रात में या दिन के दौरान दिमाग अधिक सक्रिय रहता है? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो पसंद पसंद डिपेंड करता है अगर इंसान न पैनल है रात में जागने की आदत है तो उस इंसान का दिमाग रात में काम करता है और अगर इंसान दिन में काम करने वाला एक्टर वाले इंसान है तो उसका दिमाग में काम करता है...
जवाब पढ़िये
यह तो पसंद पसंद डिपेंड करता है अगर इंसान न पैनल है रात में जागने की आदत है तो उस इंसान का दिमाग रात में काम करता है और अगर इंसान दिन में काम करने वाला एक्टर वाले इंसान है तो उसका दिमाग में काम करता है यह हर किसी के लिए बराबर नहीं होती है बात कुछ कुछ लोगों के जो एक्टिवेशन होता है दिमाग का वह रात में ही चालू होता है रात में ही उनको क्रिएटिव चीजें जो है वह सोचने में आती है रात में ही है वह बहुत अच्छा सोच पाते और कुछ लोग ऐसे होते हैं कि उनको दिन के टाइम पर चीज है जो है वह ज्यादा समझ में आती है जब वह दुनिया के आसपास होते हैं जब वह अपनी दिनचर्या में बिजी होते हैं तब उनका दिमाग बहुत एक्टिवेट होता है मेरे लिए पर्सनली मैं मानती हूं कि दिन का टाइम होता है वह मेरे लिए बेस्ट होता है क्योंकि काम करने का एक सरल टाइम होता है मेरे लिए रात के टाइम पर मेरा दिमाग़ बिल्कुल क्यों हो जाता है क्योंकि वह सोने का आराम करने का मामला होता है तो उस टाइम पर वेस्ट इस बेस्ट एंड दिन के टाइम पर वह किस बेस्ट तभी मेरा दिमाग एकदम एक्टिवेटेड रहता है इंसान जो सुबह का टाइम होता है डेट इज द बेस्ट टाइम तो यूटिलाइजेशन क्रिएटिविटी टू YouTube इंडस्ट्री ऑनलाइन होते तो सुबह का टाइम मुझे सबसे बेस्ट लगता है जिसमें आप मैक्सिमम काम कर सकते हो और दिमाग जो होता है वह मैक्सिमम लेवल पर एक्टिवेटेड रहता हैYeh To Pasand Pasand Depend Karta Hai Agar Insaan N Painal Hai Raat Mein Jagane Ki Aadat Hai To Us Insaan Ka Dimag Raat Mein Kaam Karta Hai Aur Agar Insaan Din Mein Kaam Karne Wala Actor Wale Insaan Hai To Uska Dimag Mein Kaam Karta Hai Yeh Har Kisi Ke Liye Barabar Nahi Hoti Hai Baat Kuch Kuch Logon Ke Jo Activation Hota Hai Dimag Ka Wah Raat Mein Hi Chalu Hota Hai Raat Mein Hi Unko Creative Cheezen Jo Hai Wah Sochne Mein Aati Hai Raat Mein Hi Hai Wah Bahut Accha Soch Paate Aur Kuch Log Aise Hote Hain Ki Unko Din Ke Time Par Cheez Hai Jo Hai Wah Jyada Samajh Mein Aati Hai Jab Wah Duniya Ke Aaspass Hote Hain Jab Wah Apni Dinacharya Mein Busy Hote Hain Tab Unka Dimag Bahut Activate Hota Hai Mere Liye Personally Main Maanati Hoon Ki Din Ka Time Hota Hai Wah Mere Liye Best Hota Hai Kyonki Kaam Karne Ka Ek Saral Time Hota Hai Mere Liye Raat Ke Time Par Mera Dimag Bilkul Kyun Ho Jata Hai Kyonki Wah Sone Ka Aaram Karne Ka Maamla Hota Hai To Us Time Par West Is Best End Din Ke Time Par Wah Kis Best Tabhi Mera Dimag Ekdam Ektiveted Rehta Hai Insaan Jo Subah Ka Time Hota Hai Date Is D Best Time To Yutilaijeshan Creativity To YouTube Industry Online Hote To Subah Ka Time Mujhe Sabse Best Lagta Hai Jisme Aap Maximum Kaam Kar Sakte Ho Aur Dimag Jo Hota Hai Wah Maximum Level Par Ektiveted Rehta Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब मैं ऐसे नहीं कह सकती हूं कि और सिर्फ रात में आप हमारे दिमाग अधिक सक्रिय होता है या फिर दिन में बहुत ज्यादा मत रखी है मैं हम ऐसे कभी नहीं कह सकती है क्योंकि यह बहुत सारे बॉडी टाइप्स पर डिपेंड होता ह...
