किस नियम में ये कहा गया है कि लगातार स्वाद एवं वरियताओं के साथ-साथ जैसे-जैसे आय बढ़ती हैं, भोज्य पदार्थों पर खर्च आय का अनुपात कम होता जाता है? ...

इस सवाल पर अभी किसी ने जवाब नहीं दिया है। सवाल को फ़ॉलो करना हो या इसका जवाब देना हो तो Vokal डाउनलोड करे।


Similar Questions

ना चाहते हुए भी मेंरे अंदर नकारात्मक विचार आ जाते हैं लेकिन घरवालों को यकीन है कि मीर अंदर बहुत हिम्मत है और मैं कुछ कर सकती हूँ मैं क्या करूँ? ...

थॉट्स को कंट्रोल करने के लिए आपके पास अपने दिमाग पर कंट्रोल होना चाहिए इसका सही तरीका है कि आप मेडिटेशन कर सकते हैं आप भी है सुबह उठ के दिल्ली मेडिटेशन करते हैं तो आप दिमाग पर कंट्रोल कर पाएंगे और उससजवाब पढ़िये
ques_icon

भारत की जनसंख्या लगातार बढ़ती जा रही है तो इसका भविष्य मेंं क्या परिणाम होगा? ...

भारत की संख्या जो है लगातार जन संख्या लगातार बढ़ती जा रही है तू और देश में बेरोजगारी होने के कारण भी देश की समस्या से काफी बिगड़ता चला जा रहा है इसके लिए जितने बेरोजगारी है उन को अच्छी तरह के चंद्र प्जवाब पढ़िये
ques_icon

Vokal is India's Largest Knowledge Sharing Platform. Send Your Questions to Experts.

Related Searches:Kis Niyam Mein Ye Kaha Gaya Hai Ki Lagatar Swaad Evam Variyataon Ke Saath Saath Jaise Jaise Aay Badhti Hain Bhojya Padarthon Par Kharch Aay Ka Anupat Kam Hota Jata Hai,In What Rule It Has Been Said That In The Same Way As The Income Increases Along With The Taste And The Preferences, The Proportion Of Income On Food Items Is Reduced?,


vokalandroid