क्या आपको लगता है कि विवाह के पूजा पाठ वास्तविकता में किसी को प्रभावित करते हैं? ...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश में हमेशा से ही आरजू पूजा पाठ है जो कल्चर है उसको बहुत ज्यादा बढ़ावा दिया गया है और यही वजह है कि जो विवाह की पूजा-पाठ हैं उनको वास्तविकता में लोग ज्यादा नहीं मानते हैं और उनको कुछ समझ में न...जवाब पढ़िये
हमारे देश में हमेशा से ही आरजू पूजा पाठ है जो कल्चर है उसको बहुत ज्यादा बढ़ावा दिया गया है और यही वजह है कि जो विवाह की पूजा-पाठ हैं उनको वास्तविकता में लोग ज्यादा नहीं मानते हैं और उनको कुछ समझ में नहीं आता है कि वह क्या हो रहा है क्या चल रहा है परंतु फिर भी उनको बहुत महत्व दिया जाता है और अगर कोई भी विवाह बिना पूजा-पाठ या किसी तरह से संपन्न हो जाए तो उसको विवाह नहीं माना जाता है और देश में बहुत महत्व दिया जाता है इन चीजों को जाकर जहां पर पूजा पाठ की जरूरत है मंत्रोच्चारण होना जरूरी है तो उसके बिना वह चीज ना कंप्लीट हो पाती है तो यही वजह है कि हम लोग हालांकि उस चीज को समझते नहीं है कि क्या हो रहा है वह क्यों हुआ है परंतु फिर भी उसको एक बिना वजह एक महत्व देते हैं और यही वजह है कि हमारे देश में अब बालन की समझ में नहीं आता परंतु फिर भी विभाग की पूजा पाठक को बहुत महत्व होता दी जाती है और लोगों को भी वह बहुत ज्यादा प्रभावित करते हैं क्योंकि वह लोग उनके बिना उस विवाह को ब्याव सब किसी भी ऑपरेशन या किसी भी चीज को संपन्न नहीं मानते पूरा नहीं मानते और जब तक को पूजा पाठ पूरा नहीं हो जाता उसको पूरा नहीं माना जाता है इसी वजह से उनको बहुत ज्यादा महत्व था दी जाती है और राहु चीजें लोगों को बहुत ज्यादा प्रभावित भी करती हैंHamare Desh Mein Hamesha Se Hi Aaraju Puja Path Hai Jo Culture Hai Usko Bahut Jyada Badhawa Diya Gaya Hai Aur Yahi Wajah Hai Ki Jo Vivah Ki Puja Path Hain Unko Vastavikta Mein Log Jyada Nahi Manate Hain Aur Unko Kuch Samajh Mein Nahi Aata Hai Ki Wah Kya Ho Raha Hai Kya Chal Raha Hai Parantu Phir Bhi Unko Bahut Mahatva Diya Jata Hai Aur Agar Koi Bhi Vivah Bina Puja Path Ya Kisi Tarah Se Sanpann Ho Jaye To Usko Vivah Nahi Mana Jata Hai Aur Desh Mein Bahut Mahatva Diya Jata Hai In Chijon Ko Jaakar Jahan Par Puja Path Ki Zaroorat Hai Mantrochcharan Hona Zaroori Hai To Uske Bina Wah Cheez Na Complete Ho Pati Hai To Yahi Wajah Hai Ki Hum Log Halanki Us Cheez Ko Samajhte Nahi Hai Ki Kya Ho Raha Hai Wah Kyun Hua Hai Parantu Phir Bhi Usko Ek Bina Wajah Ek Mahatva Dete Hain Aur Yahi Wajah Hai Ki Hamare Desh Mein Ab Balan Ki Samajh Mein Nahi Aata Parantu Phir Bhi Vibhag Ki Puja Pathak Ko Bahut Mahatva Hota Di Jati Hai Aur Logon Ko Bhi Wah Bahut Jyada Prabhavit Karte Hain Kyonki Wah Log Unke Bina Us Vivah Ko Byav Sab Kisi Bhi Operation Ya Kisi Bhi Cheez Ko Sanpann Nahi Manate Pura Nahi Manate Aur Jab Tak Ko Puja Path Pura Nahi Ho Jata Usko Pura Nahi Mana Jata Hai Isi Wajah Se Unko Bahut Jyada Mahatva Tha Di Jati Hai Aur Rahu Cheezen Logon Ko Bahut Jyada Prabhavit Bhi Karti Hain
Likes  0  Dislikes
Share this answer
WhatsApp_icon
share_icon
500000+ दिलचस्प सवाल जवाब सुनिये 😊

Similar Questions

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches: Kya Aapko Lagta Hai Ki Vivah Ke Puja Path Vastavikta Mein Kisi Ko Prabhavit Karte Hain, Do You Think The Worship Of Marriage Affects Anyone In Reality?

vokalandroid