महिलाओं को गॉसिप में इतनी रूचि क्यों होती है? क्या पुरुष भी गॉसिप करते हैं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी बात नहीं कि सिर्फ और सिर्फ महिलाओं को ही WhatsApp में बहुत ज्यादा रुचि होती है पुरुषों को भी बहुत ज्यादा रुचि होती है WhatsApp में आजकल क्वालिटी का कम आना है तो औरतें जो है वह मर्दों से कंधे से कं...
जवाब पढ़िये
ऐसी बात नहीं कि सिर्फ और सिर्फ महिलाओं को ही WhatsApp में बहुत ज्यादा रुचि होती है पुरुषों को भी बहुत ज्यादा रुचि होती है WhatsApp में आजकल क्वालिटी का कम आना है तो औरतें जो है वह मर्दों से कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है पैसे के मामले में मर्ज है वह तो से कंधे से कंधा मिलाकर चल रहा है और आज के टाइम पर आप यह नहीं कह सकते कि सिर्फ औरAisi Baat Nahi Ki Sirf Aur Sirf Mahilaon Ko Hi WhatsApp Mein Bahut Zyada Ruchi Hoti Hai Purushon Ko Bhi Bahut Zyada Ruchi Hoti Hai WhatsApp Mein Aajkal Quality Ka Kam Aana Hai To Auraten Jo Hai Wah Mardon Se Kandhe Se Kandha Milakar Chal Rahi Hai Paise Ke Mamle Mein Merge Hai Wah To Se Kandhe Se Kandha Milakar Chal Raha Hai Aur Aaj Ke Time Par Aap Yeh Nahi Keh Sakte Ki Sirf Aur
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि महिलाओं को घोषित में इतनी रुचि क्यों होती है और पुरुष का पुरुष भी घोषित करते हैं महिलाओं को रुचि इसलिए होती है क्योंकि वह घर में रहती है और तो घर में टाइम पास करने का एक जरिया है कि फ...
जवाब पढ़िये
आप का सवाल है कि महिलाओं को घोषित में इतनी रुचि क्यों होती है और पुरुष का पुरुष भी घोषित करते हैं महिलाओं को रुचि इसलिए होती है क्योंकि वह घर में रहती है और तो घर में टाइम पास करने का एक जरिया है कि फोन पर कर लिया है आज पड़ोस में कर लिया इधर उधर की बातें कर लेना यह महिलाओं के लिए जो घर में रहती है लेकिन आजकल अगर जो ऑफिस में ही लाई जाती है उनको घोषित करने की फुर्सत नहीं मिलती है लेकिन फिर भी जो फुर्सत मिलती है उसमें महिलाएं बातें कर लेती है इसको आप घोषित कर दीजिए लेकिन क्या पुरुष भी करते हैं जरूर पुरुष भी करते हैं यह तो सिर्फ बदनाम है कि महिलाएं घोषित ज्यादा करती है पुरुष उनसे भी ज्यादा घोषित करते हैं लेकिन बदनाम होने के कारण की महिलाएं ज्यादा घोषित करती है और बस यही है वह पुरुष में कम नहीं है इस मामले में पुरुष उनसे ज्यादा ही करते होंगे घोषित बराबर करते हैं पुरुष में WhatsAppAap Ka Sawal Hai Ki Mahilaon Ko Ghoshit Mein Itni Ruchi Kyon Hoti Hai Aur Purush Ka Purush Bhi Ghoshit Karte Hain Mahilaon Ko Ruchi Isliye Hoti Hai Kyonki Wah Ghar Mein Rehti Hai Aur To Ghar Mein Time Paas Karne Ka Ek Jariya Hai Ki Phone Par Kar Liya Hai Aaj Pados Mein Kar Liya Idhar Udhar Ki Batein Kar Lena Yeh Mahilaon Ke Liye Jo Ghar Mein Rehti Hai Lekin Aajkal Agar Jo Office Mein Hi Lai Jati Hai Unko Ghoshit Karne Ki Phursat Nahi Milti Hai Lekin Phir Bhi Jo Phursat Milti Hai Usamen Mahilaen Batein Kar Leti Hai Isko Aap Ghoshit Kar Dijiye Lekin Kya Purush Bhi Karte Hain Jarur Purush Bhi Karte Hain Yeh To Sirf Badnaam Hai Ki Mahilaen Ghoshit Zyada Karti Hai Purush Unse Bhi Zyada Ghoshit Karte Hain Lekin Badnaam Hone Ke Kaaran Ki Mahilaen Zyada Ghoshit Karti Hai Aur Bus Yahi Hai Wah Purush Mein Kam Nahi Hai Is Mamle Mein Purush Unse Zyada Hi Karte Honge Ghoshit Barabar Karte Hain Purush Mein WhatsApp
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं ऐसा नहीं है कि सिर्फ महिलाएं को शक करती है पर इसमें क्या शक करते हैं और वह अपने पुरुष कम होने की वजह है महिलाओं के साथ कौशल नहीं करते अगर कुछ लड़के ऐसे होते हैं जो महिलाओं के साथ सेक्स करते हैं त...