जवाब पढ़िये
अब मैं ऐसे नहीं कह सकती हूं कि और सिर्फ रात में आप हमारे दिमाग अधिक सक्रिय होता है या फिर दिन में बहुत ज्यादा मत रखी है मैं हम ऐसे कभी नहीं कह सकती है क्योंकि यह बहुत सारे बॉडी टाइप्स पर डिपेंड होता है अगर आप मेरे एग्जाम पर लिए तो मुझे सिर्फ रात में अब मेरा दिमाग सही होता है और सुबह में मैं कुछ एक्टिविटी नहीं कर सकती हूं और कुछ लोगों को कुछ लोग ऐसे कहते हैं कि सुबह आप जैसे शाम होते ही जब आप कुछ कहते हैं तो आपके ब्रेन बहुत एक्टिव होता हैAb Main Aise Nahi Keh Sakti Hoon Ki Aur Sirf Raat Mein Aap Hamare Dimag Adhik Sakriy Hota Hai Ya Phir Din Mein Bahut Jyada Mat Rakhi Hai Main Hum Aise Kabhi Nahi Keh Sakti Hai Kyonki Yeh Bahut Sare Body Types Par Depend Hota Hai Agar Aap Mere Exam Par Liye To Mujhe Sirf Raat Mein Ab Mera Dimag Sahi Hota Hai Aur Subah Mein Main Kuch Activity Nahi Kar Sakti Hoon Aur Kuch Logon Ko Kuch Log Aise Kehte Hain Ki Subah Aap Jaise Shaam Hote Hi Jab Aap Kuch Kehte Hain To Aapke Brain Bahut Active Hota Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है रात में या दिन के दौरान दिमाग अधीक्षक रहता तो मैं बताना चाहता हूं दोस्त आपका जो क्रिश्चन है वह बहुत ही लाजवाब और बहुत ही मायने रखता है क्योंकि मैं से संबंधित घर पर बात आती है तो हमने सबसे...
जवाब पढ़िये
आपने पूछा है रात में या दिन के दौरान दिमाग अधीक्षक रहता तो मैं बताना चाहता हूं दोस्त आपका जो क्रिश्चन है वह बहुत ही लाजवाब और बहुत ही मायने रखता है क्योंकि मैं से संबंधित घर पर बात आती है तो हमने सबसे पहले विचार करना चाहिए कि इंसान के शरीर में दो तरह के होते हैं एक होता चेतन मन दूसरा होता है और क्या 50 और सब कॉन्शस माइंड पार्ट होते तो अपने बेटे सोते जगते किस से मिलना जुलना या नहीं प्लानिंग बनाना यह सब हमारा कॉन्शस माइंड नहीं चेतन मन करता है और जब हम रात को सो जाते हैं तो सोने के बाद तुम को कभी देखा होगा आप को सपने आते हैं या फिर रात को होता क्या है सुनने के बाद अक्सर इंसान एक अपने आप को मरा हुआ मैसेज करता है लेकिन उस समय हमारा सब कॉन्शस माइंड अवचेतन वर्क करता है मोहम्मद के द्वारा सोचेंगे प्लानिंग को उसका रूप लेता है या अपने द्वारा कही गई बातों को बातों को आर्डर करके आगे सप्लाई करता है वह हमारा कल का दिन वह बनाता कहने का मतलब जो रात का जो समय होता है वह बहुत ही पावरफुल होता है रात को जो सोने के लास्ट के 5 मिनट होते हैं 5 मिनट उसके अंदर इंसान जैसा सोचता है हंड्रेड परसेंट लोग सुबह उठकर वैसा ही कर लेता अगर वह सोचता है कि मैं करोड़पति हूं तो वास्तव में मगर यह रेगुलर सोचता रेट जब रात के लास्ट के 5 मिनट सोने से पहले तो