जब आरक्षण संबिधान द्वारा मिला हुआ है तो जनरल वाले लोग sc st वालो को क्यों कोसते है ? ...

Likes  0  Dislikes

2 Answers


जवाब पढ़िये
जनरल वाले लोग SC ST को इसलिए कोसते हैं क्योंकि जब संविधान में एससी और एसटी को आरक्षण दिया गया था तब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने यह आरक्षण मात्र 10 वर्ष के लिए दिया था और कहा था कि संविधान बनने के 10 वर्ष बाद यह आरक्षण हटा दिया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं किया गया इसलिए जनरल वाले एससी और एसटी को कोसते हैं थैंक यूGeneral Wale Log SC ST Ko Isliye Kosate Hain Kyonki Jab Samvidhan Mein Sc Aur ST Ko Aarakshan Diya Gaya Tha Tab Doctor Bhimrao Ambedkar Ne Yeh Aarakshan Matra 10 Varsh Ke Liye Diya Tha Aur Kaha Tha Ki Samvidhan Banane Ke 10 Varsh Baad Yeh Aarakshan Hata Diya Jayega Lekin Aisa Nahi Kiya Gaya Isliye General Wale Sc Aur ST Ko Kosate Hain Thank You
Likes  2  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

अपना सवाल पूछिए

0/180
mic

अपना सवाल बोलकर पूछें


जवाब पढ़िये
ऐसा जनरल वालों के द्वारा किया जाना उचित नहीं है कोई CST से जले हैं उसे लड़ाई करें जातिगत दंगे फैला है डर सकते कि कुछ बोलते हैं सबसे मुख्य भाग जाएगी जब SC ST OBC में सब कुछ ऐसे लोग हैं जो बहुत ही अमीर हो गए हैं उनके द्वारा जो फायदा उठाया जाता है आरक्षण का तो यही जनरल वालों को अच्छा नहीं लगता और हम खुद जानते हैं क्या ऐसी st obc से बहुत ऐसे लोग हैं जिनकी स्थिति बहुत अच्छी हो गई है बहुत ज्यादा अमीर हो गए फिर भी उनका जो आरक्षण मिल रही है उचित नहीं लगता है जिसकी वजह से जनरल वालों को खटकता है साथी सब्जेक्ट एग्जाम होते हैं तो जो मेरिट बनती है तो मेरे लिए नंबरों का जो बहुत ज्यादा अंतर होता है और एक ही पद पर थी यह बुरा बहुत बुरा लगता है कि जनरल वाला 100 में से 90 ले आकर सेलेक्ट नहीं होता है वही असली वाला शॉट ले आजा सिलेक्ट हो जाता है तो ऐसी चीजें किसी को भी बुरी लग सकती है क्योंकि भैया नदी का आरक्षण भाई इतना ज्यादा मेहनत करने के बाद भी जाम लगाने के बाद सेक्स नहीं होते तो इसलिए मानसिकता बनी हुई है गवर्नमेंट की कमी है और वह भी देखिए अब धीरे-धीरे कितनी जाती है सम्मिलित होती जा रही है आरक्षण के मुद्दे पर छाए रहते हैं पूरे भारत में कृषि के लिए यह क्वेश्चन जनरल वालों में जलन पैदा हो जाती है क्योंकि जब जाति आरक्षण जातिगत आरक्षण पाने के लिए कितनी चाहत रहती हैं दंगे फसाद करती हैं जिसे पटेल का नाम राम देखे थे गुर्जर वालों का ऐसे अन्य जाती है इसी कोशिश करने वालों के द्वारा ऐसा किया जाता है हमें लगता है कि जातिगत आरक्षण खत्म हो जाता है तो फिर भी जनरल SC ST OBC की जितनी डिफरेंस ही सब खत्म हो जाते हैं और जो इंसान होते हैं उसमें नंबरों का जो अंतर होता है ना यह खत्म कर दिया जाए कुछ अन्य नियम बना दिया जाए कि सब के लिए एक ही रूल फॉलो किया जाए तो मुझे लगता है और अच्छा रहेगा हमारे देश के लिए ही आसानी से किया जा सकता है सब को आरक्षण ही प्राप्त होगा ऐसी st obc जनरल में जो भी गरीबों को आरक्षण दिया जा सकता है लेकिन गवर्नमेंट नहीं सोच रही है कि वह जातिगत आरक्षण से बनाई हुई है ताकि उसका वोट बैंक