जवाब पढ़िये
नहीं ऐसा नहीं है कि सिर्फ महिलाएं को शक करती है पर इसमें क्या शक करते हैं और वह अपने पुरुष कम होने की वजह है महिलाओं के साथ कौशल नहीं करते अगर कुछ लड़के ऐसे होते हैं जो महिलाओं के साथ सेक्स करते हैं तो यह सब तो हम महिलाओं का हक होता है वह सब करना उनका अधिकार है ये उनका हमेशा से उनकी यादें की चर्बी 2 महिलाएं 3 महिला आपस में मिलती है हमेशा से बहुत शक करती है तो यह नहीं कहना चाहिए कि मेरी लाइफ में बहुत शक्ति होती है उनकी रुचि होती है इसमें करना अच्छा लगता है वही दूसरे की बात इस कदर इस कदर बताती हैं उनको अच्छा लगता है तो क्या पुरुष नहीं बताते क्या इधर की बात उधर वह भी करते हैं और नाम से महिलाओं का होता है कि महिलाएं बहुत से कठिन प्रश्न नहीं करतेNahi Aisa Nahi Hai Ki Sirf Mahilaen Ko Shaq Karti Hai Par Isme Kya Shaq Karte Hain Aur Wah Apne Purush Kam Hone Ki Wajah Hai Mahilaon Ke Saath Kaushal Nahi Karte Agar Kuch Ladke Aise Hote Hain Jo Mahilaon Ke Saath Sex Karte Hain To Yeh Sab To Hum Mahilaon Ka Haq Hota Hai Wah Sab Karna Unka Adhikaar Hai Yeh Unka Hamesha Se Unki Yaadain Ki Charbi 2 Mahilaen 3 Mahila Aapas Mein Milti Hai Hamesha Se Bahut Shaq Karti Hai To Yeh Nahi Kehna Chahiye Ki Meri Life Mein Bahut Shakti Hoti Hai Unki Ruchi Hoti Hai Isme Karna Accha Lagta Hai Wahi Dusre Ki Baat Is Kadar Is Kadar Batati Hain Unko Accha Lagta Hai To Kya Purush Nahi Batatey Kya Idhar Ki Baat Udhar Wah Bhi Karte Hain Aur Naam Se Mahilaon Ka Hota Hai Ki Mahilaen Bahut Se Kathin Prashna Nahi Karte
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल महिलाओं को घोषित करने में रुचि होती है इसमें कोई शक नहीं है लेकिन पुरुषों को नहीं होती या पुरुष घोषित नहीं करते गपशप नहीं करते यह कहना बिल्कुल ही गलत होगा मैं अपना ही कि सैंपल देता हूं आपक...
जवाब पढ़िये
हां बिल्कुल महिलाओं को घोषित करने में रुचि होती है इसमें कोई शक नहीं है लेकिन पुरुषों को नहीं होती या पुरुष घोषित नहीं करते गपशप नहीं करते यह कहना बिल्कुल ही गलत होगा मैं अपना ही कि सैंपल देता हूं आपको मैं एक हॉस्टल में रहता हूं बॉयज हॉस्टल में रहता हूं इन दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करता हूं और यहां पर जितने भी बॉयज है मेरा हॉस्टल डॉरमेट्री टाइप का एक ही रूम में बड़ा सा हॉल जैसा है और 8 लोग रहते हैं आप यकीन मानिए आप ज्यादातर लोग तो 1:02 बजे से पहले सोते ही नहीं है और वह आपस में पता नहीं क्या क्या क्या क्या बातें करते रहते की लड़कियों की बातें तो अमेजॉन से यह बुक करने की बातें इधर-उधर की बातें वह मूवीस देखी उसकी बातें मैच हार गया इंडिया उसकी बातें तो अलग-अलग पदों पर खूब सारी बातें करते बहुत ज्यादा गपशप करते हैं ठीक है शांति से तो कोई भेजता ही नहीं है सोने के अलावा तो रुम में अगर सोने का समय तभी शादी थोड़ी बहुत हो जाती नहीं तो दिन भर कोई शांति नहीं रहती और इसी तरह अगर आप मालू गलियों में चले जाएं देखा जाता कि महिलाएं बहुत गपशप करती है दरअसल होता क्या किस समय के साथ में कोई एक चीज जो है वह कहावत में बदल जाती है अभी एक चीज हो गई है सब लोग चुटकुला टाइप का बनाने लगे हैं महिलाओं के ऊपर या फिर यह कहने लगे कि नहीं महिलाएं बहुत दिन कब-कब करती मैं ऐसा नहीं है हर कोई बातचीत करता चाहे पुरुष और 4 महिला और चाय बच्चा होते बुजुर्ग हो जा जवान हर कोई हर एक इंसान खूब सारी बातें करता है किसी का व्यक्तिगत ऐसा स्वभाव या नहीं चल हो सकता कि वो थोड़ा कम बोलता हो लेकिन जब ग्रुप में होता है तो वहां पर बहुत सारे लोग बात करते हैं तो वह भी करता है करता है तो गपशप सभी करते हैं पुरुषों या महिलाएं शुक्रिया
Likes  10  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे नहीं लगता कि पुरुषों पर इतना ज्यादा टाइम होता है कि अपना टाइम कौशिक में बताएं क्योंकि जॉब का प्रेशर रहता है बॉस ने जो काम दिया वह भी करना है फैमिली की टेंशन ज्यादा टेंशन होती है इतना समय नह...
जवाब पढ़िये
लेकिन मुझे नहीं लगता कि पुरुषों पर इतना ज्यादा टाइम होता है कि अपना टाइम कौशिक में बताएं क्योंकि जॉब का प्रेशर रहता है बॉस ने जो काम दिया वह भी करना है फैमिली की टेंशन ज्यादा टेंशन होती है इतना समय नहीं होता लोगों के पास के घोषित करें हां यह जरूर है मानता हूं कि सैटरडे संडे जिनका भी कैंट होता है छुट्टी रहती है तो लोग जरूर अपने दोस्तों के साथ मिलते हैं पार्टी वगैरह कर लेते ही घोषित इतना ज्यादा नहीं होता हां फीमेल्स मुझे लगता है ज्यादा फ्री रहती है घर पर घर पर उनके पास कभी टाइम ही होता किटी पार्टी दूंगी होती रहती तो उसमें वह ज्यादा कोशिश कर ली थी लेकिन लोगों के पुरुषों की बात की है तो बहुत ज्यादा काम होता है टेंशन बहुत हैLekin Mujhe Nahi Lagta Ki Purushon Par Itna Zyada Time Hota Hai Ki Apna Time Koshik Mein Bataen Kyonki Job Ka Pressure Rehta Hai Boss Ne Jo Kaam Diya Wah Bhi Karna Hai Family Ki Tension Zyada Tension Hoti Hai Itna Samay Nahi Hota Logon Ke Paas Ke Ghoshit Karen Haan Yeh Jarur Hai Manata Hoon Ki Saitarade Sunday Jinka Bhi Cantt Hota Hai Chutti Rehti Hai To Log Jarur Apne Doston Ke Saath Milte Hain Party Vagairah Kar Lete Hi Ghoshit Itna Zyada Nahi Hota Haan Fimels Mujhe Lagta Hai Zyada Free Rehti Hai Ghar Par Ghar Par Unke Paas Kabhi Time Hi Hota Kitty Party Dungi Hoti Rehti To Usamen Wah Zyada Koshish Kar Lee Thi Lekin Logon Ke Purushon Ki Baat Ki Hai To Bahut Zyada Kaam Hota Hai Tension Bahut Hai
Likes  14  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको कोई आईडिया नहीं है पुरुष कितनी गॉसिप करते हैं सब को अपने फ्रेंड ग्रुप में होते हैं या फिर बस कुछ लोगों के साथ होते हैं जिनके साथ वो सब कर सकते हैं मुझे भी ऐसा लगता था कि फोटोस घोषित नहीं करते हों...