वास्तव में वह इंसान करोड़पति बन जा किसी लड़की से मोहब्बत करता तो रात को उस वक्त अगर किसी लड़की के बारे में सोचेगा तो लड़की उसको मिलकर ही रहेगी तो कहने का मतलब रात का और जो सुबह उठते उठते ही और संध्या का समय होता है वह भी बड़ा अच्छा वह पूरी तरह से एक्टिव रहता है तो रात को सोने से किस समय और एक सुबह उठने से पहले यह दो वक्त ऐसे होते जब आप कमेंट बहुत तरह से एक्टिव रहता हैAapne Poocha Hai Raat Mein Ya Din Ke Dauran Dimag Adhikshak Rehta To Main Batana Chahta Hoon Dost Aapka Jo Krishchan Hai Wah Bahut Hi Lajawab Aur Bahut Hi Maayne Rakhta Hai Kyonki Main Se Sambandhit Ghar Par Baat Aati Hai To Humne Sabse Pehle Vichar Karna Chahiye Ki Insaan Ke Sharir Mein Do Tarah Ke Hote Hain Ek Hota Chetan Man Doosra Hota Hai Aur Kya 50 Aur Sab Conscious Mind Part Hote To Apne Bete Sote Jagate Kis Se Milna Julana Ya Nahi Planning Banana Yeh Sab Hamara Conscious Mind Nahi Chetan Man Karta Hai Aur Jab Hum Raat Ko So Jaate Hain To Sone Ke Baad Tum Ko Kabhi Dekha Hoga Aap Ko Sapne Aate Hain Ya Phir Raat Ko Hota Kya Hai Sunane Ke Baad Aksar Insaan Ek Apne Aap Ko Mara Hua Massage Karta Hai Lekin Us Samay Hamara Sab Conscious Mind Avachetan Work Karta Hai Mohammed Ke Dwara Sochenge Planning Ko Uska Roop Leta Hai Ya Apne Dwara Kahi Gayi Baaton Ko Baaton Ko Order Karke Aage Supply Karta Hai Wah Hamara Kal Ka Din Wah Banata Kehne Ka Matlab Jo Raat Ka Jo Samay Hota Hai Wah Bahut Hi Powerful Hota Hai Raat Ko Jo Sone Ke Last Ke 5 Minute Hote Hain 5 Minute Uske Andar Insaan Jaisa Sochta Hai Hundred Percent Log Subah Uthakar Waisa Hi Kar Leta Agar Wah Sochta Hai Ki Main Crorepati Hoon To Vaastav Mein Magar Yeh Regular Sochta Rate Jab Raat Ke Last Ke 5 Minute Sone Se Pehle To Vaastav Mein Wah Insaan Crorepati Ban Ja Kisi Ladki Se Mohabbat Karta To Raat Ko Us Waqt Agar Kisi Ladki Ke Baare Mein Sochega To Ladki Usko Milkar Hi Rahegi To Kehne Ka Matlab Raat Ka Aur Jo Subah Uthte Uthte Hi Aur Sandhya Ka Samay Hota Hai Wah Bhi Bada Accha Wah Puri Tarah Se Active Rehta Hai To Raat Ko Sone Se Kis Samay Aur Ek Subah Uthane Se Pehle Yeh Do Waqt Aise Hote Jab Aap Comment Bahut Tarah Se Active Rehta Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते गुड मॉर्निंग रिकॉर्डिंग जी बताना चाहूंगा जो अपना माइंड होता है वह एनी टाइम एक्टिव होता है पार्ट 2 कौन से सन पावर होती है कौन सा स्टेशन पावर सोचने की क्षमता होती है रात में ज्यादा होती है क्योंक...