बना रहा है क्योंकि चुनाव में जाति का यूज करके भी आसानी से सीखें निकाल लेती हैAisa General Walon Ke Dwara Kiya Jana Uchit Nahi Hai Koi CST Se Jale Hain Use Ladai Karen Jaatigat Denge Faila Hai Dar Sakte Ki Kuch Bolte Hain Sabse Mukhya Bhag Jayegi Jab SC ST OBC Mein Sab Kuch Aise Log Hain Jo Bahut Hi Amir Ho Gaye Hain Unke Dwara Jo Fayda Uthaya Jata Hai Aarakshan Ka To Yahi General Walon Ko Accha Nahi Lagta Aur Hum Khud Jante Hain Kya Aisi St Obc Se Bahut Aise Log Hain Jinaki Sthiti Bahut Acchi Ho Gayi Hai Bahut Jyada Amir Ho Gaye Phir Bhi Unka Jo Aarakshan Mil Rahi Hai Uchit Nahi Lagta Hai Jiski Wajah Se General Walon Ko Khatakata Hai Sathi Subject Exam Hote Hain To Jo Merit Banti Hai To Mere Liye Numberon Ka Jo Bahut Jyada Antar Hota Hai Aur Ek Hi Pad Par Thi Yeh Bura Bahut Bura Lagta Hai Ki General Wala 100 Mein Se 90 Le Aakar Select Nahi Hota Hai Wahi Asli Wala Shot Le Aaja Select Ho Jata Hai To Aisi Cheezen Kisi Ko Bhi Buri Lag Sakti Hai Kyonki Bhaiya Nadi Ka Aarakshan Bhai Itna Jyada Mehnat Karne Ke Baad Bhi Jam Lagane Ke Baad Sex Nahi Hote To Isliye Mansikta Bani Hui Hai Government Ki Kami Hai Aur Wah Bhi Dekhie Ab Dhire Dhire Kitni Jati Hai Smmilit Hoti Ja Rahi Hai Aarakshan Ke Mudde Par Chay Rehte Hain Poore Bharat Mein Krishi Ke Liye Yeh Question General Walon Mein Jalan Paida Ho Jati Hai Kyonki Jab Jati Aarakshan Jaatigat Aarakshan Pane Ke Liye Kitni Chahat Rehti Hain Denge Fasad Karti Hain Jise Patel Ka Naam Ram Dekhe The Gurjar Walon Ka Aise Anya Jati Hai Isi Koshish Karne Walon Ke Dwara Aisa Kiya Jata Hai Hume Lagta Hai Ki Jaatigat Aarakshan Khatam Ho Jata Hai To Phir Bhi General SC ST OBC Ki Jitni Difference Hi Sab Khatam Ho Jaate Hain Aur Jo Insaan Hote Hain Usamen Numberon Ka Jo Antar Hota Hai Na Yeh Khatam Kar Diya Jaye Kuch Anya Niyam Bana Diya Jaye Ki Sab Ke Liye Ek Hi Rule Follow Kiya Jaye To Mujhe Lagta Hai Aur Accha Rahega Hamare Desh Ke Liye Hi Aasani Se Kiya Ja Sakta Hai Sab Ko Aarakshan Hi Prapt Hoga Aisi St Obc General Mein Jo Bhi Garibon Ko Aarakshan Diya Ja Sakta Hai Lekin Government Nahi Soch Rahi Hai Ki Wah Jaatigat Aarakshan Se Banai Hui Hai Taki Uska Vote Bank Bana Raha Hai Kyonki Chunav Mein Jati Ka Use Karke Bhi Aasani Se Sikhe Nikal Leti Hai
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

जवाब पढ़िये
जो जंगल में क्यों है यह क्यों है बस यही होता हूं कभी इस विश्व में क्यों हैJo Jungle Mein Kyun Hai Yeh Kyun Hai Bus Yahi Hota Hoon Kabhi Is Vishwa Mein Kyun Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Want to invite experts?




Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Jab Aarakshan Sambidhan Dwara Mila Hua Hai To General Wale Log Sc St Walo Ko Kyun Kosate Hai ?, When The Reservation Is Mixed With The Explanation, Then Why Are The General People Scared Of Sc.