जवाब पढ़िये
आपको कोई आईडिया नहीं है पुरुष कितनी गॉसिप करते हैं सब को अपने फ्रेंड ग्रुप में होते हैं या फिर बस कुछ लोगों के साथ होते हैं जिनके साथ वो सब कर सकते हैं मुझे भी ऐसा लगता था कि फोटोस घोषित नहीं करते होंगे पर मेरी तो पूरी धार ना ही बदल गई जब मैं अपने दोस्त से मिली आप यकीन नहीं करेंगे मैं बिल्कुल कोशिश नहीं करती मुझे बिल्कुल पसंद नहीं है किसी और की बातें कहीं और करना किसी और के बारे में किसी और को डिस्कस करना पर मेरा वह फ्रेंड आप उसे हर चीज की कसम चाहिए होती है उसे हर चीज के बारे में जानना होता है मैं तो उसे कौन से पार्टी कहती हूं तुमसे बिल्कुल यकीन नहीं होता कि ऐसा कोई लड़का भी है जितनी कोशिश कर सकता है कि बाद मुझे रियलाइज हुआ कि लड़के भी उतनी गॉसिप करते हैं साथ लड़की चोदते हैं और लड़कियों से ज्यादा को सेव करते हैं बस उनके उनका पता नहीं चल पाता क्योंकि जब वह गॉसिप करते हैं तो उसके बाद वह उसको सबको लेकर कि कहीं और नहीं जाते और लड़कियां जो होती है वह उसको सबको लेकर के साथ कहीं और चली जाती है इसलिए वह बदनाम हो जाती है बट लड़के बस एक ऐसा नहीं करने की वजह से वह बदनाम नहीं करते और ना वह भी बहुत कोशिश करते हैं बहुत ही ज्यादाAapko Koi Idea Nahi Hai Purush Kitni Gossip Karte Hain Sab Ko Apne Friend Group Mein Hote Hain Ya Phir Bus Kuch Logon Ke Saath Hote Hain Jinke Saath Vo Sab Kar Sakte Hain Mujhe Bhi Aisa Lagta Tha Ki Photoss Ghoshit Nahi Karte Honge Par Meri To Puri Dhar Na Hi Badal Gayi Jab Main Apne Dost Se Mili Aap Yakin Nahi Karenge Main Bilkul Koshish Nahi Karti Mujhe Bilkul Pasand Nahi Hai Kisi Aur Ki Batein Kahin Aur Karna Kisi Aur Ke Bare Mein Kisi Aur Ko Discuss Karna Par Mera Wah Friend Aap Use Har Cheez Ki Kasam Chahiye Hoti Hai Use Har Cheez Ke Bare Mein Janana Hota Hai Main To Use Kaon Se Party Kahti Hoon Tumse Bilkul Yakin Nahi Hota Ki Aisa Koi Ladka Bhi Hai Jitni Koshish Kar Sakta Hai Ki Baad Mujhe Realize Hua Ki Ladke Bhi Utani Gossip Karte Hain Saath Ladki Chhodate Hain Aur Ladkiyon Se Zyada Ko Save Karte Hain Bus Unke Unka Pata Nahi Chal Pata Kyonki Jab Wah Gossip Karte Hain To Uske Baad Wah Usko Sabko Lekar Ki Kahin Aur Nahi Jaate Aur Ladkiyan Jo Hoti Hai Wah Usko Sabko Lekar Ke Saath Kahin Aur Chali Jati Hai Isliye Wah Badnaam Ho Jati Hai But Ladke Bus Ek Aisa Nahi Karne Ki Wajah Se Wah Badnaam Nahi Karte Aur Na Wah Bhi Bahut Koshish Karte Hain Bahut Hi Zyada
Likes  2  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी दोस्त ऐसा नहीं है कि पुरुष है वह कब घोषित करते हैं वह भी काफी ज्यादा गॉसिप करते हैं अगर हम देखें कि पुरुष अगर ग्रुप में बैठते हैं और जब उनकी बातें चालू होती है तो मुझे नहीं लगता कि उनका तो कोई बा...
