अब नीतीश का बीजेपी पर हमला कहा- सांप्रदायिकता मंजूर नहीं, क्या उनका यह कहना सही है ? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी के अभी कुछ दिन पहले हिंदी नव वर्ष के समय भागलपुर में सांप्रदायिक हिंसा हुई थी और जिसमें लगभग 12 लोग घायल हुए और जो भी लोग इसके लिए जिम्मेदार थे उन पर FIR दर्ज कर ली मुझे लगता है नीतीश कुमार एक स्व...जवाब पढ़िये
अभी के अभी कुछ दिन पहले हिंदी नव वर्ष के समय भागलपुर में सांप्रदायिक हिंसा हुई थी और जिसमें लगभग 12 लोग घायल हुए और जो भी लोग इसके लिए जिम्मेदार थे उन पर FIR दर्ज कर ली मुझे लगता है नीतीश कुमार एक स्वच्छ प्रशासन की बात कहते हैं और उन्हें कहीं ना कहीं है लग रहा है कि कुछ भारतीय जनता पार्टी के लीडर या उनके ऐसे स्टेटमेंट है जिसकी वजह से सांप्रदायिकता हुई या कुछ भारतीय जनता पार्टी के लोग इसमें उनके नेता जिम्मेदार हैं जो भागलपुर में हंसाई उसी के संदर्भ में उन्होंने यह बात कर रखी है मुझे लगता है कि जिस प्रकार नीतीश कुमार जी का एडमिनिस्ट्रेशन है वह इस तरह की चीजों को टॉयलेट नहीं करेंगे उनकी फर्स्ट प्रायोरिटी पर कानून व्यवस्था ही होता है और उन्हें ऐसा लगा है कि कहीं ना कहीं सांप्रदायिकता को बर्दाश्त नहीं करेंगे तो Android लिए भारतीय जनता पार्टी को मैसेज देना चाहते हैं कि 2019 के चुनाव से पहले अगर यह सब चीजें आपने नहीं छूटे तो कहीं न कहीं एन डी ए से जेड तक चला जाएगा उसको छोड़ देगा तो मुझे लगता है भारतीय जनता पार्टी के लिए एक मैसेज है कहीं ना कहीं अगर आप के कार्यकर्ताओं से अनुरोध है तो उनको रोकी इस प्रकार की संबद्धता बर्दाश्त कोई भी नहीं करेगा चाहे वह चाहे कोई और पार्टी होAbhi Ke Abhi Kuch Din Pehle Hindi Nav Varsh Ke Samay Bhagalpur Mein Sampradayik Hinsa Hui Thi Aur Jisme Lagbhag 12 Log Ghaayal Hue Aur Jo Bhi Log Iske Liye Zimmedar The Un Par FIR Darj Kar Lee Mujhe Lagta Hai Nitish Kumar Ek Swach Prashasan Ki Baat Kehte Hain Aur Unhen Kahin Na Kahin Hai Lag Raha Hai Ki Kuch Bhartiya Janta Party Ke Leader Ya Unke Aise Statement Hai Jiski Wajah Se Saampradayikta Hui Ya Kuch Bhartiya Janta Party Ke Log Isme Unke Neta Zimmedar Hain Jo Bhagalpur Mein Hansai Ussi Ke Sandarbh Mein Unhone Yeh Baat Kar Rakhi Hai Mujhe Lagta Hai Ki Jis Prakar Nitish Kumar Ji Ka Administration Hai Wah Is Tarah Ki Chijon Ko Toilet Nahi Karenge Unki First Priority Par Kanoon Vyavastha Hi Hota Hai Aur Unhen Aisa Laga Hai Ki Kahin Na Kahin Saampradayikta Ko Bardaasht Nahi Karenge To Android Liye Bhartiya Janta Party Ko Massage Dena Chahte Hain Ki 2019 Ke Chunav Se Pehle Agar Yeh Sab Cheezen Aapne Nahi Chute To Kahin N Kahin En D A Se Zed Tak Chala Jayega Usko Chod Dega To Mujhe Lagta Hai Bhartiya Janta Party Ke Liye Ek Massage Hai Kahin Na Kahin Agar Aap Ke Karyakartao Se Anurodh Hai To Unko Roi Is Prakar Ki Sanbaddhta Bardaasht Koi Bhi Nahi Karega Chahe Wah Chahe Koi Aur Party Ho