जवाब पढ़िये
नमस्ते गुड मॉर्निंग रिकॉर्डिंग जी बताना चाहूंगा जो अपना माइंड होता है वह एनी टाइम एक्टिव होता है पार्ट 2 कौन से सन पावर होती है कौन सा स्टेशन पावर सोचने की क्षमता होती है रात में ज्यादा होती है क्योंकि इंसान रात में फ्री होता है फिर भी काम करता है और उसका माइंड से होता है एकदम फ्री होता है रात में आमंत्रित होते हैं कौन सी पावर को बढ़ाने के उस दिन में जो होता है वह अपना माइंड एक्टिव होता है बट इतना कौन सा खेल पसंद नहीं रख पाता अगर कोई कौन स्टेशन रख पाता है अगर कोई इंसान तो उसकी एक एनर्जी होती है एक होती उसके अंदर की माप में कौन सा फैशन रख पाता है उसमें जो इमोशंस होते हैं वह एक अच्छे होते हैं उनका जो माइंड होता है वह काफी तो चलता है तो इस वजह से ब्रेन होता है हमेशा रात के टाइम पर ज्यादा कंसंट्रेशन पावर रखता है धन्यवादNamaste Good Morning Recording Ji Batana Chahunga Jo Apna Mind Hota Hai Wah Any Time Active Hota Hai Part 2 Kaun Se Sun Power Hoti Hai Kaun Sa Station Power Sochne Ki Kshamta Hoti Hai Raat Mein Jyada Hoti Hai Kyonki Insaan Raat Mein Free Hota Hai Phir Bhi Kaam Karta Hai Aur Uska Mind Se Hota Hai Ekdam Free Hota Hai Raat Mein Aamantrit Hote Hain Kaun Si Power Ko Badhane Ke Us Din Mein Jo Hota Hai Wah Apna Mind Active Hota Hai But Itna Kaun Sa Khel Pasand Nahi Rakh Pata Agar Koi Kaun Station Rakh Pata Hai Agar Koi Insaan To Uski Ek Energy Hoti Hai Ek Hoti Uske Andar Ki Map Mein Kaun Sa Fashion Rakh Pata Hai Usamen Jo Emotional Hote Hain Wah Ek Acche Hote Hain Unka Jo Mind Hota Hai Wah Kafi To Chalta Hai To Is Wajah Se Brain Hota Hai Hamesha Raat Ke Time Par Jyada Kansantreshan Power Rakhta Hai Dhanyavad
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि रात में या दिन के दौरान दिमाग अधिक सक्रिय रहते दिन के दौरान दिमाग अधिक सक्रिय रहता है मेरे ख्याल से क्योंकि रात के समय तो जब हम सो जाते हैं तो दिमाग उतनी तेजी काम करता है लेकिन इतनी ते...
जवाब पढ़िये
आपका सवाल है कि रात में या दिन के दौरान दिमाग अधिक सक्रिय रहते दिन के दौरान दिमाग अधिक सक्रिय रहता है मेरे ख्याल से क्योंकि रात के समय तो जब हम सो जाते हैं तो दिमाग उतनी तेजी काम करता है लेकिन इतनी तेजी से काम नहीं करता जितना दिन में है 2 दिन के दौरान दिमाग अधिक सक्रिय रहता हैAapka Sawal Hai Ki Raat Mein Ya Din Ke Dauran Dimag Adhik Sakriy Rehte Din Ke Dauran Dimag Adhik Sakriy Rehta Hai Mere Khayal Se Kyonki Raat Ke Samay To Jab Hum So Jaate Hain To Dimag Utani Teji Kaam Karta Hai Lekin Itni Teji Se Kaam Nahi Karta Jitna Din Mein Hai 2 Din Ke Dauran Dimag Adhik Sakriy Rehta Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मेरे अंडरस्टैंडिंग के अनुसार मुझे लगता है कि रात में जो है या फिर रात के समय में हमारा दिमाग बहुत ज्यादा सक्रिय रहता है फिर हमारे मेमोरी जो है ज्यादा एक्टिव होते और अमित जी जिसमें अच्छे से याद आ...
जवाब पढ़िये
देखिए मेरे अंडरस्टैंडिंग के अनुसार मुझे लगता है कि रात में जो है या फिर रात के समय में हमारा दिमाग बहुत ज्यादा सक्रिय रहता है फिर हमारे मेमोरी जो है ज्यादा एक्टिव होते और अमित जी जिसमें अच्छे से याद आने लगती है क्योंकि रात के समय में जो है बहुत सारी शांत होती है बहुत गहरी शांत होती है तो वह शांति ताकि तहसील में हमारे दिमाग बहुत एक्टिव लिए काम करता है और चीजें जुए अच्छी तरीके से भी कॉल कर सकता है तो मुझे लगता है कि राखी समय में हमारे दिमाग ज्यादा सक्रिय रहता है और ज्यादा पावरफुल रहता हैDekhie Mere Understanding Ke Anusar Mujhe Lagta Hai Ki Raat Mein Jo Hai Ya Phir Raat Ke Samay Mein Hamara Dimag Bahut Jyada Sakriy Rehta Hai Phir Hamare Memory Jo Hai Jyada Active Hote Aur Amit Ji Jisme Acche Se Yaad Aane Lagti Hai Kyonki Raat Ke Samay Mein Jo Hai Bahut Saree Shaant Hoti Hai Bahut Gehri Shaant Hoti Hai To Wah Shanti Taki Tehsil Mein Hamare Dimag Bahut Active Liye Kaam Karta Hai Aur Cheezen Juye Acchi Tarike Se Bhi Call Kar Sakta Hai To Mujhe Lagta Hai Ki Rakhi Samay Mein Hamare Dimag Jyada Sakriy Rehta Hai Aur Jyada Powerful Rehta Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सर पैसे तो आपका ब्रेन हर टाइम एक्टिव रहता है दिन में भी रात में भी ऐसा कुछ नहीं होता है कि इस तरह से फ्री हो गया टाइम कम जब फ्री होगा हर टाइम ब्रेन के जो मेंब्रेन है जो भी ब्रेन में ब्लड का पंप है वह ...