जवाब पढ़िये
देखी दोस्त ऐसा नहीं है कि पुरुष है वह कब घोषित करते हैं वह भी काफी ज्यादा गॉसिप करते हैं अगर हम देखें कि पुरुष अगर ग्रुप में बैठते हैं और जब उनकी बातें चालू होती है तो मुझे नहीं लगता कि उनका तो कोई बात कर सकता है कि आप किसके साथ कंफर्टेबल है आप किसके साथ ज्यादा बोलते हैं कि ज्यादा बातें करना पसंद करते हैं और दिल पर ऐसी बातें कही जाती है कि महिलाएं ज्यादा कोशिश करती हैं जी हां बिलकुल इसमें कोई दो राय नहीं कि महिला थोड़ा ज्यादा घोषित करती है आज कंपेयर टू मैन और मैं क्या बताऊं आप को देखिए यह थोड़ा सा डिफरेंट है कि मैं आपको बताऊं कैसे मुझे ऐसा लगता है कि आपने दिखाओ ज्यादा पुरुष महिलाओं से ज्यादा पुरुष लोग बिजी रहते हो और काम करते हैं उनके ऊपर जिम्मेदारी ज्यादा होती महिला करो थोड़ा सा ही ज्यादा होता है थोड़ा सा बिजी रहते क्योंकि दादर पुरुष काम करते हैं और उनके ऊपर काफी सारी जिम्मेदारी होती है तू इतनी कोशिश नहीं कर पाते महिला कर सकती है तो बस बातें करो उनके पास और उनके पास मौका और उनको ग्रुप में हो तो वह भी काफी ज्यादा बात करते हैं और एंजॉय करते हैंDekhi Dost Aisa Nahi Hai Ki Purush Hai Wah Kab Ghoshit Karte Hain Wah Bhi Kafi Zyada Gossip Karte Hain Agar Hum Dekhen Ki Purush Agar Group Mein Baithate Hain Aur Jab Unki Batein Chalu Hoti Hai To Mujhe Nahi Lagta Ki Unka To Koi Baat Kar Sakta Hai Ki Aap Kiske Saath Comfortable Hai Aap Kiske Saath Zyada Bolte Hain Ki Zyada Batein Karna Pasand Karte Hain Aur Dil Par Aisi Batein Kahi Jati Hai Ki Mahilaen Zyada Koshish Karti Hain G Haan Bilkul Isme Koi Do Raya Nahi Ki Mahila Thoda Zyada Ghoshit Karti Hai Aaj Compare To Man Aur Main Kya Bataun Aap Ko Dekhie Yeh Thoda Sa Different Hai Ki Main Aapko Bataun Kaise Mujhe Aisa Lagta Hai Ki Aapne Dikhaao Zyada Purush Mahilaon Se Zyada Purush Log Busy Rehte Ho Aur Kaam Karte Hain Unke Upar Jimmedari Zyada Hoti Mahila Karo Thoda Sa Hi Zyada Hota Hai Thoda Sa Busy Rehte Kyonki Dadar Purush Kaam Karte Hain Aur Unke Upar Kafi Saree Jimmedari Hoti Hai Tu Itni Koshish Nahi Kar Paate Mahila Kar Sakti Hai To Bus Batein Karo Unke Paas Aur Unke Paas Mauka Aur Unko Group Mein Ho To Wah Bhi Kafi Zyada Baat Karte Hain Aur Enjoy Karte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मुझे लगता है यह क्वेश्चन बहुत ही सीरियस टिपिकल है हमें किसी भी जेंडर को ऐसे किसी एक चीज में बांधना नहीं चाहिए मुझे नहीं लगता कि महिलाओं को गौर से में बहुत रुचि होती है पुरुषों को नहीं होती है यह...
जवाब पढ़िये
देखिए मुझे लगता है यह क्वेश्चन बहुत ही सीरियस टिपिकल है हमें किसी भी जेंडर को ऐसे किसी एक चीज में बांधना नहीं चाहिए मुझे नहीं लगता कि महिलाओं को गौर से में बहुत रुचि होती है पुरुषों को नहीं होती है यह तो ऐसा कहना हो गया कि सब गलत सोच पुरुषों की ही क्यों होती है आप भी जानते हैं ऐसा है नहीं पर कहने में वही आता है तो मुझे नहीं लगता कि हमें चीजें माननी चाहिए क्योंकि यह जनरल आई सेशन जो है वह गलत चीज है क्योंकि आप लोगों को फिर इन सब चीजों में बांध देते हैं और अब तो फिर भी महिलाएं और पुरुष सब साथ में काम और करने लगे हैं आइडल कोई नहीं रहता है पर अगर आप पहले की भी बात करें जब हाउसवाइफ ज्यादा होती थी तो भी ऐसा नहीं है कि पुरुष गॉसिपिंग नहीं करते थे वह जो बाहर देखते थे उस चीज के बारे में बातचीत करते थे और महिलाएं जो घर में देखती थी उस चीज के बारे में बात करती थी क्योंकि महिलाओं को घर में देखने की चीजें कम होती थी इसलिए जो बातें निकलती थी वही होती थी और इस चीज से आगे बढ़ बढ़ कर हम लोगों के दिमाग में ऐसा एक नजरिया व्यू पॉइंट बन गया है कि महिलाएं गॉसिपिंग करती है पर ऐसा है नहीं अगर आप किसी पुरुष को भी ऐसे बांध के रखे किसी एक तरह की चीज में तो वह भी वही बातें करेगा और उनकी भी बातें आपको बहुत शिपिंग ही लगेगीDekhie Mujhe Lagta Hai Yeh Question Bahut Hi Serious Typical Hai Hume Kisi Bhi Gender Ko Aise Kisi Ek Cheez Mein Bandhana Nahi Chahiye Mujhe Nahi Lagta Ki Mahilaon Ko Gaur Se Mein Bahut Ruchi Hoti Hai Purushon Ko Nahi Hoti Hai Yeh To Aisa Kehna Ho Gaya Ki Sab Galat Soch Purushon Ki Hi Kyon Hoti Hai Aap Bhi Jante Hain Aisa Hai Nahi Par Kehne Mein Wahi Aata Hai To Mujhe Nahi Lagta Ki Hume Cheezen Maanani Chahiye Kyonki Yeh General I Session Jo Hai Wah Galat Cheez Hai Kyonki Aap Logon Ko Phir In Sab Chijon Mein Bandh Dete Hain Aur Ab To Phir Bhi Mahilaen Aur Purush Sab Saath Mein Kaam Aur Karne Lage Hain Idol Koi Nahi Rehta Hai Par Agar Aap Pehle Ki Bhi Baat Karen Jab Housewife Zyada Hoti Thi To Bhi Aisa Nahi Hai Ki Purush Gossiping Nahi Karte The Wah Jo Bahar Dekhte The Us Cheez Ke Bare Mein Batchit Karte The Aur Mahilaen Jo Ghar Mein Dekhti Thi Us Cheez Ke Bare Mein Baat Karti Thi Kyonki Mahilaon Ko Ghar Mein Dekhne Ki Cheezen Kam Hoti Thi Isliye Jo Batein Nikalti Thi Wahi Hoti Thi Aur Is Cheez Se Aage Badh Badh Kar Hum Logon Ke Dimag Mein Aisa Ek Najariya View Point Ban Gaya Hai Ki Mahilaen Gossiping Karti Hai Par Aisa Hai Nahi Agar Aap Kisi Purush Ko Bhi Aise Bandh Ke Rakhe Kisi Ek Tarah Ki Cheez Mein To Wah Bhi Wahi Batein Karega Aur Unki Bhi Batein Aapko Bahut Shipping Hi Lagegi
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रोहित सब बिल्कुल मेरे से बहुत सारे मेल फ्रेंड से जो वो सब करते हैं और मुझसे भी ज्यादा WhatsApp को लोग करते हैं उन्हें हर चीज की नॉलेज रहती है एडमिन क्यों नहीं लड़कियों के बारे में नॉलेज रहती है लड़किय...
