एक इंसान को अपनी जिंदगी में क्या करना चाहिए ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है अधिकांश लोगों को उनके जीवन के उद्देश्य नहीं मालूम है उन्हें यह नहीं पता है कि उनके जन्म क्यों हुआ है यह जो भी लक्ष्य तय करते हैं सब हो सकता कि मर कर जाते हैं और उनका लक्ष्य होता है खुशी प्राप्त करना जिसके लिए मैं जो भी साधनों के प्रयोग कर सकता है मेरी सबसे यह उचित नहीं है अधिकांश लोगों के द्वारा जीवन में आ नहीं करना चाहता है कि जाते हैं कोई बड़ा अधिकारी बनना चाहता है कुछ समाजसेवी बनना चाहता है कोई राजनीतिक बनना चाहता है लेकिन क्या यह सब उचित मार गए हां इसमें थोड़ा बहुत हो सकते हैं लेकिन जो हमारा भेद बताता है हमारी सभ्यता और संस्कृति बना बताती कि हमारे जीवन का उद्देश्य हमारे जन्म देने का उद्देश्य है ईश्वर की प्राप्ति हमें जिंदगी में कोई भी कार्य करना है तो इस पर केंद्रित करना है ताकि हम ईश्वर की प्राप्ति कर सकें मोक्ष की प्राप्ति कर चुके हैं लेकिन ऐसा कल करता कौन है सब अपने परिवार के उद्देश्यों की पूर्ति करने में ही लगे रहते हैं चाहे कोई भी किसी साधन का प्रयोग करता हो वह कमाने की इच्छा रखता नहीं है और वह अपने परिवार की इच्छाओं की पूर्ति के लिए बच्चों की इच्छाओं की पूर्ति के लिए कोई भी प्रयोग करता है किसी मार्ग पर चल पड़ता है और इस वक्त उसके घर में आते नहीं है ईश्वर वही है जो सुबह और शाम उठ कर दो मिनट ध्यान कर लेना बाकी अपने गलत कार्य में संलग्न हो जाना मुझे लगता है कि यह हमारा जीवन तो नहीं है हमारा जीवन है उच्च नैतिक जीवन कैसा जीवन जिसमें हम सत्य की राह पर चलकर सत्य से समझौता न कर सके अच्छा है ऐसे मार्ग पर चलने में कितनी परेशानियां क्यों ना एक इतनी दूर क्यों ना जीवन भर में क्यों ना दुख नहीं जीवन गुजारने पड़े लेकिन ऐसा जीवन सबसे श्रेष्ठ जीवन होता है ईश्वर के नजर में हम ईश्वर के नजर से अपने जीवन की परिभाषा करनी होगी यदि ईश्वर पसंद है तो हमारे जीवन सफल ऐसा क्यों नहीं चलता हूं मैं जीवन काटना पड़े तो मुझे लगता है कि मेरे हिसाब से वह जीवन श्रेष्ठकर रहेगा जब हम कोई भी कार्य करें चाहे हम एक सफाई कर्मचारी बनाया बड़े अधिकारी बनाया किसी भी फील्ड में शादी क्यों न बने हम यदि ईश्वर को सामने रखकर कार्य करते हैं उच्च नैतिक जीवन जीते हैं सत्य की राह चलते हैं तो वह हमारे जीवन की उचित परिभाषा होगी
Romanized Version
मुझे लगता है अधिकांश लोगों को उनके जीवन के उद्देश्य नहीं मालूम है उन्हें यह नहीं पता है कि उनके जन्म क्यों हुआ है यह जो भी लक्ष्य तय करते हैं सब हो सकता कि मर कर जाते हैं और उनका लक्ष्य होता है खुशी प्राप्त करना जिसके लिए मैं जो भी साधनों के प्रयोग कर सकता है मेरी सबसे यह उचित नहीं है अधिकांश लोगों के द्वारा जीवन में आ नहीं करना चाहता है कि जाते हैं कोई बड़ा अधिकारी बनना चाहता है कुछ समाजसेवी बनना चाहता है कोई राजनीतिक बनना चाहता है लेकिन क्या यह सब उचित मार गए हां इसमें थोड़ा बहुत हो सकते हैं लेकिन जो हमारा भेद बताता है हमारी सभ्यता और संस्कृति बना बताती कि हमारे जीवन का उद्देश्य हमारे जन्म देने का उद्देश्य है ईश्वर की प्राप्ति हमें जिंदगी में कोई भी कार्य करना है तो इस पर केंद्रित करना है ताकि हम ईश्वर की प्राप्ति कर सकें मोक्ष की प्राप्ति कर चुके हैं लेकिन ऐसा कल करता कौन है सब अपने परिवार के उद्देश्यों की पूर्ति करने में ही लगे रहते हैं चाहे कोई भी किसी साधन का प्रयोग करता हो वह कमाने की इच्छा रखता नहीं है और वह अपने परिवार की इच्छाओं की पूर्ति के लिए बच्चों की इच्छाओं की पूर्ति के लिए कोई भी प्रयोग करता है किसी मार्ग पर चल पड़ता है और इस वक्त उसके घर में आते नहीं है ईश्वर