भारत में न्याय प्रणाली में न्याय मिलने में देरी होने के क्या क्या कारण हैं ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने देश में कुछ व्यक्ति तो न्याय पाने के चक्कर में प्राण गवा देते हैं कुछ तो ऐसे होते जीवन भर लड़ते रहते हैं किस लेकिन उसका कोई हल नहीं निकलता मुझे लगता है कि एक केंद्र सरकार की बहुत बड़ी लापरवाही है...
जवाब पढ़िये
अपने देश में कुछ व्यक्ति तो न्याय पाने के चक्कर में प्राण गवा देते हैं कुछ तो ऐसे होते जीवन भर लड़ते रहते हैं किस लेकिन उसका कोई हल नहीं निकलता मुझे लगता है कि एक केंद्र सरकार की बहुत बड़ी लापरवाही है किसी भी कोर्ट में जज सुप्रीम कोर्ट हाईकोर्ट हो या हाई कोर्ट के अंदर कोर्ट से पर्याप्त जगह नहीं है तो मुझे लगता है जजों की संख्या कम सुनिश्चित की जानी चाहिए केंद्र सरकारों के द्वारा नियुक्ति की जानी चाहिए क्योंकि यदि ज्यादा मातरम जैजी नहीं होंगे तो केसों का निपटारा कैसे होगा तो मुझे लगता सबसे पहले उचित जज की व्यवस्था की जाए फिर उसके बाद बात आती हमारे भ्रष्टाचार कि हमारे इतना ज्यादा भ्रष्टाचार है पुलिस प्रशासन के बारे में हम जानते हैं कि किस प्रकार से वह नए-नए कैसे बनाते हैं निर्दोष को दोषी करार दिलवाते हैं फिर लीपापोती करते हैं जिसकी वजह से और ज्यादा देरी होती तो मुझे लगता है कि हमारे यहां पुलिस प्रशासन को सशक्त किया जाना चाहिए डिजिटल किया जाना चाहिए और भारतीय संस्कृति का प्रभाव है कि हमारी न्याय प्रणाली में देरी की मुख्य वजह हमारी भारतीय सभ्यता व संस्कृति का परिवर्तित होना कि हम जिस प्रकार से आज पश्चिमी बताओ ग्रहण करें भौतिकतावादी होते जा रहे हैं आधुनिकता जिसमें उसकी वजह से ही नए-नए कैसे होते जा रहे क्योंकि लोगों की छोटी मोटी परेशानी होती है तो वह मामला हाईकोर्ट में लेकर चले जाते हैं सुप्रीम कोर्ट में लेके चले जाते हैं जिसकी वजह से कैसे बनती है बहुत तीव्र गति से बढ़ रही है हमारी प्राचीन सभ्यता और संस्कृति का अनुसरण किया जा रहा है मुझे लगता है कि आप लोगों को अपने माता पिता गुरु में भी बदलाव करने की जरूरत जरूरत है क्योंकि वह आने वाली पीढ़ियों को सुधार सकें छोटे मोटे कैसे में एल्बम ना कराया कर कराया जा सके तो मुझे लगता है कि हमारी संस्कृति को बदलने की जरूरत है गवर्नमेंट के द्वारा न्याय प्रणाली में सुधार करने की जरूरत क्योंकि हमारी न्याय प्रणाली बहुत ज्यादा जटिलता है और जटिलता को सरलता में बदलने की आवश्यकता है तभी हमारे देश में न्याय प्रणाली में सुधार हो पाएगा और आम आदमियों को जल्दी न्याय मिल पाएगाApne Desh Mein Kuch Vyakti To Nyay Pane Ke Chakkar Mein Praan Gawa Dete Hain Kuch To Aise Hote Jeevan Bhar Ladtey Rehte Hain Kis Lekin Uska Koi Hal Nahi Nikalta Mujhe Lagta Hai Ki Ek Kendra Sarkar Ki Bahut Badi Laparwahi Hai Kisi Bhi Court Mein Judge Supreme Court Highcourt Ho Ya Hi Court Ke Andar Court Se Paryapt Jagah Nahi Hai To Mujhe Lagta Hai Jajon Ki Sankhya Kum Sunishchit Ki Jani Chahiye Kendra Sarkaro Ke Dwara Niyukti Ki Jani Chahiye Kyonki Yadi Jyada Mataram Jazzy Nahi Honge To Keson Ka Niptara Kaise Hoga To Mujhe Lagta Sabse Pehle Uchit Judge Ki Vyavastha Ki Jaye Phir Uske Baad Baat Aati Hamare Bhrashtachar Ki Hamare Itna Jyada Bhrashtachar Hai Police Prashasan Ke Baare Mein Hum Jante Hain Ki Kis Prakar Se Wah Naye Naye Kaise Banate Hain Nirdosh Ko Doshi Karar Dilvate Hain Phir Lipapoti Karte Hain Jiski Wajah Se Aur Jyada Deri Hoti To Mujhe Lagta Hai Ki Hamare Yahan Police Prashasan Ko Sashakt Kiya Jana Chahiye Digital Kiya Jana Chahiye Aur Bhartiya Sanskriti Ka Prabhav Hai Ki Hamari Nyay Pranali Mein Deri Ki Mukhya Wajah Hamari Bhartiya Sabhyata V Sanskriti Ka Parivartit Hona Ki Hum Jis Prakar Se Aaj Pashchimi Batao Grahan Karen Bhautiktavadi Hote Ja Rahe Hain Adhunikata Jisme Uski Wajah Se Hi Naye Naye Kaise Hote Ja Rahe Kyonki Logon Ki Choti Moti Pareshani Hoti Hai To Wah Maamla Highcourt Mein Lekar Chale Jaate Hain Supreme Court Mein Leke Chale Jaate Hain Jiski Wajah Se Kaise Banti Hai Bahut Tivarr Gati Se Badh Rahi Hai Hamari Prachin Sabhyata Aur Sanskriti Ka Anusaran Kiya Ja Raha Hai Mujhe Lagta Hai Ki Aap Logon Ko Apne Mata Pita Guru Mein Bhi Badlav Karne Ki Zaroorat Zaroorat Hai Kyonki Wah Aane Wali Peedhiyon Ko Sudhaar Saken Chote Mote Kaise Mein Album Na Karaya Kar Karaya Ja Sake To Mujhe Lagta Hai Ki Hamari Sanskriti Ko Badalne Ki Zaroorat Hai Government Ke Dwara Nyay Pranali Mein Sudhaar Karne Ki Zaroorat Kyonki Hamari Nyay Pranali Bahut Jyada Jatilata Hai Aur Jatilata Ko Saralata Mein Badalne Ki Avashyakta Hai Tabhi Hamare Desh Mein Nyay Pranali Mein Sudhaar Ho Payega Aur Aam Adamiyo Ko Jaldi Nyay Mil Payega
Likes  0  Dislikes
WhatsApp_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Bharat Mein Nyay Pranali Mein Nyay Milne Mein Deri Hone Ke Kya Kya Kaaran Hain ?, What Are The Reasons For Delay In Getting Justice In The Justice System In India? , भारत की न्याय प्रणाली

vokalandroid