जवाब पढ़िये
सर पैसे तो आपका ब्रेन हर टाइम एक्टिव रहता है दिन में भी रात में भी ऐसा कुछ नहीं होता है कि इस तरह से फ्री हो गया टाइम कम जब फ्री होगा हर टाइम ब्रेन के जो मेंब्रेन है जो भी ब्रेन में ब्लड का पंप है वह सब हर टाइम बस ऐसा ही रहता है तो उसमें कोई चेंजेस नहीं रहते हैं लेकिन अगर हम क्रिएटिविटी की बात करें या फिर हम ज्यादा कौन से इंजेक्शन की बात करें ऐसी कोई भी चीज के बारे में जिसमें आपको दिमाग यूज करना पड़े कौन सन सेट करना पड़े तो मुंह से होता है कि जो आज रात से सुबह तक का टाइम होता है 7:30 से 8:00 बजे तक का टाइम रात के बाद से सुबह से लेकर और ज्यादा क्रिएटिव होता है क्योंकि इस टाइम पर चुप कॉन्संट्रेशन हो पाते बरसाओ बातें जो एनर्जी होती है एनवायरनमेंट कि वह ज्यादा अच्छी होती है तो कंसंट्रेट करने के लिए क्रिएटर काम करने के लिए वो टाइम यूज कीजिए आज का बजट कब ग्रीन हटाना पड़ेगा हर किसी की पर्सनल एनर्जी के ऊपर डिपेंड करती है यह चीज तो आप वह चीज का ध्यान रखेंSar Paise To Aapka Brain Har Time Active Rehta Hai Din Mein Bhi Raat Mein Bhi Aisa Kuch Nahi Hota Hai Ki Is Tarah Se Free Ho Gaya Time Kum Jab Free Hoga Har Time Brain Ke Jo Membrane Hai Jo Bhi Brain Mein Blood Ka Pump Hai Wah Sab Har Time Bus Aisa Hi Rehta Hai To Usamen Koi Changes Nahi Rehte Hain Lekin Agar Hum Creativity Ki Baat Karen Ya Phir Hum Jyada Kaun Se Injection Ki Baat Karen Aisi Koi Bhi Cheez Ke Baare Mein Jisme Aapko Dimag Use Karna Pade Kaun Sun Set Karna Pade To Mooh Se Hota Hai Ki Jo Aaj Raat Se Subah Tak Ka Time Hota Hai 7:30 Se 8:00 Baje Tak Ka Time Raat Ke Baad Se Subah Se Lekar Aur Jyada Creative Hota Hai Kyonki Is Time Par Chup Kansantreshan Ho Paate Bursao Batein Jo Energy Hoti Hai Environment Ki Wah Jyada Acchi Hoti Hai To Concentrate Karne Ke Liye Creator Kaam Karne Ke Liye Vo Time Use Kijiye Aaj Ka Budget Kab Green Hatana Padega Har Kisi Ki Personal Energy Ke Upar Depend Karti Hai Yeh Cheez To Aap Wah Cheez Ka Dhyan Rakhen
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कोई स्पेशल नहीं है कि दिमाग जो है यह सच है कि दिन में ज्यादा सेक्स रहता है और रात में थकावट बना रहता है या दिन में थकावट बताओ रात में अकेले रहते कि आपने ऐसे कई लोग देखे होंगे जो दिन भर सोते हैं और...