वही है जो सुबह और शाम उठ कर दो मिनट ध्यान कर लेना बाकी अपने गलत कार्य में संलग्न हो जाना मुझे लगता है कि यह हमारा जीवन तो नहीं है हमारा जीवन है उच्च नैतिक जीवन कैसा जीवन जिसमें हम सत्य की राह पर चलकर सत्य से समझौता न कर सके अच्छा है ऐसे मार्ग पर चलने में कितनी परेशानियां क्यों ना एक इतनी दूर क्यों ना जीवन भर में क्यों ना दुख नहीं जीवन गुजारने पड़े लेकिन ऐसा जीवन सबसे श्रेष्ठ जीवन होता है ईश्वर के नजर में हम ईश्वर के नजर से अपने जीवन की परिभाषा करनी होगी यदि ईश्वर पसंद है तो हमारे जीवन सफल ऐसा क्यों नहीं चलता हूं मैं जीवन काटना पड़े तो मुझे लगता है कि मेरे हिसाब से वह जीवन श्रेष्ठकर रहेगा जब हम कोई भी कार्य करें चाहे हम एक सफाई कर्मचारी बनाया बड़े अधिकारी बनाया किसी भी फील्ड में शादी क्यों न बने हम यदि ईश्वर को सामने रखकर कार्य करते हैं उच्च नैतिक जीवन जीते हैं सत्य की राह चलते हैं तो वह हमारे जीवन की उचित परिभाषा होगीMujhe Lagta Hai Adhikaansh Logon Ko Unke Jeevan Ke Uddeshya Nahi Maloom Hai Unhen Yeh Nahi Pata Hai Ki Unke Janm Kyun Hua Hai Yeh Jo Bhi Lakshya Tay Karte Hain Sab Ho Sakta Ki Mar Kar Jaate Hain Aur Unka Lakshya Hota Hai Khushi Prapt Karna Jiske Liye Main Jo Bhi Saadhano Ke Prayog Kar Sakta Hai Meri Sabse Yeh Uchit Nahi Hai Adhikaansh Logon Ke Dwara Jeevan Mein Aa Nahi Karna Chahta Hai Ki Jaate Hain Koi Bada Adhikari Banana Chahta Hai Kuch Samajsevi Banana Chahta Hai Koi Rajnitik Banana Chahta Hai Lekin Kya Yeh Sab Uchit Maar Gaye Haan Isme Thoda Bahut Ho Sakte Hain Lekin Jo Hamara Bhed Batata Hai Hamari Sabhyata Aur Sanskriti Bana Batati Ki Hamare Jeevan Ka Uddeshya Hamare Janm Dene Ka Uddeshya Hai Ishwar Ki Prapti Hume Zindagi Mein Koi Bhi Karya Karna Hai To Is Par Kendrit Karna Hai Taki Hum Ishwar Ki Prapti Kar Saken Moksha Ki Prapti Kar Chuke Hain Lekin Aisa Kal Karta Kaun Hai Sab Apne Parivar Ke Udyeshwo Ki Purti Karne Mein Hi Lage Rehte Hain Chahe Koi Bhi Kisi Sadhan Ka Prayog Karta Ho Wah Kamane Ki Icha Rakhta Nahi Hai Aur Wah Apne Parivar Ki Ikchao Ki Purti Ke Liye Bacchon Ki Ikchao Ki Purti Ke Liye Koi Bhi Prayog Karta Hai Kisi Marg Par Chal Padata Hai Aur Is Waqt Uske Ghar Mein Aate Nahi Hai Ishwar Wahi Hai Jo Subah Aur Shaam Uth Kar Do Minute Dhyan Kar Lena Baki Apne Galat Karya Mein Sanlagn Ho Jana Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Hamara Jeevan To Nahi Hai Hamara Jeevan Hai Uccha Naitik Jeevan Kaisa Jeevan Jisme Hum Satya Ki Raah Par Chalkar Satya Se Samjhauta N Kar Sake Accha Hai Aise Marg Par Chalne Mein Kitni Pareshaniyan Kyun Na Ek Itni Dur Kyun Na Jeevan Bhar Mein Kyun Na Dukh Nahi Jeevan Gujarne Pade Lekin Aisa Jeevan Sabse Shreshtha Jeevan Hota Hai Ishwar Ke Nazar Mein Hum Ishwar Ke Nazar Se Apne Jeevan Ki Paribhasha Karni Hogi Yadi Ishwar Pasand Hai To Hamare Jeevan Safal Aisa Kyun Nahi Chalta Hoon Main Jeevan Katana Pade To Mujhe Lagta Hai Ki Mere Hisab Se Wah Jeevan Shreshthakar Rahega Jab Hum Koi Bhi Karya Karen Chahe Hum Ek Safaai Karmchari Banaya Bade Adhikari Banaya Kisi Bhi Field Mein Shadi Kyun N Bane Hum Yadi Ishwar Ko Samane Rakhakar Karya Karte Hain Uccha Naitik Jeevan Jeete Hain Satya Ki Raah Chalte Hain To Wah Hamare Jeevan Ki Uchit Paribhasha Hogi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