Likes  4  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

More Answers


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों का विश्लेषण किया जाए तो नीतीश कुमार का बीजेपी पर हमला एक अवसरवादी कदम है आज जो परिस्थितियां है और अगर हम सूत्रों की माने तो लगता है कि सभी पार्टी जो है देश की वह मोदी जी ...जवाब पढ़िये
वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों का विश्लेषण किया जाए तो नीतीश कुमार का बीजेपी पर हमला एक अवसरवादी कदम है आज जो परिस्थितियां है और अगर हम सूत्रों की माने तो लगता है कि सभी पार्टी जो है देश की वह मोदी जी के विरोध में खड़ी होना चाह रही है और सभी मोदी जी के विरोध में एकजुट होना चाह रही है और उसी की और नीतीश ने भी एक कदम उठाया है लेकिन क्या यह सभी पार्टियां एकजुट होकर उस पार्टी के विरुद्ध खड़े होकर उन मुद्दों पर लड़ सकती हैं जिन मुद्दों पर वह लड़ना चाहती है क्या पहले जो पार्टी थी या पहले जो सत्ता में सरकार का भी थी उस वक्त घोटाले नहीं हुए उस वक्त सांप्रदायिक दंगे नहीं हुए क्या उस पर दलितों का दामन नहीं हुआ है यह सब हमारे देश में दशकों से होता रहा है यह सिर्फ आज वर्तमान की परिस्थितियों नहीं है कि घोटाले हुए हैं दंगे हुए हैं या गरीबी अभी उठ कर खड़ी हुई है बेरोजगारी की समस्या भी उठ कर खड़ी हुई है या दलितों का दमन अभी हुआ है यह सब कुछ कई दशकों से होता हुआ आ रहा है और कई दशकों से जनता फिर भी उन्हीं पार्टी को वोट देकर बिताती भी आ रही है BJP पिछली 2014 में सत्ता में आई है और बहुत कम समय हुआ है बीजेपी को सत्ता में आए हुए और जो भी घोटाले उजागर हुए हैं वह पिछली सरकार के समय के हैं और सांप्रदायिकता तो हमेशा से रही है देश में इसलिए मुझे नहीं लगता कि इन पार्टीज का एकजुट होना और फिर इन्हीं वादों पर खरे उतरना संभव है क्या यह पार्टी जिन बातों पर खरा खरा उतरेगी क्या इन पार्टी के पास कोई ऐसा नेतृत्व है जो हमारे देश का विकास कर पाएगा तभी हम इन पर विश्वास करेंगेVartaman Rajnitik Paristhitiyon Ka Vishleshan Kiya Jaye To Nitish Kumar Ka Bjp Par Hamla Ek Avasaravadi Kadam Hai Aaj Jo Paristhiyaan Hai Aur Agar Hum Sootro Ki Mane To Lagta Hai Ki Sabhi Party Jo Hai Desh Ki Wah Modi Ji Ke Virodh Mein Khadi Hona Chah Rahi Hai Aur Sabhi Modi Ji Ke Virodh Mein Ekjoot Hona Chah Rahi Hai Aur Ussi Ki Aur Nitish Ne Bhi Ek Kadam Uthaya Hai Lekin Kya Yeh Sabhi Partyian Ekjoot Hokar Us Party Ke Viruddha Khade Hokar Un Muddon Par Lad Sakti Hain Jin Muddon Par Wah Ladana Chahti Hai Kya Pehle Jo Party Thi Ya Pehle Jo Satta Mein Sarkar Ka Bhi Thi Us Waqt Ghotale Nahi Hue Us Waqt Sampradayik Denge Nahi Hue Kya Us Par Dalito Ka Daman Nahi Hua Hai Yeh Sab Hamare Desh Mein Dashakon Se Hota Raha Hai Yeh Sirf Aaj Vartaman Ki Paristhitiyon