जवाब पढ़िये
ऐसा कोई स्पेशल नहीं है कि दिमाग जो है यह सच है कि दिन में ज्यादा सेक्स रहता है और रात में थकावट बना रहता है या दिन में थकावट बताओ रात में अकेले रहते कि आपने ऐसे कई लोग देखे होंगे जो दिन भर सोते हैं और रात में जो है ड्यूटी करते हैं या दिन भर ड्यूटी करो रात में सोते हैं तो यह इंडिविजुअल इंडिविजुअल डिपेंड करता है कि कैसे वह बात कर रहा है तो उसी के साथ उसका दिमाग जो है वह फंक्शन करता है और और आप अगर अपने दिमाग में प्रॉपर भेज देंगे और करो और करो अगर प्रॉपर्टी बैलेंस करेंगे तो आपका दिमाग जो है वह परफेक्ट किसीAisa Koi Special Nahi Hai Ki Dimag Jo Hai Yeh Sach Hai Ki Din Mein Jyada Sex Rehta Hai Aur Raat Mein Thakawat Bana Rehta Hai Ya Din Mein Thakawat Batao Raat Mein Akele Rehte Ki Aapne Aise Kai Log Dekhe Honge Jo Din Bhar Sote Hain Aur Raat Mein Jo Hai Duty Karte Hain Ya Din Bhar Duty Karo Raat Mein Sote Hain To Yeh Imdividual Imdividual Depend Karta Hai Ki Kaise Wah Baat Kar Raha Hai To Ussi Ke Saath Uska Dimag Jo Hai Wah Function Karta Hai Aur Aur Aap Agar Apne Dimag Mein Proper Bhej Denge Aur Karo Aur Karo Agar Property Balance Karenge To Aapka Dimag Jo Hai Wah Perfect Kisi
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसके बारे में लिखिए एल्बम सेंस बहुत है कुछ लोगों का दिमाग रात में सक्रिय होता है कुछ खास दिन में सक्रिय होता है पर एक ही बात है ना कि इसका कोई साइड इफेक्ट रूप आज तक नहीं मिला है हां कुछ जरूरी कैसे कहत...
जवाब पढ़िये
इसके बारे में लिखिए एल्बम सेंस बहुत है कुछ लोगों का दिमाग रात में सक्रिय होता है कुछ खास दिन में सक्रिय होता है पर एक ही बात है ना कि इसका कोई साइड इफेक्ट रूप आज तक नहीं मिला है हां कुछ जरूरी कैसे कहती है कि दिन के इतने से इतने वर्षों से कि यह काजल के दिन में 10:00 बजे के बाद ही हो पाता है इसलिए उसको खोलना चाहिए पर यह भी एक यह थोड़ी तो है बट थोड़ी सी भी कहती कि रात में उसे दिमाग होता तो बहुत आते हो जाता है रात में कई बार मेरा दिमाग खराब हो जाता है ज्यादा दिनों तक याद रहती है तो करता है आपको अगर आपके बारे में तो पहले आप को नोटिस करना पड़ेगा कि आप का दिमाग कैसे मैं ज्यादा तो आप प्रॉब्लम है क्या दिन में खाली दिमाग में प्रॉब्लम सॉल्व करके आपका दिमाग को समय ज्यादा सक्रियIske Baare Mein Likhiye Album Sense Bahut Hai Kuch Logon Ka Dimag Raat Mein Sakriy Hota Hai Kuch Khas Din Mein Sakriy Hota Hai Par Ek Hi Baat Hai Na Ki Iska Koi Side Effect Roop Aaj Tak Nahi Mila Hai Haan Kuch Zaroori Kaise Kahti Hai Ki Din Ke Itne Se Itne Varshon Se Ki Yeh Kajal Ke Din Mein 10:00 Baje Ke Baad Hi Ho Pata Hai Isliye Usko Kholna Chahiye Par Yeh Bhi Ek Yeh Thodi To Hai But Thodi Si Bhi Kahti Ki Raat Mein Use Dimag Hota To Bahut Aate Ho Jata Hai Raat Mein Kai Baar Mera Dimag Kharab Ho Jata Hai Jyada Dinon Tak Yaad Rehti Hai To Karta Hai Aapko Agar Aapke Baare Mein To Pehle Aap Ko Notice Karna Padega Ki Aap Ka Dimag Kaise Main Jyada To Aap Problem Hai Kya Din Mein Khaali Dimag Mein Problem Solve Karke Aapka Dimag Ko Samay Jyada Sakriy
Likes  3  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Raat Mein Ya Din Ke Dauran Dimag Adhik Sakriy Rehta Hai, Is The Brain Active More At Night Or During The Day?

vokalandroid