जिंदगी में हम सब कुछ कर सकते हैं मगर चाह कर भी कुछ नहीं कर सकते क्या करना चाहिए ? ...

आपने जो बात कही मैं उससे पूरी तरीके से सहमत नहीं हुआ अगर जिंदगी में हम सब कुछ कर सकते हैं लेकिन चाह कर भी कुछ नहीं कर सकते बिल्कुल गलत बात है जिंदगी में हम सब कुछ कर सकते हैं यह जरुरी नहीं हम हर चाहनेजवाब पढ़िये
ques_icon

जिंदगी में कुछ बनने के लिए क्या करना चाहिए दिमाग का इस्तेमाल करना चाहिए या दिल का? ...

हॉट यानी कि दिल जो है बॉडी का इमोशनल पाठ को ही हॉट बोला जाता है और जो दिमाग है वह ब्रेन है मतलब पूरी दिमाग तू दोनों का अंतर यही है कि हम लोगों के दिमाग में बहुत सारा पाठ होते हैं तो उस पार्ट में इमोशनजवाब पढ़िये
ques_icon

जिंदगी के सही मायने क्या है, हमें अपनी जिंदगी किस तरीके से जीनी चाहिए ? ...

देखिए फ्रेंड जीवन के मायने हर किसी के लिए अलग अलग हो सकते हैं अगर मैं अपने नजरिए की बात करूं तो व्यक्ति को अपनी लाइफ ऐसे बितानी चाहिए कि जीवन के अंत में उसे ऐसा ना लगे कि मैं यह काम कर सकता था पर मैंनजवाब पढ़िये
ques_icon