Nahi Hai Ki Ghotale Hue Hain Denge Hue Hain Ya Garibi Abhi Uth Kar Khadi Hui Hai Berojgari Ki Samasya Bhi Uth Kar Khadi Hui Hai Ya Dalito Ka Daman Abhi Hua Hai Yeh Sab Kuch Kai Dashakon Se Hota Hua Aa Raha Hai Aur Kai Dashakon Se Janta Phir Bhi Unhin Party Ko Vote Dekar Bitati Bhi Aa Rahi Hai BJP Pichali 2014 Mein Satta Mein Eye Hai Aur Bahut Kum Samay Hua Hai Bjp Ko Satta Mein Aaye Hue Aur Jo Bhi Ghotale Ujagar Hue Hain Wah Pichali Sarkar Ke Samay Ke Hain Aur Saampradayikta To Hamesha Se Rahi Hai Desh Mein Isliye Mujhe Nahi Lagta Ki In Parties Ka Ekjoot Hona Aur Phir Inhin Vaado Par Khare Utarna Sambhav Hai Kya Yeh Party Jin Baaton Par Khara Khara Utregi Kya In Party Ke Paas Koi Aisa Netritva Hai Jo Hamare Desh Ka Vikash Kar Payega Tabhi Hum In Par Vishwas Karenge
Likes  1  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को अपने दिए गए बयान में बीजेपी पर हमला बोला उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार व समाज को तोड़ने तथा बांटने वाली नीति से समझौता नहीं करेंगे उन्होंने भाजपा तो भ्रष्टाच...जवाब पढ़िये
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को अपने दिए गए बयान में बीजेपी पर हमला बोला उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार व समाज को तोड़ने तथा बांटने वाली नीति से समझौता नहीं करेंगे उन्होंने भाजपा तो भ्रष्टाचारी होने शादी सतत संप्रभुता फैलाने का आरोप लगाया उधर केंद्र सरकार में जो केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान जी उन्होंने भी अपने तरीके से बाजू का रोग लगाया कि अल्पसंख्यकवाद दलितों की उपेक्षा की जा रही है मुझे लगता है कि दोनों के द्वारा जो आज नजदीकियां प्रदर्शित की जा रही है अर्थात अब नीतीश कुमार की जेडीयू पार्टी व रामविलास पासवान की याद जे पी पार्टी मुझे लगता है कि 2019 के आम चुनाव में या अलग होना चाहते हैं और एक अलग पार्टी बनाना चाहते हैं जिसकी शुरुआत हो चुकी है वैसे इनका जो आरोप लगाया गया है और जहां तक हो यह सही भी है क्योंकि देखिए जो भी एनडीए से गठबंधन किया है पूरे भारत में जिन जिन राज्यों परिषद में किस देश में से परेशानी में है सब अपना नाता तोड़ना चाहते हैं जिसे बात की जाए आंध्र प्रदेश में यह वाली DP के द्वारा की जा रही है और वाईएसआर कांग्रेस को वाराणसी बिहार में देखिए जेडीयू आरजेडी के द्वारा ऐसी की जा रही है यूपी में योगी खिलाफ ओमप्रकाश राजभर ने आरोप लगाया है कि यह वाकई सरकार में जो भी गठबंधन किया हुआ अपनी पार्टी को उसको उचित हक नहीं मिल रहा है जिससे नीतीश कुमार ने आरोप लगाया कि उनकी पार्टी आज हाशिए पर आ गई है उन्हें उचित सम्मान नहीं मिल रहा सांसद रामविलास पासवान ने भी बताया कि अब केंद्रीय मंत्री तो है भाजपा की सरकार में किंतु उन्हें उचित मंच नहीं मिला है वह ने जो दलित नेता उनके क्षमता से लाकर खड़ा कर दिया है या मुझे लगता