जवाब पढ़िये
रोहित सब बिल्कुल मेरे से बहुत सारे मेल फ्रेंड से जो वो सब करते हैं और मुझसे भी ज्यादा WhatsApp को लोग करते हैं उन्हें हर चीज की नॉलेज रहती है एडमिन क्यों नहीं लड़कियों के बारे में नॉलेज रहती है लड़कियों के किस में होता है क्यों ने लड़कों की फोटो लड़कियों के बीच सब के बारे में मालूम रहते हैं पर लड़के मूसली कोशिश करते कि वह लड़की सिंगल है कि नहीं उस लड़की का बॉयफ्रेंड कौन है उसको लड़की कहां जाती है तो मूसली उस तरह की कौनसी वहां रहती है और लड़कियों को घोषित को लेकर 100 कितना क्यूट है जैसे क्या पूछ रहे थे लेकिन फिर भरत पटेल जी से कि उस लड़की ने उस दिन क्या पहना था उसने वह रिपीट किया किसी दूसरी पार्टी में या फिर किसके साथ उसका अफेयर चल रहा है या फिर वह किस से चैट कर रही है तो यह सब काफी है म्यूजिक भी चीज होते हैं लड़कियों के लिए लड़कियां पीछे नहीं रहे हैं लड़की भी इन सब चीजों के बारे में फुल नॉलेज रखते पूरी कौन सी पिक गए थे बल्कि में तेरे प्रिंसेस है जो मुझे भी माफ कर दो कहां से पिक में मतलब मुझे चुप हो जाना पड़ता है मुझे उनकी सुनने पड़ते जो मुझे इंटरेस्टिंग बातें बता रहे होते तो ठीक है जो भी बुराई नहीं जब तक किसी को हर्ट ना हो और हम हेल्थी गॉसिपिंग एयरप्लेन किलोमीटर कॉस्टिक में कोई ऐसी प्रॉब्लम भी नहीं है तो ठीक है को शॉपिंग कीजिए पर किसी को हर्ट ना हो इस चीज का ध्यान रखेंRohit Sab Bilkul Mere Se Bahut Sare Mail Friend Se Jo Vo Sab Karte Hain Aur Mujhse Bhi Zyada WhatsApp Ko Log Karte Hain Unhen Har Cheez Ki Knowledge Rehti Hai Admin Kyon Nahi Ladkiyon Ke Bare Mein Knowledge Rehti Hai Ladkiyon Ke Kis Mein Hota Hai Kyon Ne Ladko Ki Photo Ladkiyon Ke Bich Sab Ke Bare Mein Maloom Rehte Hain Par Ladke Muesli Koshish Karte Ki Wah Ladki Singles Hai Ki Nahi Us Ladki Ka Boyfriend Kaon Hai Usko Ladki Kahaan Jati Hai To Muesli Us Tarah Ki Kaunsi Wahan Rehti Hai Aur Ladkiyon Ko Ghoshit Ko Lekar 100 Kitna Cute Hai Jaise Kya Pooch Rahe The Lekin Phir Bharat Patel G Se Ki Us Ladki Ne Us Din Kya Pahana Tha Usne Wah Repeat Kiya Kisi Dusri Party Mein Ya Phir Kiske Saath Uska Affair Chal Raha Hai Ya Phir Wah Kis Se Chat Kar Rahi Hai To Yeh Sab Kafi Hai Music Bhi Cheez Hote Hain Ladkiyon Ke Liye Ladkiyan Piche Nahi Rahe Hain Ladki Bhi In Sab Chijon Ke Bare Mein Full Knowledge Rakhate Puri Kaon Si Pic Gaye The Balki Mein Tere Princes Hai Jo Mujhe Bhi Maaf Kar Do Kahaan Se Pic Mein Matlab Mujhe Chup Ho Jana Padata Hai Mujhe Unki Sunane Padate Jo Mujhe Interesting Batein Bata Rahe Hote To Theek Hai Jo Bhi Burayi Nahi Jab Tak Kisi Ko Heart Na Ho Aur Hum Healthy Gossiping Airplane Kilometre Caustic Mein Koi Aisi Problem Bhi Nahi Hai To Theek Hai Ko Shopping Kijiye Par Kisi Ko Heart Na Ho Is Cheez Ka Dhyan Rakhen
Likes  4  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महिलाओं के घोषित की बात करी आपने तो इसका कोई तर्क वितर्क नहीं है यह एक नेचुरल टेंडेंसी होती है यह जो ब्रेन कहते हैं यह उसी का पहाड़ होता है क्योंकि जरूरी नहीं आप हर महिला को इसी वर्ग में लाएं हर पुरुष...
