र एजेंसी है सीबीआई जैसी एजेंसी आगे सर्विस के अंडर में होता कि हमारे देश से भ्रष्टाचार खत्म हो सके देखते हैं क्या भाषण पारित कर आएगी या नहींDarshan Koi Bhi Sarkar Ya Party Bhrashtachar Mein Sanlipt Hokar Yeh Karya Karti Hain Wah Satta Mein Bane Rehne Ke Liye Yeh Saptah Ki Prapti Ke Liye Kisi N Kisi Gair Kanooni Karya Mein Sanlagn Rehti Hain Ya Congress Aur Bhajpa V Anya Partiyon Nice Par Kya Sthiti Hai Wah Nahi Chahti Ki Jan Lokpal Bill Paarit Ho Kyonki Paarit Ho Jayega Tum Bhi Bhrashtachar Mein Sanlipt Rehte Hain Unke Netaon Ke Karyakartao Ke Dwara Aisa Kiya Jata Rehta Hai Yadi Phir Koi Pakada Jata Hai Phir Party Ko Kalankit Hone Ki Sambhavna Hai Ya Aane Wale Samay Mein Bhavishya Mein Satta Mein Aane Ki Sambhavna Hoti Hai Jisse Ki Nahi Chahte Ki Jan Lokpal Bill Paarit Ho Kyonki Isme Itni Acchi Vyavastha Ki Gayi Ki Hamare Desh Se Bhrashtachar Bilkul Hi Khatam Ho Jayega Kyonki Jo Kendra Mein Lokpal Niyukt Hoga Aur Rajyo Mein Lokayukt Yeh Itne Shaktishaali Honge Nishpaksh Honge To Inka Swatantra Nikaay Hoga Ki Kisi Ki Bhi Janch Kar Sakte Hain Aam Aadmi Yadi Kisi Neta Karmchari Ya Nyayadhish Ke Khilaf Shikayat Karta Hai To Lokpal V Lokayukt Nishpaksh Janch Prarambh Kar Denge Unko Kisi Ki Permission Ki Nahi Hai Aur Bhi 1 Saal Ke Andar Unhen Saja Bhi De Denge To Isme Bahut Hi Acchi Vyavastha Ki Gayi Hai Iske Dwara Koi Bhi Neta Adhikari Karmchari Ya Nyayadhish Bhrashtachar Nahi Kar Payega Yadi Karta Hai To Unko Turant Karyawahi Ki Jayegi Aur Unhen Saja Ki Prapti Hui Jisse Hamare Desh Mein In Adhikaariyo Karmachariyon = 4 Guntha Hi Khatam Ho Jayega Lekin Yeh Koi Bhi Party Nahi Chahegi Kyonki Unko Dar Hota Hai Hum Khud Jante Hain Koi Bhi Chunav Jeetkar Itna Jyada Paise Ki Barbadi Karta Hai Aur Aaye Din Bhrashtachar Ke Mamle To Aate Rehte Netaon Ke Dwara Adhikaariyo Ke Dwara Aati Hai Koi Nahi Chahta Ki Aisa Ho Kyonki Unke Party Ko Girne Ki Sambhavna Hai Satta Mein Aane Ki Sambhavna Hai Yeh Sthiti Bhajpa Ki Hai Yadi Mein Paarit Bhi Karenge To Ek Kamjor Lokpal Bill Paarit Karenge Jisme Lokpal Lokayukt Bahut Hi Kum Adhikaar Diye Jaenge Aur Anna Hazare Ki Maang Ek Ek Mazboot Lokpal Bill Paarit Ho Jisme Lokpal Bhi Bahut Jyada Shaktiya V Sabhi Jitne Swatantra Agency Hai Cbi Jaisi Agency Aage Service Ke Under Mein Hota Ki Hamare Desh Se Bhrashtachar Khatam Ho Sake Dekhte Hain Kya Bhashan Paarit Kar Aayegi Ya Nahi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Jan Lokpal Bill Paas Hone Mein Sarkar Asahamat Kyon Hain, Why Do The Government Disagree With The Passing Of Jan Lokpal Bill?

vokalandroid