है कुछ हद तक सही है देखते हैं क्या होने वाला है मुझे लगता है कि यह बगावत की शुरुआत है और गठबंधन टूटने की शुरुआत है भाजपा के खिलाफ एक अलग नीति बनाई जा रही है वैसे पूरे भारत में तमाम पार्टियां अलग हो रही है सब एकजुट हो रही है भाजपा को हराने के लिए फिर इनके द्वारा भी ऐसा किया जाना कोई बड़ी बात नहीं है यह कि तुला राशि और राजनीतिक शादी हैBihar Ke Mukhyamantri Nitish Kumar Ne Somwar Ko Apne Diye Gaye Bayan Mein Bjp Par Hamla Bola Unhone Kaha Ki Bhrashtachar V Samaaj Ko Todne Tatha Bantane Wali Niti Se Samjhauta Nahi Karenge Unhone Bhajpa To Bhrashtachaari Hone Shadi Satat Samprabhuta Phailane Ka Aarop Lagaya Udhar Kendra Sarkar Mein Jo Kendriya Mantri Ramvilas Paswan Ji Unhone Bhi Apne Tarike Se Baju Ka Rog Lagaya Ki Alpasankhyakvad Dalito Ki Upeksha Ki Ja Rahi Hai Mujhe Lagta Hai Ki Dono Ke Dwara Jo Aaj Najadikiyan Pradarshit Ki Ja Rahi Hai Arthat Ab Nitish Kumar Ki Jdu Party V Ramvilas Paswan Ki Yaad Je P Party Mujhe Lagta Hai Ki 2019 Ke Aam Chunav Mein Ya Alag Hona Chahte Hain Aur Ek Alag Party Banana Chahte Hain Jiski Shuruvat Ho Chuki Hai Waise Inka Jo Aarop Lagaya Gaya Hai Aur Jahan Tak Ho Yeh Sahi Bhi Hai Kyonki Dekhie Jo Bhi Nda Se Gathbandhan Kiya Hai Poore Bharat Mein Jin Jin Rajyo Parishad Mein Kis Desh Mein Se Pareshani Mein Hai Sab Apna Nataa Todana Chahte Hain Jise Baat Ki Jaye Andhra Pradesh Mein Yeh Wali DP Ke Dwara Ki Ja Rahi Hai Aur YSR Congress Ko Varanasi Bihar Mein Dekhie Jdu Rjd Ke Dwara Aisi Ki Ja Rahi Hai Up Mein Yogi Khilaf Omprakash Rajbhar Ne Aarop Lagaya Hai Ki Yeh Vaakai Sarkar Mein Jo Bhi Gathbandhan Kiya Hua Apni Party Ko Usko Uchit Haq Nahi Mil Raha Hai Jisse Nitish Kumar Ne Aarop Lagaya Ki Unki Party Aaj Hashie Par Aa Gayi Hai Unhen Uchit Samman Nahi Mil Raha Saansad Ramvilas Paswan Ne Bhi Bataya Ki Ab Kendriya Mantri To Hai Bhajpa Ki Sarkar Mein Kintu Unhen Uchit Manch Nahi Mila Hai Wah Ne Jo Dalit Neta Unke Kshamta Se Lakar Khada Kar Diya Hai Ya Mujhe Lagta Hai Kuch Had Tak Sahi Hai Dekhte Hain Kya Hone Wala Hai Mujhe Lagta Hai Ki Yeh Bagavat Ki Shuruvat Hai Aur Gathbandhan Tutane Ki Shuruvat Hai Bhajpa Ke Khilaf Ek Alag Niti Banai Ja Rahi Hai Waise Poore Bharat Mein Tamam Partyian Alag Ho Rahi Hai Sab Ekjoot Ho Rahi Hai Bhajpa Ko Harane Ke Liye Phir Inke Dwara Bhi Aisa Kiya Jana Koi Badi Baat Nahi Hai Yeh Ki Tula Rashi Aur Rajnitik Shadi Hai
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Ab Nitish Ka Bjp Par Hamla Kaha Saampradayikta Manzoor Nahi Kya Unka Yeh Kehna Sahi Hai ?, Nitish Now Attacked The BJP- Communalism Is Not Approved, Is He Right To Say That?

vokalandroid