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी जिंदगी में कुछ ना कभी तो कुछ लोगों में इतना प्यार भर जाए कि आपस में बहुत प्यार करूं और हमेशा याद करें
Romanized Version
अपनी जिंदगी में कुछ ना कभी तो कुछ लोगों में इतना प्यार भर जाए कि आपस में बहुत प्यार करूं और हमेशा याद करेंApni Zindagi Mein Kuch Na Kabhi To Kuch Logon Mein Itna Pyar Bhar Jaye Ki Aapas Mein Bahut Pyar Karun Aur Hamesha Yaad Karen
Likes  5  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सिर्फ एक इंसान को नहीं दुनिया में जितने भी इंसान हैं सब को अपना एक उद्देश्य बनाना चाहिए और उद्देश्य के माध्यम से कार्य करना चाहिए उद्देश्य ऐसा होना चाहिए जिससे कि देश हित का भला हो समाज का भला हो और सारी दुनिया का भला हो कुछ ऐसा करना चाहिए ईमानदारी से काम करना चाहिए ईमानदारी से कुछ ऐसी टेक्नोलॉजी विकसित करनी चाहिए या कुछ ऐसा करना चाहिए जिससे हमारे समाज को बहुत ज्यादा उससे फायदा हो हमारे किसान भाइयों को फायदा हो हमारे देश के गरीबों को फायदा हो सिर्फ हमारे देश के गरीबों को नहीं पूरी दुनिया को से फायदा हो धन्यवाद
Romanized Version
सिर्फ एक इंसान को नहीं दुनिया में जितने भी इंसान हैं सब को अपना एक उद्देश्य बनाना चाहिए और उद्देश्य के माध्यम से कार्य करना चाहिए उद्देश्य ऐसा होना चाहिए जिससे कि देश हित का भला हो समाज का भला हो और सारी दुनिया का भला हो कुछ ऐसा करना चाहिए ईमानदारी से काम करना चाहिए ईमानदारी से कुछ ऐसी टेक्नोलॉजी विकसित करनी चाहिए या कुछ ऐसा करना चाहिए जिससे हमारे समाज को बहुत ज्यादा उससे फायदा हो हमारे किसान भाइयों को फायदा हो हमारे देश के गरीबों को फायदा हो सिर्फ हमारे देश के गरीबों को नहीं पूरी दुनिया को से फायदा हो धन्यवादSirf Ek Insaan Ko Nahi Duniya Mein Jitne Bhi Insaan Hain Sab Ko Apna Ek Uddeshya Banana Chahiye Aur Uddeshya Ke Maadhyam Se Karya Karna Chahiye Uddeshya Aisa Hona Chahiye Jisse Ki Desh Hit Ka Bhala Ho Samaaj Ka Bhala Ho Aur Saree Duniya Ka Bhala Ho Kuch Aisa Karna Chahiye Imaandaari Se Kaam Karna Chahiye Imaandaari Se Kuch Aisi Technology Viksit Karni Chahiye Ya Kuch Aisa Karna Chahiye Jisse Hamare Samaaj Ko Bahut Zyada Usse Fayda Ho Hamare Kisan Bhaiyon Ko Fayda Ho Hamare Desh Ke Garibon Ko Fayda Ho Sirf Hamare Desh Ke Garibon Ko Nahi Puri Duniya Ko Se Fayda Ho Dhanyavad
Likes  8  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक इंसान को जितना हो सके अपनी जिंदगी को वैल्युएबल बनाना चाहिए कि जो वह जिंदगी जी रहा है जो जिंदगी उसकी है अखिलेश की वैल्यू क्या है उसने अपनी जिंदगी में क्या किया है और वह खुद कितना सेट स्क्वायर है तो जितना हो सके उसे भेजने की कोई एल्बम बनाना चाहिए अपने लिए मैं यह नहीं कहूंगा कि वह दूसरों के लिए वाले ब्लू अपने लिए अपने परिवार के लिए जिनके लिए वह जीता आया है उनके लिए अवेलेबल होना जरूरी है तो एक इंसान को उसका बहुत ख्याल रखना चाहिए कि वह बिल्कुल भी व्यस्त ना हो और वह जस्टिफाई कर सके खुद भी खुश रहे तो बेहतर होगा जरूरी यह नहीं कि वह बहुत सारा पैसा कमाए पर खुश रहना रहना पसंद करूंगा खुश रहना बहुत जरूरी है
Romanized Version
एक इंसान को जितना हो सके अपनी जिंदगी को वैल्युएबल बनाना चाहिए कि जो वह जिंदगी जी रहा है जो जिंदगी उसकी है अखिलेश की वैल्यू क्या है उसने अपनी जिंदगी में क्या किया है और वह खुद कितना सेट स्क्वायर है तो जितना हो सके उसे भेजने की कोई एल्बम बनाना चाहिए अपने लिए मैं यह नहीं कहूंगा कि वह दूसरों के लिए वाले ब्लू अपने लिए अपने परिवार के लिए जिनके लिए वह जीता आया है उनके लिए अवेलेबल होना जरूरी है तो एक इंसान को उसका बहुत ख्याल रखना चाहिए कि वह बिल्कुल भी व्यस्त ना हो और वह जस्टिफाई कर सके खुद भी खुश रहे तो बेहतर होगा जरूरी यह नहीं कि वह बहुत सारा पैसा कमाए पर खुश रहना रहना पसंद करूंगा खुश रहना बहुत जरूरी हैEk Insaan Ko Jitna Ho Sake Apni Zindagi Ko Vailyuebal Banana Chahiye Ki Jo Wah Zindagi Ji Raha Hai Jo Zindagi Uski Hai Akhilesh Ki Value Kya Hai Usne Apni Zindagi Mein Kya Kiya Hai Aur Wah Khud Kitna Set Square Hai To Jitna Ho Sake Use Bhejne Ki Koi Album Banana Chahiye Apne Liye Main Yeh Nahi Kahunga Ki Wah Dusron Ke Liye Wale Blue Apne Liye Apne Parivar Ke Liye Jinke Liye Wah Jeeta Aaya Hai Unke Liye Available Hona Zaroori Hai To Ek Insaan Ko Uska Bahut Khayal Rakhna Chahiye Ki Wah Bilkul Bhi Vyasta Na Ho Aur Wah Justify Kar Sake Khud Bhi Khush Rahe To Behtar Hoga Zaroori Yeh Nahi Ki Wah Bahut Saara Paisa Kamaye Par Khush Rehna Rehna Pasand Karunga Khush Rehna Bahut Zaroori Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Ek Insaan Ko Apni Zindagi Mein Kya Karna Chahiye ?,What Should A Person Do In His Life?,Zindagi Me Kya Karna Chahiye,


vokalandroid