जवाब पढ़िये
महिलाओं के घोषित की बात करी आपने तो इसका कोई तर्क वितर्क नहीं है यह एक नेचुरल टेंडेंसी होती है यह जो ब्रेन कहते हैं यह उसी का पहाड़ होता है क्योंकि जरूरी नहीं आप हर महिला को इसी वर्ग में लाएं हर पुरुष को AC केटेगरी में लाएं कई महिलाएं ऐसी भी हैं जिन्हें यह चीजों में इंटरेस्ट नहीं होता है कई पुरुषों से हैं जिन्हें इंटरेस्ट होता है नहीं वह सेटिंग करना बातें बनाना आसान तरीके का इंसान होता है इसीलिए इसका रीजन नहीं हो सकता कि महिलाएं खाली होती हैं वह शेर पुर सबसे ज्यादा काम करती हैं जो वर्किंग है नॉन वर्किंग है दोनों ही चाहे घर का काम होते हैं बाहर का काम 100 भाग चीज होती है और जिसमें कुछ कहा नहीं जा सकता है और प्रिया दत्त की चीज है और इसमें कोई रीजन नहीं हो सकता हैMahilaon Ke Ghoshit Ki Baat Kari Aapne To Iska Koi Tark Vitark Nahi Hai Yeh Ek Natural Tendency Hoti Hai Yeh Jo Brain Kehte Hain Yeh Ussi Ka Pahad Hota Hai Kyonki Zaroori Nahi Aap Har Mahila Ko Isi Varg Mein Laen Har Purush Ko AC Category Mein Laen Kai Mahilaen Aisi Bhi Hain Jinhen Yeh Chijon Mein Interest Nahi Hota Hai Kai Purushon Se Hain Jinhen Interest Hota Hai Nahi Wah Setting Karna Batein Banana Aasan Tarike Ka Insaan Hota Hai Isliye Iska Reason Nahi Ho Sakta Ki Mahilaen Khaali Hoti Hain Wah Sher Pur Sabse Zyada Kaam Karti Hain Jo Working Hai Non Working Hai Dono Hi Chahe Ghar Ka Kaam Hote Hain Bahar Ka Kaam 100 Bhag Cheez Hoti Hai Aur Jisme Kuch Kaha Nahi Ja Sakta Hai Aur Priya Dutt Ki Cheez Hai Aur Isme Koi Reason Nahi Ho Sakta Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा नहीं है कि सिर्फ महिलाओं को ही WhatsApp में काफी ज्यादा रुचि होती है परंतु और पुरुष किसी से पीछे नहीं हटे हैं अगर आप पुरुषों के बारे में और देखे अगर उनकी बातें सुनो तो वह लोग भी काफी ज्यादा चीजों ...
जवाब पढ़िये
ऐसा नहीं है कि सिर्फ महिलाओं को ही WhatsApp में काफी ज्यादा रुचि होती है परंतु और पुरुष किसी से पीछे नहीं हटे हैं अगर आप पुरुषों के बारे में और देखे अगर उनकी बातें सुनो तो वह लोग भी काफी ज्यादा चीजों के बारे में गॉसिप करते बट बट बात सिर्फ इतनी सी होती है कि ज्यादातर रोजो पुरुष है वह कहीं ना कहीं अपनी फैमिली में और नहीं होते हैं इसी वजह से अगर रोबोट गॉसिप करते भी हैं तो उनके बारे में ज्यादा कुछ पता नहीं कर पाता है क्योंकि वह हमेशा काम में बिजी होते तो उनको टाइम भी नहीं मिलता है घोषित करने का लेकिन जब मिलता है तो वह जरूर करते हैं वह महिलाएं ज्यादा तक घर पर रहती हूं मैं करो टी हाउस वाइफ होती है तो वह इसी वजह से उनको टाइम मिल जाता है बहुत ज्यादा औरत और उनका नाम हुआ इसी बात से निकाला जाता है कि वह घर पर कुछ नहीं करती इसलिए उनको बहुत ज्यादा घोषित के लिए टाइम मिल जाता है परंतु महिला और पुरुष दोनों ही के अंदर रब ने घोषित की रोशनी में रखने वाली बात बराबर की होती है फर्क सिर्फ इतना है कि जो लोग काम पर जाते हैं वह लोग काम पर इंटरेस्ट रख ज्यादा दिखाते हैं काम पर फोकस करते हैं तो वह घोषित नहीं क्या बात है भाई महिलाएं फ्री होती है तो वह कर लेती हैं लेकिन अगर जो महिलाएं काम करती हैं अगर आप उनको देखें तो वह लोग भी बहुत प्रेक्टिकल स्टेट फॉरवर्ड होती है वह गोडसे वगैरह में इंटरेस्ट बिल्कुल भी नहीं रहती हैAisa Nahi Hai Ki Sirf Mahilaon Ko Hi WhatsApp Mein Kafi Zyada Ruchi Hoti Hai Parantu Aur Purush Kisi Se Piche Nahi Hate Hain Agar Aap Purushon Ke Bare Mein Aur Dekhe Agar Unki Batein Suno To Wah Log Bhi Kafi Zyada Chijon Ke Bare Mein Gossip Karte But But Baat Sirf Itni Si Hoti Hai Ki Jyadatar Rojo Purush Hai Wah Kahin Na Kahin Apni Family Mein Aur Nahi Hote Hain Isi Wajah Se Agar Robot Gossip Karte Bhi Hain To Unke Bare Mein Zyada Kuch Pata Nahi Kar Pata Hai Kyonki Wah Hamesha Kaam Mein Busy Hote To Unko Time Bhi Nahi Milta Hai Ghoshit Karne Ka Lekin Jab Milta Hai To Wah Jarur Karte Hain Wah Mahilaen Zyada Tak Ghar Par Rehti Hoon Main Karo T House Wife Hoti Hai To Wah Isi Wajah Se Unko Time Mil Jata Hai Bahut Zyada Aurat Aur Unka Naam Hua Isi Baat Se Nikaala Jata Hai Ki Wah Ghar Par Kuch Nahi Karti Isliye Unko Bahut Zyada Ghoshit Ke Liye Time Mil Jata Hai Parantu Mahila Aur Purush Dono Hi Ke Andar Rub Ne Ghoshit Ki Roshni Mein Rakhne Wali Baat Barabar Ki Hoti Hai Fark Sirf Itna Hai Ki Jo Log Kaam Par Jaate Hain Wah Log Kaam Par Interest Rakh Zyada Dikhate Hain Kaam Par Focus Karte Hain To Wah Ghoshit Nahi Kya Baat Hai Bhai Mahilaen Free Hoti Hai To Wah Kar Leti Hain Lekin Agar Jo Mahilaen Kaam Karti Hain Agar Aap Unko Dekhen To Wah Log Bhi Bahut Prektikal State Forward Hoti Hai Wah Godse Vagairah Mein Interest Bilkul Bhi Nahi Rehti Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए महिलाएं पुरुष दोनों को कोशिश अच्छी लगती है कई सारी स्टडी के मुताबिक न्यू मेल है जो मैंने वह बल्कि जब ग्रुप में आ जाते तो वह ज्यादा बल्कि गॉसिप करते है रिमाइंड लोग से ज्यादा इसका कारण यह है कि हम...
जवाब पढ़िये
देखिए महिलाएं पुरुष दोनों को कोशिश अच्छी लगती है कई सारी स्टडी के मुताबिक न्यू मेल है जो मैंने वह बल्कि जब ग्रुप में आ जाते तो वह ज्यादा बल्कि गॉसिप करते है रिमाइंड लोग से ज्यादा इसका कारण यह है कि हम लोग गांव में जो बिल्डिंग से हो रही है क्या फीलिंग है यूनिवर्सिटी का इसलिए जब हमें कोई भी चीज की न्यूज़ मिलती है यह किसी छोटे-मोटे भी इंफॉर्मेशन मिलते किसी के बारे में या किसी चीज के लिए तू तो फिर हम लोग को बहुत ही ज्यादा एक्साइटमेंट होती है अपने फ्रेंड लोग से अपनी फैमिली से शेयर करें तो यही भेजी थी घोषित हो गया हम लोगों से इसलिए पसंद है क्योंकि यह कुछ भी नया इंफॉर्मेशन जानने के लिए वह एक्साइटमेंट चाहता हैDekhie Mahilaen Purush Dono Ko Koshish Acchi Lagti Hai Kai Saree Study Ke Mutabik New Mail Hai Jo Maine Wah Balki Jab Group Mein Aa Jaate To Wah Zyada Balki Gossip Karte Hai Remind Log Se Zyada Iska Kaaran Yeh Hai Ki Hum Log Gav Mein Jo Building Se Ho Rahi Hai Kya Feeling Hai University Ka Isliye Jab Hume Koi Bhi Cheez Ki News Milti Hai Yeh Kisi Chote Mote Bhi Information Milte Kisi Ke Bare Mein Ya Kisi Cheez Ke Liye Tu To Phir Hum Log Ko Bahut Hi Zyada Excitement Hoti Hai Apne Friend Log Se Apni Family Se Share Karen To Yahi Bheji Thi Ghoshit Ho Gaya Hum Logon Se Isliye Pasand Hai Kyonki Yeh Kuch Bhi Naya Information Jaanne Ke Liye Wah Excitement Chahta Hai
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जियोग्राफी क्वेश्चन पूछा कि महिलाओं को WhatsApp में इतनी रुचि क्यों होती है तो बीघा जमीन है कैसे कि मुझे तो बहुत पसंद आती है गर्लफ्रेंड है लेकिन वह किसी को इतना वह बेहतर होता है कि वह बात तो कर भाई खत...
जवाब पढ़िये
जियोग्राफी क्वेश्चन पूछा कि महिलाओं को WhatsApp में इतनी रुचि क्यों होती है तो बीघा जमीन है कैसे कि मुझे तो बहुत पसंद आती है गर्लफ्रेंड है लेकिन वह किसी को इतना वह बेहतर होता है कि वह बात तो कर भाई खत्म हो जाती है मैं चीजों की जानकारी रखना करना अच्छा लगता है और पुरुषों की तो वह भी बहुत आता को शॉपिंग करना पसंद करते हैं ऐसा कुछ नहीं है कि महिलाएं करती हैं साइड की फोन पर आप समझ लीजिए कि हमेशा के साथ हो भी गई और कभी पूजन एक्सेप्ट नहीं किया जो कि मैंने एक्सेप्ट करते हैं कि हमें हम गॉसिप करते हैं और पुरुष ने कभी एक्सेप्ट नहीं किया हुआ वरना पुरुषों को भी बहुत पसंद है वह भी करना पसंद करते हैंGeography Question Poocha Ki Mahilaon Ko WhatsApp Mein Itni Ruchi Kyon Hoti Hai To Bigha Jameen Hai Kaise Ki Mujhe To Bahut Pasand Aati Hai Girlfriend Hai Lekin Wah Kisi Ko Itna Wah Behtar Hota Hai Ki Wah Baat To Kar Bhai Khatam Ho Jati Hai Main Chijon Ki Jankari Rakhna Karna Accha Lagta Hai Aur Purushon Ki To Wah Bhi Bahut Aata Ko Shopping Karna Pasand Karte Hain Aisa Kuch Nahi Hai Ki Mahilaen Karti Hain Side Ki Phone Par Aap Samajh Lijiye Ki Hamesha Ke Saath Ho Bhi Gayi Aur Kabhi Pujan Except Nahi Kiya Jo Ki Maine Except Karte Hain Ki Hume Hum Gossip Karte Hain Aur Purush Ne Kabhi Except Nahi Kiya Hua Varana Purushon Ko Bhi Bahut Pasand Hai Wah Bhi Karna Pasand Karte Hain
Likes  1  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी हां जी ऐसा नहीं कि पुरुष जो है वह बात नहीं करते हैं पुरुष भी जरूर करते लेकिन महिलाओं की जो है वह हमको गॉट टैलेंट में दिया गया है कि ज्यादा कर दिया और ऐसा नहीं है कीमत काम करते-करते...
जवाब पढ़िये
हां जी हां जी ऐसा नहीं कि पुरुष जो है वह बात नहीं करते हैं पुरुष भी जरूर करते लेकिन महिलाओं की जो है वह हमको गॉट टैलेंट में दिया गया है कि ज्यादा कर दिया और ऐसा नहीं है कीमत काम करते-करतेHaan G Haan G Aisa Nahi Ki Purush Jo Hai Wah Baat Nahi Karte Hain Purush Bhi Jarur Karte Lekin Mahilaon Ki Jo Hai Wah Hamko Got Talent Mein Diya Gaya Hai Ki Zyada Kar Diya Aur Aisa Nahi Hai Kimat Kaam Karte Karte
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदि की महिलाओं को गांव सेटिंग में इतनी रुचि क्यों होते सबसे पहली बार सॉरी महिलाओं को कौन से दिन में इतनी रुचि नहीं होती है अगर हम देखें तो हां बहुत सारी महिलाओं को होती है लेकिन ऐसे भी कोई परी महिला ह...
जवाब पढ़िये
आदि की महिलाओं को गांव सेटिंग में इतनी रुचि क्यों होते सबसे पहली बार सॉरी महिलाओं को कौन से दिन में इतनी रुचि नहीं होती है अगर हम देखें तो हां बहुत सारी महिलाओं को होती है लेकिन ऐसे भी कोई परी महिला है जिसने 200 दिन में इतनी रुचि नहीं होती है तो खाना खबर महिलाओं को कौन सी बैंक में इतनी रुचि क्यों होते क्योंकि देखिए महिलाओं के अंदर एक आदत होती है फिल्म कह सकते आर्टिस्टिक होता है जो कि वह बहुत बोलना तो खाना कहां पर यही कारण है कि महिलाओं को ज्यादा बोलना पसंद है तो कुछ भी प्रकार की बातें करती है वह चाहे एक बार शॉपिंग हो विजय हो या फिर कोई भी दूसरी प्रकार की बातचीत हो तो खाना कहां पर है यही कारण है कि महिलाओं के बीच में दादा किटी पार्टी होती है तो किटी पार्टी में सबको से पीने चलते किसी महिलाओं को बात करना बहुत पसंद है तो आप महिलाओं को कोई भी अवश्य दें तो हम पर बात तो पक्का करेगी और पुरुषों आज की पुरे जो है उतनी कौन सी पिक नहीं करते क्योंकि ऐसा माना जाता है फिर से पाया जाता है कि पुरुष पुरुष होते होने बात करने का ज्यादा मन नहीं होता फिर भी महिलाएं ऐसे नहीं होते कि वह सारे विषयों पर बात कर सकते देखिए अगर हम देखें तो ख़ुशी हमेशा Sports पर पॉलिटिक्स पर या फिर आसपास की चीजों पर हमेशा जो है बात करते लेकिन मैं कभी गॉसिपिंग नहीं करते अभी गॉसिपिंग करते हुए पाए नहीं जाते तो यही कारण है कि महिलाओं को वहां से बैंक में इतनी रुचि होती है और पुरुष जो है वह कौन सेटिंग तो नहीं करते लेकिन आपके बातचीत करते लेकिन उनका ऑफिस है जो पूरा अलग होता हैAadi Ki Mahilaon Ko Gav Setting Mein Itni Ruchi Kyon Hote Sabse Pehli Baar Sorry Mahilaon Ko Kaon Se Din Mein Itni Ruchi Nahi Hoti Hai Agar Hum Dekhen To Haan Bahut Saree Mahilaon Ko Hoti Hai Lekin Aise Bhi Koi Pari Mahila Hai Jisne 200 Din Mein Itni Ruchi Nahi Hoti Hai To Khana Khabar Mahilaon Ko Kaon Si Bank Mein Itni Ruchi Kyon Hote Kyonki Dekhie Mahilaon Ke Andar Ek Aadat Hoti Hai Film Keh Sakte Artistic Hota Hai Jo Ki Wah Bahut Bolna To Khana Kahaan Par Yahi Kaaran Hai Ki Mahilaon Ko Zyada Bolna Pasand Hai To Kuch Bhi Prakar Ki Batein Karti Hai Wah Chahe Ek Baar Shopping Ho Vijay Ho Ya Phir Koi Bhi Dusri Prakar Ki Batchit Ho To Khana Kahaan Par Hai Yahi Kaaran Hai Ki Mahilaon Ke Bich Mein Dada Kitty Party Hoti Hai To Kitty Party Mein Sabko Se Peene Chalte Kisi Mahilaon Ko Baat Karna Bahut Pasand Hai To Aap Mahilaon Ko Koi Bhi Avashya Dein To Hum Par Baat To Pakka Karegi Aur Purushon Aaj Ki Poore Jo Hai Utani Kaon Si Pic Nahi Karte Kyonki Aisa Mana Jata Hai Phir Se Paya Jata Hai Ki Purush Purush Hote Hone Baat Karne Ka Zyada Man Nahi Hota Phir Bhi Mahilaen Aise Nahi Hote Ki Wah Sare Vishyon Par Baat Kar Sakte Dekhie Agar Hum Dekhen To Khusi Hamesha Sports Par Politics Par Ya Phir Aaspass Ki Chijon Par Hamesha Jo Hai Baat Karte Lekin Main Kabhi Gossiping Nahi Karte Abhi Gossiping Karte Huye Paye Nahi Jaate To Yahi Kaaran Hai Ki Mahilaon Ko Wahan Se Bank Mein Itni Ruchi Hoti Hai Aur Purush Jo Hai Wah Kaon Setting To Nahi Karte Lekin Aapke Batchit Karte Lekin Unka Office Hai Jo Pura Alag Hota Hai
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Mahilaon Ko Gossip Mein Itni Ruchi Kyon Hoti Hai Kya Purush Bhi Gossip Karte Hain, Why Are Women So Interested In Gossip? Do Men Also Do Gossip?

vokalandroid